दन्तेवाड़ा

ग्रामीणों को पीटने वालों के खिलाफ एफआईआर
16-Sep-2020 9:41 PM 4
ग्रामीणों को पीटने वालों के खिलाफ एफआईआर

नक्सलियों ने जनअदालत लगाकर की थी पिटाई

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दंतेवाड़ा, 17 सितंबर। गुमियापाल में नक्सलियों ने  14 सितंबर की शाम को जन अदालत लगाकर जिला आरक्षी बल (डीआरजी) के आरक्षकों के परिजनों  की पिटाई  की थी। किरंदुल पुलिस ने इस वारदात में शामिल नक्सलियों के खिलाफ किरंदुल थाने में प्राथमिकी दर्ज कर ली।

अनुविभागीय अधिकारी पुलिस देवांश राठौर ने 'छत्तीसगढ़’ को बताया कि पुलिस ने मंगलवार को गुमिया पाल में नक्सलियों द्वारा जन अदालत लगाकर ग्रामीणों की पिटाई करने वालों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कर ली है। उल्लेखनीय  कि आरक्षक जोगा, भीमा मिडीयामी, अजय तेलम, और  मंगू मंडावी के परिजनों के साथ गुमियापाल में नक्सलियों ने मारपीट की थी। इनमें आरक्षकों के माता-पिता, पत्नी, बहन और भाई आदि शामिल हैं।

जेल बंदी रिहाई मंच के उत्पाती सदस्यों द्वारा श्याम गिरी गांव के डीआरजी आरक्षक मंगल कोर्राम के भाई को 3 दिन के अंदर जान से मारने की धमकी दी गई थी। एसडीओपी किरंदुल देवांश राठौर और नगर निरीक्षक दया किशोर भरवाने पीडि़तों से मुलाकात की। पुलिस अफसरों ने दोषियों पर उचित कार्रवाई की बात कही।

अन्य पोस्ट

Comments