दन्तेवाड़ा

ओजोन दिवस पर निबंध और चित्रकला स्पर्धा
17-Sep-2020 7:52 PM 18
 ओजोन दिवस पर निबंध और चित्रकला स्पर्धा

दन्तेवाड़ा, 17 सितंबर। विश्व ओजोन दिवस पर वाणी मशीह व्याख्याता शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बारसुर के द्वारा गूगल मीट एप के माध्यम से ऑनलाइन सेमीनार के माध्यम से निबंध और चित्रकला का आयोजन किया गया था। 

इस सेमिनार में बच्चों ने ओजोन परत के बारे में कहा कि विश्व ओजोन दिवस हर साल पूरी दुनिया में 16 सितंबर को मनाया जाता है। ओजोन परत ओजोन अणुओं की एक परत है जो 20 से 40 किलोमीटर के बीच के वायुमंडल में पाई जाती है। ओजोन परत पृथ्वी को सूर्य की हानिकारक अल्ट्रावायलेट किरणों से बचाने का काम करती है। अल्ट्रा वाइलट किरणें अगर सीधा धरती पर पहुंच जाए तो ये मनुष्य, पेड़-पौधों और जानवरों के लिए भी बेहद खतरनाक हो सकती है। ऐसे में ओजोन परत का संरक्षण बेहद महत्वपूर्ण है। 

ओजोन दिवस पर आयोजित सेमीनार में बलौदाबाजार की शिक्षिका सुजाता बहल, कांकेर की शिक्षिका मल्टी सेन के साथ हिमांशी रात्रे रायपुर, नम्रता साहू राजनांदगाव, राजेश नाग, खुशी, तेजस्विनी, गीतांजली दंतेवाड़ा, देविका, खिलेश्वर साहू बेमेतरा, चित्ररेखा बलोदाबाजार, कुसुम, निशु, आस्था, बेमेतरा, दामिनी कांकेर, नन्द, भविका रायपुर से जुड़कर निबंध, चित्रकला, और सेमीनार में भाग लिए। वाणी के द्वारा इन्हें ऑनलाइन प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जा रहा है। इस सेमीनार में समग्र शिक्षा के सहायक परियोजना समन्वयक ढलेश आर्य ने बच्चों को प्रेरित किया और उन्हें शुभकामनायें प्रेषित किया। जिला शिक्षा अधिकारी प्रमोद कर्मा और जिला मिशन समन्वयक श्याम लाल शोरी ने इनके कार्य की सराहना की है।
 

अन्य पोस्ट

Comments