बीजापुर

पंडालों में विराजित हुई दुर्गा प्रतिमाएं, नवरात्र के साथ साथ माता गौरी की पूजा-अर्चना
19-Oct-2020 10:22 PM 37
  पंडालों में विराजित हुई दुर्गा प्रतिमाएं,  नवरात्र के साथ साथ माता गौरी की पूजा-अर्चना

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

भोपालपटनम, 19 अक्टूबर। भोपालपटनम नगर पंचायत में इस वर्ष भी नवरात्र पर्व मनाया जा रहा है। भोपालपटनम के हृदय स्थल श्री कृष्णा पामभोई क्लब प्रांगण में विधि विधान से 17 अक्टूबर को मां दुर्गा की स्थापना की गई। इस वैश्विक महामारी कोरोना वायरस कोविड 19 का प्रकोप रहने के कारण शासन के निर्देशों का पालन करते हुए माँ दुर्गा प्रतिमा की स्थापना की गई है। नगर पंचायत के शिव मंदिर प्रांगण में भी हर वर्ष की भांति नवरात्र का शुभारम्भ किया गया। यह नवरात्रि पर्व कोरोना के कारण सादगी के साथ मनाया जा रहा है।

भोपालपटनम ब्लाक महाराष्ट्र एवं तेलगांना राज्य के सरहद में होने के कारण उन राज्यों की संस्कृति का असर रहता है। नवरात्रि के साथ साथ माता गौरी की पूजा पाठ किया जाता है जिसे बतकम्मा के नाम से जाना जाता है यह नव दिनों तक नवरात्रि के साथ साथ चलता है जिस में सभी महिलाएं छोटे बड़े  हर्षोल्लास के साथ रोज शाम को अनेक प्रकार के फूलों से बने बतकम्मा को एक जगह स्थापित कर माता गौरी की पूजा कर उस बतकम्मा के चारों ओर बहुत ही सुंदर मधुर गीतों का गायन करते हुए बतकम्मा खेलते हैं। अंतिम दिन सभी महिलाएं अपने अपने घरों में अनेक रंगबिरंगे सुंदर विविध प्रकार के फूलों से एक से बढ़कर एक बतकम्मा बनाकर शाम से रात तक मनोरंजक गीतों एवं वाद्ययंत्रों के साथ मधुर गीतों के ताल से बतकम्मा खेलते हैं। इसे अन्तमेबाजा गाजा के साथ ले जाकर किसी नदी या तालाब में विसर्जन करते हंै और वह प्रसाद याने जो महिलाएं लाती है भक्तों को प्रसाद को एक दूसरे को बांटते हैं, सद्दुलाबतकम्म कहा जाता है.

यह महिलाओं के लिए एक विशेष एवं हर्षोल्लास का पर्व माना जाता है। यह त्यौहार तेलगांना का बहुत बड़ा त्योहार माना जाता है। इस पर्व को तेलगांना में बड़े धूमधाम से मनाया जाता है। हर वर्ष तेलंगाना शासन की ओर से राज्य की हर एक महिला को बतकम्मा के लिए साड़ी दिया जाता है।

अन्य पोस्ट

Comments