राजनांदगांव

सादगी से मना दशहरा
27-Oct-2020 9:42 PM 28
 सादगी से मना दशहरा

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

राजनांदगांव, 27 अक्टूबर। कोरोना संक्रमण के चलते जिलेभर में नवरात्र पर्व पर जहां भक्तिमय माहौल बना रहा। वहीं दशमी पर्व पर जिलेभर में दशहरा पर्व सादगी के साथ मनाया गया। असत्य पर सत्य की जीत का पर्व सोमवार को दशहरा समितियों द्वारा पूजा-अर्चना कर बुराई पर अच्छाई की जीत को लेकर रावण पुतले का दहन किया। वहीं भगवान राम के जयकारे भी लगाए।

सोमवार देर शाम विजयादशमी पर्व दशहरा समितियों ने रावण के पुतले का दहन किया। इससे पहले भगवान राम, लक्ष्मण और हनुमान रूपी बच्चों की पूजा-अर्चना के बाद रावण दहन का सिलसिला शुरू हुआ। इसके अलावा शहर के अलग-अलग मोहल्लों और क्षेत्रों में भी बच्चों ने पारंपरिक रूप से रावण के पुतले बनाकर उसका दहन करते खुशियां मनाई।  शहर के म्युनिसिपल स्कूल मैदान, स्टेट स्कूल मैदान और कमला कॉलेज मैदान तथा गौरीनगर में दशहरा समितियों के पदाधिकारियों ने रावण का पुतला बनाकर पूजा-अर्चना की और पारंपरिक रूप से पुतले का दहन किया गया। कोरोना संक्रमण के चलते और प्रशासन के निर्देशानुसार दशहरा पर्व पर फटाखे और सांस्कृतिक कार्यक्रमों पर रोक लगने से लोगों की भीड़ नहीं जुट पाई।

 नहीं दिखा आतिशबाजी का नजारा

कोरोना संक्रमण के कारण इस वर्ष रावण दहन कार्यक्रम के दौरान अद्भुत आतिशबाजी का नजारा भी देखने को नहीं मिला। परंपरागत तरीके से दशहरा पर्व नांदगांव शहर तथा जिलेभर में मनाया गया।

म्युनिसिपल स्कूल मैदान, स्टेट स्कूल मैदान तथा कमला कॉलेज मैदान से लेकर अन्य सार्वजनिक स्थानों में शासन द्वारा जारी की गई गाइड लाइन के अनुसार दशहरा उत्सव मनाया गया। 10-10 फीट के ही रावण पुतले तैयार किए गए थे। समितियों  के पदाधिकारियों की उपस्थिति में रावण पुतले का दहन कराया गया। इधर कमला कॉलेज मैदान में राजा दिग्विजय दास दशहरा उत्सव समिति ने प्रशासन के मापदंड के अनुरूप रावण दहन किया गया।

इस अवसर पर महापौर हेमा देशमुख, पूर्व सांसद मधुसूदन यादव, पूर्व महापौर सुदेश देशमुख, राजगामी संपदा अध्यक्ष विवेक वासनिक, निगम अध्यक्ष हरिनारायण धकेता, जितेन्द्र मुदलियार, रूबी गरचा, उपेन्द्र देशमुख, देवेन्द्र साव, इंदर ठाकुर, शकील रिजवी, रोहित बिसेन, सुनील आहूजा, सारांश आजवानी, आफताब अहमद, विक्की साहू समेत अन्य लोग शामिल थे।

अन्य पोस्ट

Comments