दन्तेवाड़ा

इस बार बच्चों व युवाओं ने ही जलाए रावण के पुतले, नहीं हुए बड़े आयोजन
27-Oct-2020 9:44 PM 27
 इस बार बच्चों व युवाओं ने ही जलाए रावण के पुतले, नहीं हुए बड़े आयोजन

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

बचेली, 27 अक्टूबर। कोरोनाकाल के चलते पहली बार बचेली में दशहरा पर्व पर नगर के गली व मोहल्ले तक रावण दहन का कार्यक्रम सीमित रहा। बच्चों और युवाओं द्वारा तैयार किए गए पुतले में रावण अलग-अलग लुक में नजर आया।

बचेली नगर पालिका वार्ड 3 गुरूद्वारा रोड, किशोरी चौक साई लॉज के पास भी बच्चों व युवाओं ने ही खुद ही रावण के पुतला को तैयार किया। गुरूद्वारा रोड में जो पुतले का बनाया गया, जिस देखकर सभी ने तारीफ की। रावण के पुतले का सुंदर वस्त्रों के साथ धोती भी पहनाया गया। रावण का दहन आनंद और उल्लास के साथ किया गया। इसके अलावा अंधेरी चौक, बैंक कॉलोनी में भी बच्चों ने रावण दहन किया।

किरंदुल नगर में कई जगहों मोहल्ले में इसी तरह दहन कर दशहरा पर्व मनाया गया। केन्द्रीय विद्यालय मैदान में पिछले कई वर्षों से छ.ग. सांस्कृतिक समिति द्वारा दशहरा उत्सव मनाया जाता है, लेकिन इस बार मैदान में सन्नाटा पसरा। रात्रि में समिति के पदाधिकारियों द्वारा प्रतीकात्मक रावण दहन करना पड़ा। पिछले 42 वर्षों से मैदान में यह पर्व मनाया जाता है। लेकिन कोरोना के कारण जिला प्रशासन द्वारा अनुमति नहीं मिली थी। इससे छोटे कारोबारियों को बहुत नुकसान हुआ।

व्यापारियों का कहना था कि कोरोना के चलते ऐसे ही काम ठप है। दशहरा के दिन मैदान में मेला लगने पर अच्छी कमाई कर लेते थे, लेकिन इस बार ऐसा न हो सका।

अन्य पोस्ट

Comments