राजनांदगांव

कर्मचारियों के वेतन-बोनस के लिए निगम आयुक्त से मिले विपक्षी
28-Oct-2020 7:09 PM 18
कर्मचारियों के वेतन-बोनस के लिए निगम आयुक्त से मिले विपक्षी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

राजनांदगांव, 28 अक्टूबर। निगमकर्मियों के लंबित वेतन और दीवाली से पहले बोनस और शहर के गलियों और चौराहों के अंधेरे में होने की समस्या को लेकर भाजपा पार्षद दल ने आयुक्त से मिलकर समस्याओं पर चर्चा की। तीन बिन्दुओं में प्रमुख रूप से सार्वजनिक प्रकाश व्यवस्था, सितंबर-अक्टूबर माह का लंबित वेतन और त्यौहारी बोनस के मुद्दे को लेकर आयुक्त से नेता प्रतिपक्ष किशुन यदु की अगुवाई में भाजपा पार्षदों ने चर्चा की।

आयुक्त से मांग करते विपक्षी दल ने कहा कि कोरोना काल में सफाईकर्मी और राजस्व अमला जान जोखिम में डालकर मुस्तैदी से कार्यरत है। इसके बावजूद निगम प्रशासन द्वारा सितंबर और अक्टूबर माह का वेतन कर्मियों को नहीं दिया गया है। वहीं दीवाली जैसे महत्वपूर्ण त्यौहार में कर्मियों को बोनस दिए जाने की पूरजोर मांग विपक्षी पार्षदों ने की है।

इधर नेता प्रतिपक्ष किशुन यदु ने कहा कि शहर के बाहरी और अंदरूनी चौक-चौराहे अंधेरे में डूबे हुए हैं। लंबे समय से निगम प्रशासन द्वारा प्रकाश व्यवस्था को दुरूस्त करने के लिए कोई प्रयास नहीं किया गया। नेता प्रतिपक्ष ने महापौर हेमा देशमुख पर आरोप लगाया कि वह शहर विकास में कोताही बरत रही है। शहर पूरी तरह से शाम ढलते ही अंधेरे के आगोश में चला जाता है, इस पर महापौर का ध्यान नहीं होना दुख का विषय है।

भाजपा पार्षद दल का दावा है कि उनके मुद्दों का जल्द ही निराकरण करने का आयुक्त ने भरोसा दिया है। भाजपा पार्षद का कहना है कि सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में राजनांदगांव नगर निगम की बुनियादी समस्याओं का ठोस निराकरण नहीं किया जा रहा है। बताया गया है कि वेतन की समस्या को लेकर नगरीय निकाय कर्मचारी संघ ने नेता प्रतिपक्ष यदु से मिलकर अपनी पीड़ा रखते हुए समाधान करने की मांग की थी।

अन्य पोस्ट

Comments