बीजापुर

अलोकतांत्रिक तरीके से विपक्ष की आवाज दबा रही कांग्रेस सरकार- गागड़ा
24-Nov-2020 9:25 PM 32
अलोकतांत्रिक तरीके से विपक्ष की आवाज दबा रही कांग्रेस सरकार- गागड़ा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बीजापुर, 24 नवंबर। आज किसानों की समस्या को लेकर पूर्व वनमंत्री महेश गागड़ा के नेतृत्व में किसान रैली और धरना कार्यक्रम होना था। जिला प्रशासन ने कोविड-19 का हवाला देकर अनुमति देने से इंकार कर दिया। साथ ही जिला मुख्यालय की ओर आने वाले सभी मुख्य सडक़ों पर सघन जांच कर लोगों को वापस लौटाया जा रहा है। जिससे आम लोगों को असुविधा हो रही है। इधर धरना रैली की अनुमति नहीं मिलने से पूर्व वनमंत्री महेश गागड़ा ने पत्रकार वार्ता लेकर राज्य की कांग्रेस सरकार पर गंभीर आरोप लगाये। उन्होंने कांग्रेस सरकार पर लोकतंत्र की हत्या करते विपक्ष की आवाज को कुचलने का आरोप लगाया है।

यहां भाजपा कार्यालय में आयोजित पत्रकारवार्ता में पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सीएम किसान के बेटे का ढोंग कर रहे हैं। सीएम भूपेश बघेल किसानों के दर्द को नहीं समझते हैं। किसान का दर्द समझने के लिए किसान होना ही जरूरी नहीं है।

पूर्व मंत्री ने आगे कहा कि रैली की अनुमति नहीं मिलने से किसानों और भाजपाइयों में खासा रोष है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार के इशारे पर अधिकारी रैली धरना की अनुमति नहीं दे रहे हंै।

उन्होंने साफ तौर पर कहा कि अफसर पार्टी के एजेंट की तरह काम न करें। किसान रैली और धरना के मद्देनजर मुख्यालय से लगे सभी सडक़ों पर जवानों की तैनाती की गई है। मुख्यालय की ओर आने वाले सभी आम लोगों की तलाशी भी ली जा रही है।

भाजपा का आरोप है कि पूछ-पूछकर भाजपा के कार्यकर्ताओं को आने से रोका जा रहा है कई चुने हुए जनप्रतिनिधियों को वापिस लौटाया जा रहा है। सरकार किसानों के मुद्दे पर गंभीर नहीं दिखती है। इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार सहित अन्य भाजपा नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

इन मुद्दों पर होना था प्रदर्शन

 किसानों को किए वादे के अनुसार समर्थन मूल्य पर खरीदी हो।  धान खरीदी के तीन दिवस के अंदर किसान के खाते में पूरा भुगतान एक साथ किया जाए जैसा पूर्ववर्ती सरकार में किया जाता था। गिरदावरी के नाम पर रकबा कम किया जा रहा है, उसे खत्म किया जाए।

अन्य पोस्ट

Comments