दुर्ग

कुलसचिव ने किया निजी महाविद्यालयों में चल रही ऑनलाइन कक्षाओं का औचक निरीक्षण
26-Nov-2020 5:35 PM 33
कुलसचिव ने किया निजी महाविद्यालयों में चल रही ऑनलाइन कक्षाओं का औचक निरीक्षण

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 26 नवंबर।
हेमचंद यादव विश्वविद्यालय दुर्ग के कुलसचिव डॉ. सीएल देवांगन, अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव एवं संचालक, खेल, डॉ. ललित प्रसाद वर्मा की टीम ने  भिलाई-दुर्ग के निजी महाविद्यालयों में चल रही ऑनलाइन कक्षाओं का औचक निरीक्षण किया।

यह जानकारी देते हुए विश्वविद्यालय के कुलसचिव, डॉ. सी. एल. देवांगन ने बताया कि विश्वविद्यालय की कुलपति, डॉ. अरूणा पल्टा के निर्देशानुसार गठित जांच दल द्वारा शंकराचार्य महाविद्यालय, जुनवानी, एम.जे कॉलेज, भिलाई तथा देव संस्कृति कॉलेज आफ  एजुकेशन, खपरी दुर्ग का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान इन तीनों महाविद्यालयों में प्राचार्यों एवं शैक्षणिक स्टॉफ की उपस्थिति तथा महाविद्यालय में चल रही ऑनलाइन कक्षाएं एवं कक्षाओं में ऑनलाइन रूप से उपस्थित छात्र-छात्राओं की जानकारी भी जांच दल के सदस्यों ने प्राप्त की, जिन ऑनलाइन कक्षाओं का निरीक्षण किया गया उनमें बीएससी प्रथम, बी.सी.ए. प्रथम, एमएससी गणित, बीएससी द्वितीय एवं तृतीय तथा बी.कॉम एवं बीएड तृतीय सेमेस्टर की कक्षाएं शामिल थीं। कुछ ऑनलाइन कक्षाओं में विद्यार्थियों की उपस्थिति काफी कम थी। जिस पर कुलसचिव डॉ. देवांगन ने इन महाविद्यालयों के प्राचार्यों को निर्देशित किया कि वे विद्यार्थियों को समय पर लिंक उपलब्ध कराने के साथ-साथ ऑनलाइन कक्षाओं में उपस्थित होने हेतु प्रेरित करें। 

उल्लेखनीय है कि उच्च शिक्षा विभाग, छत्तीसगढ़ शासन द्वारा प्रत्येक विश्वविद्यालय के कुलसचिव को उनके विश्वविद्यालय परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले निजी महाविद्यालयों में संचालित हो रही ऑनलाइन कक्षाओं के सतत् निरीक्षण का दायित्व सौंपा गया है। इसी आदेश के परिपालन में दुर्ग विश्वविद्यालय के निरीक्षण दल ने विभिन्न निजी महाविद्यालयों का निरीक्षण किया। 

विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण, डॉ. प्रशांत श्रीवास्तव ने बताया कि उपरोक्त तीनों महाविद्यालयों में ऑनलाईन कक्षाओं का संतोषप्रद संचालन पाया गया। उच्च शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार प्रतिदिन विश्वविद्यालय का निरीक्षण दल विभिन्न निजी महाविद्यालयों का निरीक्षण करेगा। डॉ. श्रीवास्तव ने समस्त निजी महाविद्यालयों से आग्रह किया है कि वे ऑनलाइन कक्षाओं का सफल रूप से संचालन के साथ-साथ पढ़ाये गये विषय, कक्षा, टॉपिक तथा उपस्थित छात्र-छात्राओं की संख्या की जानकारी अपडेट रखें। महाविद्यालय से प्राप्त जानकारी को प्रति सप्ताह उच्च शिक्षा विभाग, छत्तीसगढ़ शासन को प्रेषित किया जायेगा।
 

अन्य पोस्ट

Comments