सुकमा

जिला पंचायत के सामान्य सभा की बैठक में ग्रामीण विकास पर हुई चर्चा
28-Nov-2020 6:58 PM 32
  जिला पंचायत के सामान्य सभा की बैठक में ग्रामीण विकास पर हुई चर्चा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

सुकमा, 27 नवम्बर 2020। शुक्रवार को जिला पंचायत सभाकक्ष में जिला पंचायत सामान्य सभा की बैठक आयोजित की गई। बैठक में सुकमा जिले के ग्रामीण अंचलों के विकास पर चर्चा की गई। जिला पंचायत अध्यक्ष श्री हरीश कवासी ने जिले के अंतिम व्यक्ति तक शासन की योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए जनप्रतिनिधियों और अधिकारी-कर्मचारियों को समन्वित प्रयास करने को कहा। जिले के दूरस्थ क्षेत्रों से समस्याएं लेकर आने आने वाले ग्रामीणों को प्राथमिकता देते हुए उनके समस्या का निराकरण की आवश्यकता बताई गई।

शासन की गरीबी उन्मूलन की योजनाओं का लाभ मिल रहा ग्रामीणों को

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा ग्रामीण विकास को गति प्रदान और गरीबी उन्मूलन की दिशा में विभिन्न योजनाएं चलाई जा रही हैं, जिनका लाभ जिले के ग्रामीणों को मिलने लगा है। पशुधन विकास विभाग द्वारा चलाए जा रहे बैकयार्ड कुक्कुट पालन, शबरी लेयर फार्मिंग, बकरी पालन इत्यादि योजनाओं से ग्रामीणों को अपने आर्थिक संवर्धन एवं जीवन स्तर को बेहतर करने में बहुत लाभ मिल रहा है। इन योजनाओं से महिला स्व सहायता समूहों के साथ ही किसान, एवं बीपीएल कार्ड धारक हितग्राही भी लाभान्वित हो रहे हैं।

  वहीं भगिनी प्रसूता योजना, मातृत्व वंदना योजना से जिले की गर्भवती महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदाय की जा रही है। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा पूरक पोषण आहार योजना से 3 से 6 वर्ष के आयु के बच्चों के साथ ही किशोरी बालिकाओं एवं गर्भवती महिलाओं को पौष्टिक आहार के साथ ही समय पर चिकित्सीय सुविधा भी मिल रही है। जनप्रतिनिधियों ने इन योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के लिए प्रशासन की प्रशंसा की गई।

जिले में स्वास्थ्य सेवाएं  हो रही बेहतर

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सीबीपी बंसोड ने बताया कि जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य कर्मियों के अथक प्रयासों से दुर्गम क्षेत्रों में भी  स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाई जा रही है। सुकमा नगरपालिका क्षेत्र के साथ ही अब जिले के दूरस्थ पहुंच विहीन क्षेत्रों में बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करने का प्रयास किया जा रहा है, जिसके अच्छे परिणाम सामने आ रहे हैं। मलेरिया मुक्त बस्तर अभियान के अन्तर्गत पहले चरण में जहां 16 हजार पॉजिटिव मरीज मिले थे, त्वरित उपचार के कारण दूसरे चरण में केवल 4 हजार मरीज मिले।

  कोरोना जांच में भी जिले में बेहतर परिणाम प्राप्त हो रहे हैं। अब तक कुल 40 हजार 731 सैंपल जांच किए गए हैं जिसमें 36 हजार 523 लोगों के जांच रिपोर्ट नेगेटिव मिले हैं। पॉजिटिव मरीजों के उपचार हेतु जिला कोविड अस्पताल सहित 3 कोविड केयर केंद्र संचालित हैं। इसके साथ ही प्रतिदिन सैंपल कलेक्शन हेतु ब्लॅाक स्तर पर फीवर क्लीनिक स्थापित किए गए हैं।

बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष श्री हरीश कवासी सहित उपाध्यक्ष श्री बोड्डू राजा, जिला पंचायत सदस्य गण एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

अन्य पोस्ट

Comments