कोरिया

भाजपा नेता समेत 150 लोगों ने किया कांग्रेस प्रवेश
28-Nov-2020 7:02 PM 35
 भाजपा नेता समेत 150 लोगों ने किया कांग्रेस प्रवेश

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

बैकुंठपुर, 28 नवंबर। कांग्रेस सरकार और संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव के कार्य से प्रभावित होकर भाजपा के पूर्व मंडल महामंत्री के साथ 150 लोगों ने कांग्रेस में प्रवेश किया। जिसमें काफी संख्या में युवा शामिल रहे।

इधर, कुछ लोगों के भाजपा छोडे जाने को लेकर सोशल मीडिया में कई तरह की प्रतिक्रिया सामने आने लगी।  भाजपा का कहना है कि रोजी रोटी के डर के कारण कुछ लोगों ने कांग्रेस प्रवेश किया है। वो कांग्रेस की उपलब्धि नहीं है।

कांग्रेस के जिला अध्यक्ष नजीर अजहर के साथ संसदीय सचिव अम्बिका सिंहदेव ने पअना क्षेत्र के विजय सिंह साथ नरेश कुमार, बुधलाल, गिरजा शंकर, नवीन कुमार, श्यामलाल, संत कुमार त्रिवेणी कुमार, हीरालाल, रामकुमार, गोकुल प्रसाद, नरेंद्र कुमार, गोपाल राजवाड़,े विशाल कुमार, जयप्रकाश यादव, विजय कुमार बघेल, दिनेश कुमार, उमेश कुमार, उमेश देवांगन, शीतला प्रसाद, नानूराम, परमेश्वर, जगराम, साधुराम, रामसुंदर, रामेश्वर प्रसाद, प्रेम शंकर, हरि सिंह, राधेश्याम, फराज खान, रामरूप सिंह, सोमार साय, मोहित राम, रंगलाल, जेठू राम,  गोरेलाल, संपत सिंह, अर्जुन सिंह, रामसाय, बृजमोहन, रामगोपाल, राकेश कुमार, सुकुल राम, पीर खान, हीरालाल, संत कुमार, उमेश कुमार कसे कांग्रेस में प्रवेश करवाया। इस अवसर पर  सांसद प्रतिनिधि प्रदीप गुप्ता, बृजवासी तिवारी, सुरेंद्र तिवारी, अरुण साहू, अजय सिंह, आशा महेश साहू, आशीष डबरे, राम कृष्ण साहू, मनराखन शर्मा, संतोष तिवारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे। कांग्रेस के नेताओंं ने बताया कि भूपेश बघेल और संसदीय सचिव अंबिका सिंहदेव के कार्यो से प्रभावित होकर 150 लोगों ने कांग्रेस में प्रवेश किया है।

रोजी रोटी के डर से प्रवेश

कांग्रेस में 150 लोगों के प्रवेश पर पटना मंडल के अध्यक्ष कपिल जायसवाल ने सवाल खडे किए है, उनका कहना है कि जिन लोगों ने कांग्रेस में प्रवेश किया उसमें ज्यादातर लोग सोसयटी में देनिक वेतन पर काम करने वाले है जो वर्षो से काम कर रहे थे, सरकार बदली और इन्हें वहां से हटाए जाने का डर सताने लगा, जिसके बाद नेताओं ने विधायक जी से भ्रमित कर उन्हें कांग्रेस में प्रवेश करवा कर वाह वाही लूट रहे है। रोजी रोटी जाने का डर से वो कांग्रेस में गए है, यह सरकार और कांग्रेस की कोई उपलब्धि नहीे है।

अन्य पोस्ट

Comments