रायपुर

महाराष्ट्र से बैल लेकर पहुंचे कारोबारी, अच्छे नस्ल की जोड़ी 80 हजार तक
01-Dec-2020 10:30 PM 57
महाराष्ट्र से बैल लेकर पहुंचे कारोबारी,  अच्छे नस्ल की जोड़ी 80 हजार तक

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
रायपुर, 1 दिसंबर।
राजधानी रायपुर से लगे झीट(पाटन) गांव में इन दिनों बैल बाजार लगा हुआ है और यहां महाराष्ट्र से आए कुछ व्यापारी बैल बेचने में जुटे हैं। अच्छे नस्ल की बैल जोड़ी की कीमत 80 हजार तक बताई जा रही है। ये बैल यहां सजा-संवारकर रखे गए हैं। दूसरी तरफ, छोटे-मध्यम किसान, कमजोर बैल की जगह तगड़ा बैल खरीदकर खेती को और मजबूत करने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन बैल की खरीदी में उसकी तगड़ी कीमत आड़े आ रही है। 

महाराष्ट्र से आए व्यापारियों का कहना है कि हाल ही में वे ट्रक से 22 जोड़ी बैल लेकर झीट गांव पहुंचे हैं, और यहां झीट के साथ घुघवा, सांकरा, अम्लेश्वर व आसपास गांव के किसान बैल खरीदी के लिए पहुंच रहे हैं। यहां एक जोड़ी बैल की कीमत 30 हजार से 80 हजार रूपए तक रखी गई है। बैल बाजार लगाने का सालभर में यही एक सीजन होता है, जब किसानों की जेब में पैसा होता है। धान बेचने के बाद किसान अपनी किसानी मजबूत करने के लिए अच्छा और तगड़ा बैल खरीदते हैं, और उसका भुगतान भी तुरंत कर देते हैं। इस तरह वे लोग एक सीजन में 8-10 लाख का कारोबार कर लेते हैं। 

दूसरी तरफ, बैल बाजार में पहुंचे किसानों का कहना है कि वर्तमान में अधिकांश किसान टे्रक्टर के भरोसे खेती कर रहे हैं, लेकिन कई छोटे और मध्यम किसान ऐसे हैं, जो बैल से खेतों की जुताई-मिंजाई करते हुए खेती-किसानी कर रहे हैं। एक बार मजबूत बैल खरीदने के बाद उनकी किसानी चार-पांच साल तक अच्छे ढंग से चलती है, और उन्हें इन सब कामों में नगद पैसा भी फंसाना नहीं पड़ता। टै्रक्टर से खेती-किसानी में नगद पैसा खर्च होता है। धान बेचने के बाद वे लोग कमजोर बैल की जगह ठीक-ठाक बैल खरीदते हैं, और खेती करते हैं। 

अन्य पोस्ट

Comments