रायगढ़

आयुर्वेद इलाज की प्राचीनतम पद्धति में से एक-उमेश
18-Jan-2021 5:58 PM 30
आयुर्वेद इलाज की प्राचीनतम पद्धति में से एक-उमेश

आयुष स्वास्थ्य शिविर में सैकड़ों लाभान्वित

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
रायगढ़, 18 जनवरी। 
उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल जिला आयुर्वेद विभाग द्वारा आयोजित आयुष स्वास्थ्य शिविर के समापन समारोह में शामिल हुए। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आयुर्वेद इलाज की प्राचीनतम पद्धति में से एक है, जो पूरे विश्व को हमारी देन है। 

आज इसका महत्व पूरे विश्व में स्थापित हो चुका है। दुनिया के कई देशों में आयुर्वेद पर शोध कार्य किये जा रहे हैं। वहां के निवासी आयुर्वेदिक मान्यताओं को आपने जीवन शैली में शामिल कर रहे हैं। आयुर्वेद हमारे पूर्वजों का अभिन्न अंग था। खान-पान से लेकर उपचार तक आयुर्वेदिक सिद्धांतों का अनुसरण किया जाता रहा है। जिसका परिणाम था कि वे निरोगी जीवन व्यतीत करते थे। आज वैसा ही स्वस्थ जीवन जीने के लिए आवश्यकता है, आयुर्वेद को हम अपने जीवन में अधिक से अधिक शामिल करें। उन्होंने शिविर के सफल आयोजन के लिए टीम को अपनी शुभकामनाएं दी।

समापन समारोह के दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष निराकार पटेल, जिला पंचायत सदस्य आकाश मिश्रा, एसडीएम युगल किशोर उर्वशा, जिला आयुर्वेद अधिकारी जीएस पटेल मौजूद रहे। शिविर में 632 मरीजों का उपचार हुआ। रक्त परीक्षण से 57, पंचकर्म चिकित्सा पद्धति द्वारा 48 व्यक्ति लाभान्वित हुए। अर्श व भगंदर से ग्रसित 47 रोगियों  का परीक्षण किया गया। आयुष मेले में डॉ नीरज मिश्रा, डॉक्टर संतोष कुमार गुप्ता, वरिष्ठ आयुर्वेद चिकित्सक डॉक्टर जी.पी तिवारी, डॉ मीरा भगत डॉ नीतू देवांगन, डॉ एसबी यादव, डॉ सुभाष चंद्र झा, डॉ शेख सादिक, डॉ मंजरी पटेल, डॉ ईश्वर पटेल, डॉ मुकेश साहू एवं पूरी टीम का सक्रिय योगदान रहा।
 

अन्य पोस्ट

Comments