कोरिया

झुमका बोट क्लब का संचालन प्रशासन के हाथों में, पहले ठेकेदार ने छोड़ा, अब दूसरे को देने की तैयारी
20-Jan-2021 5:43 PM 34
झुमका बोट क्लब का संचालन प्रशासन के हाथों में, पहले ठेकेदार ने छोड़ा, अब दूसरे को देने की तैयारी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुंठपुर, 20 जनवरी।
कोरिया जिला प्रशासन का सबसे महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट झुमका बोट क्लब के संचालन अब खुद प्रशासन को करना पड़ रहा है, ठेकेदार भाग खड़ा हुआ है, वही कमतर सुविधाओं के बीच   कई अधिकारी संचालन के लिए अपना मुख्य काम छोड़ मदद करने में जुटे है।

पर्यटन समिति के सचिव श्री सोनकर की माने तो जिसने टेंडर लिया वो भाग खड़ा हुआ है, दूसरे नंबर को मौका दिया जा रहा है, बोट क्लब का संचालन सुव्यवस्थित हो इसका प्रयास किया जा रहा है।
जानकारी के अनुसार कोरिया जिला मुख्यालय स्थित झुमका बोट क्लब के संचालन प्रशासन के हाथों में है, इसके पूर्व इसका टेंडर किया गया, 4 लाख की राशि से ज्यादा प्रतिमाह के हिसाब से एक संस्था ने ठेका लिया, बमुश्किल कुछ दिनों की इसका संचालन कर पाया और वो भाग खड़ा हुआ,  अब बीते 15 दिन से झुमका बोट क्लब का संचालन जिला प्रशासन के हाथों में है, जिसमे कई विभाग के अधिकारी कर्मचारी प्रशासन की मदद कर रहे है, लाइवलीहुड के प्राचार्य सहित उनका स्टाफ झुमका बोट क्लब में मदद करने में जुटे हुए है।

बोट डूबी अभी तक नही निकली
बोट क्लब में 3 बड़ी और 4 छोटी  बोट है। 3 बड़ी बोट मोटर से चलती है जबकि 4 बोट पैडल से चलाई जाती है। पैडल वाली 4 बोट में से 1 बोट झुमका में एक सप्ताह पूर्व डूब गई, उसे ढूंढने में 6 दिन लग गए, आज मिलने की बात बताई जा रही है, परंतु उसे बाहर निकाला नही जा सका है। वही 1 बोट बीच झुमका में फंसी हुई है। इसके अलावा बड़ी 3 बोट में 2 बोट की मरम्मत कराई जा रही है और एक बड़ी बोट पूरी तरह से फिट है। कुल 2 छोटी है 1 बड़ी बोट से पर्यटकों को सैर करवाया जा रहा है।

लाइफ जैकेट में पेंच
झुमका बोट क्लब में सैर कराने के पूर्व लाइव जैकेट पर्यटकों को दिए जाते है। इन जैकेटों में साफ लिखा हुआ है कि एक जैकेट 9 किलो के अंदर ही वजन सहन कर सकता है। जबकि यहां ऐसा नही है , यहां 50 से 60 किलो से भी ज्यादा वजन  के लोगो इस जैकेट को पहनाया जा रहा है।
 

अन्य पोस्ट

Comments