कोण्डागांव

मुख्यमंत्री का आगमन 27 को, तैयारी जोरों पर
23-Jan-2021 7:07 PM 41
मुख्यमंत्री का आगमन 27 को, तैयारी जोरों पर

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

विश्रामपुरी, 23 जनवरी।  आगामी 26 एवं 27 जनवरी को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के आगमन की तैयारी को लेकर काफी उत्साह बना हुआ है लेकिन तारीख बदलती जा रही है जिससे अब तक असमंजस की स्थिति बनी हुई थी किंतु अब 26 जनवरी को मुख्यमंत्री का ध्वजारोहण के लिए जगदलपुर आगमन होगा। तत्पश्चात वे कोंडागांव  पहुंचेंगे जहां वे इंग्लिश मीडियम स्कूल के शुभारंभ सहित अन्य कार्यक्रमों मे शिरकत करेंगे। 27 जनवरी को वे कोंगेरा में एक आम सभा को संबोधित करेंगे साथ ही वे यहां गोठान का निरीक्षण एवं शुभारंभ करेंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पदभार ग्रहण करने के पश्चात उनका केशकाल विधानसभा मे यह पहला आगमन है जिससे केशकाल विधानसभा क्षेत्र में काफी उत्साह देखा जा रहा है।

क्षेत्रीय विधायक संतराम नेताम लगातार कार्यक्रम की तैयारी में स्वयं दिन रात लगे हुए हैं । मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में कोई कमी ना हो इसकी इसके लिए वह क्षेत्र के कार्यकर्ताओं की दो से तीन बार बैठक ले चुके हैं। इसके अलावा वे अलग-अलग विभाग के अधिकारियों से भी लगातार संपर्क कर तैयारी का जायजा ले रतत्पप हैं। कभी अपने बंगले पर बैठक बुलाते हैं तो कभी कार्यक्रम स्थल पर बैठक ले रहे हैं। ग्राम पंचायत कोंगेरा में गोठान को लेकर काफी तैयारियां की जा रही हैं यहां न सिर्फ गोबर एवं वर्मी पोस्ट बल्कि बागवानी एवं गौपालन से लेकर कुकुट पालन, मशरूम पालन आदि की सतत निगरानी हो रही है।

 सुधर रही है सडक़

 मुख्यमंत्री यहां हेलीपैड से सडक़ मार्ग के द्वारा कोंंगेरा के वहां से 2 किलोमीटर दूर सडक़ मार्ग से मोटा निरीक्षण करने जाएंगे उस मार्ग से जहां से मुख्यमंत्री गुजरेंगे उन्हें सुधारा जा रहा है इसके अलावा क्षेत्र में लगातार उच्चाधिकारियों के दौरे के चलते  लोक निर्माण विभाग की सडक़ को भी सुधारा जा रहा है। केशकाल से विश्रामपुरी के बीच मुख्य मार्ग पर अनेक गड्ढे थे इन्हें  बारिश के पश्चात पेच वर्क किया गया था किंतु पेच वर्क के नाम पर यहां महज लीपापोती की गई थी जिससे सडक़ में अब भी गड्ढे बने हुए थे। मुख्यमंत्री के आगमन के पूर्व इस सडक़ में दुबारा पेच वर्क किया जा रहा है। बहरहाल अब तारीख आगे बढऩे से विभाग के अधिकारियों को कार्यक्रम पूर्ण करने का पर्याप्त समय मिल चुका है फिर एक बार समय आगे बढऩे से गोठान स्थल पर नए तरीके से साज सजावट हो रही है।

अन्य पोस्ट

Comments