कोरबा

विस अध्यक्ष ने किया पाली एसडीएम कार्यालय का शुभारंभ
16-Feb-2021 6:46 PM 32
 विस अध्यक्ष ने किया पाली एसडीएम कार्यालय का शुभारंभ

  वित्तीय कार्यों के लिए सुविधा बढ़ाने पाली में जल्द शुरू होगा उप कोषालय   

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोरबा, 16 फरवरी।  कोरबा जिले के पाली क्षेत्र के 138 गांवों के लोगों को अब जमीन-जायदाद संबंधी कामो के लिए कटघोरा तक नहीं जाना पड़ेगा। 51 हजार से अधिक खातेदारों की सहुलियत के लिए विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत और प्रभारी मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल और सांसद ज्योत्सना महंत की मौजूदगी में पाली में एसडीएम कार्यालय और नए पाली राजस्व अनुभाग का औपचारिक शुभारंभ किया।

एसडीएम कार्यालय के शुभारंभ अवसर पर कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने प्रशासनिक प्रतिवेदन प्रस्तुत किया और कार्यालय शुरू हो जाने से मिलने वाली सुविधाओं से अवगत कराया। इस अवसर पर प्रभारी मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने प्रशासनिक वित्तीय कार्यों के लिए पाली में उपकोषालय शुरू करने की घोषणा भी की।

डॉ. महंत ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश वासियों के हित के लिए हर जरूरी काम कर रही है। दूर-दराज के इलाकों के निवासियों की सहूलियत के लिए नई तहसीलें-उपतहसीलें और नए जिले बनाने का काम सरकार ने किया है। क्षेत्र के विकास के लिए जनसहयोग के साथ-साथ सभी को मिलजुल कर एक साथ एक राय होकर काम करना होगा। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि मंत्री, विधायक, सांसद, प्रशासनिक अधिकारी सभी मिलकर क्षेत्र की जरूरतों के हिसाब से योजनाएं बनाएं और उन पर अमल करें तो विकास कार्यों को और गति मिलेगी।

जिले के प्रभारी डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने कहा कि पाली क्षेत्र के लोगों की एक बहुप्रतिक्षित मांग आज पूरी हो गई है। ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के राजस्व मामलों के निपटारे के साथ-साथ प्रशासनिक कसावट के दृष्टिकोण से भी पाली में एसडीएम कार्यालय खोलने की मांग जनता द्वारा लंबे समय से की जा रही थी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की सरकार किसानों की सहुलियतों के लिए लगातार काम कर रही है। पाली में एसडीएम कार्यालय खुल जाने से सबसे ज्यादा फायदा क्षेत्र के किसानों का होगा। अब किसानों को और 51 हजार से अधिक खातेदारों को अपने राजस्व संबंधी छोटे-छोटे कामों नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन आदि के लिए 30 किलोमीटर दूर कटघोरा तक नहीं जाना पड़ेगा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्रदेश में धान खरीदी भी रिकॉर्ड स्तर पर की गई है। सरकार ने समितियों की संख्या बढ़ाकर किसानों को धान बेचने के लिए जो सुविधाएं दी हैं उन्ही का परिणाम है कि पिछले 15 सालों से भी अधिक इस बार 92 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हुई है और किसानों को समर्थन मूल्य का पैसा सात दिनों में खातों में मिल गया है। प

 राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने कहा कि गांव स्तर तक शासकीय योजनाओं को सफलता पूर्वक  पहुंचाने, लोगों को अपने राजस्व संबंधी कामों के लिए सहुलियत देने के उद्देश्य से दो साल में 24 से अधिक तहसील-उपतहसील राज्य सरकार ने बना दीं हैं। आने वाले दिनों में भी नईं तहसीलों-उपतहसीलों को बनाने की प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में नई तहसील-उपतहसीलों की संख्या लगभग 50 तक पहुंच जाएगी। राजस्व मंत्री ने नए राजस्व अनुभाग बनने और पाली में एसडीएम कार्यालय शुरू होने पर पाली क्षेत्र के लोगों को बधाई और शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि अब राजस्व  संबंधी कामों के लिए लोगों को कटघोरा तक नहीं जाना पड़ेगा। राजस्व संबंधी मामले अब कम समय में बिना कटघोरा जाए ही पाली में ही निपट जाएंगे। राजस्व मंत्री ने कहा कि जिले में पिछले दो सालों में विकास के कई काम हुए हैं। जिले के सभी स्कूलों में मूलभूत सुविधाओं में बढ़ोत्तरी के लिए स्कूलों का बाउंड्री वॉल, शौचालय, शाला भवनों, पेयजल की सुविधाओं आदि का विस्तार किया जा रहा है। स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए मेडिकल कॉलेज की स्थापना का काम तेजी से चल रहा है। सरकार ने मेडिकल कॉलेज के लिए डीन की नियुक्ति भी कर दी है। राजस्व मंत्री ने पाली को नए अनुभाग बनाए जाने का श्रेय सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत दिया और कहा कि सांसद क्षेत्र के विकास के लिए हमेशा तत्पर रहती हैं। कोरबा हो या कोरिया दोनो जिले के वासियों को सहुलियतें दिलाने और क्षेत्र में विकास कार्यों के लिए योजनाएं बनाने में सांसद श्रीमती महंत का विशेष मत होता है। राजस्व मंत्री ने बताया कि क्षेत्र के विकास के लिए सांसद हमेशा अधिकारी-कर्मचारियों और मंत्रियों से लगातार विचार-विमर्श करती रहती हैं।

इस दौरान मध्यक्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष पुरूषोत्तम कंवर, पाली-तानाखार के विधायक मोहितराम केरकेट्टा, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती शिवकला कंवर, कोरबा नगर निगम के महापौर श्री प्रसाद, नगर पंचायत पाली के अध्यक्ष  उमेश चन्द्रा, नगर निगम कोरबा के सभापति  श्याम सुंदर सोनी, जनपद पंचायत पाली के अध्यक्ष दिलेश्वरी सिदार, पूर्व विधायक  बोधराम कंवर सहित  प्रशांत मिश्रा और गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

अन्य पोस्ट

Comments