बस्तर

महापौर-कलेक्टर ने किया युवोदय एकेडमी के स्टूडियो का लोकार्पण
04-Mar-2021 9:06 PM 63
 महापौर-कलेक्टर ने किया युवोदय  एकेडमी के स्टूडियो का लोकार्पण

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

जगदलपुर, 4 मार्च । लाला जगदलपुरी ग्रंथालय परिसर जगदलपुर में स्थापित युवोदय एकेडमी के स्टूडियो का लोकार्पण बुधवार 3 मार्च को महापौर  सफीरा साहू एवं कलेक्टर रजत बंसल के द्वारा किया गया।

इस दौरान अतिथियों ने विधिवत फीता काटकर इस नव निर्मित स्टूडियो कक्ष का लोकार्पण किया। इस अवसर पर महापौर  सफीरा साहू ने युवोदय एकेडमी के माध्यम से नि:शुल्क कोचिंग की सुविधा प्रारंभ करने के लिए जिला प्रशासन के प्रयासों की सराहना की। कलेक्टर  रजत बंसल ने कहा कि युवोदय ऐकडमी जिले के सुदूर अंचल एवं प्रतियोगी परीक्षाओं से जुड़े विद्यार्थियों के लिए अत्यंत लाभप्रद सिद्ध होगा। श्री बंसल ने ऐकडमी में स्टूडियो की सौगात मिलने पर जिले के विद्यार्थियों को बधाई एवं शुभकानाएं भी दी। उल्लेखनीय है कि बस्तर जिले के विद्यार्थियों को नीट, जेई एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए नि:शुल्क कोचिंग तथा उनके अनुरूप अध्ययन-अध्यापन की अनुकूल सुविधा एवं माहौल प्रदान करने हेतु जिला प्रशासन द्वारा युवोदय एकेडमी की स्थापना की गई है। यह एकेडमी खास करके ग्रामीण क्षेत्रों के बच्चों के लिए जहां पर नीट, जेई एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोचिंग एवं अन्य सुविधाओं का अभाव है उनके लिए अत्यंत लाभकारी सिद्ध होगा।

इस दौरान महापौर एवं कलेक्टर ने स्टूडियो में पॉवर पाईंट पे्रजेंटेशन के माध्यम से ऑनलाईन अध्यापन के कार्यो का अवलोकन भी किया। उन्होंने बच्चों एवं शिक्षकों से बात-चीत कर अध्ययन-अध्यापन की व्यवस्था एवं जरूरी सुविधाओं के संबंध में जानकारी ली। मौके पर उपस्थित अधिकारियों ने युवोदय एकेडमी एवं स्टूडियो के उद्देश्यों एवं कार्यो के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस एकेडमी में अध्ययन-अध्यापन के लिए 12 विशेषज्ञ शिक्षकों का चयन कर लिया गया है। साथ ही शेष शिक्षकों का चयन प्रक्रिया जारी है। इसके माध्यम से नीट, जेई एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे बच्चों को नि:शुल्क कोचिंग एवं अन्य जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराने के अलावा बस्तर जिले में 10वीं एवं 12वीं कक्षा में अध्ययनरत् बच्चों को मॉडल प्रश्नपत्र भी प्रदान किया जाएगा। वर्तमान में इस स्टूडियो में कुल 30 बच्चों का एक बैच की कक्षाएं संचालित की जा रही है। साथ ही स्टूडियो में चल रहे कोचिंग क्लास का रिकार्डिंग कर जिले के हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूलों में भेजा जाएगा। जिससे की जिले के विद्यार्थी विशेषज्ञ शिक्षकों के अध्यापन का लाभ ले सकें। विद्यार्थी इस सुविधा का लाभ यूट्यूब एवं अन्य ऑनलाईन माध्यम से ले सकते हैं।

अन्य पोस्ट

Comments