कोरिया

शासकीय कार्यक्रमों में सांसद का नाम शामिल न कर, लगातार प्रोटोकॉल उल्लंघन करने वाले दोषी अफसरों को तत्काल निलंबित करें-डोमरु रेड्डी
31-Mar-2021 5:23 PM (33)
शासकीय कार्यक्रमों में सांसद का नाम शामिल न कर, लगातार प्रोटोकॉल उल्लंघन करने वाले दोषी अफसरों को तत्काल निलंबित करें-डोमरु रेड्डी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बैकुण्ठपुर, 31 मार्च।
कोरिया जिले में प्रोटोकॉल उल्लंघन का मामला प्रकाश में आया है। दरअसल सरकारी कार्यक्रमों में इन दिनों लगातार कोरबा लोकसभा क्षेत्र की सांसद ज्योत्सना चरणदास महन्त का नाम शामिल नहीं किए जाने पर अपनी गंभीर आपत्ति दर्ज करते हुए चिरमिरी के पूर्व महापौर के. डोमरु रेड्डी ने कलेक्टर कोरिया को पत्र लिखकर कोरिया जिले के शासकीय कार्यक्रमों में सांसद का नाम शामिल न कर, लगातार प्रोटोकॉल उल्लंघन करने वाले दोषी अधिकारियों को तत्काल निलंबित करने की मांग की है। जिसकी जानकारी उन्होंने लोकसभा प्रशासन के सचिव एवं छत्तीसगढ़ सरकार के मुख्य सचिव को भी देते हुए, उचित कार्यवाही की मांग की है।

अपने पत्र में पूर्व महापौर एवं जिला कांग्रेस के उपाध्यक्ष श्री रेड्डी ने कहा है कि कोरिया जिले के शासकीय कार्यक्रमों में सांसद  ज्योसना चरणदास महंत का नाम शामिल करने में लगातार लापरवाहीपूर्वक प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया जा रहा है। जो कि अत्यंत ही खेद एवं हम पार्टीजनों के लिए क्षोभ का विषय है। उन्होंने प्रशासन से सवाल किया है कि आखिर सांसद के साथ ऐसा क्यों किया जा रहा है? क्या यह लोकतंत्र के त्रिस्तरीय शासन व्यवस्था पर प्रश्नचिन्ह नही है? यह हम सबके लिए, बेहद दु:ख एवं असहनीय पीड़ा का विषय है।

श्री रेड्डी ने पत्र में आगे कहा है कि सबसे आश्चर्य की बात तो यह है कि आप जैसे एक संवेदनशील जिलाधिकारी के रहते ऐसा चूक लगातार क्यों हो रहा है? क्या कलेक्टर कार्यालय में बैठा कोई अधिकारी जानबूझकर, किसी षडय़ंत्रपूर्वक ऐसा भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहा है जिससे कि हमारे नेताओं का आपस में टकराहट हो जाए? इस बात की जाँच कर यह सुनिश्चित किए जाने की आवश्यकता है कि दोषी अधिकारी निश्चित ही दण्डित हो तथा बार-बार हो रहे इस तरह के छलपूर्ण कार्यप्रणाली की निष्पक्ष जॉच कराई जानी चाहिए कि आखिरकार ये सब किसके इशारे पर हो रहा है?

श्री रेड्डी ने पत्र में बताया है कि पहले अमृतधारा महोत्सव आयोजन के आमंत्रण कार्ड में और अब चिरमिरी नगर पालिक निगम में निदान 1100 के प्रचार - प्रसार के लिए जगह - जगह लगाये गए फैक्स में सांसद का नाम/फोटो छोड़ दिया गया है। 
इसके अलावा और भी कई ऐसे उदाहरण होगे, जिनकी जानकारी हमें नहीं है। यह न केवल प्रोटोकॉल उल्लंघन का विषय है बल्कि यह एक सांसद के विशेषाधिकार के हनन का भी मामला है। इसलिए अब भविष्य में कोरबा सांसद ज्योत्सना चरणदास महंत की गरिमा का पूरा ध्यान रखा जाए क्योकि श्रीमती ज्योत्सना चरणदास महंत हमारे सांसद के साथ-साथ हम सबकी अभिभावक भी है। 

श्री रेड्डी ने पत्र में कोरिया कलेक्टर एस. एन. राठौर को संबोधित करते हुए कहा है कि अविलम्ब इस संवेदनशील मामले में सुसंगत विधिसम्मत त्वरित कार्यवाही सुनिश्चित करे अन्यथा हम आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।
 

अन्य पोस्ट

Comments