दुर्ग

विधायक ने सिंचाई विभाग को दिए पानी छोडऩे के निर्देश
06-Apr-2021 5:40 PM (22)
विधायक ने सिंचाई विभाग को दिए पानी छोडऩे के निर्देश

गर्मी के दिनों में जनता को निस्तारी व पेयजल के लिए मिले पर्याप्त पानी

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 6 अप्रैल।
नगर निगम क्षेत्र में शिवनाथ नदी से घर-घर पहुंचने वाला पानी इस बार सिंचाई विभाग द्वारा अभी से खरखरा जलाशय द्वारा छोड़ दिया गया है, किन्तु शहर के 24 तालाबों का जल स्तर बढ़ती गर्मी के साथ ही निरंतर कम होता जा रहा है, जिससे तालाबों के आसपास रहने वाले लोगों के समक्ष निस्तारी की समस्या उत्पन्न होना प्रारंभ हो गई है। शहर की आधी आबादी निस्तारी के लिए तालाबों पर निर्भर है। पेयजल एवं निस्तारी की व्यवस्था सुनिश्चित करने विधायक अरुण वोरा जल संसाधन विभाग के अधीक्षण अभियंता समीर जार्ज से मुलाकात करने पहुंचे।

उन्होंने कहा कि ग्रीष्म काल में आम जनता को निस्तारी की समस्या नहीं होनी चाहिए। नदी में 12 फीट पानी इंटेकवेल के आसपास रहना चाहिए, नगर निगम की डिमांड के अनुरूप सिंचाई विभाग द्वारा लेबल डाउन होने के पहले ही पानी छोड़ा जाए, जिससे पानी पहुंचना प्रारंभ हो सके।

वहीं दूसरी तरफ कैलाश नगर, शक्ति नगर, बोरसी, पोटिया, दीपक नगर, कातुलबोड़ के तालाबों में भी गंदगी का आलम होने की शिकायत है, जिसे देखते हुए वोरा ने तांदुला से तालाबों के लिए छोड़े गए पानी का तालाबों तक पहुंचना सुनिश्चित करने के लिए नहर नालियों की सफाई एवं मरम्मत करवाने निगम अधिकारियों को निर्देश दिए।

अधीक्षण अभियंता समीर जार्ज ने बताया कि खरखरा से शिवनाथ नदी में छोड़ा गया पानी अब पहुंचने लगा है। बांध में पानी की कोई कमी नहीं है। तांदुला का पानी भी अगले 10 दिनों में तालाबों तक पहुंचने लगेगा। 
इस दौरान पूर्व पार्षद राजेश शर्मा, एल्डरमैन अंशुल पांडेय मौजूद थे।
 

अन्य पोस्ट

Comments