राजनांदगांव

मेयर ने की नांदगांव में सुविधाएं बढ़ाने की मांग
13-Apr-2021 9:58 PM (26)
 मेयर ने की नांदगांव में सुविधाएं बढ़ाने की मांग

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
राजनांदगांव, 13 अप्रैल।
महापौर हेमा देशमुख ने सोमवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से वर्चुअल बैठक में चर्चा की। उन्होंने राजनांदगांव की स्थिति से अवगत कराते कोविड टेस्ट पाईंट बढ़ाने और पेंड्री मेडिकल हास्पिटल मेें आक्सीजन बेड व वेंटिलेटर बढ़ाने की मांग की। उन्होंने कहा कि रेमडिसीवर इंजेक्शन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं है। इसकी कालाबाजारी हो रही है। उन्होंने इंजेक्शन अधिक मात्रा में उपलब्ध कराने की मांग की। 

महापौर देशमुख ने बताया कि पूर्व मेें मुख्यमंत्री द्वारा कोरोना काल में मुख्यमंत्री आपदा सहायता कोष से 4 करोड़ राशि राजनांदगांव के लिए दिए थे। जिसमें से 2 करोड़ 85 लाख रुपए खर्च हुई थी। इसके अलावा राजनांदगांव के दानदाताओं ने भी एक करोड़ 30 लाख रुपए की राशि दी थी, जिसे कोरोना प्रभावित लोगों को दवाई के साथ-साथ अन्य राहत सामग्री उपलब्ध कराए थे। मुख्यमंत्री सहायता कोष की शेष राशि से आज कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप से लडऩे हेतु उपयोग किया जा रहा है। जैसे 120 बेड, आक्सीजन सिलेंडर, दवाईयों में लगातार खर्च किया जा रहा है। दानदाताओं की शेष राशि से 10 वेंटिलेटर एवं आक्सीजन सिलेंडर भी खरीदे गए हैं। उन्होंने बताया कि इस विपरीत परिस्थितियों में भी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लगातार कोरोना संक्रमण के लिए हर जिले में पर्याप्त राशि दे रहे हैं।

महापौर देशमुख ने बताया कि राजनांदगांव जिले में अपै्रल माह तक 3 लाख वैक्सीनेशन टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है और अब तक 2 लाख 20 हजार तक पहुंच चुके हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को धन्यवाद देते कहा कि आज जनता को वैक्सीनेशन कराने में कोई कमी नहीं की। महापौर ने केन्द्र की मोदी सरकार से भी मांग करते कहा कि छत्तीसगढ़ को अधिक से अधिक वैक्सीन दिया जाए एवं वैक्सीनेशन कराने की आयु 18 वर्ष की जाए, ताकि अधिक से अधिक लोग सुरक्षित रह सके।
 

अन्य पोस्ट

Comments