कोरिया

जिपं अध्यक्ष ने केंद्रीय व राज्य के स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखकर कोरिया में कोरोना के उपचार में आ रही दिक्कतों से कराया अवगत
26-Apr-2021 10:23 AM (55)
जिपं अध्यक्ष ने केंद्रीय व राज्य के स्वास्थ्य मंत्री को पत्र लिखकर कोरिया में कोरोना के उपचार में आ रही दिक्कतों से कराया अवगत

वेबीनार में बोलने का मौका नहीं मिलने पर दिए कई सुझाव

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
चिरिमिरी , 25 अप्रैल।
छतीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में 23 अप्रैल को सभी जिला पंचायत अध्यक्षों व मुख्यकार्यपालन अधिकारीयों के साथ जिला पंचायत का कोविड 19 के संबंध में समीक्षा रखा गया जिसमें जिला पंचायत अध्यक्ष रेणुका सिंह वेबिनार के माध्यम से जुडक़र उपस्थित रही और कोरिया जिला के स्वास्थ्य विभाग के समस्याओं से अवगत कराने को तैयार थी लेकिन जिला कोरिया का जैसे ही नाम आया उसके तुरंत बाद जशपुर जिला का नाम आ जाने के कारण जिला कोरिया के बारे में अवगत नहीं करा पाई।

जिला पंचायत कोरिया की अध्यक्ष रेणुका सिंह ने पत्र जारी करते हुए सुझाव व आवश्यक कार्यवाही के संबंध में अवगत कराया है जिसमें प्रमुख रूप से अस्पतालों में बिस्तर की समस्या जो मंत्रीयों के द्वारा पहले से आरक्षित रखा जा रहा है, उसको मरीजों को देने, फेवरी, पिरावीर, रेमडेसिविर व अन्य जीवन रक्षक दवाओं के कालाबजारी पर अंकुश लगाने की कार्यवाही, बड़े उद्योगों में सप्लाई कम कर अस्पतालों में ज्यादा ऑक्सीजन देकर वर्तमान में हो रही कमी को दूर करने, डाक्टरों एवं अस्पताल स्टॉफ के साथ मारपीट व गाली गलौज की घटनाओं में सुरक्षा व त्वरित कार्यवाही, प्रवासी मजदूरों जो दूसरे राज्यों में काम करने गए थे व अब लॉकडाउन के कारण अपने राज्य वापस आ रहे हैं उनके साथ में यहां रहकर काम के अभाव मजदूरों को रोजगार मुहौया कराने के लिए अधिक से अधिक मनरेगा के तहत काम दिलाने, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारियों का वेतन में एक दिन की कटौती कर मुख्यमंत्री रिलिफ फंड में जमा नहीं करने व साथ में उनको अतिरिक्त एक माह का वेतन देने और सप्ताह में एक दिवस की छुटटी देने के लिए आग्रह व जिला कोरिया के मनेन्द्रगढ़ में घोषणा के बाद प्रस्तावित मेडिकल कालेज को जल्द प्रारम्भ करने हेतु निवेदन किया गया है। 

रेणुका सिंह के द्वारा उक्त पत्र छतीसगढ़ के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के केन्द्रीय मंत्री  डॉ. हर्षहर्वन सिंह  व छतीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टी. एस. सिंह देव  को पत्र के माध्यम से अवगत कराया है।
 

अन्य पोस्ट

Comments