महासमुन्द

खाद की कीमतों में वृद्धि किसानों के साथ सरासर अन्याय-आप
14-May-2021 8:56 AM (36)
खाद की कीमतों में वृद्धि किसानों  के साथ सरासर अन्याय-आप

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुंद, 13 मई।
आम आदमी पार्टी महासमुन्द के जिलाध्यक्ष भूपेन्द्र चन्द्राकर ने विज्ञप्ति जारी कर केन्द्र एवं राज्य सरकार से मांग की है कि किसानों को खाद में सब्सिडी दे ताकि किसानों को खाद ज्यादा रेट में ना मिले। उन्होंने आगे कहा केंद्र की मोदी सरकार ने हाल ही में खादों की कीमत में भारी वृद्धि की है जहां डी ए पी की कीमत 1150 रुपये से बढ़ा कर 1900 रुपये, बोरीएएन पी के की कीमत 1285 से बढ़ा कर 1747 रुपये बोरी,  850 रुपये की एम ओ पी को बढ़ाकर 1000 रुपये कर दिया है। 

इस तरह लगभग एकमुश्त 58 प्रतिशत की वृद्धि केन्द्र सरकार ने खादों के दामो में की है जो कि सरासर किसानों के साथ अन्याय है।  अत: आम आदमी पार्टी केन्द्र सरकार से मांग करती है कि वो किसानों को खाद में सब्सिडी दे और कीमत को कम करे। 

आम आदमी पार्टी ने राज्य सरकार से मांग है कि छत्तीसगढ़ एवं महासमुंद जिला के विभिन्न सोसायटी ओं में तथा व्यापारियों को कम रेट में मार्च में ही खाद दिया जा चुका है। अभी इनकी कीमत सोसाइटी में 1150 रुपये है। इसकी बोरी में एमआरपी 1200 रुपए है। 

इसी तरह मार्च में ही व्यापारी खाद को कम रेट में खरीद कर अपने गोदामों में रख चुके हैं जिसे वे अभी खरीफ  फसल में बेचेंगे। आम आदमी पार्टी की यह मांग है की राज्य सरकार इन सोसाइटी एवं व्यापारियों के लिए आदेश जारी करें की कोई भी सोसाइटी या व्यापारी अपने पुराने खरीदी वाले खाद को 1200 रुपए एम आर पी से अधिक नहीं बेच सकते। 

यदि इस तरह का आदेश सरकार जारी नहीं करेगी तो बाजार में  खाद की कालाबाजारी शुरू हो जाएगी जो कि किसानों के लिए इस कोरोना काल में घातक होगा। आम आदमी पार्टी अपने कार्यकर्ताओं एवं किसानों से अपील की है कि जैसे ही उनको किसी व्यापारी या सोसाइटी में अधिक रेट में खाद बेचने की जानकारी मिले, इसकी तत्काल  शिकायत आम आदमी पार्टी से संबंधित विधानसभा अध्यक्षों के नंबरों पर कर। ताकि संज्ञान लेकर आम आदमी पार्टी आगे के कार्यवाही कर सके। 
 

अन्य पोस्ट

Comments