छत्तीसगढ़ » बालोद

27-Mar-2021 4:24 PM 35

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बालोद, 27 मार्च।
जिले में ऑटो चालक द्वारा सवारी से मारपीट कर लूट का मामला सामने आया था। पुलिस ने  दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस के अनुसार एक सप्ताह पहले एक व्यक्ति राजधानी रायपुर से जगदलपुर जाने के लिए निकला था। इस दौरान धमतरी में बस रुकने पर वह पानी लेने के लिए उतरा तभी बस निकल गई। जहां पर एक ऑटो चालक बस का पीछा करने की बात कहते हुए उसे अपने ऑटो पर बिठा लिया। कुछ ही दूरी पर जाने के बाद ऑटो चालक ने सुनसान इलाके का फायदा उठाते हुए सवारी के साथ मारपीट करते हुए उनके पास नगदी रखे हजारों रुपए व मोबाइल लूट कर फरार हो गया। 

मामले की जानकारी प्रार्थी ने गुरुर थाने में दर्ज कराई। जिसके बाद पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए आसपास का सीसीटीवी फुटेज खंगाला और कई लोगों से मामले के विषय में जानकारी एकत्रित की। इस दौरान दोनों आरोपी चारामा शराब दुकान के पास मिले जिसके पास से नगदी रकम व मोबाइल के साथ घटना में प्रयुक्त होने वाले ऑटो को जब्त कर लिया है।


27-Mar-2021 4:16 PM 23

संक्रमण काल में शराब दुकान धारा 144 से बाहर-कृष्णकांत 

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बालोद, 27 मार्च।
अंतिम किश्त की राशि को शेष तीन किश्तों से कम सरकार द्वारा जारी किए गए धान की चौथी किश्त को लेकर भारतीय जनता पार्टी जिला बालोद द्वारा सरकार पर हमला किया गया है। भाजपा ने इस अंतिम किश्त की राशि को शेष तीन किश्तों से कम बताया है। 

भाजपा जिलाध्यक्ष कृष्णकांत ने कहा कि ये आरोप नहीं प्रमाणित तथ्य है कि चौथी किश्त में 20 फीसदी कटौती की गई, जो अस्वीकार्य है। यह किसानों के साथ धोखा है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। एक तरफ यहां की सरकार किसान हितैषी बनती है तो दूसरी तरफ किसानों के साथ छलावा कर रही है।

भाजपा जिलाध्यक्ष कृष्णकांत पवार ने कहा कि धान खरीदी वर्ष 2019-20 में केंद्र सरकार द्वारा घोषित समर्थन मूल्य पतला धान के लिए 1835 रुपए प्रति क्विंटल और मोटा धान के लिए 1815 रुपए प्रति क्विटंल था। 
राज्य सरकार की घोषणा के अनुरूप प्रति क्विटंल 2500 रुपए की दर से प्रति एकड़ 15 क्विटंल धान खरीदा जाना निर्धारित किया था।

भाजपा किसान मोर्चा प्रदेश मंत्री पवन साहू ने बताया कि पतला धान के लिए केंद्रीय सरकार के समर्थन 1835 रुपए के हिसाब से 665 रुपए अतिरिक्त राशि प्रति क्विंटल दिया जाना था। किसानों ने सरकार की अपील का सम्मान किया था। लेकिन अंतिम किश्त की जो राशि प्राप्त हुई है वो पुराने तीन किश्तों से कम है।

भाजपा जि़ला महामंत्री किशोरी साहू ने कहा कि एक तो 4 किश्तों में किसानों को उनका अधिकार दिया जा रहा है। अधिक उपयोगी होता यदि पूरी राशि किसान को एक साथ दी जाती। राजीव गांधी के नाम पर किसानों के साथ धोखा है। 
महामंत्री प्रमोद जैन ने कहा कि किसानों को पूरी राशि तत्काल देनी चाहिए। यदि सरकार किसानों को उनके अधिकार से वंचित करती है तो छत्तीसगढ़ के किसान भी अपने हक की लड़ाई लडऩा जानते हैं और किसानों के साथ जो अन्याय किया जा रहा है उसका जवाब जरूर मिलेगा।

किसान ही नहीं हर वर्ग परेशान
भाजपा जिला अध्यक्ष, उपाध्यक्ष राकेश (छोटू) यादव, नरेश यदु, संध्या भारद्वाज, सुशीला साहू, त्रिलोकी साहू, ठाकुर राम चंद्राकर, कोषाध्यक्ष सुदेश सिह जि़ला मंत्री जयेश ठाकुर, शरद ठाकुर, नरेश साहू, शीतल नायक, संजय दुबे ने भी प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया है कि यहां पर किसान ही नहीं हर वर्ग परेशान हैं।
प्रदेश में धारा 144 लागू है परंतु शराब दुकानों में क्या संक्रमण नहीं फैलता, वहां पर क्यों छूट दी जा रही है। यहां की सरकार शराब को बढ़ावा दे रही है।
 


25-Mar-2021 5:28 PM 55

दल्लीराजहरा, 25 मार्च। ओडिशा के भुवनेश्वर शहर मेें संपंन 69 वीं सीनियर महिला एवं पुरूष नेशनल व्हालीवॉल प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ की महिला एवं पुरूष सीनियर टीम ने हिस्सा लेकर उत्कृष्ट खेल का प्रदर्शन किया।
उक्त प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ रा’य टीम से दल्लीराजहरा व्हालीवॉल टीम के हरीश देवांगन और कविता साहू ने भी हिस्सा लिया था। राजहरा एवं बालोद जिला से पहली बार कोई खिलाड़ी व्हालीवॉल सीनियर टीम मेें शामिल हुआ और राजहरा क्लब का नाम रौशन किया। जिस पर प्रसंनता जताते हुए राजहरा व्हालीवॉल संघ के पदाधिकारियों एवं सदस्यों मेें चंद्रभान सिंह, व्हीके पटले, निजामुद्दीन, नगर निरीक्षक टीएस पट्टावी, डॉ. एके ठाकुुर, डॉ. मनोज डहरवाल, एसके व्यास, लक्ष्मीकांत, राजकुमार इनवाते, एसपी यादव, दीपक, धिरेश दुबे, रविशंकर, अजय ठाकुर, अंकित सिंह, योगिक पटले, यश कुमार, श्रेयांस दास ने उक्त दोनों खिलाडिय़ों के उज्जवल भविष्य की कामना की है।
 


25-Mar-2021 5:24 PM 15

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दल्लीराजहरा, 25 मार्च।
नगर के झरन मंदिर के समीप स्थित राजहरा डेम मेें पट चुके फाइंस को निकालने का कार्य बीएसपी प्रबंधन द्वारा शुरू कर दिया गया है। 
प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार 45 लाख रूपए की लागत से 90 हजार घन मीटर फांइस निकालने का कार्य स्थानीय ठेकेदार को दिया गया है जिसके द्वारा डेम से फाइंस निकालने का काम कराया जा रहा है। डेम से निकलने वाले फाइंस को झरनदल्ली में डंप करने की बात की जा रही है।

गौरतलब हो कि झरन नदी के बहाव को बांधकर राजहरा माइंस को जल आपूर्ति करने के लिए भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा 1950-60 के दशक में राजहरा डेम का निर्माण कराया गया था। पिछले कई वर्षों से राजहरा माइंस प्रबंधन के घोर असंवेदनशील व लापरवाहपूर्ण खनन गतिविधियों के कारण माइंस से बहकर आने वाले फाइंस से यह डेम लगातार पटता चला गया लेकिन डेम के संरक्षण व फाइंस को निकालने के प्रति बीएसपी प्रबंधन की लगातार उदासीनता देखी गई। जिसके कारण यह विशाल डेम लगातार पटते हुए पिछले कुछ वर्षों से तालाब के आकार में सिकुड़ते हुए अपने अस्तित्व को खोता जा रहा था।

राजहरा डेम मेें साल दर साल फाइंस के पटाव होने और डेम का अस्तित्व खतरे में पड़ता हुआ देखकर चिंता व्यक्त करते हुए नगरपालिका के पूर्व उपाध्यक्ष रवि जायसवाल ने जून 2020 में कलेक्टर तथा भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन को ज्ञापन देकर राजहरा डेम में पट चुके फाइंस को निकालने व डेम की समुचित सफाई कराने की मांग की थी और 5 दिवस के भीतर राजहरा डेम की सफाई कार्य आरंभ करने हेतु भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन को निर्देशित करने के लिए कलेक्टर से आग्रह किया था। अब पूरे 9 माह बाद बीएसपी प्रबंधन द्वारा राजहरा डेम से फाइंस निकालने का कार्य शुरू कराया गया है।

इधर पर्यावरण प्रेमी विरेन्द्र सिंह ने बताया कि उन्होने भी पूर्व वर्षों में कई बार राजहरा माइंस प्रबंधन तथा कलेक्टर को ज्ञापन देकर राजहरा डेम में पट रहे फाइंस पर ध्यानाकर्षण कराया और डेम के उचित सफाई कराने का निवेदन किया लेकिन बार बार दिए गए आश्वासन के बावजूद नतीजा सिफर रहा था। 

अब बीएसपी प्रबंधन द्वारा राजहरा डेम की सफाई और वहां पटे हुए फाइंस को निकालने का कार्य प्रारंभ करने से नगर के जनप्रतिनिधियोंं एवं पर्यावरण प्रेमियों में राजहरा डेम के संरक्षण के प्रति उम्मीद जगी है।
 


25-Mar-2021 5:24 PM 16

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दल्लीराजहरा, 25 मार्च।
नगर के झरन मंदिर के समीप स्थित राजहरा डेम मेें पट चुके फाइंस को निकालने का कार्य बीएसपी प्रबंधन द्वारा शुरू कर दिया गया है। 
प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार 45 लाख रूपए की लागत से 90 हजार घन मीटर फांइस निकालने का कार्य स्थानीय ठेकेदार को दिया गया है जिसके द्वारा डेम से फाइंस निकालने का काम कराया जा रहा है। डेम से निकलने वाले फाइंस को झरनदल्ली में डंप करने की बात की जा रही है।

गौरतलब हो कि झरन नदी के बहाव को बांधकर राजहरा माइंस को जल आपूर्ति करने के लिए भिलाई इस्पात संयंत्र द्वारा 1950-60 के दशक में राजहरा डेम का निर्माण कराया गया था। पिछले कई वर्षों से राजहरा माइंस प्रबंधन के घोर असंवेदनशील व लापरवाहपूर्ण खनन गतिविधियों के कारण माइंस से बहकर आने वाले फाइंस से यह डेम लगातार पटता चला गया लेकिन डेम के संरक्षण व फाइंस को निकालने के प्रति बीएसपी प्रबंधन की लगातार उदासीनता देखी गई। जिसके कारण यह विशाल डेम लगातार पटते हुए पिछले कुछ वर्षों से तालाब के आकार में सिकुड़ते हुए अपने अस्तित्व को खोता जा रहा था।

राजहरा डेम मेें साल दर साल फाइंस के पटाव होने और डेम का अस्तित्व खतरे में पड़ता हुआ देखकर चिंता व्यक्त करते हुए नगरपालिका के पूर्व उपाध्यक्ष रवि जायसवाल ने जून 2020 में कलेक्टर तथा भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन को ज्ञापन देकर राजहरा डेम में पट चुके फाइंस को निकालने व डेम की समुचित सफाई कराने की मांग की थी और 5 दिवस के भीतर राजहरा डेम की सफाई कार्य आरंभ करने हेतु भिलाई इस्पात संयंत्र प्रबंधन को निर्देशित करने के लिए कलेक्टर से आग्रह किया था। अब पूरे 9 माह बाद बीएसपी प्रबंधन द्वारा राजहरा डेम से फाइंस निकालने का कार्य शुरू कराया गया है।

इधर पर्यावरण प्रेमी विरेन्द्र सिंह ने बताया कि उन्होने भी पूर्व वर्षों में कई बार राजहरा माइंस प्रबंधन तथा कलेक्टर को ज्ञापन देकर राजहरा डेम में पट रहे फाइंस पर ध्यानाकर्षण कराया और डेम के उचित सफाई कराने का निवेदन किया लेकिन बार बार दिए गए आश्वासन के बावजूद नतीजा सिफर रहा था। 

अब बीएसपी प्रबंधन द्वारा राजहरा डेम की सफाई और वहां पटे हुए फाइंस को निकालने का कार्य प्रारंभ करने से नगर के जनप्रतिनिधियोंं एवं पर्यावरण प्रेमियों में राजहरा डेम के संरक्षण के प्रति उम्मीद जगी है।
 


24-Mar-2021 4:57 PM 18

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दल्लीराजहरा, 24 मार्च।
विश्व जल दिवस केे अवसर पर 22 मार्च को ग्रीन कमाण्डो विरेन्द्र सिंह ने साइकिल से राजहरा नगर सहित आसपास गांव में भ्रमण कर लोगोंं को पानी की एक एक बूंद को बचाने का संदेश दिया। साथ ही गांव के डबरी में उतकरकर डबरी की साफ सफाई कर वर्षा जल के अधिक मात्रा मेें संचय के लिए लोगोंं को अपने गांव के तालाबों, कुंओं व डबरियों की सफाई करने के लिए प्रेरित किया।

 इस दौरान उन्होंने ग्रामवासियों से कहा कि साल दर साल भू-जल स्तर मेें आ रही गिरावट मानव जाति के लिए गंभीर चिंता का विषय बन गया है। शहरी एवं गांव क्षेत्रों के अधिकतर खेतोंं में मकानों एवं फैक्ट्रियों का निर्माण होने, गांव-शहर की गलियों मेें सीमेंटीकरण होने से वर्षा से प्राप्त होने वाला जल सही मात्रा में हमारी धरती में संचित न होकर अन्यत्र बह जाता है जिससे भी भू-जल स्तर मेें कमी हो रही है। इसलिए हम सभी को अपने गांव शहर में उपलब्ध तालाबों, कुंओं, डबरियों मेें अधिक से अधिक मात्रा मेें वर्षा जल का संरक्षण करना जरूरी हो गया है जिसके लिए तालाबों, कुंओंं व डबरियों की उचित साफ सफाई करना चाहिए ताकि वर्षा जल अधिक मात्रा मेें संचित किया जा सके। साथ ही गांव शहर में अतिरिक्त तालाबों, कुंओं व डबरियों के निर्माण तथा प्राकृतिक जल स्त्रोतों की सफाई कर उनके संरक्षण के लिए शासन प्रशासन का ध्यान आकर्षित करना है।

उन्होने यह भी कहा कि यदि पानी की एक एक बूंद को बचाने के लिए अभी से प्रयास नहीं किया गया तो आने वाली पीढ़ी को पेयजल की गंभीर समस्या का सामना करना पड़ेगा। जल के बिना मानव जीवन संभव नहीं है, वर्तमान मेें हम सभी को पानी के एक एक बूंद का मोल समझना होगा और पानी के दुरूपयोग को रोकना होगा। अधिकांशत: देखा जाता है कि शहरों मेेें अनेक लोग अपने घर मेें उापलब्ध नल के पानी से अपने वाहनों को धोने के लिए हजारों लीटर पानी की बर्बादी कर देते हैं। अनेक गांव शहर में नगरनिगम, नगरपालिका, नगरपंचायत अथवा ग्राम पंचायत द्वारा उपलब्ध कराये गए नल की टोटियां टूटे हालत मेंं रहने से भी पानी व्यर्थ बहता रहता है और जहां टोटियां ठीक भी है तो पानी भरने के बाद लोग नल को बंद नहीं कर पानी को व्यर्थ बहने देते हैं इन सभी प्रवृत्ति को रोकने के लिए लोगों को जागरूक करने की आवश्यकता है।
 


24-Mar-2021 4:55 PM 20

दल्लीराजहरा, 24 मार्च। नगर के वार्ड क्रमांक 25 के वार्डवासियोंं द्वारा पेयजल के संबंध में मिल रही लगातार शिकायत पर समस्या से अवगत होने के लिए नगरपालिका अध्यक्ष शीबू नायर ने वार्ड पार्षद राजेश कांबले के साथ वार्ड क्षेत्र का दौरा किया। जहां वार्डवासियोंं ने नगरपालिका अध्यक्ष को पेयजल के लिए हो रही समस्या पर ध्यानाकर्षण कराते हुए समस्या के अतिशीघ्र समाधान का आग्रह किया। वहीं अध्यक्ष ने जल्द ही पेयजल समस्या के समाधान का आश्वासन दिया है।
 


24-Mar-2021 4:51 PM 30

दल्लीराजहरा, 24 मार्च। राजहरा व्यापारी संघ के चुनाव संचालन समिति मेें सात सदस्य मनोनीत किए गए हैं। जिसमें झूमरलाल छाजेड़, कन्हैयालाल कुकरेजा, राजेश अग्रवाल, अमित मुंदड़ा, श्रीकांत गोलछा, भूपेन्द्र डहरवाल व शिखरचंद जैन शामिल हैं। समिति के सदस्यों ने बताया है कि राजहरा व्यापारी संघ के चुनाव कार्यालय का शुभारंभ बस स्टैण्ड के समीप किया गया है। नगर के व्यापारी बंधुओं से आग्रह किया जा रहा है कि राजहरा व्यापारी संघ की सदस्यता के लिए वे 10 रूपए का शुल्क देकर आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं। आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि 31 मार्च को संध्या 6 बजे तक निर्धारित की गई है।  व्यापारियों से सदस्यता अभियान में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने की अपील की गई है।
 


24-Mar-2021 4:49 PM 16

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बालोद, 24 मार्च।
स्थानीय जिला अस्पताल में माहेश्वरी पंचायत बालोद के तत्वावधान में सामाजिक चेतना के उद्देश्य से 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों सामूहिक रूप से  कोरोना का टीकाकरण किया गया।
डॉ हर्षित टुवानी के मार्गदर्शन तथा पंचायत अध्यक्ष स्वरूप राठी के नेतृत्व में माहेश्वरी समाज बालोद के 53 लोगों ने टीका लगवाकर  कोरोना के खिलाफ जागरूकता का परिचय दिया।

उल्लेखनीय है कि सुरेश मंत्री व उषा मंत्री ने सुबह सबसे पहले टीका लगवाकर अन्य लोगों का भी उत्साह बढ़ाया। टीका लगवाने वालों में रामकिशनजी चांडक, सुशील काबरा, उमा मंत्री, रजनी टुवानी,किरण पंपालिया, प्रमोद पंपालिया, अशोक गांधी, संगीता टुवानी, बागड़ी, अशोक टावरी, निर्मला टुवानी, छाया राठी, सुनीता राठी, मुन्ना तापडिय़ा आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे ।

कार्यक्रम को सफल बनाने में परमेश्वर राठी, तरुण राठी, राजकुमार टुवानी, लक्की चांडक, धर्मेंद्र टावरी, दिनेश तापडिय़ा आदि का विशेष योगदान रहा।
पंचायत सचिव संजोग टावरी ने विज्ञप्ति जारी करते हुए जिला अस्पताल की सिविल सर्जन डॉ एस एस देवदास, सहित स्टाफ नर्स अनुपलता वाडेकर, व रश्मि का भी सहयोग के लिये आभार व्यक्त किया।
 


23-Mar-2021 6:01 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दल्लीराजहरा, 23 मार्च।
सोमवार 22 मार्च को जल दिवस के अवसर पर जनप्रतिनिधियोंं एवं नागरिकों ने जल संरक्षण के लिए अपने विचार व्यक्त किए हैं।
नगरपालिका अध्यक्ष शीबू नायर ने कहा कि बिना पानी किसी भी जीव का गुजारा नहीं हो सकता इसलिए हम सभी को इस धरती से मिलने वाले पानी का सदुपयोग करना जरूरी है। आज समय की मांग है कि हर हाल मेें जल का संरक्षण किया जाए। प्रकृति उदार है मानव जीवन के लिए उसने सब कुछ दिया है पर आज स्वयं मानव ही अपना दुश्मन बन गया है। नदियों व तालाबों मेंं जल प्रदूषण, जंगलों से वृक्षोंं की कटाई, पर्यावरण प्रदूषण आदि मानवीय भूल है जिसके कारण वर्षा की अनिश्चितता बढ़ चली है। जल संरक्षण करना मानवीय जीवन के लिए अति आवश्यक हो गया है। जिसके लिए जनता में जागरूकता पर्याप्त नहीं है बल्कि संदेश एवं नारोंं से हटकर शासन को अतिशीघ्र जल संरक्षण पर कार्य करना चाहिए। जंगलों की सुरक्षा, पर्यावरण सुरक्षा पर ध्यान दिया जाना चाहिए ताकि क्षेत्र में अधिकाधिक वर्षा कराई जा सके और भू-जल स्तर को बढ़ाया जा सके। 

ग्रीन कमाण्डो विरेन्द्र सिंह ने कहा कि दिन प्रतिदिन गिरते भू-जल स्तर  को बढ़ाने के लिए वर्षा से प्राप्त  जल की एक एक बूंद को भूमि के तल तक प्रतिरोपित करना होगा। इसके लिए घर की छत एवं आसपास गिरने वाले वर्षा जल को सोखता, डबरा अथवा कुंओं के माध्यम से भूमि तल पर पहुंचाया जा सकता है। नए तालाबों एवं कुंओं का निर्माण, पुराने तालाबों का गहरीकरण, नदी व नालोंं पर चेक डेम बनाकर वर्षा जल का संरक्षण कर उपयोगी बनाया जा सकता है। इसके अतिरिक्त समय समय पर प्राकृतिक जल स्त्रोतोंं की सफाई एवं अधिकारिक पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण पर भी विशेष रूप से ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है।

लौह अयस्क खदान समूह के मुख्य महाप्रबंधक तपन सूत्रधार ने जल दिवस के अवसर पर अपना विचार रखते हुए कहा कि शहरों मेें जल स्तर बढ़ाने एवं वर्षा जल का सदुपयोग करने के लिए सभी मकानों और निजी अथवा शासकीय कार्यालयों मेेें अनिवार्य रूप से रैन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम को बढ़ावा दिया जाना चाहिए। इसके अलावा गांवों में तालाब निर्माण, पुराने तालाबों का गहरीकरण व रखरखाव के अलावा जंगल क्षेत्रों मेंं प्राकृतिक जल स्त्रोंतोंं की सुरक्षा की जानी चाहिए। साथ ही जंगलोंं के क्षेत्रों एवं रहवासी क्षेत्रोंं मेेंं अधिक से अधिक पौधारोपण किया जाना चाहिए। 

महिला एवं बाल विकास विभाग मंत्री प्रतिनिधि पीयूष सोनी ने विश्व जल दिवस पर अपना विचार रखते हुए कहा कि वर्तमान में विश्व के सभी देशों में पानी का संकट गहराता जा रहा है इसलिए पानी का दुरूपयोग रोकने के लिए लोगों में जागरूकता लाने की जरूरत महसूस की जा रही है। चौक चौराहों में नुक्कड़ सभा व नाटक मंचन के जरिये आमजनता को जल का महत्व समझाने, शासन प्रशासन सामाजिक, राजनीतिक कला जत्था सभी  मिलकर प्रयास करेंं। नलों से व्यर्थ पानी बहने पर रोक लगाना होगा। वर्षा के जल का संग्रहण युद्ध स्तर पर करने की जरूरत है। घर घर से पानी बचाओ अभियान की शुरूआत होनी चाहिए।

नगरपंचायत चिखलाकसा के सांसद प्रतिनिधि विक्रम धु्रवे ने कहा कि आम आदमी को पानी का मोल समझना होगा। वर्तमान में लगातार भूमि का घटता जल स्तर खतरे की घंटी है। हम अगर अभी भी जागरूक नहीं हुए तो आने वाली पीढ़ी के लिए पानी एक गंभीर समस्या के रूप मेंं सामने आ जाएगी। अत: समाज को हरसंभव उपया करने होंगे। वर्तमान में शासन एवं बीएसपी प्रबंधन के अलावा आम नागरिक जितने भी मकान अथवा अपना कार्यालया बनाएं उसमें अनिवार्य रूप से रैन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाकर वर्षा जल को संग्रहित किया जा सकता है। भू-जल स्तर में लगातार आ रही गिरावट को देखते हुए जल संरक्षण करना मानवीय जीवन के लिए अति आवश्यक हो गया है जिसके लिए केन्द्र एवं राज्य सरकार को भी मिलकर कार्य करने की आवश्यकता है।

विश्व जल दिवस पर गृहिणी प्रमिला पटेल ने कहा कि जल का संरक्षण कैसे हो इस पर चिंतन करना चाहिए। रोजमर्रा की जिंदगी में घर से लेकर बाहर तक पानी सभी लोगोंं के साथ होता है। वर्तमान में साल दर साल हमारे धरती में उपलब्ध जल का स्तर कम होता जा रहा है जो आने वाले पीढ़ी के लिए जल के मामले में गंभीर चिंतन का विषय बन गया है इसलिए हम सभी का उद्देश्य जल संरक्षण होना चाहिए। हर घर परिवार के सभी सदस्यों को पानी के सरंक्षण के लिए विशेष ध्यान देने की जरूरत है। खासतौर पर घर की महिलाएं अपने परिवार सदस्यों को पानी बचाने के लिए प्रेरित कर सकती हैं। बच्चों को पानी के सदुपयोग के बारे में समझा सकती हैं। आने वाले समय में पानी के संकट से बचने का प्रयास हम सभी को आज और अभी से करने की जरूरत है। 

जल संरक्षण के प्रति चिंता जताते हुए शिक्षिका अंजू कुमारी ने कहा कि आम आदमी को पानी का मोल समझना होगा। वर्तमान मेेंं भूमि का जल स्तर लगातार घटता जा रहा है क्योंकि हर गांव शहर के अनेक स्थानोंं पर पक्के मकान निर्माण हो रहे हैं। हर गांव शहर के गलियोंं में सीमेंटीकरण का कार्य हो रहा है। ऐसे में इस धरती पर वर्षा जल जितनी मात्रों में संचित होनी चाहिए वह संचित न होकर अन्यत्र बह जाता है। खेतोंं में पूर्व वर्षों में वर्षा जल का भराव होता था जो भू-जल स्तर को बढ़ाने में सहायक था लेकिन अनेक शहरों मेेें खेतोंं की जमीन में बड़े बड़े बिल्डिंग निर्माण की प्रथा बढ़ चली है जिससे भी भू-जल स्तर में गिरावट आ रही है। अक्सर देखा जाता है कि नलों में टोटियां टूटे होने के कारण पानी व्यर्थ बहते रहता है लेकिन उन टोटियों को नया लगाने के लिए न तो आम नागरिक ध्यान देते हैं और न ही नगरपालिका समय पर ध्यान देती है। ऐसे स्थिति मेेें सुधार लाकर पानी केे व्यर्थ बहाव को रोके जाने की जरूरत भी है। 


23-Mar-2021 5:45 PM 14

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बालोद, 23 मार्च।
केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा डाली गई तमाम अड़चनों और बाधाओं खड़ी की गई। समस्याओं का बखूबी सामना करते हुए छत्तीसगढ़ की कांग्रेस की भूपेश बघेल सरकार ने किसानों को राजीव गांधी न्याय योजना की राशि सफलतापूर्वक दे दी है। उक्त उद्गार जिला कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष चंद्रप्रभा सुधाकर ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में व्यक्त किए। 

उन्होंने कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना की चौथी किस्त के भुगतान के साथ स्पष्ट हो गया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार और कांग्रेस पार्टी जो कहती हैं। वह करती हैं। एक तरफ जब देशभर के किसान समर्थन मूल्य के लिए महीनों से आंदोलित है। सडक़ों पर है। उस समय छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने अपने राज्य के 21.5 लाख किसानों से लगभग 91.5 लाख मैट्रिक टन धान घोषित समर्थन मूल्य में खरीद कर एक रिकॉर्ड बनाया है।


धान खरीदी के बाद राज्य के किसानों को प्रोत्साहित करने के लिए कांग्रेस सरकार ने किसानों को न्याय योजना के माध्यम से ?10000 प्रति एकड़ की सहायता दे रही है। राजीव गांधी किसान नया योजना में धान गन्ना, मक्का उत्पादक किसानों को पहले वर्ष की चौथी किस्त के 1104. 27 करोड़ रुपये मिलेंगे। 

राजीव गांधी किसान न्याय योजना के दूसरे चरण में धान, गन्ना, मक्का के अलावा दलहन, तिलहन, रागी, कोदो, कुटकी, उत्पादक किसानों को भी शामिल किया जाएगा। इस योजना में भूमिहीन और सीमांत किसानों को शामिल कर मुख्यमंत्री ने राज्य की एक बड़ी आबादी की आर्थिक उन्नति के द्वार खोल दिए हैं। 

केंद्र की मोदी सरकार ने 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया। लेकिन आज तक किसान हित में कोई ठोस पहल नहीं की। छत्तीसगढ़ में रमन सिंह सरकार के 15 साल में किसानों से जो वादाखिलाफी और धोखाधड़ी हुई। उसे हम सब बखूबी जानते हैं। छत्तीसगढ़ में मांग करने और केंद्र सरकार से रोक लगाने की भाजपा की दोहरी भूमिका अब किसान समझ चुके हैं। जिला कांग्रेस अध्यक्ष चंद्रप्रभा सुधाकर ने स्पष्ट किया कि केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल राजीव गांधी किसान  न्याय योजना पर रोक लगाने की बात करते हैं तो भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह भाजपा विधायक दल के नेता धरमलाल कौशिक भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु देव सहाय क्यों खामोश हैं। केंद्र की भाजपा सरकार का किसान विरोधी चरित्र बेनकाब हो चुका है। छत्तीसगढ़ भाजपा किसानों के साथ आने का दिखावा अब बंद करें। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ब्लॉक कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष के साथ शहर अध्यक्ष अनिल यादव, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ग्रामीण के अध्यक्ष चंद्रेश हिरवानी, महामंत्री केशव शर्मा ,उपाध्यक्ष रामजी भाई पटेल, महामंत्री गण शंभू साहू, धीरज उपाध्याय, प्रवक्ता यज्ञदेव पटेल उपस्थित थे।
 


23-Mar-2021 5:22 PM 14

शिव जायसवाल

बालोद, 23 मार्च (‘छत्तीसगढ़’)। जिले के वनांचल क्षेत्र ग्राम घोटिया में गरीब बच्चों सहित आसपास के गांव के सैकड़ों बच्चों को आशा थी स्कूल की लेकिन दशकों बीत जाने के बाद भी उनकी आशा पूरी नहीं हुई। ऐसे में मसीहा के रूप में सामने आई एक वृद्ध महिला जिन्होंने अपनी सारी संपत्ति स्कूल के नाम कर दी। आज उस गांव में वृद्ध महिला द्वारा दी गई जमीन पर स्कूल संचालित हो रहा है।

घोटिया निवासी दुलसिया बाई अपने वृद्ध पति के साथ रहती थी। वर्ष 2000 में उनके पति के देहांत हो जाने के बाद वह अकेली हो गई थी। ऐसे में उनके सहारा बना पूरा घोटिया गांव महिला को वर्ष 2002 में ख्याल आया कि उनके बच्चे नहीं है तो गांव सहित आसपास के सैकड़ों बच्चों के नाम उनके हिस्से की जमीन कर दी जाए और ग्रामीणों की मौजूदगी में उन्होंने लगभग 3 एकड़ से अधिक जमीन पंचायत में दान कर दी और उस जमीन पर बच्चों के शिक्षा के लिए स्कूल बनाने की बात एक कागज पर लिख दी। आखिरकार उस महिला का सपना साकार हुआ और वर्ष 2012 में उनके द्वारा दान की गई जमीन पर स्कूल भवन निर्माण का कार्य पूर्ण होने के बाद लोकार्पण भी हो गया  जिसके तीन साल बाद दुलसिया बाई का निधन हो गया।

ग्रामीणों ने बताया कि स्कूल का नाम उस महिला के नाम से करने के लिए सैकड़ों बार भाजपा व कांग्रेस सरकार के दफ्तर जाकर गुहार लगा चुके हैं लेकिन अब तक उनकी बात किसी ने नहीं सुनीं। 
 


23-Mar-2021 5:07 PM 54

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बालोद, 23 मार्च।
फेसबुक से दोस्ती कर अनजान नंबर से फोन करके लडक़ी से शारीरिक संबंध बनाने, और पैसे की उगाही करने वाले आरोपी सहित उनके साथ देने वाले 7 लोगों को पुलिस ने पकड़ा है।
सोमवार शाम को पुलिस ने पत्रकारवार्ता में बताया कि  बीते दिनों बालोद जिले के रनचिरई थाना क्षेत्र में तीन लड़कियों के गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए बालोद जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर विशेष टीम गठित की गई और लड़कियों की तलाश शुरू की गई।

 इस दौरान तीनों लड़कियों को इंदौर, अहमदाबाद से पुलिस ने बरामद किया। तीनों लड़कियों ने पुलिस को आपबीती बताई कि उनमें से एक लडक़ी को फेसबुक के माध्यम से किसी लडक़े ने दोस्ती की और मोबाइल नंबर मांगकर उन्हें प्रेम प्रसंग के झांसे में ले लिया जिसके बाद उस लडक़ी से लगभग 40 हजार रुपए खाते में डलवाए और लडक़ी को शादी करने के लिए कह कर नागपुर बुलवाया जिसके बाद आरोपी निहाल ने उनके साथ शारीरिक संबंध बनाया और लडक़ी को अलग-अलग पांच स्थान में ले गए।  लडक़ी से शादी करने का बहाना बनाते हुए फर्जी दस्तावेज भी तैयार कर लिए। इस दौरान आरोपी के साथ-साथ उनके पिता ने भी लडक़ी के साथ दुष्कर्म किया, जिसके बाद लडक़ी की दो अन्य सहेलियों को नौकरी का झांसा देकर इंदौर बुलवा लिया। पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए आरोपी के साथ ही इस घटना में शामिल अन्य 7 लोगों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है।
 


23-Mar-2021 4:53 PM 11

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दल्लीराजहरा, 23 मार्च।
वार्ड क्रमांक 14 मेें परियोजना स्तरीय महिला जागृति शिविर का आयोजन किया गया।
इस शिविर मेें अतिथि के रूप में परियोजना अधिकारी दीपा साहा, रेणु छत्रपाल, पार्षद रूखसाना बेगम, विजय लक्ष्मी, प्र्रमिला पारकर, सोहद्रा ठाकुर, ममता नेताम एवं एल्डरमैन ममता पांडेय उपस्थित रहे। आयोजन मेें बच्चों का अन्नप्रासन तथा गर्भवती महिलाओंं के गोद भराई की रस्म अदा की गई। 

जिसके बाद परियोजना अधिकारी दीपा साहा ने उपस्थित महिलाओं को बच्चोंं के सुपोषण के लिए तिरंगा भोजन मेें चावल, दाल व साग भाजी के सेवन पर बल दिया और अपने तथा अपने बच्चों के सुपोषण के लिए हमेशा पौष्टिक आहार के प्रति विशेष ध्यान देने के लिए प्रेरित किया तथा घर एवं आसपास क्षेत्र मेें उचित स्वच्छता बरतने की सलाह दी। 

वहीं आंगनगाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा रेडी टू ईट से बनाए गए व्यंजनों की प्रदर्शनी लगाई गई थी। साथ ही महिलाओंं के लिए कुर्सी दौड़, मटका फोड़ एवं प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमेें विजेता रही प्रतिभागियोंं को अतिथियों द्वारा पुरस्कार प्रदान किया गया। इस दौरान आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाएं एवं वार्डवासी उपस्थित थे।
 


23-Mar-2021 4:50 PM 25

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दल्लीराजहरा, 23 मार्च।
भारतीय जनता पार्टी जिला बालोद के निर्देश पर 20 मार्च को कोरोना वैक्सीन को लेकर दल्लीराजहरा मंडल के पदाधिकारियोंं ने घर घर जाकर 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियोंं को कोरोना वैक्सीन लगाने की अपील की है। साथ ही चिखलाकसा शासकीय अस्पताल मेें जाकर लोगोंं को कोरोना वैक्सीन लगाने के कार्य में सहयोग प्रदान किया।

भाजपा मंडल अध्यक्ष गोविंद वाधवानी ने बताया कि कोरोना वैक्सीन का टीका भी लोगों के बीच उपलब्ध हो गया है। इसी बीच दल्लीराजहरा मेें कोरोना वैक्सीन का टीका लगाने के लिए भाजपा मंडल के समस्त पदाधिकारी व कार्यकर्ता वार्डो्रं में भ्रमण कर 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियोंं को वैक्सी लगवाने की अपील कर रहे हैं और टीका लगाकर स्वयं व अपने परिवार सदस्योंं को सुरक्षित रखने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। वहीं लोगों को याद दिलाया जा रहा है कि कोरोना महामारी आी टली नहीं है इसलिए वे सावधानी बरतेेेंं, सैनेटाइजर का उपयोग करें, बार बार अपने हाथों को स्वच्छ करें, भीड़ भाड़ वाले जगहोंं में जाने से बचेंं, चेहरे पर मास्क अथवा फेस कवर लगाकर घर से बाहर निकलें और 3 गज की दूरी का अनिवार्य रूप से पालन करते रहें। 

उक्त प्रसार प्रचार कार्य मेें जयदीप गुप्ता, अल्पसंख्यक मोर्चा जिलाध्यक्ष कासिम कुरैशी, अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य हितेश कुमार, जिला मंत्री राकेश कोसरे, मंडल महामंत्री बॉबी छतवाल, मंडल उपाध्यक्ष सुजीत झा, मंडल मंत्री रमेश गुजर, जनार्दन सिंगरौल, उमेश विश्वकर्मा, संजीव सिंह, जिला सदस्य सागर गनीर सहित भाजपा के अन्य कार्यकर्ताओं की सक्रियता है।
 


23-Mar-2021 4:49 PM 24

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दल्लीराजहरा, 23 मार्च।
छत्तीसगढ़ माइंस श्रमिक संघ द्वारा राजहरा खदान समूह के समस्त ठेका श्रमिकों के ज्वलंतशील मुद्दों को लेकर राजहरा माइंस आफिस गेट के समक्ष एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया।

धरना प्रदर्शन के दौरान आमसभा को छत्तीसगढ़ माइंस श्रमिक संघ अध्यक्ष गणेशराम चौधरी ने कहा कि राजहरा खदान समूह के समस्त ठेका श्रमिकों के ज्वलंतशील मुद्दों पर ध्यानाकर्षण कराने व आंशिक चेतावनी के लिए एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। संघ अध्यक्ष ने समस्त ठेका श्रमिकों का वेतनमान एवं अन्य सुविधाएं श्रमिक सहकारी समिति के समतुल्य प्रदान करने, श्रमिक सहकारी समिति के ठेका श्रमिकोंं को प्राप्त होने वाले खदान भत्ता, मकान भत्ता, साइकिल भत्ता व रात्रिकालीन भत्ता को लागू करने, राजहरा खदान समूह के नियमित कर्मचारियों की तरह ही समस्त ठेका श्रमिकों के बच्चों की शिक्षा एवं स्वास्थ्य व्यवस्था किये जाने, मेन पावर सप्लाई के ठेका मेें खदान अधिनियम के तहत ईएल, सीएल, एचपीएल की सुविधा ठेका शर्तों में स्पष्ट उल्लेख किये जाने, ठेका कर्मचारियों केे लिए कैन्टीन भत्ता का प्रावधान किये जाने, ठेका कर्मचारियों को भी उत्पादन प्रोत्साहन राशि स्कीम मेें सम्मिलत करने, ठेका कर्मचारियों को भी दुर्गम क्षेत्र विशेष भत्ता प्रदान किये जाने, यूनियन मान्यता के चुनाव मेंं ठेका श्रमिकोंं को भी शामिल किये जाने, भविष्य निधि एवं पेंशन में हो रही गड़बड़ी को देखते हुए ठेका कर्मचारियों की भविष्य निधि का संचालन बीएसपी ट्रस्ट से किये जाने की मांग बीएसपी प्रबंधन से की है।

इसी तरह आमसभा को पूर्व विधायक जनकलाल ठाकुर, सोमनाथ उइके, रवि सहारे, रामचरण नेताम एवं तुलसी कोला ने संबोधित किया। जिसमें उन्होने बीएसपी प्रबंधन को स्पष्ट तौर पर चेतावनी दी है कि अगर ठेका श्रमिकों की मांगों को नहीं माना गया तो ठेका श्रमिक एक बड़े आंदोलन करने के लिए  मजबूर होंगे जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी बीएसपी प्रबंधन की होगी। 

इस धरना प्रदर्शन मेें छत्तीसगढ़ माइंस श्रमिक संघ के पदाधिकारी एवं सदस्यों सहित राजहरा खदान समूह में कार्यरत ठेका श्रमिक बड़ी संख्या में शामिल रहे।
 


22-Mar-2021 5:08 PM 32

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बालोद, 22 मार्च। 
प्रदेश भर में बदहाल  कानून व्यवस्था के विरोध एवं बठेना घटना के न्यायिक जांच की मांग को लेकर भाजपा जिला बालोद द्वारा एक दिवसीय धरना प्रदर्शन जिला मुख्यालय बालोद में किया गया। 
विरोध प्रदर्शन में मुख्य रूप से पहुंचे कांकेर लोकसभा के सांसद मोहन मंडावी ने कहा कि दुख के साथ हमें धरना में बैठना पड़ रहा है मुख्यमंत्री एवं गृह मंत्री के क्षेत्र में सतनामी समाज के 5 लोगों की निर्मम हत्या हुई जिसे प्रशासन आत्महत्या का रूप दे रही है। जिस समाज के वोटों से आज सत्ता पर आसीन हुए हैं उसी पर लगातार अत्याचार व शोषण दिन-ब-दिन बढ़ते जा रहे हैं इस घटना की निष्पक्ष न्यायिक जांच होनी चाहिए व दोषियों को सख्त से सख्त दंड मिलना चाहिए। पीडि़तों को न्याय मिलना चाहिए। छत्तीसगढ़ में सरकार झूठ बोलकर आई है और असम में भी झूठ फैलाने का काम कर रहे हैं। प्रदेश को आज शराब में डुबोकर भ्रष्टाचार शोषण अन्याय का बोलबाला है। गुंडागर्दी अपने चरम सीमा पर है । घर की बेटियों को बाहर भेजने में भी भय का माहौल बन गया है।

जिला अध्यक्ष कृष्णकांत पवार ने कहा कि पूर्ण शराबबंदी का वादा कर आज विधायक मंत्री अपने जमीन पर शराब दुकानें खुलवा रहे हैं चालीस हजार महीने का किराया लेने की होड़ लगी है। नशे का गढ़ बनता छत्तीसगढ़ अपराध की चरम सीमा पर है। कानून व्यवस्था नहीं बना पाना और मुखिया के क्षेत्र में ही अपराध तेजी से होना निरंकुश सरकार की निशानी है। नैतिकता के आधार पर उन्हें तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए। 
प्रदेश मंत्री राकेश यादव ने कहा कि अनुसूचित जाति के लिए प्रदेश के मुखिया के मन में कोई संवेदना नहीं है छत्तीसगढ़ में अपराध की बेतहाशा वृद्धि हो रही है। 

पूर्व विधायक प्रीतम साहू ने कहा कि आज कानून व्यवस्था ऐसी हो गई है कि घर की बहू बेटी को बाहर भेजने में भय लगता है। किसान मोर्चा मंत्री पवन साहू ने सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि प्रदेश सरकार हर मोर्चे पर विफल रही है किसान से लेकर हर वर्ग हर तबके को ठगने का काम इस सरकार ने किया है प्रदेश में आज हर 4 घंटे में बलात्कार व हर 6 घंटे में हत्या होना प्रदेश सरकार की नाकामी को दर्शाता है

जिला महामंत्री प्रमोद जैन ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ाई गई है अपराधियों को संरक्षण दिया जा रहा है बलात्कार आगजनी हत्या का मामला आम हो गया है। खेरथा मंडल अध्यक्ष दिनेश्वर बघेल व अनुसूचित जाति मोर्चा जिला अध्यक्ष मालती जोशी, किशोरी साहू,यादराम साहू,जयेश ठाकुर,शरद ठाकुर होरीलाल रावटे, अशवन बारले , डॉक्टर देवेंद्र महाला, खिलेश्वरी साहू,  अनजनि साहू ,दीपा साहू, राकेश जोशी, आदित्य पिपरे,अमित चोपड़ा, प्रेम साहू, दुष्यंत सोनवानी, हितेश डोंगरे,दुर्गान्द साहू,सुरेश निर्मलकर आदी नेताओं ने अपनी बात रखी इसके पश्चात न्यायिक जांच की मांग को लेकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन तहसीलदार बालोद को सौंपा गया। 
 


21-Mar-2021 5:21 PM 12

पीएससी का मतलब पॉलिटिकल सेटिंग कांग्रेस-चोपड़ा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बालोद, 21 मार्च।
भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व जिला अध्यक्ष अमित चोपड़ा ने पीएससी के कार्य प्रणाली पर सवाल उठाते हुए कहा कि जिस संस्थान का काम युवाओं के भविष्य को बनाने का वही संस्थान प्रदेश की कांग्रेस सरकार के इशारे पर युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। 

अब पीएससी का मलतब ही पॉलिटिकल सेटिंग कांग्रेस तो नहीं हो गया है जहां पर लगातार अनियमितता व गड़बडिय़ों की शिकायतें लगातार आ रही है लेकिन इस पर पीएससी की तरफ से अब तक कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। इससे स्पष्ट होता है कि प्रदेश की सरकार युवाओं के भविष्य को लेकर चिंतित नहीं है। इससे पूर्व छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के बाद कांग्रेस की सरकार जब प्रदेश में थी, तब कमोबेश पीएससी को लेकर यही हालात थे जो अब निर्मित हुए हैं। पीएससी की विश्वसनीयता पर प्रश्नचिन्ह लगने से राज्य के सारे भर्ती परीक्षा संदेह के दायरे में है जिससे पूरे देश में पीएससी की क्रेडिबिलिटी प्रभावित हो रही है।

जिला पंचायत सदस्य नितेश मोंटी यादव ने कहा कि युवाओं के बलबूते पर आईं ये सरकार आज युवाओं को छलने का कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही भूपेश बघेल जी की सरकार में जब चाहे कोई भी डिप्टी कलेक्टर बन जाता है जब चाहे जो बिना पीएससी में बैठे पात्र हो जाता है आने वाले समय में युवा मोर्चा हस्ताक्षर अभियान के बाद रायपुर में पीएससी भवन का घेराव करेगी और युवाओं के साथ अत्याचार होने नहीं देगी पीएससी और छत्तीसगढ़ सरकार की मिलीभगत उजागर करेगी

युवा नेता कमलेश वाधवानी ने कहा कि पूरे प्रदेश में पीएससी के कार्यप्रणाली से आक्रोशित युवा आंदोलनरत हैं। भाजयुमो द्वारा प्रदेश स्तरीय हस्ताक्षर अभियान को व्यापक जनसमर्थन मिल रहा है। इस दिशा में पूरे प्रदेश में जन आंदोलन चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की युवाओं को 2500 रुपए प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता देने की घोषणा करके सत्ता में आयी कांग्रेस सत्ता सुख में मस्त है और युवा इस आस में है कि आखिरकार बेरोजगारी भत्ता प्रदेश की सरकार कब देगी। उन्होंने कहा कि युवाओं को दिए जाने 6000 करोड़ रुपए की राशि अब भी शेष है जिसे बेरोजगारी भत्ता के स्वरूप में देना था। लेकिन इस सरकार को इसकी जरा भी चिंता नहीं है और उसके बाद लगातार युवाओं के साथ अहित कर रही है जिसका जवाब वक्त आने पर छत्तीसगढ़ के युवा जरूर देंगे।   
 


21-Mar-2021 4:28 PM 15

बालोद, 21 मार्च। भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष शालिनी राजपूत के निर्देशानुसार बालोद महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष दीपा साहू के नेतृत्व में बुजुर्गों को टीकाकरण लगाने हेतु प्रोत्साहित किया जा रहा है। महिला मोर्चा की टीम टीकाकरण को प्रोत्साहित करने टीकाकरण केंद्रों तक पहुंच रही हैं। दीपा साहू द्वारा बुजुर्गों को टीकाकरण केंद्र तक भी ले जाया जा रहा है।

टीकाकरण केंद्र में दीपा साहू ने कहा कि कोरोना मुक्त राष्ट्र हो, इसके लिए हमारे सामने वैक्सीन ही एक विकल्प है। इसके साथ ही सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखते हुए हम दैनिक जीवन में कोरोना महामारी से बच सकते हैं। 
भारतीय जनता महिला मोर्चा कार्यकर्ताओं से उन्होंने कहा कि कोरोना टीकाकरण जन अभियान में शामिल होकर इस अभियान की सफलता के लिए सहभागी बनें। उन्होंने कहा कि यहां पर देश के वैज्ञानिकों ने काफी मेहनत की है और जिस बीमारी से पूरा विश्व जूझ रहा था, उसको खत्म करने के लिए वैक्सीन का निर्माण किया है। आज पूरे विश्व में वैक्सीन के लिए पूरा विश्व भारत की ओर आशा भरी निगाहों से देख रहा है।
 


20-Mar-2021 4:48 PM 21

बालोद, 20 मार्च। एक तरफ लोग कोरोना  महामारी से जूझ रहे हैं तो वही कोरोना वैक्सीन का टीका भी लोगों के बीच उपलब्ध हो गया है इसी बीच डौंडीलोहारा में कोरोना वैक्सीन का टीका लगाने के लिए भाजपा सांसद प्रतिनिधि संदीप जैन सहित भाजपा के  पदाधिकारी वार्ड में घूम कर 60 वर्ष से ऊपर की आयु वाले व्यक्ति को वैक्सीन लगवाने की अपील कर रहे हैं। उन्हें याद दिला रहे हैं कि टीका लगवा कर अपने और अपने परिवार  को सुरक्षित रखें याद रखें महामारी अभी टला नहीं है सावधानी बरतें बार-बार हाथ धोए सैनिटाइजर का उपयोग करें मास्क लगाए जैसे नियमों का प्रचार प्रसार बड़े जोर शोर से कर रहे हैं  जिसमें प्रमुख  देवेंद्र जयसवाल पूर्व जिला महामंत्री, रूपेश सिन्हा मंडल अध्यक्ष नोहरू जगनायक महामंत्री,  सुभद्रा टांडेकर पार्षद संदीप जैन सांसद प्रतिनिधि मनी बघेल पार्षद  हितेंद्र कुमार गायकवाड अध्यक्ष अनुसूचित जाति मोर्चा रोहित कुमार विश्वकर्मा सहित उपस्थित रहे।