छत्तीसगढ़ » दुर्ग

23-Oct-2020 7:50 PM 24

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

दुर्ग, 23 अक्टूबर। तीन वर्ष से फरार बलात्कार के आरोपी को पकडऩे में उतई पुलिस को सफलता मिली है। टीम ने आरोपी को टिटलागढ़ ओडिशा से गिरफ्तार किया है।

उतई थाना प्रभारी मोनिका पांडे ने बताया कि पीडि़ता ने शिकायत दर्ज कराई थी कि नेपाल बहरा उर्फ सूरज उर्फ सुरेश ठाकुर (21) निवासी तरुकभाठा, थाना सिंदेकला जिला बलांगीर ओडिशा ने उसके साथ शादी का झांसा देकर मुंबई डोंगरी थाने में एक कमरे में लगातार 25 दिनों तक लगातार बलात्कार किया था। उसके बाद 16 अक्टूबर 2017 दुर्ग स्टेशन में छोड़कर वह भाग निकला था। टीआई मोनिका पांडे ने बताया कि आरोपी अलग-अलग राज्य में रहकर मजदूरी का कार्य करता था। मुखबीर की सूचना पर उतई पुलिस टीम ने घेराबंदी कर आरोपी को ओडिशा में पकड़ा है।


23-Oct-2020 7:49 PM 16

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

दुर्ग, 23 अक्टूबर। प्रदेश कांग्रेस कमेटी छत्तीसगढ़ के निर्देशानुसार जिला कांग्रेस कमेटी दुर्ग के तत्वाधान में केंद्र की मोदी सरकार के के द्वारा लाया गया किसान विरोधी तीन काले कानूनों के विरोध में हस्ताक्षर अभियान दुर्ग इंदिरा मार्केट में चलाया गया।

जिसमें व्यापारी, किसानों सहित आम जनता ने भी बढ़-चढ़कर कार्यक्रम में हस्ताक्षर कर नए कृषि काले कानून पर अपना विरोध व्यक्त किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गया पटेल, महापौर धीरज बाकलीवाल,आरएन वर्मा,सभापति राजेश यादव सहित सभी कांग्रेस के पार्षद, एल्डरमैन व समस्त कांग्रेस पदाधिकारियों ने हस्ताक्षर अभियान में उपस्थित होकर व जनता से हस्ताक्षर करवा कर अपना विरोध काले कानून के विरोध में दर्ज कराया।

जिला कांग्रेस अध्यक्ष गया पटेल ने कहा कि मोदी सरकार किसान विरोधी तीन काले कानून बनाने के पहले ना तो किसानों से चर्चा की गई ना ही विपक्षी दलों को भरोसे में लिया मनमाने तरीके से संसद में तीनों कानून को पारित कर केवल देश के बड़े उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने का कार्य किया नए कानून के बाद मंडी में व सरकार द्वारा तय समर्थन मूल्य की बाध्यता खत्म हो जाएगी वह किसानों के उत्पाद को निजी कंपनियों द्वारा द्वारा कम दाम में खरीद कर उसे अधिक मूल्यों में अपने स्टोरों में बेचेगी जिससे किसान बड़ी कंपनी के मजदूर व कर्जदार हो जाएंगे और उनके उत्पाद को उचित मूल्य भी नहीं मिलेगा।

महापौर धीरज बाकलीवाल ने कहा कि इस कानून का असर केवल किसानों पर नहीं वरन् शहरी आम नागरिकों को उठाना पड़ेगा। एक तरफ जहां बड़े समूह कम दरों में किसानों की फसल लेंगे वही जमाखोरी कर अधिक मूल्य में अपने स्टोर वह माल में भेजेंगे ऐसे में कोरोना की त्रासदी खेल रहे देश पर राहत देने के बजाय यह कानून देश की जनता पर महंगाई का बोझ बढ़ाने वाला है।

कार्यक्रम में विशेष रूप से पार्षद व एमआईसी मेंबर भोला महोबिया,  विजेंद्र भारद्वाज, एल्डरमैन रत्ना नरामदेव, जगमोहन ढीमर, काशीराम रात्रे, जमुना साहू, दान भाई तामस्कर,कुणाल तिवारी,विमल तिवारी, विकास यादव, निखिल साहू,आनंद ताम्रकार,आनंद श्रीवास्तव,विमल यादव सहित अन्य कांग्रेसी उपस्थित थे।


23-Oct-2020 7:44 PM 17

दुर्ग, 23 अक्टूबर। अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी ने जय बालाजी इंडस्ट्रीज लिमिटे रसमड़ा को सुरक्षा एवं लोक स्वास्थ्य अधिनियम के तहत प्रतिबंधित क्षेत्र (प्रोटेक्टेड एरिया) घोषित किया गया है। इस कारण इस संरक्षित स्थान-क्षेत्र को अनाधिकृत व्यक्तियों के प्रवेश रोकने में विशेष ऐतिहात बरती जाते, इसलिए छत्तीसगढ़ राज्य सुरक्षा अधिनियम धारा 26 ((1) (2) के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा जिला मजिस्ट्रेट को दी गई आधिकारिता के अनुसार जय बालाजी इंडस्ट्रीज लिमिटेड, रसमड़ा कंपनी के संपूर्ण क्षेत्र को एक वर्ष अवधि के लिए संरक्षित क्षेत्र घोषित किया गया है।


23-Oct-2020 5:27 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 23 अक्टूबर।
रात्रि कालीन और घर-घर जाकर शहर की व्यापक स्तर पर की जा रही है शहर की सफाई नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग के लगभग 25 सफाई कामगार रात्रि के समय इंदिरा मार्केट, सब्जी बाजार, हटरी बाजार, गांधी चौक, सिकोला बाजार, पटेल चौक व मुख्य मार्ग की नियमित सफाई कर कचरा उठाया जा रहा है। इसके अलावा नगर निगम की कचरा रिक्शा गाड़ी शहर के प्रत्येक वार्डों के बस्तियों की गली-गली जाकर कचरा कलेक्शन किया जा रहा है। स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया प्रतिदिन तीन से चार आटो कचरा रात्रि के समय एकत्र किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि शहर में स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 लागू है।  इसे देखते हुये शहर के समस्त नागरिकों से अपील की गई है कि वे अपने घरों और दुकानों का कचराए कचरा रिक्शा गाड़ी को ही देवें । रात्रि कालीन सफाई के अंतर्गत प्रतिदिन रात्रि 8 बजे से दुकान-दुकान जाकर आटो में कचरा लिया जाता है। साथ ही सब्जी पसरा क्षेत्र, चावल लाइन, पन्ना स्वीट्स, किराना लाइन, फूल बाजार, रिया मोती काम्पलेक्स क्षेत्र, पटेल चौक से पुराना बस स्टैण्ड, इंदिरा मार्केट मुख्य मार्ग की सफाई कर रात्रि में ही कचरा उठाया जा रहा है। 

आयुक्त इंद्रजीत बर्मन ने सभी सुपरवाइजरों को निर्देशित कर कहा है कि वे अपने-अपने वार्डों में घर-घर कचरा लिया जा रहा है उस पर निगरानी रखें। किसी भी निवासी द्वारा कचरा बाहर फेका जाता है तो उसकी सूचना तत्काल स्वास्थ्य अधिकारी को देवें, ताकि उस घर मालिक पर कार्रवाई  किया जा सके। नागरिकों से अनुरोध है कि शहर को स्वच्छ रखने नगर निगम को सहयोग प्रदान करें, कहीं पर भी गंदगी या कचरा फैलाया जाता है तो उसकी सूचना अवश्य देवें।


23-Oct-2020 5:26 PM 18

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 23 अक्टूबर। नवोदय विद्यालय बोरई में कुछ बच्चों के पास स्मार्ट फोन नहीं थे। जिससे उनकी ऑनलाइन पढ़ाई में बाधा पहुंच सकती थी। प्रबंधन समिति ने इसका तुरंत रास्ता निकाला। उन्होंने विद्यालय के पूर्व छात्रों से संपर्क किया। सभी ने तत्काल पैसे जुटाये और इस राशि से 16 बच्चों के लिए स्मार्ट फोन आ गया। अब ये बच्चे अच्छे से पढ़ाई कर रहे हैं। 

प्रबंधन समिति के चेयरमैन  एवं कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने इसकी प्रशंसा करते हुए कहा कि नवोदय विद्यालय ने अपने बच्चों के मन में इतने अच्छे संस्कार रोपित किये कि इससे इन बच्चों ने जीवन में ऊंचा मुकाम पाया। अब ये अपने जैसे ही बच्चों को आगे बढ़ाने की दिशा में काम कर रहे हैं। प्रबंधन समिति की बैठक में उन्होंने कहा कि विद्यालय में अधोसंरचना को और बेहतर करने कुछ प्रस्ताव रखे गए हैं। उन पर शीघ्र ही काम आरंभ होगा। इसमें डाइनिंग हाल का जीर्णोद्धार, 2 अतिरिक्त क्लास रूम का निर्माण, किचन गार्डन को संवारना एवं आंतरिक सडक़ों को बेहतर करना जैसे प्रस्ताव शामिल हैं। कलेक्टर ने कहा कि विद्यार्थियों की बेहतर पढ़ाई के लिए जो भी नवाचार आवश्यक हो, उस पर अमल करें। 

आदर्श कन्या विद्यालय अपने मूल रूप में संवरेगा. कलेक्टर ने आदर्श कन्या विद्यालय का भी भ्रमण किया। उन्होंने कहा कि विद्यालय का रिनोवेशन किया जाएगा, लेकिन मूल स्वरूप में किसी तरह से परिवर्तन नहीं किया जाएगा। इंजीनियर पूरी इमारत की स्टडी कर इस संबंध में प्रस्ताव तैयार करेंगे। उन्होंने कहा कि बनने के बाद विद्यालय बहुत सुंदर लगेगा। रिनोवेशन का कार्य डीएमएफ से होगा। कलेक्टर ने इस संबंध में निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन को निर्देशित किया। उल्लेखनीय है कि विधायक  अरुण वोरा ने स्कूल के जीर्णोद्धार के संबंध में पहल की थी। डीएमएफ के माध्यम से अब यह कार्य हो सकेगा। इस स्कूल का विशिष्ट इतिहास रहा है। जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष  रमीज राजा ने बताया कि यहां से सबा अंजुम जैसी हस्तियां निकली हैं जिन्होंने स्कूल का नाम पूरे देश में रौशन किया है। 
 


23-Oct-2020 5:25 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 23 अक्टूबर।
सितंबर माह में जिले में अनेक परिवार खाद्यान्न लेने से वंचित रह गए थे, जो खाद्यान्न नहीं मिलने से परेशान थे। जिसे लेकर नवभारत समाचार पत्र में आधा अक्टूबर गुजर जाने के बावजूद भी शासन ने नहीं दी अनुमति शीर्षक के साथ प्रमुखता से खबर प्रकाशित की थी, जिसके पश्चात शासन प्रशासन ने ने तत्परता दिखाते हुए सितंबर माह का खाद्यान्न लेने से वंचित परिवारों को खाद्यान्न वितरण की अनुमति दे दी। शासन की इस अनुमति के पश्चात के पश्चात अनुमति के पश्चात के पश्चात आज से जिले के उचित मूल्य दुकानों में सितंबर माह का खाद्यान्न का वितरण शुरू कर दिया गया। जानकारी के अनुसार 20 से 30 सितंबर तक जिले में लागू लॉकडाउन के चलते लगभग 1 लाख 4 हजार परिवार सितंबर माह का राशन लेने से वंचित रह गए थे। इनमें 35 हजार बीपीएल कार्डधारी परिवार भी सितंबर माह के राशन से वंचित थे। इन परिवारों के समक्ष राशन को लेकर आ रही दिक्कतों के चलते हुए स्थानीय जनप्रतिनिधियों से बार-बार सितंबर माह का राशन दिलाने आग्रह कर रहे थे, मगर शासन से अनुमति नहीं मिलने की वजह से जनप्रतिनिधि भी बेबस थे। वंचित परिवारों को सितंबर माह का खाद्यान्न वितरण की अनुमति जारी होने के पश्चात जनप्रतिनिधियों ने भी राहत की सांस ली है। सहायक खाद्य अधिकारी आनंद मिश्रा का कहना है कि वंचित परिवारों को सितंबर माह का खाद्यान्न अक्टूबर माह के अंदर वितरण किया जाना है। शासन के निर्देशानुसार आज से उचित मूल्य दुकानों में राशन बंटना चालू भी हो गया है।

 


23-Oct-2020 5:24 PM 18

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
दुर्ग, 23 अक्टूबर।
निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन द्वारा गुरुवार को केलाबाड़ी, कसारीडीह वार्ड क्षेत्र का भ्रमण कर सफाई कार्य का निरीक्षण किया गया। उन्होनें कसारीडीह में सडक़ और नाली के पास पड़े कचरे की फोटो खींच कर स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित कर कहा कि इस वार्ड के सुपरवाइजर की आज का वेतन काटें। उन्होनें समस्त सफाई सुपरवाइजरों को निर्देशित कर कहा कि किसी के भी वार्ड में सडक़ व नाली किनारे या किसी निर्धारित स्थान पर इस तरह से कचरा पड़ा दिखायी देने पर वेतन काटने के साथ ही कड़ी कायर्वाही की जाएगी।

स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 अभियान शहर में लागू है. इसके अंतर्गत घर-घर कचरा लेने के साथ कचरा बाहर फेंकने वालों से जुर्माना भी लिया जा रहा है। निगम आयुक्त श्री बर्मन द्वारा कसारीडीह वार्ड में भ्रमण के दौरान सडक़ नाली किनारे कचरा पड़ा दिखायी दिया। उन्होनें तत्काल मोबाइल से इस वार्ड के सुपरवाइजर का आज का वेतन कटौती के निर्देश दिये। वहीं निगम के स्वच्छता निरीक्षक मेनसिंग मंडावी ने मरारपारा वार्ड में घर का कचरा बाहर डालने वाले बी वाणी, गोलू साहू, तथा पुष्पा ठाकुर से 100-100 रुपए जुर्माना लिया। इस प्रकार स्वच्छता निरीक्षक राजेन्द्र सराटे ने वार्ड 19 में सडक़ किनारे भवन सामग्री रखने वाले विजय यादव कैलाश नगर से 200 रुपए ,गोविन्द पटेल द्वारा चाय दुकान का डिस्पोजल नाली में डाले जाने पर 200 रुपए जुर्माना लिया गया. मुख्य स्वच्छता निरीक्षक जसवीर सिंह भुवान ने वार्ड 28 में राजू साहू द्वारा घर का कचरा बाहर फेका गया. वार्ड 50 में नाली में कचरा डाले जाने पर फाईन किया गया।
 


23-Oct-2020 5:22 PM 18

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

भिलाई नगर 23 अक्टूबर। दाऊ  वासुदेव चंद्राकर कामधेनु विश्वविद्यालय दुर्ग में कुलपति डॉ.एन.पी. दक्षिणकर के मार्गदर्शन एवं निर्देशन में शैक्षणिक सत्र 2020- 21 के लिए प्रावीण्य सूची के आधार पर विश्वविद्यालय के अंतर्गत पशु चिकित्सा एवं पशुपालन महाविद्यालय अंजोरा, दुग्ध प्रौद्योगिकी महाविद्यालय रायपुर,  मत्स्यिकी महाविद्यालय कवर्धा में स्नातकोत्तर एवं पीएचडी में प्रवेश हेतु 22 अक्टूबर को कोरोनाकाल में गाइडलाइन का पालन करते हुए प्रवेश प्रक्रिया पूर्ण की गई।

निदेशक शिक्षण डॉ.एस.पी.इंगोले ने बताया कि शासन एवं विश्वविद्यालय प्रवेश प्रक्रिया नियम का पालन करते हुए प्रावीण्य सूची के आधार पर प्रवेश हेतु अभ्यार्थियों को आमंत्रित किया गया था। जिनका पंजीयन करवाकर दस्तावेजों का सत्यापन कर प्रवेश प्रक्रिया पूर्ण की गई। पशुचिकित्सा एवं पशुपालन महाविद्यालय में स्नातकोत्तर हेतु 78 अभ्यर्थियों, पी.एच.डी. में अध्ययन हेतु 12 अभ्यर्थियों, दुग्ध प्रौद्योगिकी महाविद्यालय रायपुर में स्नातकोत्तर (एम.टेक/एम.एस.सी.) में प्रवेश हेतु 8 अभ्यर्थियों तथा मत्स्यकी महाविद्यालय कवर्धा में स्नातकोत्तर (एम.एफ.एस.सी) में प्रवेश हेतु 1 अभ्यार्थियों को आमंत्रित किया गया था।

प्रवेश प्रक्रिया को पूर्ण करने में विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ पीके मरकाम,  निदेशक शिक्षण डॉ.एस.पी.इंगोले, निदेशक अनुसंधान डॉ. ओ.पी.मिश्रा, अधिष्ठाता डॉ.एस.के.तिवारी, अधिष्ठाता डॉ.ऐ.के.त्रिपाठी, अधिष्ठाता डॉ.के.के.चौधरी, विभागाध्यक्ष एवं प्राध्यापकगण तथा कर्मचारी के सहयोग से पूर्ण किया गया।

 


23-Oct-2020 5:22 PM 18

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

भिलाई नगर 23 अक्टूबर। दाऊ  वासुदेव चंद्राकर कामधेनु विश्वविद्यालय दुर्ग अंतर्गत कृषि विज्ञान केंद्र अंजोरा के तालाब में मछली बीज संचय किया गया । मनरेगा योजना अंतर्गत कृषि विज्ञान केंद्र प्रक्षेत्र के  1 एकड़ क्षेत्र में निर्मित तालाब का गर्मियों में गहरीकरण कराया गया था। पर्याप्त पानी की उपलब्धता होने के कारण तालाब में उपचार उपरांत पहली बार लगभग 3000 की संख्या में पांच विभिन्न प्रजातियां - रोहू, मिरगल, कतला, कॉमन कार्प एवं तिलापिया की अंगुलिकायें संचित की गई ।

इस अवसर पर दाऊ  वासुदेव चंद्राकर कामधेनु विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ.एन.पी. दक्षिणकर ने मछली पालन को क्षेत्र के लिए अनुकूल बताते हुए किसानों, मछुआरों को खेती में जोखिम कम करने केवल कृषि से ही नहीं वरन पशुधन एवं मछली पालन को मिश्रित रूप से अपनाने की सलाह दी। जल संसाधनों के समुचित उपयोग हेतु सघन मछली पालन आय बढ़ाने में बहुत महत्वपूर्ण साधन है क्षेत्र में मछली उद्यमी इस ओर अग्रणी है।

कार्यक्रम में उपनिदेशक, मछली पालन विभाग दुर्ग से मत्स्य अधिकारी  गिरीश वर्मा, विश्वविद्यालय के निदेशक विस्तार डॉ. आर.पी. तिवारी, मत्स्यिकी महाविद्यालय कवर्धा के अधिष्ठाता डॉ. के.के. चौधरी, कुलपति के तकनीकी अधिकारी डॉ नितिन गाड़े, डॉ.होनानंदा, कृषि विज्ञान केंद्र के कार्यक्रम समन्वयक डॉ.वी.एन. खुणे, विश्वविद्यालय के जनसंपर्क अधिकारी डॉ. दिलीप चौधरी एवं वैज्ञानिक उपस्थित थे। इनके साथ ही कृषि विज्ञान केंद्र में प्रशिक्षणार्थी ग्रामीण कृषि कार्य अनुभव (रावे)के विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया।


23-Oct-2020 11:40 AM 130

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
भिलाई नगर, 23 अक्टूबर।
आत्महत्या के मामले मे पुलिस ने मृतक के छोटे भाई के खिलाफ अपराध दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। मामला साढ़े तीन माह पुराना पाटन क्षेत्र का है जिसमें मृतक ने सुसाइड नोट मे छोटे भाई पर सम्पत्ति को लेकर प्रताडि़त करने का आरोप लगाया था।
 
परंतु थाना प्रभारी के द्वारा कार्यवाही नहीं की जा रही थी। इस पर से मृतक की पत्नी के द्वारा एसपी को भी आवेदन दिया गया था। फिर भी कार्यवाही नहीं होने पर महिला ने डीजीपी से शिकायत की थी डीजीपी द्वारा प्रकरण को संज्ञान में लेने के बाद तत्काल दूर पुलिस के द्वारा कार्यवाही की गई है। पूरे प्रकरण में महिला के द्वारा थाना प्रभारी पाटन शिवानंद तिवारी पर कार्यवाही पर विलंब करने के आरोप भी लगाए हैं। पाटन पुलिस ने जांच उपरांत मृतक के भाई के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के अनुसार थाना पाटन के मर्ग क्रं. 29/20 धारा 174 जा.फौ. के मृतक प्रीतम देवागंन उम्र 40 वर्ष निवासी आजाद चौक पाटन के मर्ग जांच, प्रार्थी लक्ष्मी नारायण भाले, गवाह मृतक की पत्नी श्रीमती हेमलता देवागंन एवं अन्य पंचों  से पूछताछ, घटना स्थल निरीक्षण, शव पंचनामा कार्यवाही एवं अन्य परिस्थितिजन्य साक्ष्यों के आधार पर एवं गवाहों मनोज देवागंन पिता बुधराम देवागंन उम्र 39 वर्ष साके द्वारा अपने कथनों में बताया गया कि आरोपी मनोज देवागंन 39 साल पैतृक जमीन को हडप ली है और बडे भाई पीताम्बर उर्फ प्रीतम देवागंन द्वारा हिस्सा बँटवारा मांगने पर गाली गलौच करता है और संपत्ति का बँटवारा नहीं देते हुए भाई को शारीरिक एवं मानसिक रूप से प्रताडि़त कर रहा था।

आजाद चौक वार्ड क्रं. 8 पाटन के द्वारा अपने बडे भाई का हिस्सा बँटवारा नहीं देने एवं संपत्ति संबंधी विवाद के कारण शारीरिक एवं मानसिक रूप से परेशान होकर घटना 7 जुलाई को प्रीतम देवागंन ने अपने घर के अंदर छत सिलींग हुक में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृत्यु का कारण उसका भाई मनोज देवागंन है। संपूर्ण जांच पर आरोपी मनोज देवागंन पिता बुधराम देवागंन उम्र 39 वर्ष सा. आजाद चौक वार्ड 8 पाटन के विरूद्ध प्रथम दृष्टया सदर धारा 306 भा.द.वि. का अपराध घटित करना पाये जाने से अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था। लगातार युवक की पत्नी द्वारा दबाव बनाए जाने के बाद कल पाटन पुलिस द्वारा आरोपी मनोज देवांगन को गिरफ्तार किया गया।


22-Oct-2020 10:25 PM 18

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

भिलाईनगर 22 अक्टूबर। जिला दुर्ग में आज 123 संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई है। ग्राम चंदखुरी से एक ही परिवार के 5 सदस्य शंकर नगर पानी टंकी के पास दुर्ग से एक परिवार के 5 सदस्य तथा आयुर्वेदिक अस्पताल दुर्ग के समीप एक ही परिवार से पांच सदस्य संक्रमित पाए गए हैं।

जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ गंभीर सिंह ठाकुर ने बताया कि जिले से आज 123 संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई है। आज आरटी पीसीआर से 447 सैंपल लिए गए। जिसमें 36 संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई है। ट्रू नॉट से 114 सैंपल लिए गए, जिसमें से 19 मरीजों की पुष्टि की गई है। वह रैपिड एंटीजन किट 606 सैंपल लिए गए। 

आज कुल 1167 लोगों की जांच की गई। इसके अलावा जिले में आज ग्राम चंदखुरी से एक ही परिवार के 5 सदस्य संक्रमित पाए गए हैं। इसी प्रकार से शंकर नगर दुर्ग पानी टंकी के पास में एक ही परिवार से पांच संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई है। वहीं आयुर्वेदिक अस्पताल दुर्ग के समीप एक परिवार से 5 लोगों की लिखी गई। 

डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर ने कहां की आगामी 2 माह कोरोनावायरस के संक्रमण को लेकर महत्वपूर्ण है ठंड बढऩे के साथ-साथ खतरा भी बढ़ेगा। इस दौरान बुजुर्गों को एहतियात बरतना पड़ेगा। अनिवार्य रूप से मास्क लगाना आवश्यक होगा। साथ ही अत्यधिक आवश्यकता होने पर ही घर से बाहर निकले।


22-Oct-2020 8:07 PM 18

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 22 अक्टूबर। डाकघरों में कार्यरत ग्रामीण डाकसेवकों को भी अब दीवाली के पूर्व बोनस मिलेगा। यह आदेश केंद्र सरकार की कैबिनेट ने जारी कर दिया है। बोनस मिलने के आदेश से ग्रामीण डाकसेवकों में हर्ष व्याप्त है।

बताया जाता है कि एक दिन पूर्व बोनस के लिए ग्रामीण डाकसेवकों ने मुख्य डाकघर में धरना प्रदर्शन किया था। इस आंदोलन से डाक प्रबंधन पर खासा असर पड़ा है और आंदोलन के दूसरे ही दिन बोनस के लिए आदेश भी जारी हो गया।

अखिल भारतीय ग्रामीण डाकसेवक संघ छत्तीसगढ़ परिमंडल के अध्यक्ष दिनेश शर्मा ने आदेश के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि कैबिनेट ने 2019-20 के लिए उत्पादकता लिंक्ड बोनस और गैर उत्पादकता लिंक किए गए बोनस को मंजूरी दी है।

बुधवार को पीआईबी दिल्ली द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्री मंडल ने रेलवे, डाक, रक्षा, ईपीएफओ, ईएसआईसी जैसे वाणिज्यक प्रतिष्ठानों के गैर राजपत्रिक कर्मचारियों को वर्ष 2019-20 के लिए उत्पादकता लिंक्ड बोनस (पीएलबी) का भुगतान करने के लिए अपनी मंजूरी दी है। गैर पीएलबी या तदर्थ बोनस गैर राजपत्रिक केंद्र सरकार के कर्मचारियों को दिया जाता है। इससे 13.70 लाख कर्मचारी लाभान्वित होंगे। बोनस की घोषणा से कुल 30.67 लाख कर्मचारी लाभान्वित होंगे और कुल वित्तीय 3, 737 करोड़ रुपए होगा। उन्होंने बताया कि गैर राजपत्रिक कर्मचारियों को पूर्ववर्ती वर्ष में उनके प्रदर्शन के लिए बोनस का भुगतान आमतौर पर दुर्गा पूजा, दशहरा के पहले किया जाता है। इस बार वर्ष के आदेश जारी होते ही वितरित किया जाएगा।


22-Oct-2020 8:06 PM 17

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

दुर्ग, 22 अक्टूबर। छत्तीसगढ़ रजिस्टर्ड कांट्रेक्टर एसोसिएशन द्वारा भिलाई नगर निगम ठेकेदारों के लंबित  बिल के भुगतान को लेकर हो रहे धरना प्रदर्शन को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम अनुसार रैली के रूप में धरना-प्रदर्शन स्थल पहुंचकर पूर्ण समर्थन दिया गया।

जानकारी देते हुए एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष राजेश गुप्ता ने बताया कि पूर्व निर्धारित कार्यक्रम अनुसार ठीक दोपहर 12 बजे दुर्ग स्थित लोक निर्माण विभाग संभाग दुर्ग कार्यालय के नजदीक तमाम ठेकेदार साथी एकत्रित होकर रैली के रूप में रवाना हुए।

रैली में वाहनों का काफिला राजेंद्र पार्क चौक, वायशेप ब्रिज, नेहरू नगर चौक, सुपेला होते हुए नगर पालिक निगम भिलाई के सामने धरना स्थल पर पहुंचे। धरना स्थल पर छत्तीसगढ़ रजिस्टर्ड कांट्रेक्टर एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष राजेश गुप्ता का निगम संघ के अध्यक्ष राजेंद्र पाटनी व सुदीप अग्रवाल एवं अन्य ठेकेदारों ने स्वागत किया।

सैकड़ों पीडि़त ठेकेदार साथियों की उपस्थिति में धरना स्थल को एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष राजेश गुप्ता के अलावा मोहम्मद इरशाद रिजवी, सुदीप अग्रवाल, मनोज अग्रवाल, विपिन सिंह व संगठन के कोषाध्यक्ष रवि सिंह ने संबोधित किया। अपने उद्बोधन में तमाम वक्ताओं सहित प्रदेश अध्यक्ष राजेश गुप्ता ने कहा कि निगम प्रशासन के पास जब धनराशि ही नहीं थी तो इन्होंने निविदा आमंत्रित कर कार्य संपन्न क्यों करवाया इस वजह से हमारे सैकड़ों ठेकेदार भाइयों तथा उनके साथ कार्यरत मजदूर सुपरवाइजर इंजीनियर भूखों मरने की स्थिति में है।

उक्त कार्यक्रम का संचालन ठेकेदार सुदीप अग्रवाल, प्रमोद पांडे एवं आभार प्रदर्शन राजेंद्र पाटनी ने किया। धरना प्रदर्शन में संतोष सिंह, ओंकार देवांगन, आलोक राजपूत, जितेन सिंह, सुनील कश्यप, सत्यप्रकाश चंद, संजय पंडित, दिनेश सिंह, सूरज कश्यप, कुमार जसवानी, रोमल साहनी, विमेन वैभव कटोरिया, बंटी राजपूत, अनुपम मिश्रा एवं अन्य ठेकेदार भाई उपस्थित थे।

 


22-Oct-2020 7:27 PM 57

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

भिलाई नगर/दुर्ग, 22 अक्टूबर। स्टेशन रोड दुर्ग में श्री शिवम शॉपिंग मॉल के पास हुए हत्याकांड में पुलिस ने मृतक के दोस्त आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। हत्या का कारण दोनों ही दोस्त के मध्य शराब पीने पिलाने को लेकर उपजे विवाद को बताया गया है। आरोपी ने अपने दोस्त की हत्या करने के नियत से समीप पड़े ईट के दीवाल के टुकड़े को उठाकर सिर पर वार किया था। किसके कारण युवक की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

नगर पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला ने बताया कि प्रार्थी अब्दुल रशीद निवासी हरना बांधा दुर्ग ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि 21 अक्टूबर को सुबह 8 बजे चाय पीने के लिए श्री शिवम शॉपिंग मॉल की ओर जा रहा था। सुच्चा सिंह के कांप्लेक्स में बहुत भीड़ लगी थी। उस भीड़ के पास जाकर देखा तो एक व्यक्ति उम्र 35 से 40 का मृत अवस्था में पीठ के बल पड़ा हुआ जिसके बाएं आंख के ऊपर गहरा चोट लगा था सिर के पीछे भाग से खून निकल कर आसपास फैला हुआ था। अज्ञात पुरुष के सिर में किसी अज्ञात द्वारा किसी वजनी वस्तु से वार कर हत्या किए जाने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इस पर पुलिस द्वारा अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना शुरू की गई थी। आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज देखने के बाद संदेह के आधार पर पुलिस द्वारा संदेही महेंद्र कंडरा को हिरासत में लिया गया था। कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपी द्वारा अपना अपराध स्वीकार किया गया।

आरोपी ने बताया कि पूर्व में हरना बांधा दुर्ग में रहकर ऑटो चलाता था। विगत दो-तीन वर्ष से अपने परिवार के साथ नयापारा राजिम में निवासरत है। 15 अक्टूबर को अपने दोस्त दिलीप कुमार साहू के साथ नयापारा राजिम से लिफ्ट लेकर दुर्ग आए थे। 20 अक्टूबर को शाम 6 बजे मैला गड्ढा देसी शराब दुकान में दोनों ने जमकर शराब पिए और रात्रि हरना बांधा श्री शिवम शॉपिंग मॉल के सामने सुच्चा सिंह के कांप्लेक्स के पास आए थे, वहीं मृतक दिलीप कुमार साहू एवं महेंद्र कंडरा के बीच शराब पीने की बात को लेकर वाद विवाद हुआ। इस पर महेंद्र कंडरा ने उत्तेजित होकर घटनास्थल के पास ईंट की दीवाल के टुकड़े को उठाकर दिलीप कुमार साहू के सिर पर हत्या के नियत से पटक दिया था। जिससे दिलीप को गंभीर चोट आई, अत्यधिक खून बहने के कारण उसकी मौत हो गई।

पुलिस के द्वारा हत्या में प्रयुक्त सीमेंट गारा से चिपका हुआ ईट दीवाल के टुकड़े को जब्त किया गया। आरोपी महेंद्र कंडरा (30) को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया है।


22-Oct-2020 7:25 PM 14

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

भिलाई नगर,  22 अक्टूबर। नवरात्रि पर खुर्सीपार स्थित मां दुर्गा के दरबार में  राज्यपाल अनुसुईया उइके को आमंत्रित किया गया था। राज्यपाल ने पंचमी तिथि पर मां दुर्गा के रूप स्कंदमाता की पूजा-अर्चना की। मंत्रोच्चार के साथ पूजा-अर्चना  आचार्य कान्हा जी महाराज के द्वारा  संपन्न कराया गया।  पूजा-अर्चना के पश्चात  राज्यपाल ने  माता रानी के आराधना स्वरूप प्रस्तुत भजनों का आनंद ले कर के राज्य की खुशहाली की कामना की। अंत में समिति के अध्यक्ष दया सिंह के द्वारा राज्यपाल का सम्मान शाल-श्रीफल एवं मां दुर्गा उत्सव समिति की ओर से स्मृति चिन्ह भेंट कर किया गया।


22-Oct-2020 7:24 PM 15

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

भिलाई नगर, 22 अक्टूबर। निगम दुर्ग के महापौर धीरज बाकलीवाल ने कल जिला क्षय रोग अस्पताल दुर्ग का अवलोकन किया और व्याप्त समस्याओं का शीघ्र निराकरण करने का आश्वासन जिला क्षय रोग प्रभारी डॉ. अनिल शुक्ला को दिया।

जिला क्षय रोग अस्पताल दुर्ग में लंबे समय से मूलभूत समस्याओं का अभाव है। इस पर से जिला क्षय रोग प्रभारी अधिकारी डॉ . अनिल शुक्ला के द्वारा महापौर दुर्ग धीरज बाकलीवाल को समस्याओं से अवगत कराया था। डॉ. शुक्ला ने महापौर को बताया था कि अस्पताल का भवन पुराना एवं जर्जर हो चुका है। जिसमें मरम्मत कार्य की आवश्यकता है। इसी प्रकार से अस्पताल भवन में प्रकाश व्यवस्था भी ठीक नहीं है। साफ-सफाई का भी अभाव है । साथ ही पानी आपूर्ति को लेकर भी समस्या बनी हुई है। इस पर आज महापौर धीरज बाकलीवाल  डॉ. अनिल शुक्ला के साथ अस्पताल पहुंचे। उनके द्वारा सभी समस्याओं का जायजा लिया गया।

महापौर ने जिला क्षय रोग प्रभारी डॉ. अनिल शुक्ला को आश्वस्त किया है कि सभी समस्याओं का शीघ्र निराकरण नगर निगम की ओर से कर दिया जाएगा। अस्पताल निरीक्षण के दौरान उनके द्वारा निगम के संबंधित अधिकारियों को अस्पताल की समस्या दूर करने के लिए त्वरित निर्देश भी दिए गए। महापौर द्वारा तत्काल कार्रवाई प्रारंभ करने पर डॉ अनिल शुक्ला द्वारा महापौर का आभार व्यक्त किया गया।


22-Oct-2020 7:22 PM 15

एक और अवसर, विशेष परीक्षा शीघ्र

भिलाईनगर, 22 अक्टूबर। हेमचंद यादव विश्वविद्यालय दुर्ग स्नातक, स्नातकोत्तर एवं द्वितीय, चतुर्थ एवं षष्टम सेमेस्टर परीक्षा मई-जून 2020 में सम्मिलित परीक्षार्थी जो घोषित परीक्षा परिणामों से असंतुष्ट हैं, वे परीक्षार्थी जो पूरक एवं अनुत्तीर्ण हुए हैं, उन्हें विश्वविद्यालय के द्वारा परीक्षा परिणाम सुधारने के लिए एक और अवसर प्रदान किया गया है। इसके लिए विश्वविद्यालय द्वारा विशेष परीक्षा का आयोजन पूर्व आयोजित परीक्षा की भांति किया जा रहा है। वे परीक्षार्थी जो पूर्व परीक्षा देने से वंचित रहे हैं, वह भी इस विशेष परीक्षा में शामिल हो सकते हैं।

विश्वविद्यालय के कुलसचिव सीएल देवांगन ने जारी अधिसूचना में उल्लेखित किया है कि छत्तीसगढ़ शासन उच्च शिक्षा विभाग रायपुर के आदेश क्रमांक एफ 3-33/2020/38-1 14 अक्टूबर के अनुसार मुख्य परीक्षा 2019 -20 के परीक्षा परिणामों से असंतुष्ट विद्यार्थी के लिए एक और अवसर प्रदान किया गया है।

 इस विशेष परीक्षा में पूरक एवं अनुत्तीर्ण हुए परीक्षार्थी भी परीक्षा आवेदन फॉर्म भरकर शामिल हो सकते हैं।

परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए विद्यार्थियों को ऑनलाइन परीक्षा फॉर्म भरने होंगे। जिन परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम घोषित किए जा चुके हैं, वह 21 से 28 अक्टूबर तक ऑनलाइन आवेदन जमा कर सकते हैं। जिन परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम घोषित नहीं हुए हैं, वह परीक्षा फॉर्म परिणाम जारी होने के पश्चात 7 दिवस के भीतर आवेदन जमा कर सकते हैं। इसके अलावा प्रायोगिक, असाइनमेंट, आंतरिक मूल्यांकन के संबंध में पृथक से दिशा निर्देश जारी किए जाएंगे तथा परीक्षा की सूचना भी वितरित से प्रदान की जाएगी।

इस प्रकार से जारी परीक्षा परिणामों से असंतुष्ट विद्यार्थियों को विश्वविद्यालय के द्वारा एक और अवसर प्रदान किया गया है, ताकि वे अपने परीक्षा परिणामों में सुधार कर सकें।


22-Oct-2020 7:19 PM 17

'छत्तीसगढ़' संवाददाता

भिलाई नगर, 22 अक्टूबर। हॉस्पिटल सेक्टर भिलाई में कल शाम को क्रिकेट खेल रहे  बच्चों की बॉल पड़ोसी को लग गई। आवेश में आकर पूरे परिवार ने दोनों भाई बहनों, उनकी मां एवं बुआ की जमकर पिटाई कर दी। रिपोर्ट पर भिलाई नगर पुलिस द्वारा बलवा का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है ।

कोतवाली पुलिस ने बताया कि के शीला (45) क्वार्टर नंबर 3 /11हास्पिटल सेक्टर ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि 21 अक्टूबर को अपनी ननंद जान्सी के साथ घर में थीं। उनका पुत्र के. सैरोन घर के सामने क्रिकेट खेल रहा था कि शाम करीब 6 बजे क्रिकेट का गेंद पड़ोस में रहने वाले प्रभु दास को लग गया। उसी बात को लेकर प्रभु दास मेरे बेटे सैरोन को गाली देने लगा, जिसे देखकर बेटी के. सान्या गई और प्रभु दास को गाली देने से मना की तो प्रभुदास का लड़का चिन्ना आया और मेरी लड़की एवं लड़का के साथ हाथ मुक्का से मारपीट करने लगा, तब आवाज सुनकर के शीला उनकी ननंद आये तो प्रभु दास की पत्नी चनचम्मा एवं लड़कियां यशोदा एवं रायलम्मा भी आ गये और हम चारों के साथ हाथ-मुक्का से मारपीट कर जान से मारने की धमकी देते हुए गाली देने लगे । मारपीट से हम चारों को चोटें आई है।

लड़ाई-झगड़ा के दौरान मेरी लड़की का बांये कान का सोने का टाप्स गिरकर गुम हो गया है।


22-Oct-2020 7:10 PM 16

भिलाई नगर, 22 अक्टूबर। माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने 100 वर्ष पूरा होने के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में कॉमरेड आर पी सोनी ने झंडा फहराया एवं कम्युनिस्ट पार्टी की स्थापना से लेकर अभी तक के विभिन्न मुक्ति संघर्षों में शामिल होकर अपनी जान की आहुति देने वाले शहीदों को श्रद्धांजलि दी। तत्पश्चात एक छोटी सी सभा का आयोजन किया गया। 

सभा की शुरुआत में जिला समिति सदस्य कॉमरेड  अशोक खातरकर ने कम्युनिस्ट पार्टी के गौरवशाली 100 साल विषय पर पर्चा प्रस्तुत किया, तत्पश्चात राज्य सचिव मंडल सदस्य कॉमरेड वकील भारती, दुर्ग जिला समिति सचिव कामरेड शांत कुमार आदि ने अपनी बातों को रखा एवं शुभकामनाएं दी।

कम्युनिस्ट पार्टी के 100 साल में जन संघर्ष बेमिसाल

माकपा नेता ने कहा कि कम्युनिस्टों का 100 साल का सफर जन संघर्षों से भरा हुआ है। कम्युनिस्ट पार्टी आजादी के पहले अंग्रेजों से, आजादी के पश्चात कांग्रेस पार्टी के जन विरोधी नीतियों से एवं वर्तमान में केंद्र में सत्तासीन फासीवाद सरकार द्वारा किए जा रहे मजदूर विरोधी किसान विरोधी कार्य के खिलाफ अनवरत संघर्ष कर रही है, वहीं जब-जब देश के जिन राज्यों में कम्युनिस्ट पार्टी सत्तासीन रही, वहां पर मजदूरों किसानों एवं आम जनता को राहत देने वाले कार्यों को करके देश के सामने मिसाल प्रस्तुत की है। बंगाल, केरल, त्रिपुरा में तीन फसली खेती सर्व सुविधा युक्त स्वास्थ्य सेवाएं सभी के लिए शिक्षा का प्रबंध करना लोगों की आय को बढ़ाने के लिए लगातार कार्य करना एवं जातिवाद एवं सांप्रदायिक दंगों से राज्य को मुक्त कराने की दिशा में लगातार काम करना आदि प्रमुख है।

 


22-Oct-2020 6:03 PM 19

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

भिलाई नगर, 22 अक्टूबर। स्वामी श्री स्वरूपांनद सरस्वती महाविद्यालय हुडको भिलाई के हिन्दी विभाग एवं राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना के संयुक्त तात्वावधान में 'महात्मागांधी, शिक्षा  और साहित्य के परिपे्रक्ष्य में’ विषय पर एक दिवसीय अंतराष्ट्रीय सेमीनार का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. शैलेन्द्र शर्मा, अध्यक्ष हिन्दी अध्ययनशाला विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन, विशेष अतिथि डॉ. शहाबुद्दीन शेख  कार्यकारी अध्यक्ष, नागरी लिपि परिषद पुणे, विशिष्ट  अतिथि डॉ.प्रभु चौधरी  सचिव राष्ट्रीय शिक्षक  संचेतना उज्जैन, मुख्य वक्ता डॉ. सुरेशचंद्र  शुक्ल  साहित्यकार और अनुवादक ओस्लो नार्वे थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ. दीपक शर्मा, मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्वामी श्री स्वरूपानंद सरस्वती महाविद्यालय ने की। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला विशेष रूप से उपस्थित रहीं। कार्यक्रम की संयोजिका डॉ. सुनीता वर्मा विभागाध्यक्ष हिन्दी व तकनीकी सहयोग स.प्रा. निशा पाठक व स.प्रा. टी बबीता ने प्रदान किया।

 डॉ. सुनीता वर्मा ने कहा कि जीवन के विविध पहलुओं पर महात्मा गांधी का चिंतन विशाल था। उन्होंने सत्य के प्रयोग में अपनी भूलों का सार्वजनिक रूप स्वीकार किया है। उनका शिक्षा सिद्धांत व्यवहारिक मूल्यों पर आधारित व स्वरोजगार मूलक था। महात्मागांधी अब गुजरते वक्त के साथ प्रासंगिक होते जा रहे हैं। डॉ. प्रभु चौधरी ने कहा कि गांधी व्यक्ति नहीं युग थे। आज जब चारों ओर हिंसा की भावना बलवती हो रही है तब हमें गांधी के चिंतन व मूल्य आधारित शिक्षा की आवश्यकता है।

विशिष्ट अतिथि डॉ. शहाबुद्दीन शेख ने महात्मा गांधी के शिक्षा सिद्धांतों की विवेचना की, कहा महात्मा गांधी की धारणा थी, शिक्षा सरकार की अपेक्षा समाज के अधीन होना चाहिए। 14 वर्ष तक अनिवार्य सही शिक्षा व शिक्षा का माध्यम मातृभाषा होनी चाहिए।

मुख्य वक्ता डॉ. सुरेशचंद्र शुक्ल ने कहा कि नार्वे में स्थान-स्थान पर गांधी की प्रतिभा है व लोग महात्मा गाँधी व उनके सिद्धांतों से परिचित हैं। गांधी युग पुरुष थे। प्राणी मात्र के प्रति सकारात्मक चिंतन ही अहिंसा है स्वीकार करते थे। मन, वचन व कर्म से किसी के प्रति हिंसा न करे, यही अहिंसा का सच्चा मार्ग है।

मुख्य अतिथि डॉ. शैलेन्द्र कुमार शर्मा ने महात्मा गांधी विचार और नवाचार के बारे में विस्तृत जानकारी दी व बताया  महात्मा गांधी चाहते थे विद्यार्थियों को मातृभाषा में शिक्षा दी जानी चाहिये क्योंकि हम अपने भाषा व विचारों को मातृभाषा में अच्छे से व्यक्त कर सकते हंै। 

प्राचार्य डॉ. हंसा शुक्ला ने कहा साहित्य में गांधी जी के विचारों व सिद्धांतों को महत्वपूर्ण स्थान मिला। गांधी के विचारों को हम पढ़ रहे हैं, पर हम उन्हें जी नहीं रहे है। जीवन में गांधी के सिद्धांतों को समावेश करना होगा। गांधी जी प्रार्थना पर बहुत भरोसा करते थे, प्रार्थना में बहुत बल होता है।

डॉ. दीपक शर्मा ने कहा कि गांधी जी ज्ञान आधारित शिक्षा के स्थान पर आचरण आधारित शिक्षा के समर्थक थे। वे शिक्षा को सर्वांगीण विकास के सशक्त माध्यम मानते थे।

डॉ. मीता अग्रवाल, शासकीय महाविद्यालय रायपुर डॉ. मीना सोनी विमेंष महाविद्यालय ओडिशा, डॉ. शमा ए बेग स्वरूपानंद महाविद्यालय भिलाई ने अपने शोधपत्र पढ़े। 500 से अधिक शोधार्थी, विद्यार्थियों ने भाग लिया। कार्यक्रम में मंच संचालन डॉ. सुनीता वर्मा विभागाध्यक्ष हिन्दी व धन्यवाद ज्ञापन डॉ. शमा ए बेग विभागाध्यक्ष माइक्रोबायोलाजी ने किया। कार्यक्रम में महाविद्यालय के प्राध्यापक/प्राध्यापिकाएं शामिल हुए।