छत्तीसगढ़ » रायपुर

Date : 21-Jan-2020

3 महीने में 31 सौ लोगों की समस्याएं दूर, शहरी नागरिकों को स्थानीय स्तर पर समस्याओं से निजात दिलाने के लिए प्रारंभ किया गया मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 21 जनवरी।
प्रदेश के सभी 168 नगरीय निकायों में वार्ड कार्यालय खुलने से अब वार्ड में ही आम नागरिकों की समस्याओं का समाधान हो रहा है। इससे आम लोगों का समय और आर्थिक नुकसान होने से बच रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के दूर दृष्टि सोच और शहरी नागरिकों को स्थानीय स्तर पर समस्याओं से निजात दिलाने के लिए प्रारंभ किया गया मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय से हो पाया है। प्रदेश में 13 नगर निगमों के 71 वार्ड में शुरू की गई वार्ड कार्यालयों से मात्र तीन महीने में तीन हजार 94 नागरिकों को उनकी समस्याओं से निजात मिली है। 

नगरीय निकाय विभाग के अधिकारियों ने आज बताया कि राज्य के सभी नगरीय निकायों के प्रत्येक वार्ड में निवास करने वाले स्थानीय नागरिकों को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए वार्ड कार्यालयों का शुभारंभ 02 अक्टूबर 2019 को किया गया। सुशासन और वार्ड में ही नागरिकों की समस्याओं को त्वरित निदान के दृष्टिकोण से शहरी क्षेत्रों में शुरू की गई मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय सफल साबित हुई है। अब वार्ड कार्यालयों में ही साफ सफाई सडक़ों का निर्माण नालियों का निर्माण, सडक़ों एवं नालियों का संधारण, स्ट्रीट लाइट संधारण, उद्यानों तथा सामुदायिक भवनों की साफ-सफाई, पाइपलाइन लीकेज संधारण, स्वच्छ पेयजल से संबंधित समस्या का शीघ्र निराकरण किया जा रहा हैै। इससे अब आम लोगों केा निकाय कार्यालय जाने की जरूरत नही पड़ती है। उन्हें निकाय द्वारा जारी की जाने वाली विभिन्न सेवाएं जैसे भवन अनुज्ञा दुकान पंजीयन विद्युत अनापत्ति प्रमाण पत्र आवासीय योजनाओं से संबंधित आवेदन पत्र एवं निकायों से संबंधित विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी मिल जाती है। वहीं विभिन्न समस्याओं का निराकरण भी वार्ड स्तर पर हो रहा है। 

अधिकारियों ने बताया कि प्रथम चरण में 2 अक्टूबर 2019 को प्रदेश के सभी नगर पालिक निगमों में मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय प्रारंभ की गई। वार्ड कार्यालय में आवेदन प्राप्त होने पर उन्हें पोर्टल के माध्यम से पंजीयन करते हुए संबंधित कर्मचारी द्वारा नागरिकों को पावती प्रदान की जाती हैं। आवेदन में वर्णित जानकारी सीधे संबंधित अधिकारी को एस.एम.एस. के माध्यम से प्रेषित की जाती है और संबंधित प्रकरण का मौके पर ही निराकरण किया जाता है। वर्तमान में प्रदेश के 13 नगर निगमों में 71 वार्ड कार्यालयों का शुभारंभ किया गया है जिनमें अद्यतन 3506 आवेदन प्राप्त हुए। 

इसमें से तीन हजार 94 आवेदन का निराकरण किया जा चुका है। प्रदेश के अन्य नगरीय निकायों में भी नवीन वार्ड कार्यालय चरणबद्ध तरीके से प्रारंभ किया जाएगा। वार्ड कार्यालय से प्राप्त आवेदनों एवं उनके निराकरण की स्थिति की समीक्षा नगर पालिक निगमों के आयुक्तों द्वारा प्रतिदिन की जाती है। जिला कलेक्टर द्वारा भी अपने जिले के प्रत्येक नगरीय निकायों के वार्ड कार्यालयों की स्थिति के संबंध में नियमित समीक्षा की जाती है। 

 


Date : 21-Jan-2020

19 टंकियों से आज शाम पेयजल सप्लाई प्रभावित रहेगी, नए पंप लगाए जा रहे, महापौर जायजा लेने पहुंचे, निर्देश

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 21 जनवरी।
शहर की एक बड़ी आबादी को आज शाम नलों से पीने का पानी नहीं मिल पाएगा। मठपुरैना स्थित नलघर में नए पंप स्थापित करने 19 पानी टंकियों में सप्लाई प्रभावित रहेगी। 
बताया गया कि मठपुरैना पंप हाउस में जलआवर्धन योजना के तहत 150 एमएलडी इंटेकवेल में वीटी पंप स्थापित किया जा रहा है, जिसके चलते यह संयंत्र सुबह से शाम तक बंद रखा गया है।  निगम की ओर से नए पंप लगाने का काम तेजी से जारी है। कहा जा रहा है कि इन टंकियों से पेयजल की आपूर्ति कल सुबह से सामान्य हो जाएगी। 

 महापौर एजाज ढेबर ने निगम जलविभाग अध्यक्ष सतनाम सिंह पनाग, वार्ड पार्षद प्रमोद मिश्रा सहित कार्यपालन अभियंता जल बद्री चंद्राकर की उपस्थिति में जलआवर्धन योजना के तहत वीटी पंप स्थापित करने की प्रगति का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने समय पर सभी काम पूरा करने के निर्देश दिए।

उल्लेखनीय है कि गर्मी में पानी की समस्या को देखते हुए निगम प्रशासन ने अभी से वार्डों में पानी सप्लाई सामान्य बनाए रखने की तैयारी शुरू कर दी है। कहीं पाइप लाइन की मरम्मत करायी जा रही है, तो कहीं नई पाइप लाइन बिछायी जा रही है। 

 

 


Date : 21-Jan-2020

किसानों से अब तक 49 लाख मीट्रिक धान खरीदी, 23 लाख मीट्रिक टन धान का कस्टम मिलिंग

रायपुर, 21 जनवरी। खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में प्रदेश के किसानों से अब तक 49 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई है। धान उपार्जन केन्द्रों से अब तक 23 लाख तीन हजार 313  मीट्रिक टन धान का कस्टम मिलिंग किया जा चुका है। पंजीकृत मिलरों को उपार्जन केन्द्रों से धान उठाने के लिए 26 लाख सात हजार 476 मीट्रिक टन धान का डी.ओ. जारी कर दिया गया है। प्रदेश के किसानों को आठ हजार 61 करोड़ रूपए का भुगतान सीधे उनके बैंक खातों में किया गया है।

 खाद्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश के बस्तर जिले में 24 हजार 979 मीट्रिक टन धान का कस्टम मिलिंग किया गया है। इसी प्रकार बीजापुर जिले में 342 मीट्रिक टन धान, दंतेवाडा जिले में 712 मीट्रिक टन, कांकेर जिले में 65 हजार 421 मीट्रिक टन, कोण्डागांव जिले में 23 हजार 962 मीट्रिक टन, नारायणपुर में एक हजार 626 मीट्रिक टन, सुकमा में तीन हजार 586 मीट्रिक टन, बिलासपुर जिले में एक लाख 82 हजार 974 मीट्रिक टन, जांजगीर-चांपा में दो लाख 33 हजार 827 मीट्रिक टन, कोरबा में 32 हजार 834 मीट्रिक टन, मुंगेली जिले में 64 हजार 551 मीट्रिक टन, रायगढ़ जिले में एक लाख 86 हजार 865 मीट्रिक टन, बालोद में 97 हजार 512 मीट्रिक टन, बेमेतरा जिले में 71 हजार 201 मीट्रिक टन और दुर्ग जिले में एक लाख 54 हजार 197 मीट्रिक टन धान का उठाव मिलरों द्वारा किया गया है। 

कबीरधाम जिले में 43 हजार 620 मीट्रिक टन धान का कस्टम मिलिंग हो चुका है। राजनांदगांव जिले में एक लाख 22 हजार 650 मीट्रिक टन, बलौदाबाजार में 90 हजार 988 मीट्रिक टन, धमतरी में एक लाख 68 हजार 120 मीट्रिक टन, गरियाबंद में 49 हजार 313 मीट्रिक टन, महासमुन्द में दो लाख चार हजार 138 मीट्रिक टन, रायपुर जिले में दो लाख 70 हजार 197 मीट्रिक टन, बलरामपुर में 39 हजार 402 मीट्रिक टन, जशपुर जिले में 32 हजार 637 मीट्रिक टन, कोरिया जिले में 33 हजार 639 मीट्रिक टन, सरगुजा जिले में 51 हजार 257 मीट्रिक टन और सूरजपुर जिले में 52 हजार 804 मीट्रिक टन धान का उठाव उपार्जन केन्द्रों से मिलरों द्वारा किया गया है। 


Date : 21-Jan-2020

रंगायन वर्कशॉप में विविध विधाओं का दिया गया प्रशिक्षण, प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया

रायपुर, 21 जनवरी। रंगायन द्वारा विगत दिनों आयोजित तीन दिवसीय पेटिंग वर्कशाप में बड़ी संख्या मे बच्चों एवं बड़ों ने भाग लिया। वर्कशॉप में कोलाज के अलावा अन्य कला विधाओं का प्रशिक्षण दिया गया तथा प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया गया। 

संस्था की संचालिका जयश्री भगवा नानी  ने बताया कि 17 से 19 जनवरी तक होटल सयाजी में संस्था द्वारा हर बार की तरह इस बार भी कुछ नया सिखाने के उद्देश्य से वर्कशॉप का आयोजन किया गया। जिसमें नई नई विधा सिखाई गई। यहां सेल्फी जोन एवं कराओके संगीत के द्वारा प्रतिभागियों ने  वर्कशॉप का भरपूर आनंद उठाया।

वर्कशाप में अरविंद यदु के द्वारा कोलाज पेंटिग का प्रशिक्षण दिया गया। यह एक ऐसी विधा है जिसमें पुराने मंैगजीन के कटे हुए टुकड़ों को जोड़-जोड़ कर बहुत ही आकर्षक कलाकृतियां तैयार की जा सकती है। वर्कशॉप में भाग लेने वाले बच्चों एवं बड़ों को विनोद रजक  के द्वारा प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। 
इस अवसर पर भारती सक्सेना  सिद्धार्थ बोस, कमलेश् राठौर, नमिता रठौर आदि उपस्थित थे।

 


Date : 21-Jan-2020

पहले भाजपा नेताओं द्वारा की जा रही शराब तस्करी तो बंद करवाएं-कांग्रेस
भाजपा के बयान पर प्रतिक्रिया
छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 21 जनवरी।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने भाजपा नेता के एक बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि शराब तस्करी में तो भाजपा के नेता पकड़े गए हंै ऐसे में किस मुंह से भाजपा शराबबंदी की बात करती है? भाजपा और शराब की कमाई का तो चोली-दामन का साथ है। शराब की काली कमाई से ही कीचड़ फैलाकर छत्तीसगढ़ में भाजपा ने तो कमल खिलाया था जो अब मुरझा गया है। 

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता श्री ठाकुर ने जारी एक बयान में आरोप लगाते हुए कहा है कि भाजपा सत्ता में थी तब शराब की सरकारी दुकान खोलकर शराब-लॉबी से कमीशन लेती थी। अब विपक्ष में है तब शराब तस्करी कर काली कमाई में जुटी है। भाजपा वास्तविक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार द्वारा चलाये जा रहे शराबबंदी मुहिम को सफल बनाकर छत्तीसगढ़ को शराब मुक्त प्रदेश बनाने की सोच रखती है तो शराब तस्करी में जुड़े भाजपा के नेता शराब तस्करी बंद करें और भाजपा की बी टीम शराब तस्करों को संरक्षण देना बंद करें।
उन्होंने कहा है कि शराब बन्दी अभियान को सफल होते देख भाजपा के नेता शराब बंदी के लिए बयानबाजी कर सुर्खियों में बने रहना चाहते हैं। दूसरी तरफ छत्तीसगढ़ के बाहर से शराब तस्करी कर शराबबंदी अभियान को असफल करने का काम भी कर रहे हैं। 

बलौदाबाजार जिला के भाजपा के जिला कोषाध्यक्ष और पूर्व सांसद प्रतिनिधि स्वयं की गाड़ी, और विद्युत मंडल का नाम लिखे दो गाडिय़ों में अवैध शराब परिवहन करते पकड़े जाते हंै।  कांग्रेस प्रवक्ता श्री ठाकुर ने कहा है कि मुख्यमंत्री श्री बघेल की नेतृत्व वाली सरकार ने शराबबंदी के लिए जो कमेटियां गठित की हैं, वह कमेटियां लगातार शराबबंदी अभियान को सफल बनाने में जुटी है। 

सामाजिक चेतना के माध्यम से चलाए जा रहे शराबबंदी अभियान के बेहतर परिणाम मिलने शुरू हो गए हैं। शराब की बिक्री में 15 से 20 प्रतिशत की गिरावट आई है। कांग्रेस सरकार में लगातार अवैध शराब के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। बड़े पैमाने पर अवैध शराब पकड़ी भी गई है। शराबबंदी की दिशा में पहला मजबूत कदम कांग्रेस सरकार ने उठाया है।

 


Date : 21-Jan-2020

पर्यावरण सुरक्षा की खातिर रूमाल पर निमंत्रण कार्ड, डॉ. प्रदीप पांडे ने अपनी बेटी की शादी के लिए रूमाल पर निमंत्रण कार्ड प्रिंट कराया

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 21 जनवरी।
पर्यावरण की सुरक्षा के मद्देनजर अभिनव पहल करते हुए जगदलपुर के डॉ. प्रदीप पांडे ने अपनी बेटी की शादी के लिए रूमाल पर निमंत्रण कार्ड प्रिंट कराया है। 
डॉ. प्रदीप पांडे ने बताया कि पर्यावरण के प्रति हमेशा से वे संवेदनशील रहे हैं। उन्हें यह बात परेशान करती थी कि शादी के निमंत्रण कार्ड से पेपर का नुकसान होता है। इस्तेमाल होने के बाद निमंत्रण कार्ड अक्सर नदी, तालाबों में विसर्जित  किए जाते हैं। जिससे पानी प्रदूषित होता है। इसके अलावा यहां वहां फेंके जाने पर निमंत्रण कार्ड में अंकित देवी देवता का अपमान होता है। इस तथ्य को ध्यान में रखकर वह निमंत्रण कार्ड के लिए विकल्प तलाश रहे थे और ऐसा करते हुए उन्हें रूमाल पर निमंत्रण कार्ड प्रिंट किए जाने का पता चला। उन्होंने इस विकल्प का बकायदा उपयोग करते हुए बेटी की शादी का निमंत्रण कार्ड रूमाल पर प्रिंट करवाया। शुरू में उन्हें ये लगा कि लोग उनकी इस पहल का माखौल उड़ाएंगे, लेकिन लोगों ने उनकी इस पहल का स्वागत किया है। 

रूमाल पर निमंत्रण पत्र प्रिंट की अनूठी पहल करने वाले पुणे के उदय गाडगिल ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान से प्रभावित होकर उन्होंने इस क्षेत्र में व्यक्तिगत योगदान करने की चाह से अपनी बेटी की शादी का निमंत्रण पत्र रूमाल पर प्रिंट किया। 

निमंत्रण पत्र का यह नया तरीका पर्यावरण प्रेमियों को पसंद आया और धीरे-धीरे उनके पास रूमाल पर निमंत्रण कार्ड छापने के ऑर्डर आने लगे। वर्तमान में देश के कई शहरों से उनके पास रूमाल पर प्रिटेंड निमंत्रण कार्ड ऑर्डर आ रहे हैं। उदय कहते हैं प्रदूषण से बचाव की दिशा में मेरी पहल कारगर रही। रूमाल का प्रिंट दो बार धोने से मिट जाता है और इसे उपयोग किया जा सकता है। 

 


Date : 21-Jan-2020

सीएए, एनआरसी के समर्थन में सैकड़ों एकजुट, कहा-बिल से किसी की नागरिकता नहीं जाएगी

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 21 जनवरी।
नागरिकता संशोधन बिल के समर्थन में आज शाम यहां बूढ़ापारा धरना स्थल पर कई संगठनों से जुड़े सैकड़ों लोग एकजुट हुए। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार देश हित में यह बिल लेकर आ रही है, जिससे हम किसी की नागरिकता नहीं छिनी जाएगी। ऐसे में उसका हम सभी को समर्थन करना चाहिए। 

छत्तीसगढ़ सिविल सोसायटी और कुछ अन्य संगठनों से जुड़े सैकड़ों लोग आज यहां एकजुट हुए। इसके बाद वे सभी बैनर-पोस्टर के साथ सीएए व एनआरसी का समर्थन करने लगे। वहां कुछ मुस्लिम समुदाय से जुड़े लोग भी मौजूद रहे। संगठन के नेताओं से केंद्र सरकार की ओर से लाए  गए सीएए व एनआरसी का समर्थन करते हुए कहा कि यह बिल लोगों को नागरिकता देने के लिए लायी जा रही है। 

उल्लेखनीय है कि सीएए व एनआरसी का केरल समेत देश के कई राज्यों में विरोध हो रहा है। राज्य सरकार भी इस विधेयक के पक्ष में नहीं है। 
 


Date : 21-Jan-2020

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह ने एनआरसी और सीएए कानून को लेकर भाजपा पर निशाना साधा, सीएए से आदिवासियों को नुकसान 

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 21 जनवरी।
स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह ने एनआरसी और सीएए कानून को लेकर भाजपा पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सीएए से आदिवासियों को नुकसान होगा। 
डॉ. सिंह ने मीडिया से चर्चा में एनआरसी और सीएए कानून की आलोचना की। उन्होंने कहा कि एनआरसी लागू करने वाले भाजपा को डूबकर मर जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग किस मुंह से सीएए और एनआरसी की बात करते हैं। 

स्कूल शिक्षा मंत्री भी कहा कि सीएए कानून से आदिवासियों को काफी नुकसान होगा। उन्होंने कहा कि आदिवासियों को जाति प्रमाण पत्र बनाने में काफी दिक्कत होती है। इस कानून के प्रभावशील होने से दिक्कत और बढ़ जाएगी। 

दूसरी तरफ, भाजपा एनआरसी और सीएए के पक्ष में अभियान चला रही है। इस कड़ी में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और पार्टी के वरिष्ठ नेता अलग-अलग संगठन और समाज के प्रमुख लोगों से मिलकर वस्तु स्थिति से अवगत करा रहे हैं। इसके साथ ही साथ बुधवार को कार्यक्रम भी आयोजित किया जा रहा है। इसमें उत्तरप्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य शिरकत करेंगे। इस मौके पर पार्टी के प्रमुख नेता भी मौजूद रहेंगे। पहले मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आने की चर्चा थी। लेकिन अब उनके स्थान पर केशव मौर्य आएंगे। 

 


Date : 21-Jan-2020

सीएम से सीआरपीएफ के केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के डायरेक्टर जनरल ए.पी. महेश्वरी ने की मुलाकात

रायपुर, 21 जनवरी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज उनके निवास कार्यालय में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के डायरेक्टर जनरल ए.पी. महेश्वरी ने सौजन्य मुलाकात की। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव गृह सुब्रत साहू, पुलिस महानिदेशक डी.एम. अवस्थी, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी उपस्थित थे।

 


Date : 21-Jan-2020

स्वच्छता रैकिंग बेहतर करेंगे, गड़बड़ी पर ठेकेदारों पर होगी कार्रवाई- महापौर

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 21 जनवरी।
शहर की सफाई को लेकर प्रतिबद्धता जताते हुए महापौर एजाज ढेबर ने पत्रकार वार्ता में सफाई टोल फ्री नंबर देने की बात कहीं। उन्होंने ठेकेदारों द्वारा सफाई कर्मियों के शोषण का खुलासा किया। उन्होंने कहा 4 हजार सफाई कर्मियों के एटीएम कार्ड तक ठेकेदार जब्त कर रखते हैं और उन्हें 8 हजार की जगह सिर्फ 6 हजार रु. दिए जाते हैं। ऐसे ठेकेदारों के प्रति कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 

महापौर एजाज ढेबर ने कहा स्वच्छता रैकिंग में रायपुर का स्थान सौ में आता है। हमने ठान लिया है कि स्वच्छता रैकिंग बेहतर करेंगे। सफाई को लेकर टोल फ्री नंबर लाया जाएगा जिसकी एमआई पदस्थ सतत मानीटरिंग करेंगे। महापौर श्री ढेबर ने बताया कि उन्होंने हाल में 14 सदस्यीय एमआईसी का गठन किया है। शहर की सफाई पर उनका फोकस रहेगा। पानी की समस्या से निजात दिलाने के लिए मार्च अप्रैल तक शहर में 3 टंकियां शुरू हो जाएगी। 

उन्होंने कहा गर्मी में टैंकरों से पानी पहुंचाने की व्यवस्था की जाएगी और यही कोशिश रहेगी कि पानी की 50 फीसदी समस्या हल हो जाए सरोना, कचना आदि क्षेत्र के दौरे के दौरान मैंने अवैध निर्माण का मुआयना किया। 

इस संबंध में भी कार्रवाई की जाएगी। महापौर एजाज ढेबर ने बताया कि नगर निगम को स्वावंलबी बनाने की दिशा में खस्ता हाल दुकानों को री टेंडर कर बेचा जाएगा। उन्होंने मरीन ड्राइव में जल्द तिरंगा फहराए जाने एवं शहर में स्थापित विभूतियों की मूर्तियों के रखरखाव का आश्वासन दिया। 

उन्होंने बताया कि दूषित पानी की समस्या के निराकरण के लिए अमृत मिशन के तहत काम हो रहा है। यह काम मार्च अप्रैल तक पूरा हो जाएगा। 


Date : 21-Jan-2020

ज्ञान गंगा एजुकेशनल एकेडमी में तीन दिवसीय खेल महोत्सव का आयोजन

रायपुर, 21 जनवरी। ज्ञान गंगा एजुकेशनल एकेडमी में 20 से 22 जनवरी तक खेल महोत्सव का आयोजन किया गया है। खेल उत्सव का शुभारंभ विद्यालय की प्राचार्या प्रतिमा राजगोर द्वारा किया गया। सर्वप्रथम विद्यालयीन एनसीसी के छात्रों ने बैंड ध्वनि के साथ मार्च पास्ट परेड कर प्राचार्या को सलामी दी। तीन दिवसीय खेल महोत्सव में विभिन्न वर्गो के लिए अलग-अलग खेल रखे गए हैं। जिसमें 100 मी. , 200 मी. , 400मी , 1600मीटर की दौड़, डिस्कस थ्रो, बाधा दौड़ सहित अन्य खेलों का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान टीम खेल जैसे फुटबाल, क्रिकेट, हॉकी, बॉस्केटबाल, बैडमिंटन, वॉलीवाल आदि खेल होंगे। उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले खिलाडियों स्वर्ण, रजत, ताम्र पदक तथा उत्कृष्ट टीम, श्रेष्ठ सदन, सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी को ट्रॉफी प्रदान की जाएगी। 

 

 


Date : 21-Jan-2020

हाथकरघा बिलासपुर द्वारा महात्मा गांधी की 150वीं वर्षगांठ तथा 26 जनवरी के अवसर पर कोसा एवं सूती हाथकरघा वस्त्र प्रदर्शनी का आयोजन 

रायपुर, 21 जनवरी। छत्तीसगढ़ ग्रामोद्योग हाथकरघा बिलासपुर द्वारा महात्मा गांधी की 150वीं वर्षगांठ तथा 26 जनवरी के अवसर पर 20 से 26 जनवरी तक राघवेन्द्र राव सभा भवन बिलासपुर में कोसा एवं सूती हाथकरघा वस्त्र प्रदर्शनी लगाई गई है। 

प्रदर्शनी का मुख्य उद्देश्य छत्तीसगढ़ के कोसा एवं सूती हाथकरघा बुनकरों की कला को आम नागरिक तक सीधे पहुंचाना व उनकी कला का परिचय करना है। प्रदेश की हाथकरघा कोसा वस्त्र बुनाई कला राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त है। इस दौरान प्रदर्शनी के नोडल अधिकारी डोमूदास धकाते, उप संचालक उपस्थित रहे। 

छुईखदान बुनकर सहकारी समिति के बुनकरों द्वारा तैयार कलात्मक कॉटन चादर को विशेष रूप से पसंद किया जा रहा है। प्रदेश के 25 बुनकर सहकारी समिति के प्रतिभागी बुनकर कलाकारों के द्वारा प्रदर्शनी में भाग लिया गया है। उनके द्वारा उत्कृष्ट कलात्मक कोसा साड़ी, कोसा ड्रेस मटेरीयल, कोसा शॉल, सूती साडिय़ां, दुपट्टा, शत-प्रतिशत सूती (कॉटन) चादर, बेडशीट, पिलो-कव्हर, टॉवेल, रूमाल आदि है। 

 


Date : 20-Jan-2020

प्रशासनिक फेरबदल : आलोक शुक्ला स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव बनाए गए, 22 अफसर इधर से उधर

छत्तीसगढ़ संवाददाता
रायपुर, 20 जनवरी।
भारतीय प्रशासनिक सेवा के 22 अफसरों को इधर से उधर किया गया है। इस कड़ी में प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला को स्कूल शिक्षा विभाग का प्रमुख सचिव बनाया गया है। 

डॉ. शुक्ला के पदभार संभालने के बाद गौरव द्विवेदी स्कूल शिक्षा और माध्यमिक शिक्षा मंडल के चेयरमैन के प्रभार से मुक्त होंगे। स्कूल शिक्षा और माध्यमिक शिक्षा मंडल के चेयरमैन गौरव द्विवेदी को वाणिज्यकर सचिव का दायित्व सौंपा गया है। उनके पास आईटी के प्रभार यथावत रहेंगे। 

स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव के साथ-साथ माध्यमिक शिक्षा मंडल और व्यापमं का चेयरमैन भी बनाया गया है। इस पद का निर्वहन कर रहे गौरव द्विवेदी को स्कूल शिक्षा और माशिमं के चेयरमैन पद से मुक्त करते हुए आबकारी और वाणिज्य का जिम्मा दिया गया है। उनके अन्य विभाग यथावत रहेंगे। इसके अलावा सिद्धार्थ कोमल परदेशी पर सरकार का भरोसा बढ़ा है, उन्हें पीडब्ल्यूडी के साथ-साथ सड़क विकास निगम का प्रबंध निदेशक बनाया गया है। उनके पास महिला बाल विकास का प्रभार यथावत रहेगा। डीडी सिंह को सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव होंगे। उन्हें जनसंपर्क विभाग के सचिव का अतिरिक्त दायित्व सौंपा गया है। रीता शांडिल्य को सुबोध सिंह की जगह राजस्व सचिव बनाया गया है। एस प्रकाश को विशेष सचिव पंचायत बनाए गए। एके टोप्पो को समाज कल्याण के सचिव से मुक्त कर बिलासपुर राजस्व बोर्ड भेजा गया है। 

संगीता पी को सचिव वाणिज्यकर का अतिरिक्त कार्यभार दिया गया है। अन्बल्गन पी को संस्कृति सचिव विभाग का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। प्रसन्ना आर को सचिव सहकारिता, समाज कल्याण एवं प्रौद्योगिकी विभाग का सचिव बनाया गया। समीर विश्नोई को चिप्स के सीईओ एवं ज्वाइंट सेक्रेटरी इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी होंगे। अनुराग पांडेय को वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के संयुक्त सचिव का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। धर्मेंश साहू को अब डायेरक्टर ओडीएफ बनाया गया है। रमेश कुमार शर्मा को आयुक्त वाणिज्य कर बनाए गए। धनंजय देवांगन को सचिव कृषि एवं रजिस्ट्रार सहकारी संस्थाएं होंगे। मुकेश बंसल को वर्तमान विभाग यथावत रखते हुए आदिवासी आयुक्त बनाया गया है। 

समाज कल्याण सचिव ए कुलभूषण टोप्पो को राजस्व मंडल का सदस्य बनाया गया है। जितेंद्र कुमार शुक्ला को संचालक लोक शिक्षण के साथ-साथ संचालक राज्य साक्षरता मिशन का अतिरिक्त दायित्व सौंपा गया है। सुश्री इफ्फत आरा को पर्यटन बोर्ड के साथ-साथ पाठ्य पुस्तक निगम का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। दिव्या उमेश मिश्रा को उप सचिव पीएचई के अलावा डी राहुल वेंकट को उपसचिव पर्यटन एवं संस्कृति विभाग का अतिरिक्त दायित्व सौंपा गया है। 


Date : 20-Jan-2020

दवा निगम के टेंडर में गोलमाल, ब्लैकलिस्टेड कंपनी को ऑर्डर देने बदली गई टेंडर की शर्ते, शिकायत भी

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 20 जनवरी। दवा निगम में गड़बडिय़ों का सिलसिला जारी है। यह तथ्य प्रकाश में आया है कि पसंदीदा कंपनी को सप्लाई ऑर्डर देने के लिए टेंडर की शर्ते ही बदल दी गई। यानी ब्लैकलिस्टेड कंपनी को नए टेंडर नियम के चलते सप्लाई के लिए योग्य माना गया।

पिछली सरकार में दवा निगम में भ्रष्टाचार के मामले सुर्खियों में रहे हैं। कई मामले ईओडब्ल्यू को भेजे गए हैं, जिसकी जांच चल रही है।  सरकार बदलने के बाद भी निगम की कार्यप्रणाली में सुधार नहीं हुआ है और गड़बडिय़ों का सिलसिला जारी है। सूत्र बताते हैं कि ब्लैकलिस्टेड कंपनी को ऑर्डर देने के लिए टेंडर की शर्ते ही बदल दी गई।

बताया गया कि दवा निगम की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार यूनिक्योर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड गौतम बुद्ध नगर नोएडा को योग्य घोषित किया गया है जबकि यह कंपनी ब्यूरो आफ फार्मा जो जन औषधि के लिए केन्द्र सरकार की कंपनी है, के द्वारा विभिन्न दवाओं की अनियमित सप्लाई या समय सीमा में सप्लाई नहीं कर पाने के कारण दो वर्षों के लिए ब्लैकलिस्ट की गई है।

सूत्र बताते हैं कि निगम के आला अफसरों ने कंपनी को काम देने के लिए टेंडर की शर्तों में फेरबदल किया है। पहले टेंडर की शर्तों में यह साफ था कि कोई भी कंपनी या उसका कोई उत्पाद को निगम द्वारा खराब गुणवत्ता, अनियमित सप्लाई, जानकारी छुपाने या गलत जानकारी देने के के कारण ब्लैक लिस्ट किया गया हो निविदा में भाग लेने से प्रतिबंधित है। जबकि निगम के अतिरिक्त अन्य दवा खरीदी निगमों या केंद्र सरकार या उसकी एजेंसी द्वारा ब्लैक लिस्ट की गई कंपनियों या उत्पादों के लिए लागू शर्त में से बड़ी चालाकी से अनियमित सप्लाई की शर्त विलोपित कर दी गई है। निगम में करोड़ों की दवा सप्लाई होनी है।

बताया गया कि निगम दवा प्रदाय कर्ताओं से बाकायदा 100 रुपए के स्टाम्प पेपर पर अंडरटेकिंग भी लेता है लेकिन इस अंडरटेकिंग की शब्दावली में बड़ी ही चालाकी से निविदा की  योग्यता शर्त के परिपालन की ही बढ़ता रखी गई है। इसका फायदा उठाकर अन्य राज्यों में अनियमित सप्लाई के लिए ब्लैक लिस्टेड कंपनियां भी पात्र हो गई है। इसकी शिकायत अलग-अलग स्तरों पर हुई है और स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को भी इसकी जानकारी भेजी जा रही है। हालांकि इस मामले पर निगम के एमडी से चर्चा की कोशिश की गई किन्तु उनसे संपर्क नहीं हो पाया।


Date : 20-Jan-2020

डेढ़ दर्जन आईएएस अफसरों को इधर से उधर करने की चर्चा, सुबोध सिंह केन्द्र में गए

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 20 जनवरी। भारतीय प्रशासनिक सेवा के अफसर सुबोध कुमार सिंह केन्द्र सरकार में प्रतिनियुक्ति पर जा रहे हैं। उन्हें खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली विभाग का संयुक्त सचिव बनाया गया है। इसके साथ ही साथ राज्य सरकार में दर्जनभर से अधिक अफसरों के फेरबदल की चर्चा है। मगर अधिकृत तौर पर आदेश जारी नहीं किए गए हैं।

दूसरी तरफ, भारतीय प्रशासनिक सेवा के 97 बैच के अफसर सुबोध सिंह पिछली सरकार में अहम पदों पर रहे हैं। वे मुख्यमंत्री के सचिव के साथ-साथ पीडब्ल्यूडी और अन्य विभागों में काम कर चुके हैं। केन्द्र सरकार में सूचीबद्ध होने के बाद राज्य सरकार ने उन्हें प्रतिनियुक्ति पर जाने के लिए हरी झंडी दे दी थी। इसके बाद अब उन्हें जल्द रिलीव किया जा सकता है।

श्री सिंह राजस्व के साथ-साथ श्रम विभाग का भी प्रभार देख रहे हैं।   इसी के साथ-साथ प्रशासनिक फेरबदल की भी सुगबुगाहट है। महिला बाल विकास सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी को पीडब्ल्यूडी की जिम्मेदारी दी गई है। स्कूल शिक्षा और माध्यमिक शिक्षा मंडल के चेयरमैन गौरव द्विवेदी को वाणिज्यकर सचिव का दायित्व सौंपा गया है। उनके पास आईटी के प्रभार यथावत रहेंगे।

स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव के साथ-साथ माध्यमिक शिक्षा मंडल और व्यापमं का चेयरमैन भी बनाया गया है। इस पद का निर्वहन कर रहे गौरव द्विवेदी को स्कूल शिक्षा और माशिमं के चेयरमैन पद से मुक्त करते हुए आबकारी और वाणिज्य का जिम्मा दिया गया है। उनके अन्य विभाग यथावत रहेंगे। वहीं सिद्धार्थ कोमल परदेशी पर सरकार का भरोसा बढ़ा है, उन्हें पीडब्ल्यूडी के साथ-साथ सडक़ विकास निगम का प्रबंध निदेशक बनाया गया है। डीडी सिंह को सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव होंगे। रीता शांडिल्य को सुबोध सिंह की जगह राजस्व सचिव का जिम्मा। एस प्रकाश को विशेष सचिव पंचायत बनाए गए। एके टोप्पो को समाज कल्याण के सचिव से मुक्त कर बिलासपुर राजस्व बोर्ड भेजा गया है।

संगीता पी को सचिव वाणिज्यकर का अतिरिक्त कार्यभार दिया गया है। अन्बल्गन पी को संस्कृति सचिव विभाग का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। प्रसन्ना आर को सचिव सहकारिता, समाज कल्याण एवं प्रौद्योगिकी विभाग का सचिव बनाया गया। समीर विश्नोई को चिप्स के सीईओ एवं ज्वाइंट सेक्रेटरी इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी होंगे। अनुराग पांडेय को वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के संयुक्त सचिव का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। धर्मेंश साहू को अब डायेरक्टर ओडीएफ बनाया गया है। रमेश कुमार शर्मा को आयुक्त वाणिज्य कर बनाए गए। धनंजय देवांगन को सचिव कृषि एवं रजिस्ट्रार सहकारी संस्थाएं होंगे। मुकेश बंसल को वर्तमान विभाग यथावत रखते हुए आदिवासी आयुक्त बनाया गया है।


Date : 20-Jan-2020

सैलून में काम करने वाली युवती से रेप, संचालक समेत 3 हिरासत में, पुलिस के मुताबिक अमलीडीह के एक स्टाइलिश गुरु सैलून में एक युवती पिछले कुछ समय से रिसेप्शनिस्ट का काम करती थी

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 20 जनवरी। शहर के अमलीडीह(राजेंद्र नगर) के एक सैलून में रिसेप्शनिस्ट का काम करने वाली युवती बलात्कार की शिकार हो गई। सैलून संचालक ने अपनी पत्नी व एक अन्य कर्मी के साथ मिलकर उसके साथ अपने घर में बलात्कार किया। पुलिस ने इस मामले में तीनों को हिरासत में ले लिया है, पूछताछ जारी है।

पुलिस के मुताबिक अमलीडीह के एक स्टाइलिश गुरु सैलून में एक युवती पिछले कुछ समय से रिसेप्शनिस्ट का काम करती थी। इस दौरान वह वॉशरूम का उपयोग सेेलून संचालक के घर जाकर करती थी। 9 जनवरी को भी वह वॉशरूम का उपयोग करने उसके घर गई, तभी सैलून संचालक उत्तम सेन ने उसके साथ बलात्कार किया। इसके पहले उसकी पत्नी उसके साथ छेड़छाड़ करती रही। घटना में सैलून के एक अन्य कर्मी अनिल गुप्ता का भी साथ रहा। घटना के बाद पीडि़त युवती ने कल घटना की शिकायत राजेंद्र नगर पुलिस में की।

पुलिस का कहना है कि युवती की शिकायत पर पुलिस ने सैलून पहुंचकर पूछताछ की। इसके बाद तीनों आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए। पुलिस का कहना है कि सैलून संचालक उत्तम ने अपनी दुकान में पीडि़त युवती को पिछले कुछ समय से काम पर रखा था, ताकि उनकी ग्राहकी बन रहे। आरोपियों के खिलाफ छेड़छाड़, बलात्कार और एसी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है।


Date : 20-Jan-2020

मदनवाड़ा नक्सल मुठभेड़ जांच से भाजपा बौखलाई- शैलेष, कहा-कांग्रेस नेता, मुख्यमंत्री इस घटना की जांच की मांग पिछले 10 साल से कर रहे थे

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 20 जनवरी। प्रदेश कांग्रेस संचार प्रमुख अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि मदनवाड़ा नक्सल घटना की न्यायिक जांच आदेश से भाजपा बौखला गई है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता, मुख्यमंत्री इस घटना की जांच की मांग पिछले 10 साल से कर रहे थे। भाजपा द्वारा दिए गए बयान की सच्चाई उजागर हो जाने से घबराकर बौखलाहट में अब बालोद गए झूठ की संज्ञा दे रहे हैं।

कांग्रेस नेता श्री त्रिवेदी ने कहा है कि सीएम श्री बघेल ने मदनवाड़ा नक्सल घटना की सूचना मिलने के तत्काल बाद राजनांदगांव जाकर न केवल स्वयं वस्तुस्थिति की जानकारी ली, बल्कि उस समय से लगातार मदनवाड़ा मामले में विसंगतियों को कांग्रेस पार्टी के साथ उठाते रहे। 29 जून 2013 को डॉ. चरणदास महंत और रविन्द्र चौबे के बयान में भी मदनवाड़ा की घटना को लेकर सुस्पष्ट आरोप लगाए गए थे। 3 दिसंबर 2014 को माओवादी हमले में 14 जवानों की शहादत के बाद भी कांग्रेस ने यह मामला उठाया था। 18 दिसंबर 2014 को भी कांग्रेस के बयान में कहा गया था मदनवाड़ा मामले में भाजपा सरकार का रवैया गलत है। गंभीरता से नहीं लिया गया। इसके बाद भी उस समय सत्ता में रही भाजपा सरकार संवेदनहीन और निर्दयी बनी रही।

श्री त्रिवेदी ने कहा है कि मदनवाड़ा की न्यायिक जांच कराने के भूपेश बघेल सरकार के फैसले का कांग्रेस ने स्वागत किया है। उन्होंने कहा है कि 12 जुलाई 2009 माओवादी हमले में राजनांदगांव के तत्कालीन एसपी व्हीके चौबे सहित 29 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। मदनवाड़ा में शहादत मामले में साजिश उजागर होनी चाहिए। घटना के बाद सूचना तंत्र और एसपी को बगैर पर्याप्त सुरक्षा और तथाकथित परिस्थिति बताकर भेजे जाने को लेकर बड़े सवाल खड़े होते रहे हैं।


Date : 20-Jan-2020

कयाकिग केनोइंग में छत्तीसगढ़ की कौशल नंदिनी एवं मनस्विनी ने रजत-कांस्य पदक जीता

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 20 जनवरी। मध्यप्रदेश के लोवर लेक भोपाल में भारतीय कयाकिंग एंड केनोइंग एसोसिएशन, न्यू दिल्ली द्वारा 12 जनवरी से 16 जनवरी तक आयोजित 30 राष्ट्रीय कयकिग एंड केनोइंग स्प्रिंट सीनियर पुरुष एवं महिला चैंपियनशिप 2020 में राज्य की कौशल  नंदिनी ठाकुर एवं मनस्विनी सवाई ने रजत पदक हासिल की।

राष्ट्रीय स्पर्धा में नंदनी और मोनी कुछ मिनट के अंतर से स्वर्ण से चूक गए और उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा। स्वर्ण पदक प्राप्त करने वाली नाविक जोड़ी का समय 2:03:81 था, राज्य की जोड़ी का समय 2:04:27 रहा। एक और इवेंट 200 मीटर के2डब्ल्यू में राज्य की इन खिलाडिय़ों ने तीसरा स्थान पर रहकर छत्तीसगढ़ के लिए कांस्य पदक जीता। कौशल नंदिनी ठाकुर, शिवांगी ठाकुर की छोटी बहन हैं जो हॉल ही में कयाकिंग केनोइंग में एनआईएस कर लौटी हैं।

 

 


Date : 20-Jan-2020

ज्योति राठी राष्ट्रीय माहेश्वरी महिला संगठन की अर्थमंत्री मनोनीत

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 20 जनवरी। ज्योति राठी को अखिल भारतवर्षीय माहेश्वरी महिला संगठन में अर्थमंत्री मनोनीत किया गया। माहेश्वरी सभा के प्रचार प्रसार प्रभारी सूरज प्रकाश राठी ने बताया कि ज्योति राठी ने विभिन्न सेवा दायित्वों में रहते हुए ने अनेक जनोपयोगी कार्य किए। राष्ट्रीय अर्थमंत्री मनोनयन पर सम्पत काबरा, कमल राठी, रामरतन मूंधड़ा, सुरेश मूंधड़ा, छगनलाल मूंधड़ा, सूरज प्रकाश राठी, डॉ. रवि राठी, जगदीश चांडक, गोपाल बजाज, शैलेन्द्र माहेश्वरी,  मनोज राठी आदि ने बधाई दी है।


Date : 20-Jan-2020

विप्र कला वाणिज्य एवं शारीरिक शिक्षा महाविद्यालय में प्रावीण्य सम्मान समारोह, मेधावी विद्यार्थी हुए पुरस्कृत

छत्तीसगढ़ संवाददाता

रायपुर, 20 जनवरी। विप्र कला वाणिज्य एवं शारीरिक शिक्षा महाविद्यालय में विगत दिवस शैलेंद्र कुमार शुक्ला (चेयरमैन छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कंपनीज)के मुख्य आतिथ्य एवं पार्षद ज्ञानेश शर्मा के अध्यक्षता में प्रावीण्य सम्मान समारोह आयोजित किया गया।

प्रावीण्य सम्मान समारोह के मौके पर शैलेंद्र कुमार शुक्ला ने सफलता के लिए प्रयास को जरूरी बताया। उन्होंने कहा कि अपनी खूबियों के अनुसार जो अच्छा लगता है, वहीं करो। इस अवसर पर तृप्ति अग्रवाल, अंजली दुबे, आरती साहू, लखविंदर कौर, विंध्या त्रिपाठी, अभिषेक तिवारी, दिव्या राउतकर एवं सुधांशु पल्लवी कुमारी को पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर नरेंद्र तिवारी, शिवकुमार तिवारी ,डॉ उषा दुबे, व्यास नारायण शुक्ला एवं सौमित्र दुबे सहित समस्त प्राध्यापक एवं बड़ी संख्या में विद्यार्थी उपस्थित रहे।