राजपथ - जनपथ

छत्तीसगढ़ की धड़कन और हलचल पर दैनिक कॉलम : राजपथ-जनपथ : बाम्बरा की अहमियत

Posted Date : 06-Nov-2018

पुलिस के कई रिटायर्ड अफसर भाजपा और कांग्रेस के लिए काम कर रहे हैं। रिटायर्ड डीजी राजीव श्रीवास्तव समेत कई रिटायर्ड पुलिस अफसर भाजपा की फिर सरकार बनाने के लिए माहौल बनाने में जुटे हैं, तो कांग्रेस के पक्ष में भी कुछ रिटायर्ड पुलिस अफसर अपनी सेवाएं दे रहे हैं। इनमें चर्चित नाम जीएस बाम्बरा का भी है। 
डीएसपी के पद से रिटायर हो चुके बाम्बरा किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं। वे सालों से रायपुर में रहे हैं और हर तरह की गुत्थियां सुलझाने में माहिर माने जाते हैं। रिटायर्ड होने के बावजूद पुलिस शीर्ष अफसर अब भी अलग-अलग मामलों में उनकी सेवाएं और राय लेते हैं। बाम्बरा सिख फोरम से जुड़े हैं। वे रायपुर उत्तर के कांग्रेस प्रत्याशी कुलदीप जुनेजा को मदद कर रहे हैं। सुनते हैं कि कांग्रेस के ही कई नेता जुनेजा से खफा रहे हैं, लेकिन बाम्बरा ने उन्हें कुलदीप के पक्ष में प्रचार के लिए राजी किया। वे मूलत: सरगुजा के रहवासी हैं और सिंहदेव परिवार से उनके अच्छे संबंध हैं। वे न सिर्फ रायपुर बल्कि अन्य सीटों पर भी पार्टी के बड़े नेताओं को सलाह मशविरा दे रहे हैं। जब बाम्बरा जैसे लोग कोई सलाह देते हैं, तो उनकी बातें बिना किसी किन्तु-परन्तु के मानी जाती है। 

एक पंथ दो काज
पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय कांग्रेस प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार करने आए हैं। सहाय पड़ोसी राज्य झारखंड के रहने वाले हैं। वैसे तो वे कोई भीड़ जुटाने वाले नेता तो नहीं है, लेकिन छत्तीसगढ़ से उनका नाता जरूर है। हल्ला है कि सिलतरा स्थित एक स्टील कंपनी में उनकी भागीदारी है, ऐसे में उनका छत्तीसगढ़ आना-जाना लगा रहता है। अब चुनाव चल रहे हैं, तो हिसाब-किताब देखने के साथ-साथ प्रचार भी हो जा रहा है। 
(rajpathjanpath@gmail.com)


Related Post

Comments