इतिहास

इतिहास में आज 3अप्रैल
इतिहास में आज 3अप्रैल
Date : 03-Apr-2019

तीन अप्रैल 1984 को दो अन्य सोवियत अंतरिक्ष यात्रियों के साथ सोयूज टी 11 में राकेश शर्मा को अंतरिक्ष में भेजा गया था. अंतरिक्ष यात्रियों को ले जाने वाला 6,850 किलो वजनी स्पेस क्राफ्ट कजाखस्तान से रवाना हुआ था. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो और रूस के सोवियत इंटरकॉसमॉस स्पेस प्रोग्राम के संयुक्त उपक्रम के तहत उन्हें भारत की ओर से पहले अंतरिक्ष यात्री के रूप में चुना गया. वायु सेना के एक और अफसर विंग कमांडर रवीश मल्होत्रा को शर्मा के बैकअप के तौर पर चुना गया था.

राकेश शर्मा का जन्म 13 जनवरी 1949 को पंजाब के पटियाला में हुआ था. 1970 में वे भारतीय वायु सेना में बतौर पायलट अफसर शामिल हुए. 1971 में पाकिस्तान के साथ युद्ध में राकेश शर्मा ने मिग विमान उड़ाया और अपने मिशन में सफलता हासिल की. राकेश शर्मा के साथ स्पेस क्राफ्ट में यूरी मालिशेव और गेनादी स्त्रेकलोव जैसे अनुभवी अंतरिक्ष यात्री सवार थे. दोनों को कई बार अंतरिक्ष में जाने का अनुभव था. उस वक्त राकेश शर्मा के अंतरिक्ष में जाने की खबर से पूरा देश गर्व में डूबा हुआ था.

लोगों में एक भारतीय के अंतरिक्ष में जाने को लेकर इतना उत्साह था कि वे रेडियो और दूरदर्शन के जरिए पल पल की खबर रख रहे थे. भारत के कई शहरों में उत्साह का ऐसा माहौल था जैसा अक्सर क्रिकेट के मैच में पाकिस्तान पर जीत हासिल करने के बाद होता है. अंतरिक्ष केंद्र में रहते हुए राकेश शर्मा ने भारत पर केंद्रित पृथ्वी अवलोकन कार्यक्रम में हिस्सा लिया. उन्होंने अंतरिक्ष केंद्र में लाइफ साइंसेज के अलावा कई अन्य प्रयोग भी किए. साथ ही उन्होंने गुरुत्वाकर्षण हीन वातावरण में योगाभ्यास भी किया. अंतरिक्ष में रहने के दौरान तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने राकेश शर्मा से पूछा था कि ऊपर से भारत कैसा दिखता है. राकेश शर्मा ने जवाब दिया, 'सारे जहां से अच्छा'. भारत में राकेश शर्मा को अशोक चक्र से सम्मानित किया गया है इसके अलावा उन्हें सोवियत संघ के सर्वोच्च पुरस्कार हीरो ऑफ सोवियत यूनियन से भी नवाजा गया.

  • 1890-जर्मनी के चांसलर और 19वीं शताब्दी के एक सशक्त नेता बिस्मार्क को, जर्मनी के शासक वेल्हेल्म द्वितीय ने पदमुक्त कर दिया।
  • 1941-ब्रिटिश सरकार के विरुद्ध इराक़ के राष्ट्रवादियों ने अपने संघर्ष के दौरान जिसका नेतृत्व ब्रिटेन विरोधी धड़े के नेता रशीद आली गीलानी कर रहे थे, बग़दाद पर नियंत्रण कर लिया। 
  • 1969 -डॉ. डेन्टन कूली ने दो महीने के बच्चे में पूर्ण कृत्रिम हृदय प्रत्यारोपित किया।
  • 1973-फ्रांसिस डब्ल्यू. डॉरियन ने दोनों तरफ धार वाली रेजऱ ब्लेड के लिए पेटेन्ट प्राप्त किया।
  • 2001 - संयुक्त राज्य अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन भारत यात्रा पर पहुंचे, भारत और डेनमार्क के बीच चार वर्ष के बाद पुन: वार्ता।
  • 2002 - पाकिस्तान के राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ़ की जनमत संग्रह की योजना को मंत्रिमंडल की मंजूरी मिली।   ज़ायोनी सैनिकों ने पश्चिमी तट में स्थित फि़लिस्तीनी नगर जेनीन पर आक्रमण किया।
  • 2006 - नेपाल में माओवादियों ने संघर्ष विराम की घोषणा की।
  • 2007 - नई दिल्ली में 14 वां सार्क सम्मेलन शुरू।
  • 2008 - प्रकाश करात को माकपा का पुन: महासचिव चुना गया। समाजसेवी मेधा पाटकर को राष्ट्रीय क्रांतिवीर अवार्ड, 2008 से अलंकृत किया गया। 
  • 1929 - साहित्यकार निर्मल वर्मा का जन्म हुआ। 
  • 2010 - अनंत लागू, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के छह संस्थापक सदस्यों में से एक अनंत लागू का निधन हुआ। 
  • 1680 -  मराठा साम्राज्य के संस्थापक शिवाजी महाराज का निधन हुआ। 
  • 1845-ब्रिटेन में जन्मे कृषि वैज्ञानिक  विलियम जेम्स फैरर का जन्म हुआ, जिन्होंने गेहूं की कई सूखा-प्रतिरोधी तथा रोगप्रतिरोधी किस्में विकसित कीं तथा आस्ट्रेलिया की गेहूं उत्पादन बढ़ाने में मदद की। (निधन-16 अप्रैल 1906)
  • 1898-  अमेरिकी वनस्पति विज्ञानी कैथरीन एसाउ का रूस में जन्म हुआ,  जिन्होंने बताया कि किस तरह विषाणु पौधों के ऊतकों को प्रभावित करते हैं। इसी आधार पर उन्होंने विषाणुओं के प्रारम्भिक और द्वितीयक स्तर प्रभाव में फर्क का पता लगाया। (निधन-4 जून 1997)
  • 1980 - अंग्रेज़ समुद्र भू भौतिकशास्त्री सर ऐडवर्ड क्रिस्प बलार्ड  का निधन गुआ,  जो भू-चुम्बकत्व पर किए अपने कार्य के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने महाद्वीपीय बहाव का सिद्धांत विकसित करने में योगदान दिया। (जन्म-21 सितम्बर 1907)
  • 1974- अमेरिकी जन्तु विज्ञानी  मास्र्टन बेट्स का निधन हुआ, जिन्होंने मच्छरों पर अनुसंधान किए और पीत बुखार की रोकथाम में सहायता दी। उन्होंने 1949 में नैचुरल हिस्ट्री आफ मॉस्किटोज़ नामक पुस्तक लिखी। (जन्म-23 जुलाई 1906)।

Related Post

Comments