छत्तीसगढ़

  • आंगनबाड़ी हड़ताल खत्म, कल से काम पर
    आंगनबाड़ी हड़ताल खत्म, कल से काम पर

    50 दिनों से बैठी थीं बेमियादी हड़ताल पर, अनशन पर भी रहीं
    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    रायपुर, 22 अप्रैल। प्रदेश में पिछले 50 दिनों से चली आ रही करीब सवा लाख आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं-सहायिकाओं की बेमियादी हड़ताल रविवार से खत्म हो गई है। सरकार ने उनकी अधिकांश मांगें मान ली है। उन्हें कलेक्टर दर पर वेतन, 50 हजार रुपये अनुग्रह राशि, मातृत्व व मोबाइल भत्ता देने का आश्वासन मिला है। सोमवार से वे सभी अपने-अपने काम पर लौट जाएंगी। 
    छत्तीसगढ़ जुझारू आंगनबाड़ी कार्यकर्ता-सहायिका कल्याण संघ के बैनर तले वे सभी कार्यकर्ता-सहायिका यहां हड़ताल पर बैठी थीं। माहभर बाद भी उनकी मांगों पर कोई विचार नहीं करने पर पदाधिकारियों ने आमरण-अनशन शुरू कर दिया था। दूसरी ओर लगातार हड़ताल सेे कई आंगनबाड़ी केंद्रों के बंद होने की नौबत आ गई थी। वहां बच्चों की उपस्थिति दिनों-दिन कम होती जा रही थी। यही वजह है कि सरकार ने बीती शाम संघ की पदाधिकारियों की एक बैठक कर उनकी मांगों पर सहमति जताई। 
    संघ की प्रांत अध्यक्ष पद्मावती साहू, सचिव प्रतिभा गजभिये, भुनेश्वरी तिवारी ने बताया कि बीती शाम उनकी मांगों को लेकर संयुक्त संचालक प्रतीक खरे की अध्यक्षता में गठित कमेटी के साथ एक बैठक हुई। बैठक में कमेटी ने उनकी सभी छह मांगों पर विस्तार से चर्चा करते हुए चार मांगों को हफ्तेभर में पूरा करने का आश्वासन दिया। उनके इस आश्वासन पर वे सभी हड़ताल खत्म कर कल से काम पर लौट रही हैं। कमेटी ने सरकार से चर्चा के बाद उनकी मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया। 
    उनका कहना है कि सरकार उन्हें अब कलेक्टर दर पर वेतन भुगतान करेगी, जो कुशल-अर्धकुशल व अकुशल के आधार पर होगी। अनुग्रह राशि 10 हजार की जगह 50 हजार रुपये देगी। मातृत्व भत्ता 200 और 100 रुपये, मोबाइल भत्ता 500 रुपये दिए जाएंगे। इसके अलावा सामाजिक सुरक्षा बीमा व अन्य सुविधाएं देने का आश्वासन भी दिया गया है। चर्चा के दौरान उन्होंने बर्खास्त सभी कार्यकर्ताओं की बहाली की मांग की, जिसे पूरा करने का आश्वासन दिया गया। बैठक में कमेटी के अध्यक्ष के अध्यक्ष साथ रायपुर कलेक्टर ओपी चौधरी, सुभाष मिश्रा, अशोक पांडेय आदि अफसर भी थे। 

Daily Chhattisgarh News

 

Daily Chhattisgarh News

Daily Chhattisgarh News

राजनीति

  • मुझे निकालकर दिखाए भाजपा-शत्रुघ्न सिन्हा

    यह पार्टी के खिलाफ बगावत नहीं देश के प्रति वफादारी है
    पटना, 22 अप्रैल। भाजपा से नाराज चल रहे और पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने अपनी पार्टी को चुनौती देते हुए कहा कि वह उन्हें निष्कासित कर दिखाए। साथ ही कहा कि क्रिया की प्रतिक्रिया होगी। पटना  में शनिवार को आयोजित अपने संगठन राष्ट्र मंच के एक अधिवेशन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ कार्रवाई को लेकर वे लोग (अपनी पार्टी) पिछले बिहार विधानसभा चुनाव के बाद सोच रहे थे। वे इतने असहाय हैं और उनकी स्थिति इतनी दयनीय है कि इसके लिए मुहुर्त देख रहे थे। शत्रुघ्न ने कहा कि वे जब चाहें ऐसा निर्णय ले सकते हैं पर न्यूटन के तीसरे नियम को याद रखें कि हर क्रिया की प्रतिक्रिया होती है।
    शत्रुघ्न ने कहा कि भाजपा में उसे छोडऩे के लिए शामिल नहीं हुए थे और हमेशा कहता रहा हूं कि यह मेरी पहली और आखिरी पार्टी है लेकिन वे अगर मुझे छोडऩा चाहें तो छोड़ दें। उन्होंने कहा कि यह पार्टी के खिलाफ बगावत नहीं देश के प्रति अपनी वफादारी है, हमें भी यह सिखाया गया है कि व्यक्ति से बड़ा दल होता और दल से बड़ा देश। शत्रुघ्न ने सभागार में मौजूद लोगों से पूछा कि वे जो कर रहे हैं क्या वह देश हित में नहीं है।
    उन्होंने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी के कारण देश में बेरोजगारी बढ़ी और छोटे- छोटे व्यापार और कारखाना बंद हो गए तो उसके बारे में बात किया जाना जनहित में है या नहीं? इस अवसर पर उन्होंने तेजस्वी यादव की तारीफ की। उन्होंने कहा कि यशवंत जब भाजपा के अध्यक्ष थे तभी उन्हें पार्टी के स्टार प्रचारक के तौर पर पेश किया गया था और पूरे देश में मुझे सभाओं को संबोधित करने का अवसर प्राप्त हुआ। (भाषा)

मनोरंजन

  • दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड से नवाजे गए शाहिद कपूर

    बॉलीवुड स्टार शाहिद कपूर को उनकी सुपरहिट फिल्म 'पद्मावतÓ में पावरफुल परफॉर्मेंस देने के लिए दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया है। फिल्म में शाहिद ने महारावल रतन सिंह की भूमिका अदा की थी। इस रोल के जरिए शाहिद ने दर्शकों में काफी गहरी छाप छोड़ी। दर्शकों के साथ-साथ फिल्म क्रिटिक्स को भी शाहिद की फिल्म और उनकी कलाकारी खूब पसंद आई। इसके चलते एक्टर को ब्रिलियंस इन एक्टिंग में दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड दिया गया।
    इस इवेंट में अपने किरदार को लेकर शाहिद ने कहा, कि वह बहुत खुश हैं। शाहिद कहते हैं, सच कहूं तो फिल्म में यह रोल ऑथर-बैक्ड रोल नहीं है। इस तरह का किरदार और उसे इतना प्रोत्साहन मिलना यह कमाल है। शाहिद अपने किरदार को लेकर बोलते हैं कि मैं इस बारे में ज्यादा डिटेल में नहीं जाना चाहूंगा। यह बस तीन कैरेक्टर्स के लिए जानी जाती है-रणवीर, दीपिका और शाहिद। इस तरह के कैरेक्टर्स को निभाना काफी मुश्किल काम है।
    इसे पहले शाहिद ने एक इंटरव्यू में कहा 'वह फिल्म पद्मावत में इस किरदार को निभा कर बहुत गर्व महसूस कर रहे हैं। फिल्म ने अपनी रिलीज के वक्त एक लड़ाई लड़ी है। लेकिन फिल्म में हर कोई मेरे किरदार को लेकर हैरानी जता रहा था कि मैं फिल्म में क्या स्पेशल अपीयरेंस में था। या मैं फिल्म में कर क्या रहा था? फिल्म की रिलीज के बाद अगले दो दिन तक मैंने किसी से बात नहीं की थी। (जनसत्ता/पिंकविला)

     

स्थायी स्तंभ

खेल

  • RCB की पिटाई कर रहे ऋषभ पंत का ये शॉट देख विराट कोहली भी रह गए दंग

    नई दिल्ली : दिल्ली डेयरडेविल्स के युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत ने शनिवार को आरसीबी के खिलाफ अपनी बल्लेबाजी से सभी का दिल जीत लिया। एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली की शुरुआत खराब रही और टीम के दोनों सलामी बल्लेबाज जल्दी ही पवेलियन लौट गए। दिल्ली ने 23 रन के अंदर ही अपने दोनों ओपनर कप्तान गौतम गंभीर और जेसन रॉय के विकेट गंवा दिए। गंभीर ने 10 गेंदों पर तीन और रॉय ने 16 गेंदों पर मात्र पांच रन ही बनाए। लेकिन इसके बाद पंत और अय्यर ने तीसरे विकेट के लिए 75 रन जोड़े। पंत ने राहुल तेवतिया के साथ भी पांचवें विकेट के लिए 65 रन की साझेदारी की। पंत ने 48 गेंदों पर चार चौके और सात छक्के लगाए। वह 48 गेंदों में 85 रन बनाकर आउट जरूर हो गए, लेकिन अपनी बल्लेबाजी से उन्होंने टीम को एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचा दिया।
    अपनी पारी के दौरान पंत ने ऐसे कई शॉट्स खेले जिसे देख दर्शकों के साथ-साथ मैदान पर मौजूद खिलाड़ी भी हैरान रह गए। पारी का 19वां ओवर क्रिस वोक्स लेकर आए और पंत ने उनकी पहली दो गेंदों पर छक्का जड़ दिया। दूसरी गेंद पर पंत ने कुछ इस तरीके का शॉट लगाया जिसे देख भारतीय कप्तान विराट कोहली भी हैरान रह गए। पंत की बल्लेबाजी को ने दिल्ली को इस मैच में वापस लाने का काम जरूर किया, लेकिन गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन की वजह से दिल्ली को यह मैच गंवाना पड़ा।
    पंत के अलावा श्रेयस अय्यर ने 31 गेंदों पर चार चौके और तीन छक्के क मदद से 52 रन बनाए। लीग के 11वें संस्करण में अय्यर का यह पहला अर्धशतक है। तेवतिया ने नौ गेंदों पर तीन चौकों की मदद से नाबाद 13 रन बनाए। दिल्ली ने आखिरी के पांच ओवर में 71 रन जोड़े। वहीं बेंगलोर के लिए युजवेंद्र चहल ने 22 रन पर दो विकेट हासिल किया। इसके अलावा उमेश यादव को 27 रन पर एक विकेट, वाशिंटन सुंदर को 31 रन पर एक विकेट और कोरी एंडरसन को एक ओवर में 10 रन पर एक विकेट मिला। (जनसत्ता)

     

कारोबार

  • सीरिया संकट गहराया तो और महंगे होंगे सोना, जीरा और क्रूड

    नई दिल्ली, 22 अप्रैल। सीरिया पर अमेरिका के मिसाइल हमलों से कच्चे तेल की कीमतें और बढऩे की आशंका है। वहीं सोना और आर्गेनिक जीरे के दाम भी चढ़े हैं। सीरिया ऑर्गेनिक जीरे का उत्पादन करने वाला दुनिया का प्रमुख देश है। उसके जीरे की मांग कई देशों में रहती है। हालांकि भारत में जीरे का उत्पादन इस वर्ष बीते साल की तुलना में बेहतर है फिर भी कीमतें बढ़ रही हैं। मंडियों में जीरे का भाव 16 हजार रुपए प्रति क्विंटल को पार कर गया है और मई तक इसमें और बढ़ोतरी की आशंका है। सीरिया से नया जीरा मई अंत तक ही आ पाएगा। इस बीच सोने के दाम (32 हजार के पार) में भी लगातार बढ़ोतरी हो रही है जबकि क्रूड ऑयल में चार डॉलर प्रति बैरल की बढ़ोतरी हुई है।
    भारत में डॉलर के मुकाबले रुपए के कमजोर होने के कारण दोहरी मार पड़ रही है। चूंकि भारत कच्चे तेल का दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा आयातक है, जिसकी खरीदी डॉलर में की जाती है। डॉलर के मंहगा होने के कारण डीजल-पेट्रोल की कीमतें बढ़ रही हैं। यही कारण है कि पेट्रोल और डीजल के भाव बीते साढ़े चार साल में सर्वाधिक हो गए हैं। रूस और सऊदी अरब का उत्पादन घटाना भी बहुत बड़ा कारण है। सीरिया पर अमेरिका-रूस टकराव और अमेरिका-चीन आयात शुल्क विवाद गहराता है तो ब्रेंट क्रूड ऑयल का भाव तीन माह में 80 डॉलर प्रति बैरल के आसपास तक पहुंच सकता है। हालांकि बीते चार वर्ष के दौरान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल का उत्पादन सर्वोच्च स्तर पर है लेकिन अगर अमेरिका व रूस के बीच टकराव बढ़ा है तो क्रूड के भाव और चढ़ेंगे। अप्रैल की शुरुआत से लेकर पेट्रोल के दाम अब तक 50 पैसे बढ़ चुके हैं। डीजल में भी करीब 90 पैसे की बढ़ोतरी हुई है। इस साल के शुरुआत 4 महीने में पेट्रोल के दाम करीब 4 रुपए बढ़ चुके हैं। वहीं, डीजल के कीमतें 5-6 रुपए तक बढ़ चुकी हैं। ये किसी भी साल में होने वाली सबसे बड़ी बढ़ोतरी है। 
    14 अप्रैल को अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने मिलकर सीरिया की राजधानी दमिश्क के कई जगहों पर मिसाइलें दागी थीं। सीरिया के पूर्वी गोता के डौमा में कथित रूप से सीरिया द्वारा रसायनिक हथियारों के इस्तेमाल को लेकर अमेरिका ने पहले ही असद सरकार को चेतावनी दी थी। इस हमले में बच्चों सहित 75 लोग मारे गए थे। इस चेतावनी के बाद सीरिया के खिलाफ मिसाइल हमला किया गया। इस कार्रवाई के बाद अमेरिकी सैन्य अधिकारियों ने कहा कि हवाई हमलों ने सीरिया के रासायनिक हथियारों के भंडार को करारी चोट पहुंचाई, लेकिन अभी देखना है कि सीरिया कैसे जवाब देता है। इसकी जांच शुरू हो चुकी है।  (जी न्यूज)

सेहत/फिटनेस

  • क्यों खराब हो जाते हैं अंगदान वाले लीवर

    नई दिल्ली, 22 अप्रैल। अंगदान करने वालों की संख्या बढ़ रही है, लेकिन फिर भी अंगों की कमी बनी रहती है। असल में बड़ी दिक्कत अंगों को स्टोर करने की है। फ्रिज में स्टोर करने पर लीवर जैसे अंग खराब हो जाते हैं और इस्तेमाल के लायक नहीं रहते।
    अंगदान के जरिए मिलने वाले ज्यादातर लीवरों को फिलहाल बर्फीले तापमान से कुछ ऊपर रखकर स्टोर किया जाता है। लेकिन इस वजह से ज्यादातर लीवर खराब हो जाते हैं। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक कोंस्टाटिन कौसियोस के मुताबिक, बीते साल ब्रिटेन में ही मौत से पहले अंगदान करने वाले लोगों के 500 लीवर ट्रांसप्लांट नहीं किए जा सके। कई अंगदाताओं के अंग ऐसी हालत में थे कि वे आइसबॉक्स में रखने के बाद काम नहीं कर पाए। प्रत्यारोपण तकनीक में कई नई खोजें होने के बावजूद अंगों को सुरक्षित ढंग से स्टोर रखने के तरीके में बीते 30 साल में शायद ही कोई बदलाव हुआ है।
    लेकिन अब कोंस्टाटिन कौसियोस और उनकी टीम ने दावा किया है कि अगर लीवर को शरीर के सामान्य तापमान पर ही एक लाइफ सपोर्ट सिस्टम में स्टोर किया जाए तो हालत बदल सकते हैं। शरीर का सामान्य तापमान आम तौर पर 37 डिग्री सेल्सियस (98.6 फारेनहाइट) होता है। इसी तापमान पर लाइफ सपोर्ट सिस्टम के जरिए लीवर को स्टोर करने पर कोशिकाओं को बहुत कम नुकसान पहुंचता है। सपोर्ट सिस्टम के चलते यकृत में ऑक्सीजन से भरे खून की सप्लाई बनी रहती है, इसके चलते कोशिकाओं को पर्याप्त पोषण मिलता रहता है।
    कोंस्टाटिन कौसियोस की टीम ने अंगदान के चलते मिले 220 लीवरों पर शोध करने के बाद यह दावा किया है। 100 लीवरों को उन्होंने आइसबॉक्स में रखा और 120 को बॉडी टेम्प्रेचर के साथ लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर। लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखे गए लीवरों में 50 फीसदी कम नुकसान मिला। उन्हें ज्यादा समय तक स्टोर भी किया जा सका।
    लाइफ सपोर्ट सिस्टम के जरिए अंगों को सुरक्षित रखने के तरीके को 2016 में ऑर्गनओएक्स नाम से ट्रेडमार्क भी कर दिया गया। कोंस्टाटिन कौसियोस ऑर्गनओएक्स के तकनीकी डायरेक्टर भी है। उनके मुताबिक यूके, भारत और कनाडा में अब उनका तरीका अमल में लाया जा रहा है।
    ऑस्ट्रिया के इंसबुर्ग मेडिकल कॉलेज के श्टेफान श्नीबेर्गेर भी इस खोज को अहम सफलता बता रहे हैं, लाइफ सपोर्ट सिस्टम में लीवर को मशीन से खुराक मिलती है, उस पर नजर रखी जाती है। अगर वह अच्छा प्रदर्शन करता है तो उसे तुरंत ट्रांसप्लांट कर दिया जाता है। अगर प्रदर्शन ठीक न हो तो ट्रांसप्लांट से पहले उसे दुरुस्त किया जा सकता है। कौसियोस चाहते हैं कि उनके शोध पर ज्यादा से ज्यादा रिसर्च हो ताकि इस तकनीक को किफायती बनाया जा सके। (एएफपी)

सामान्य ज्ञान

  • हर दिन हॉट सीट 22 अप्रैल

     1. कुतुबमीनार की वास्तविक ऊंचाई कितनी है?
    (अ)282 फीट (ब) 262 फीट (स) 242 फीट (द) 212 फीट
    2. विजयनगर राज्य का प्रथम राजवंश कौन सा था?
    (अ) संगमा (ब) होयसल (स) सालुव (द) तुलुव
    3. निम्नलिखित में से दिल्ली के किस सुल्तान ने तिमुरी शासक मिर्जाशाह रुख के आधिराज्य आना स्वीकार किया?
    (अ) फिरोज तुगलक (ब) महमूद तुगलक (स) खिज्र खान सैयद (द) सिकंदर लोदी
    4. सैनिकों को वेतन के रूप में भूमि प्रदान करने की प्रथा अलाउद्दीन खिलजी के बाद किस सुल्तान ने फिर से शुरू की?
    (अ) ग्यासुद्दीन तुगलक (ब) मोहम्मद तुगलक (स) सिकंदर लोदी (द) इनमें से कोई नहीं
    5. किस नगर को शीराजे हिंद के रूप में जाना जाता था?
    (अ) जौनपुर (ब) मालवा (स) दौलताबाद, देवगिरि (द) इनमें से कोई नहीं 
    6. गायन की धु्रपद शैली का आरंभ किसने किया था?
    (अ) अमीर खुसरो (ब) मानसिंह तोमर (स) तानसेन (द) विष्णु दिगंबर पलुस्कर
    7. गायन के क्षेत्र में संयुक्त राष्ट्र में गायन का गौरव प्राप्त है?
    (अ) अनूप जलोटा (ब) भूपेन हजारिका (स) लता मंगेश्कर (द) एम.एस. सुब्बलक्ष्मी
    8. वह उत्सर्जित या अवशोषित ऊष्मा जो पदार्थ का अवस्था परिवर्तन तो करती है, परंतु ताप में किसी प्रकार का परिवर्तन नहीं करती, कहलाती है?
    (अ) विशिष्ट ऊष्मा (ब) अवशोषित ऊष्मा (स) उत्सर्जित ऊष्मा (द) गुप्त ऊष्मा
    9. किसी ठोस पदार्थ के एकांक द्रव्यमान को उसके गलनांक पर ठोस से द्रव में बदलने के लिए आवश्यक ऊष्मा को कहते हैं?
    (अ) ठोस का गलनांक (ब) ठोस का क्वथनांक (स) ठोस के गलन की गुप्त ऊष्मा (द) वाष्पण
    10. समतापीय परिवर्तन में क्या होता है?
    (अ) ऊष्मा अपरिवर्तित रहती है (ब) ताप अपरिवर्तित रहती है (स) ऊष्मा व ताप दोनों बदलते हैं (द) इनमें से कोई नहीं
    11. निम्नलिखित में से किसकी ऊष्माधारिता अधिक है?
    (अ)लोहे का टुकड़ा (ब) जल (स) स्वर्ण का टुकड़ा (द) बेन्जीन
    12. यदि किसी स्थान के तापमान में अचानक वृद्धि होती है, तो अत्यधिक आद्र्रता की स्थिति क्या होती है?
    (अ) बढ़ती है (ब) घटती है (स) स्थिर रहती है (द) घतती-बढ़ती रहती है
    13. जब किसी द्रव की 1 किलोग्राम मात्रा अपने क्वथनांक पर द्रव से वाष्प में परिवर्तित होती है, तो इसमें अवशोषित होने वाली ऊष्मा को क्या कहते हैं?
    (अ) वाष्पीकरण की गुप्त ऊष्मा (ब) संलयन की गुप्त ऊष्मा (स) उध्र्वपातन की गुप्त ऊष्मा (द) इनमें से कोई नहीं
    14. जल मेें वायु का बुलबुला जिसकी भांति व्यवहार करेगा, वह है?
    (अ) उत्तल दर्पण (ब) उत्तल लेंस (स) अवतल दर्पण (द) अवतल लेंस
    15. जिस सिद्धांत पर ऑप्टिकल फाइबर काम करता है, वह है?
    (अ) पूर्ण आंतरिक परावर्तन (ब) अपवर्तन (स) प्रकीर्णन (द) व्यतिकरण
    16. क्षितिज के समीप सूर्य एवं चंद्रमा के दीर्घ वृत्ताकार दिखाई देने का कारण है?
    (अ) अपवर्तन (ब) प्रकाशीय भ्रम (स) व्यतिकरण घटना (द) उनका वास्तविक आकृति
    17. आईबीएम का पूर्ण रूप है?
    (अ) इंडियन बिजनेस मशीन (ब) इंटरनेशनल बिजनेस मशीन (स) इटैलियन बिजनेस मशीन (द) इंटीग्रल बिजनेस मशीन
    18. डब्ल्यू.डब्ल्यू.डब्ल्यू. के आविष्कारक तथा प्रवर्तक है?
    (अ) बिल गेट्स (ब) ली. एन. फियोंग (स) एन. रसेल (द) टिम बर्नर्स ली
    19. इलेक्ट्रॉन के आवेश की खोज किसने की?
    (अ) रदरफोर्ड (ब) थॉमसन (स) चैडविक (द) मिलिकन
    20. वह कण, जो न्यूक्लिऑन को बांधे रखने का कार्य करता है?
    (अ) इलेक्ट्रॉन (ब) पॉजिट्रॉन (स) न्यूट्रॉन (द) मेसॉन
    21. गामा किरणें किस प्रकार की हैं?
    (अ) उच्च ऊर्जा वाली विद्युत चुंबकीय तरंगें (ब) उच्च ऊर्जा वाले इलेक्ट्रॉन (स) निम्न ऊर्जा इलेक्ट्रॉन (द) उच्च ऊर्जा वाले पॉजिट्रॉन
    22. विद्युत संयोजक बंध बनता है?
    (अ) धनाविष्ट आयनों के बीच (ब) ऋणाविष्ट आयनों के बीच (स) विपरीत आविष्ट आयनों के बीच (द) इनमें से कोई नहीं
    23. हाइड्रोजन में एक इलेक्ट्रॉन लेकर हीलियम का इलेक्ट्रॉनिक विन्यास प्राप्त करने की प्रवृत्ति होती है?                            
    (अ) क्षार धातुओं से (ब) अक्रिय गैसों से (स) क्षारीय मृदा धातुओं से (द) हैलोजनों से
    24. फोटोग्राफी में उपयोग तत्व कौन सा है?
    (अ) सिल्वर नाइट्रेट (ब) सिल्वर ब्रोमाइड (स) सल्फ्यूरिक एसिड (द) साइट्रिक एसिड
    25. स्टेनलेस स्टील बनाने के लिए क्या प्रयोग में लाया जाता है?
    (अ) क्रोमियम और निकेल (ब) निकेल और तांबा (स) क्रोमियम और ग्रेफाइट (द) बेंजीन और एसिटोन
    26. माचिस की तीली के एक सिरे पर लगा मसाला निम्नलिखित में से किसका मिश्रण है?
    (अ) लाला फॉस्फोरस और गंधक (ब) एंटिमनी सल्फाइड, सल्फर और सिंदूर (स) पोटैशियम, बालू और गंधक (द) गंधक और पोटैशियम क्लोराइड
    27. निम्नलिखित में से किस एक का अधिकतम ईंधन मान होता है?
    (अ) हाइड्रोजन (ब) चारकोल (स) प्राकृतिक गैस (द) गैसोलीन
    28. प्राकृतिक रबर का बहुलक कौन सा है?
    (अ) एथिलीन (ब) आइसोप्रिन (स) एसिटिलीन (द) हैक्सेन 
    ----
    सही जवाब-  1.(स) 242 फीट, 2.(स) सालुव, 3.(द) सिकंदर लोदी, 4.(द) इनमें से कोई नहीं, 5.(अ) जौनपुर, 6.(ब) मानसिंह तोमर, 7.(द) एम.एस. सुब्बलक्ष्मी, 8.(द) गुप्त ऊष्मा, 9.(स) ठोस के गलन की गुप्त ऊष्मा, 10.(ब) ताप अपरिवर्तित रहती है, 11.(ब) जल, 12.(ब) घटती है, 13.(अ) वाष्पीकरण की गुप्त ऊष्मा, 14.(स) अवतल दर्पण, 15.(अ) पूर्ण आंतरिक परावर्तन, 16.(अ) अपवर्तन, 17.(ब) इंटरनेशनल बिजनेस मशीन, 18.(द) टिम बर्नर्स ली, 19.(द) मिलिकन, 20.(द) मेसॉन, 21.(अ) उच्च ऊर्जा वाली विद्युत चुंबकीय तरंगें, 22.(स) विपरीत आविष्ट आयनों के बीच, 23.(ब) अक्रिय गैसों से, 24.(ब) सिल्वर ब्रोमाइड, 25.(अ) क्रोमियम और निकेल, 26.(अ) लाला फॉस्फोरस और गंधक, 27.(अ) हाइड्रोजन, 28.(ब) आइसोप्रिन। 

अंग्रेज़ी

  • The English Corner 22 April

    Idiom
    wouldn't be caught dead

    If someone says that they wouldn't be caught or seen dead in a particular place or doing something, they mean that they would be too ashamed or embarrassed.
    My seven-year-old son thinks he's a big boy; he wouldn't be caught dead holding my hand in front of his friends!
    false move
    In a dangerous or risky situation, if you make a false move, you do something which may have unpleasant consequences.
    He is under close surveillance. If he makes one false move he'll be arrested.

     Phrasal Verbs
    A phrasal verb is a verb followed by a preposition or an adverb; the combination creates a meaning different from the original verb. Below you will find a list of phrasal verbs in alphabetical order with their meaning and an example of use.
    dig into- 1) Try to find deep inside something.
    2) Start to do something., 3) Take from something.    
    1) He dug into his pocket and found a coin. 2) It was time to dig into the work that had accumulated on her desk. 3) Dad had to dig into his savings to repair the  roof.

    Common Mistakes and
     Confusing Words in English
    homework /housework

    Homework (noun) - refers to tasks assigned to students by teachers to be completed mostly outside of class, and derives its name from the fact that most students do the majority of such work at home.
    For example: "A lot of students in the UK get too much homework."
    Housework (noun) - refers to domestic household chores such as cleaning and cooking.
    For example: "I never seem to have enough time to do the housework. There's always something that needs dusting or polishing."

    NEW WORDS IN ENGLISH
    Bashtag- A bashtag is a hashtag (#) that is used to make critical or abusive comments on social networking services such as Twitter.
    Cage sandals- A type of sandal with a lot of thin straps.
    Favicon- Favourite icon: a tiny little graphic that appears when you bookmark a site

    Tongue Twister
    She sells seashells by the seashore.
    (Repeat it loudly a few times to check   if you could say it fast, without a slip)

फोटो गैलरी


विडियो गैलरी