छत्तीसगढ़

  • कोण्डागांव, पुलिस की सरकारी वाहन में लकड़ी तस्कर करते दो आरक्षक पकड़ाए
    कोण्डागांव, पुलिस की सरकारी वाहन में लकड़ी तस्कर करते दो आरक्षक पकड़ाए

    पुलिस की सरकारी वाहन में लकड़ी तस्कर करते दो आरक्षक पकड़ाए

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    कोण्डागांव, 14 नवंबर।
    दक्षिण वन मंडल कोण्डागांव अंतर्गत वन अमला ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पुलिस विभाग के 2 आरक्षक को धर दबोचा है। पकड़े गए दोनों आरक्षकों के पास से अवैध साल के 4 गोले तस्कर करते जब्त किया गया है। इतना ही नहीं वन अमला ने इनके पास से तस्करी करने के लिए इस्तेमाल किए जा रहा शासकीय वाहन को भी जब्त किया है। पूरी कार्रवाई वन परिक्षेत्र कोण्डागांव अंतर्गत की गई है।

    जानकारी अनुसार, दक्षिण वन मंडल कोण्डागांव अंतर्गत वन परिक्षेत्र कोण्डागांव अमला को मुखबिर से सूचना मिली थी। इसी सूचना के अधार पर वन कर्मचारियो ने कोण्डागांव पुलिस के शासकीय वाहन सीजी 03 4598 टाटा 407 को रोक कर जांच किया। जांच के दौरान उसमें से अवैध परिवहन करते साल के 4 गोला कुल 0.535 घनमीटर पाया गया। इस पर वन कर्मचारियों के द्वारा वाहन में सवार आरक्षक जितेन्द्र कुमार सेठिया और वाहन चालक आरक्षक मनीराम कश्यप के विरूद्ध कार्रवाहीं करते हुए शासकीय वाहन को जब्त कर लिया। विभाग के अनुसार, जब्त साल गोला की अनुमानित कीमत 15 हजार रुपए होगी।

     

अंतरराष्ट्रीय

  • गर्भवती होने के बावजूद क्यों भीषण आग से लड़ रही
    गर्भवती होने के बावजूद क्यों भीषण आग से लड़ रही

    ऑस्ट्रेलिया, 14 नवंबर। ऑस्ट्रेलिया में एक 23 वर्षीय महिला ने गर्भवती होने के बावजूद वहां फैली आग से लडऩे के लिए अग्निशमनकर्मी के तौर पर वॉलंटियर किया है। वो अपने फैसले का खुलकर बचाव भी कर रही हैं।
    कैट रॉबिन्सन विलियम्स इस समय 14 सप्ताह की गर्भवती हैं। लेकिन अग्निशमन वॉलंटियर (फायर फाइटर) की भूमिका में ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में फैली भयानक आग से वो बहादुरी से लड़ रही हैं।
    विलियम्स बतातीं हैं कि उनके कई दोस्त इससे चिंतित हैं और उन्हें ऐसा नहीं करने के लिए भी कह रहे हैं। उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट लिखा है और कहा कि ऐसी स्थिति में वह पीछे चुपचाप नहीं खड़ी रह सकतीं। रॉबिन्सन विलियम्स पिछले 11 बरसों से आग बुझाने के काम में वॉलंटियर के रूप में न्यू साउथ वेल्स रूरल फायर सर्विस के साथ जुड़ी रही हैं।
    वो कहती हैं, मैं पहली ऐसी अग्निशमन कर्मचारी नहीं हूं जो गर्भवती हो और न ही मैं आखिरी होऊंगी। मैं अभी भी ऐसी स्थिति में हूं जहां मैं दूसरों की मदद करने में सक्षम हूं इसलिए मैं ये करूंगी।
    ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी आग ने अब तक तीन लोगों की जान ले ली है और 200 से ज़्यादा घर जल कर खाक हो गए हैं।
    रॉबिन्सन विलियम्स ने सोमवार को इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट किया जिसमें उन्होंने खुद की अग्निशमन गियर पहने कई तस्वीरें भी साझा की हैं।
    पोस्ट पर एक कैप्शन भी लिखा था, हां मैं एक अग्निशमन कर्मचारी हूं। मैं एक आदमी नहीं हूं। हां, मैं गर्भवती हूं। अगर आपको यह पसंद नहीं है तो मुझे इसकी कोई परवाह नहीं है। उनके पोस्ट को लोगों का काफी समर्थन मिला था, जिसमें से कईयों ने उन्हें सभी लड़कियों के लिए प्रेरणा भी बताया। उन्होंने बीबीसी को बताया कि उनके कई दोस्तों द्वारा उनके काम को लेकर आपत्ति किए जाने के बाद उन्होंने ये तस्वीरें साझा की हैं।
    मैं उन्हें बताना चाहती थी कि मैं ठीक हूं और मैं अब रुकने वाली नहीं हूं, जब मुझे लगेगा कि मेरा शरीर ये काम नहीं कर सकता है तो मैं रुक जाऊंगी।
    उन्होंने बताया कि इस बारे में उनके डॉक्टर ने भी इजाजत दे दी है लेकिन उन्हें सही उपकरण पहने रखने की हिदायत दी है। रॉबिन्सन विलियम्स चाइल्डकेयर में काम करती हैं। तीन पीढिय़ों से उनका परिवार अग्निशमन वॉलंटियर करता आया है। वो कहती हैं, मेरी मां ने भी 1995 में लगी आग के दौरान अग्निशमन कर्मी के तौर पर वॉलंटियर किया था और वो भी उस समय गर्भवती थीं। परिवार में यह एक तरह की परंपरा हो गई है।
    जब मैं छोटी थी, तो मेरी दादी ने मेरे लिए मेरी नाप का एक फायर फाइटर ड्रेस भी बनाया था। 
    रॉबिन्सन विलियम्स कहती हैं, यह पारिवार की एक परंपरा जैसा है, हमने हमेशा से ये काम किया है। मेरी दादी अभी भी वॉलंटियर कर रही हैं। उन्होंने 50 साल तक ये काम किया है और मेरी मां 30 साल से ज्यादा समय से ये काम कर रही हैं। उनके पति और ससुराल वाले भी अग्निशमनकर्मी के तौर पर वॉलंटियर करते हैं।
    वो कहती हैं कि उन्हें उम्मीद है कि उनका बच्चा भी ये काम करेगा, हालांकि यह निर्णय उसका खुद का होगा। यह पूछे जाने पर कि क्या आग से जूझने के दौरान उन्हें डर लगता है तो रॉबिन्सन विलियम्स ने फौरन ना में जवाब दिया। वो कहती हैं, मैं कल भी एक भयानक आग के बीच में थी। वहां घर बुरी तरह से जल रहे थे। हम इसे रोकने की कोशिश कर रहे थे। यह एक ऐसा काम है जो मैं हमेशा से करती रही हूं।
    एनएसडब्ल्यू राज्य में लगभग साठ लाख लोग रहते हैं। अधिकारियों ने बताया अग्निशमन कर्मचारी इस भयानक आग पर काबू पाने की कोशिश कर रहे हैं। बुधवार को ये आग सिडनी के उपनगरीय इलाके में भी फैल गई। बीबीसी के यवेट तान और फ्रांसेस माओ द्वारा की रिपोर्ट। (बीबीसी)
     

राष्ट्रीय

  • बदसलूकी मामले में हटाये गए अमेठी के जिलाधिकारी प्रशांत शर्मा, अरुण कुमार होंगे नये डीएम
    बदसलूकी मामले में हटाये गए अमेठी के जिलाधिकारी प्रशांत शर्मा, अरुण कुमार होंगे नये डीएम

    लखनऊ, 14 नवंबर। इलाहाबाद हाई कोर्ट की फटकार तथा अमेठी में पीडि़त के वार्ता के दौरान आपा खो देने के मामले को शासन ने गंभीरता से लिया और अमेठी के जिलाधिकारी प्रशांत शर्मा को हटाया दिया है। प्रशांत शर्मा अमेठी में आने से पहले लखनऊ में मुख्य विकास अधिकारी के पद पर कार्यरत थे। उन्होंने 13 जुलाई को ही अमेठी के जिलाधिकारी का पद संभाला था। केंद्रीय मंत्री व अमेठी से सांसद स्मृति ईरानी ने भी ट्वीट कर उन्हें अच्छा व्यवहार करने की नसीहत दी थी। 
    अमेठी में मृतक ईंट व्यवसायी के परिजनों से अभद्रता पर अमेठी के जिलाधिकारी प्रशांत शर्मा को हटा दिया गया है। उनके व्यवहार पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नाराजगी जाहिर की थी। अरुण कुमार को जिले का नया जिलाधिकारी नियुक्त किया गया है। वह अभी तक मुरादाबाद विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष पद पर तैनात थे। मुरादाबाद के जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह को मुरादाबाद विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष की भी जिम्मेदारी सौंपी गई है। प्रशांत शर्मा को प्रतीक्षारत् किया गया है। प्रशांत शर्मा अपने खराब व्यवहार पर हाईकोर्ट से पहले भी दंडित किए जा चुके हैं। पीडि़त के अभद्रता के मामले को सीएम योगी आदित्यनाथ ने बेहद गंभीरता से लिया है। अभद्रता करने के मामले में अमेठी के जिलाधिकारी प्रशांत शर्मा को हटाकर प्रतीक्षा सूची में डाला गया है। 
    अमेठी के जिलाधिकारी प्रशांत शर्मा को वहां की सांसद तथा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने सलाह दी थी कि हम जनता के सेवक, शासक नहीं। स्मृति ईरानी ने ट्वीट कर डीएम अमेठी को संवेदनशील बनने की सलाह दी है। सांसद ईरानी ने ट्विटर पर लिखा था कि विनय शील एवं संवेदनशील बनें, हम यही प्रयास होना चाहिए। हम तो जनता के हम सेवक हैं, शासक नहीं।
    डीएम अमेठी प्रशांत कुमार ने ट्विटर पर स्मृति ईरानी की पोस्ट का रिप्लाई किया। उन्होंने लिखा है, मैडम, आपके निर्देशन में अमेठी प्रशासन जनता की सहायता के लिए हमेशा तैयार है। ये सुनील सिंह हैं, जो संबंधित व्यक्ति हैं और परिस्थिति का खुद बयां कर रहे हैं। इसी पोस्ट में डीएम अमेठी ने सुनील सिंह के बयान का वीडियो भी पोस्ट किया है। जो वीडियो पोस्ट किया गया है, उसमें सुनील सिंह कहते दिख रहे हैं, उन्होंने खबर चलती देखी कि जिसमें दिखाया जा रहा था कि जिलाधिकारी, अमेठी द्वारा मेरे साथ अभद्र व्यवहार किया गया। जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है। एडिटेड वीडियो है। जिलाधिकारी महोदय ने हमारी सारी समस्याओं को बिंदुवार सुना, देखा और हर तरह से जितना भी संभव मदद हो सकती है, आश्वासन दिया। जिलाधिकारी महोदय से हमारे व्यक्तिगत संबंध हैं और कई वर्षों से रहे हैं।
    अमेठी के मौजूदा डीएम प्रशांत कुमार का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वे अपना आपा खोते हुए नजर आ रहे हैं। यह वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस मामले में स्थानीय सांसद स्मृति ईरानी ने भी हस्तक्षेप किया है। जिलाधिकारी प्रशांत कुमार उस वक्त अपना आपा खो बैठे थे जब वह अमेठी में हुए एक हत्याकांड के बाद पोस्टमॉर्टम के दौरान उग्र हुए परिजनों को समझाने की कोशिश कर रहे थे। गंभीर मामला देख मौके पर पहुंची एसपी ख्याति गर्ग को भी परिजनों के विरोध का सामना करना पड़ा था।
    अमेठी में मंगलवार को एक ईंट व्यवसायी सोनू सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। बुधवार को पोस्टमार्टम हाउस के बाहर बातचीत के दौरान जिले के डीएम आपा खो बैठे और परिजनों से अभद्रता कर बैठे जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। गुस्साई भीड़ को समझाने की बजाए अमेठी के डीएम प्रशांत शर्मा आपा खो बैठे और मृतक के भाई पीसीएस अधिकारी का कॉलर पकडक़र डांटने लगे। मौके पर पहुंची एडीएम वन्दिता श्रीवास्तव और एसपी ख्याति गर्ग को भी परिजनों का विरोध झेलना पड़ा था।
    डीएम ने खुद ऐसे आरोपों को निराधार बताया। उन्होंने कहा कि पुलिस व प्रशासन की कार्रवाई से पूरा परिवार संतुष्ट है। जो वीडियो चल रहा है वह एडिट किया हुआ है।अमेठी में मंगलवार देर शाम सोनू सिंह को दबंगों ने गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया था। मामला गौरीगंज कोतवाली थाना क्षेत्र के बिसुनदासपुर गांव का है। मृतक भट्टा व्यवसायी था।  (जागरण) 
     

राजनीति

  • संजय राउत ने खाई बाला साहेब की कसम महाराष्ट्र में 50-50 का फॉर्मूला
    संजय राउत ने खाई बाला साहेब की कसम महाराष्ट्र में 50-50 का फॉर्मूला

    मुंबई, 14 नवंबर। महाराष्ट्र में मचे सियासी घमासान के बीच शिवसेना नेता संजय राउत का बड़ा बयान आया है। संजय राउत ने कहा है कि बीजेपी ने चुनाव से पहले रोटेशन सीएम की बात कही थी। इसके लिए राउत ने बाला साहेब की कसम खाई है। संजय राउत ने कहा कि जिस कमरे से बाला साहेब ने हमेशा हिंदुत्व को आशीर्वाद दिया, उस कमरे से हमेशा बाला साहेब ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आशीर्वाद देते रहे।
    संजय राउत ने कहा कि बाला साहेब के कमरे में बैठकर उद्धव ठाकरे और अमित शाह ने महाराष्ट्र की राजनीति पर चर्चा की थी। हमारे लिए वह कमरा मंदिर है। अगर कोई कहता है कि रोटेशनल सीएम पर बात नहीं हुई तो ये मंदिर, बाला साहेब और महाराष्ट्र का अपमान है। हम झूठ नहीं बोलेंगे, बाला साहेब की कसम खाकर। अगर आप इनकार कर रहे हैं तो बताइए बंद कमरे के अंदर क्या बात हुई थी।
    राउत ने कहा कि इस बार हम पिछड़े नहीं हट रहे हैं। हमने कभी राजनीति को बिजनेस नहीं बनाया। यदि बैठकों में चर्चा नरेंद्र मोदी से होती, तो ऐसा नहीं होता। संजय राउत ने कहा, हर सभा में नरेंद्र मोदी कहते रहे फडणवीस सीएम होंगे। हर सभा में उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमारा सीएम होगा, ऐसे में अमित शाह उस समय चुप क्यों थे। अब वे कुछ और कह रहे हैं, यह नैतिकता नहीं है।
    राउन ने कहा, हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बहुत सम्मान करते हैं। हालांकि, अमित शाह और उद्धव ठाकरे के बीच बैठक में क्या कुछ चर्चा हुई यह बंद कमरे की बात है और हमें लगता है कि बैठक में हुई चर्चा की पूरी जानकारी मोदी जी को नहीं दी गई। अब अमित शाह कह रहे हैं कि कि बंद कमरे में हुई बैठक की जानकारी को सभी से नहीं बताया जा सकता। हम कहते हैं कि महाराष्ट्र के लोगों को मूर्ख मत बनाओ। अमित शाह अपनी बातों पर कायम रहे।
    संजय राउत ने कहा, मोदी जी प्रधानमंत्री हैं और हम उनका बहुत सम्मान करते हैं। उन्होंने बालासाहेब के साथ अलग व स्पेशल रिश्ता साझा किए हैं।  कुछ लोग चाहते हैं कि उद्धव और मोदी जी के बीच अच्छा रिश्ता टूट जाए और इसलिए मैं यह सारी जानकारी आपके सामने रख रहा हूं। अब अमित शाह स्वीकार नहीं कर रहे हैं कि असल में क्या चर्चा हुई थी, लेकिन उन्हें हमें धमकी नहीं देनी चाहिए। (आजतक)

     

मनोरंजन

  • अक्षय कुमार-करीना कपूर की  गुड न्यूज का पहला पोस्टर
    अक्षय कुमार-करीना कपूर की गुड न्यूज का पहला पोस्टर

    पिछले काफी समय से अक्षय कुमार और करीना कपूर की आने वाली फिल्म 'गुड न्यूज' काफी चर्चा में है। अब इस फिल्म का पहला पोस्टर रिलीज कर दिया गया है। चिल्ड्रंस डे पर रिलीज हुए इस पोस्टर में अक्षय कुमार 2 प्रेगनेंट लेडीज के बीच फंसे हुए दिख रहे हैं। माना जा रहा है कि इसमें एक बेबी बंप करीना का जबकि दूसरा कियारा आडवाणी का है। अक्षय ने खुद सोशल मीडिया पर इस पोस्टर को शेयर करते हुए लिखा, आपके लिए इस क्रिसमस पर आने वाली गुड न्यूज में फंसा हुआ। जुड़े रहें, साल का सबसे बड़ा गड़बड़झाला आने वाला है। मेकर्स ने पोस्टर के साथ ही यह घोषणा कर दी है कि यह फिल्म 27 दिसंबर को रिलीज होने जा रही है।
    अक्षय के साथ ही कियारा आडवाणी ने भी इस पोस्टर को सोशल मीडिया पर शेयर किया है। इसके अलावा फिल्म के प्रड्यूसर करण जौहर ने भी इसे शेयर किया है। फिल्म में अक्षय, करीना और कियारा के अलावा दिलजीत दोसांझ भी महत्वपूर्ण भूमिका में दिखाई देंगे। यह फिल्म दो कपल्स की कहानी है जो आईवीएफ के जरिए बच्चा पैदा करना चाहते हैं। फिल्म को करण जौहर के अलावा अक्षय कुमार के केप ऑफ गुड फिल्म्स और जी स्टूडियों ने प्रड्यूस किया है। राज मेहता ने इस फिल्म का डायरेक्शन किया है। 

     

सेहत/फिटनेस

  • किडनी के रोगियों के लिए खुशखबरी, जब सभी दवा हो जाए फेल तो आजमाएं ये तरीका!
    किडनी के रोगियों के लिए खुशखबरी, जब सभी दवा हो जाए फेल तो आजमाएं ये तरीका!

    कोलकाता: आयुर्वेद में किडनी (गुर्दे) की बीमारी का असरदार इलाज संभव है. आयुर्वेद की दवा गुर्दे को नुकसान पहुंचाने वाले घातक तत्वों को भी बेअसर करती है. कोलकात्ता में चल रहे भारत अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान मेले में पहली बार आयुर्वेद दवाओं पर एक विशेष सत्र का आयोजन किया गया जिसमें गुर्दे के उपचार में इसके प्रभाव पर चर्चा की गई. इस सत्र के दौरान एमिल फार्मास्युटिकल के कार्यकारी निदेशक संचित शर्मा ने आयुर्वेद के उपचार में प्रभावी दवा नीरी केएफटी के बारे में अब तक हुए शोधों का ब्यौरा पेश करते हुए कहा कि नीरी केएफटी गुर्दे में टीएनएफ अल्फा के स्तर को नियंत्रित करती है.

    टीनएफ एल्फा परीक्षण से ही गुर्दे में हो रही गड़बड़ियों का पता चलता है तथा यह सूजन आदि की स्थिति को भी दर्शाता है. टीएनएफ अल्फा सेल सिग्नलिंग प्रोटीन है.शर्मा ने अपने प्रजेंटेशन में कहा कि नीरी के एफटी को लेकर अमेरिकन जर्नल ऑफ फार्मास्युटिकल रिसर्च में शोध प्रकाशित हो चुका है.
    इस शोध में पाया गया कि जिन समूहों को नियमित रूप से नीरी केएफटी दवा दी जा रही थी उनके गुर्दे सही तरीके से कार्य कर रहे थे. उनमें भारी तत्वों, मैटाबोलिक बाई प्रोडक्ट जैसे क्रिएटिनिन, यूरिया, प्रोटीन आदि की मात्रा नियंत्रित पाई गई. जिस समूह को दवा नहीं दी गई, उनमें इन तत्वों का प्रतिशत बेहद ऊंचा था.
    यह पांच बूटियों पुनर्नवा, गोखरू, वरुण, पत्थरपूरा तथा पाषाणभेद से तैयार की गई है.उन्होंने कहा कि जिन लोगों के गुर्दे खराब हो चुके हैं लेकिन अभी डायलिसिस पर नहीं हैं, उन्हें इसके सेवन से लाभ मिलता है. उन्हें डायलिसिस पर जाने की नौबत नहीं आती है.
    उन्होंने यह भी कहा कि आयुर्वेद में कई उपयोगी दवाएं हैं. आयुर्वेद में उन बीमारियों का उपचार है जिनका एलोपैथी में नहीं है. लेकिन उन्हें आधुनिक चिकित्सा की कसौटी पर परखे जाने और प्रमाणित किये जाने की जरूरत है. इस दिशा में डीआरडीओ और सीएसआईआर ने कार्य किया है इस पर और ध्यान दिये जाने की जरूरत है.

     

     

     

खेल

  • इंदौर टेस्ट में भारत ने कसा शिकंजा, पहले दिन ही बांग्लादेश पस्त
    इंदौर टेस्ट में भारत ने कसा शिकंजा, पहले दिन ही बांग्लादेश पस्त

    इंदौर, 14 नवंबर : भारत और बांग्लादेश के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला इंदौर के होलकर स्टेडियम में खेला जा रहा है. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए बांग्लादेश की टीम 150 रन पर ढेर हो गई. भारत ने इसके जवाब में दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी पहली पारी में एक विकेट पर 86 रन बना लिए हैं. भारत अभी बांग्लादेश के स्कोर से 64 रन पीछे हैं, जबकि उसके नौ विकेट शेष हैं. स्टंप्स के समय मयंक अग्रवाल 37 और चेतेश्वर पुजारा 43 रन बनाकर नाबाद लौटे. अपनी पहली पारी की शुरूआत करने उतरी मेजबान टीम को पहला झटका रोहित शर्मा (6) के रूप में 14 के स्कोर पर लगा.

    रोहित को अबु जाएद ने लिटन दास के हाथों कैच कराकर पवेलियन भेजा. रोहित के आउट होने के बाद पुजारा और मयंक ने दूसरे विकेट के लिए 72 रनों की साझेदारी करके भारत को पहले दिन और कोई झटका नहीं लगने दिया. मयंक हालांकि भाग्यशाली रहे और 31 के निजी स्कोर पर उन्हें एक जीवनदान भी मिला. इमरूल कायेस ने जाएद की गेंद पर पहली स्लीप में मयंक का कैच छोड़ दिया. इसके बाद दोनों बल्लेबाजों ने तीसरे सत्र का खेल निकाल दिया.
    भारत ने बांग्लादेश को 150 रन पर समेटा
    भारतीय गेंदबाजों ने बांग्लादेश की पहली पारी में 150 रन पर समेट दी. बांग्लादेश के लिए मुश्फिकुर रहीम ने सबसे ज्यादा 43 रन बनाए. उनके अलावा कप्तान मोमिनुल हक ने 37, लिटन दास ने 21 और मोहम्मद मिथुन ने 13 रनों का योगदान दिया. मेहमान टीम का और कोई बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक नहीं पहुंच पाया. भारत की ओर से तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने सर्वाधिक तीन विकेट चटकाए. उनके अलावा ईशांत शर्मा, उमेश यादव और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने दो-दो विकेट लिए. अश्विन ने इसके साथ ही टेस्ट क्रिकेट में अपने 250 विकेट भी पूरे कर लिए है.
    उमेश यादव और ईशांत शर्मा की जोड़ी ने भारत को शानदार शुरुआत दिलाते हुए बांग्लादेश के दोनों ओपनरों को 12 रन के कुल स्कोर पर आउट कर दिया. उमेश यादव ने इमरुल काएस को अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच आउट करा कर बांग्लादेश को पहला झटका दे दिया. इमरुल काएस 6 रन बनाकर आउट हुए. इसके बाद ईशांत शर्मा ने शादमान इस्लाम को विकेट के पीछे ऋद्धिमान साहा के हाथों कैच आउट करा कर बांग्लादेश का स्कोर 12 रन पर 2 विकेट कर दिया.
    शादमान इस्लाम भी 6 रन बनाकर आउट हुए. 31 रन के स्कोर पर मोहम्मद शमी ने बांग्लादेश को तीसरा झटका दिया. शमी ने मोहम्मद मिथुन को एलबीडब्ल्यू आउट कर पवेलियन लौटा दिया. मोहम्मद मिथुन 13 रन बनाकर आउट हुए. इस पारी में टीम की फिल्डिंग बेहद सुस्त दिखाई दी. अजिंक्य रहाणे ने दो तो, वहीं कप्तान कोहली ने एक कैच टपकाया है.
    अश्विन ने मोमिनल हक को 37 और फिर महमूदुल्लाह को 10 रन पर बोल्ड किया. इसी के साथ अश्विन ने घरेलू मैदान पर सबसे तेज 250 विकेट लेने के मामले में श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन की बराबरी कर ली. दोनों स्पिनर ने 42 टेस्ट में यह कारनामा किया. अश्विन ने इस मामले में भारत के पूर्व कप्तान अनिल कुंबले (41 टेस्ट) को पीछे छोड़ दिया.
    शमी ने मुश्फीकुर रहीम (43) को बोल्ड किया और फिर अगली ही गेंद पर मेहदी हसन मिराज को एलबीडब्ल्यू किया. यह दोनों विकेट 140 के कुल स्कोर पर ही गिरे. बांग्लादेश के आखिरी 5 विकेट 10 रन के अंदर गिरे, जबकि उनके 6 बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक भी नहीं पहुंच सके.
    बांग्लादेश ने जीता टॉस
    बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और भारत को गेंदबाजी सौंपी. टीम इंडिया में तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा की वापसी हुई है. विराट ने कहा कि इंदौर की पिच पर घास अच्छी है, इसलिए प्लेइंग इलेवन में तीन तेज गेंदबाजों को मौका दिया गया है. शाकिब अल हसन के मैच फिक्सिंग में फंस जाने के कारण मोमिनुल को कप्तानी का मौका मिला है.
    बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल ने कहा, 'पिच सख्त है इसलिए हमने पहले बल्लेबाजी चुनी. यह चौथी पारी में टूट भी सकती है. बांग्लादेश की कप्तानी करना सम्मान की बात है. कुछ ही लोगों को यह मौका मिलता है.' बांग्लादेश ने अंतिम-11 से एक बदलाव किया है.
    टीमें इस प्रकार हैं -
    भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, रवींद्र जडेजा, ऋद्धिमान साहा, आर. अश्विन, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, ईशांत शर्मा.
    बांग्लादेश: इमरुल काएस, शादमान इस्लाम, मोहम्मद मिथुन, मोमिनुल हक (कप्तान), मुश्फिकुर रहीम, महमूदुल्लाह रियाद, लिटन दास, मेहदी हसन मिराज, तैजुल इस्लाम, अबु जाएद, इबादत हुसैन.
    (aajtak.in)

कारोबार

  • हैण्डलूम एक्सपो अब 17 तक, आयोजन में विभिन्न प्रदेश के शिल्पकार एवं बुनकर अपने बनाए आयटम्स के साथ प्रदर्शनी व बिक्री हेतु उपलब्ध है
    हैण्डलूम एक्सपो अब 17 तक, आयोजन में विभिन्न प्रदेश के शिल्पकार एवं बुनकर अपने बनाए आयटम्स के साथ प्रदर्शनी व बिक्री हेतु उपलब्ध है

    हैण्डलूम एक्सपो अब 17 तक, आयोजन में विभिन्न प्रदेश के शिल्पकार एवं बुनकर अपने बनाए आयटम्स के साथ प्रदर्शनी व बिक्री हेतु उपलब्ध है

    रायपुर, 13 नवम्बर। रावणभाटा दशहरा मैदान में चल रहे हैण्डलूम एक्सपो 2019 एक्जीबिशन को रायपुरवासियों का अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है। बढ़ती मांग को देखते हुए इसे 10 से 17 नवंबर तक बढ़ा दिया गया है। इस आयोजन में विभिन्न प्रदेश के शिल्पकार एवं बुनकर अपने बनाए आयटम्स के साथ प्रदर्शनी व बिक्री हेतु उपलब्ध है। हर आयटम्स पर 20 प्रतिशत का डिस्काउंट दिया जा रहा है।

    उपरोक्त जानकारी हैण्डलूम एक्सपो के संचालक पवन जायसवाल ने दी। उन्होंने बताया कि इस आयोजन में देश के प्रमुख शहरों के हैंडलूम आयटम्स प्रदर्शनी एवं बिक्री के लिए रखे गए हैं। इसमें राजस्थान की जयपुरी काटन बेडशीट, कोटा की साडिय़ां व टाप्स, उत्तरप्रदेश की खादी शर्ट व कुर्ती, बनारसी सिल्क साड़ी, लखनवी चिकन, डिजायनर दरियां आदि आंध्रप्रदेश की कलमकारी कुर्ती, मंगलगिरी, पोचमपल्ली साडिय़ां, वेस्ट बेंगाल की काटन लाडिय़ां व नाईटी तथा बिहार से भागलपुरी ड्रेस मटेरियल के अलावा कई आकर्षण हैंडलूम आयटम्स प्रदर्शित किये गए हैं। आयोजन को अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है।

    आयोजन में एक विशेष स्किम भी रखी गई है, जिसके तहत प्रत्येक 1000 रुपये की खरीदी पर कूपन दिया जा रहा है, जिसका लकी ड्रा 17 नवम्बर को निकाला जाएगा। इसमें प्रथम पुरस्कार एक्टीवा, द्वितीय पुरस्कार 32 इंची सोनी एल्ईडी टीवी और तीसरा पुरस्कार वाशिंग मशीन है।

     

     

     

     

     

     

फोटो गैलरी


विडियो गैलरी