छत्तीसगढ़

  •  रायपुर, 50 लाख का क्रिकेट सट्टा पट्टी पकड़ाया, 3 गिरफ्तार, 5 मोबाइल, 24 हजार नगद, पेनड्राइव, कैलकुलेटर जब्त
    रायपुर, 50 लाख का क्रिकेट सट्टा पट्टी पकड़ाया, 3 गिरफ्तार, 5 मोबाइल, 24 हजार नगद, पेनड्राइव, कैलकुलेटर जब्त

    50 लाख का क्रिकेट सट्टा पट्टी पकड़ाया, 3 गिरफ्तार 
    5 मोबाइल, 24 हजार नगद, पेनड्राइव, कैलकुलेटर जब्त
    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    रायपुर, 26 जून।
    शहर के महावीर नगर (राजेंद्र नगर) में 50 लाख का क्रिकेट सट्टा पकड़ा गया। वहां मोबाइल, लैपटॉप से क्रिकेट सट्टा खिलाया जा रहा था। पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर उनसे 24 हजार नगदी, एक लैपटॉप, 5 मोबाइल, पेन ड्राइव, कैलकुलेटर व 50 लाख की सट्टा-पट्टी जब्त की है, पूछताछ जारी है। 

    पुलिस के मुताबिक यह सट्टा विश्वकप क्रिकेट में इंग्लैंड वर्सेस ऑस्ट्रेलिया के बीच मैच के लिए खिलाया जा रहा था। आरोपियों में सतीश वल्यानी(54)तेलीबांधा, करतार तोलवानी (55) श्याम नगर, नितिन कुमार खूबचंदानी (32) न्यू राजेंद्र नगर शामिल हंै। बताया गया कि बीती शाम-रात मुखबिर से मिली जानकारी पर सायबर सेल की एक विशेष टीम गठित कर छापामार कार्रवाई की गई। वहां तीनों आरोपी एक मकान में क्रिकेट सट्टा खिला रहे थे। उन तीनों के विरूद्ध जुआ एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है। आरोपियों के विरूद्ध प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत भी कार्रवाई की जा रही है। आरोपियों से जब्त मोबाइल फोन, लैपटॉप एवं सट्टा-पट्टी का अवलोकन किया जा रहा है। सट्टा नेटवर्क से जुड़े अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी जल्द की जाएगी। 

    पुलिस का कहना है कि विश्व कप के दौरान सट्टा का संचालन करने वालों के विरूद्ध रायपुर पुलिस का अभियान लगातार रहेगा। पकड़े जाने पर जुआ एक्ट और प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत कार्रवाई की जाएगी। उल्लेखनीय है कि विश्वकप क्रिकेट के चलते शहर एवं आसपास क्रिकेट सट्टा जोरों पर है। पुलिस की जांच अभियान में कई सटोरिए पकड़े भी जा रहे हैं।  

     

अंतरराष्ट्रीय

  •  पाक नेता ने लाइव शो में  की पत्रकार से मारपीट
    पाक नेता ने लाइव शो में की पत्रकार से मारपीट

    नई दिल्ली, 26 जून । पाकिस्तान के एक नेता द्वारा लाइव शो के दौरान पत्रकार की पिटाई का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के नेता मंसूर अली सियाल ने टीवी शो में आए अपने साथी पैनलिस्ट इम्तियाज खान फारान जो एक पत्रकार भी हैं के साथ मारपीट की। घटना सोमवार की है। वायरल हो रहे वीडिय में साफ तौर पर दिख रहा है कि पहले दोनों के बीच आपसी कहासुनी शुरू होती है। इसके बाद सियाल अपनी कुर्सी से उठते हैं और खान पर हमला कर देते हैं। सियाल पहले पहले खान को धक्का देते हैं जिससे वह जमीन पर गिर जाते हैं। इसके बाद जब वह सियाल की तरफ वापस आते हैं तो सियाल उनके साथ हाथापाई करने लगते हैं। मामला का बढ़ता देख टीवी के क्रू मेंबर दोनों को अलग कर देते हैं। 
    हालांकि, मारपीट के कुछ सेंकेड के बाद सियाल अपनी सीट पर बैठ जाते हैं। और इसके कुछ सेंकेड बाद ही पीडि़त पत्रकार भी अपनी सीट पर लौट आते हैं। दोनों ऐसे पेश आते हैं जैसे अभी कुछ मिनट पहले दोनों के बीच कुछ हुआ ही नहीं है। बाद में शो का एंकर दोबारा से शो को शुरू करवाता है। 
    सत्ताधारी पार्टी के नेता द्वारा पत्रकार पर लाइव शो के दौरान की गई मारपीट की सोशल मीडिया पर कड़ी आलोचना हो रही है। कई लोग पीटीआई नेता के इस व्यवहार को गलत बता रहे हैं तो कई कह रहे हैं कि उन्हें अपने इस बर्ताव के लिए पत्रकार से माफी मांगनी चाहिए। कुछ तो पीएम इमरान खान से अपने पार्टी के नेता के इस व्यवहार के लिए उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग भी कर रहे हैं। 
    कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इस पूरी घटना को हल्के फुल्के और मजाकिया अंदाज में भी ले रहे हैं। (भाषा)
     

राष्ट्रीय

  •     असम एनआरसी से एक लाख और हटाए
    असम एनआरसी से एक लाख और हटाए

    असम, 26 जून। एक लाख से ज़्यादा लोगों को असम के लिए बने ड्राफ्ट नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन्स (एनआरसी) से हटा दिया गया है। हटाए जाने वाले इन अतिरिक्त नामों की सूची बुधवार को जारी की गई, जिसमें 1.02 लाख नाम हैं। ये नाम पिछले साल जुलाई में प्रकाशित ड्राफ्ट नागरिक सूची में शामिल थे, लेकिन इन्हें बाद में अयोग्य पाया गया।
    जिन लोगों के नाम हटाए गए हैं, उन्हें व्यक्तिगत रूप से उनके आवासीय पतों पर खत भेजकर सूचित किया जाएगा। ये लोग निर्धारित एनआरसी सहायता केंद्रों पर 11 जुलाई तक अपने दावे दाखिल कर सकेंगे।
    एनआरसी का उद्देश्य बांग्लादेश के सटे असम राज्य में गैरकानूनी रूप से बसे लोगों की पहचान करना है। जब 30 जुलाई, 2018 को ड्राफ्ट एनआरसी प्रकाशित की गई थी, 40.7 लाख लोगों के नाम हटाए जाने को लेकर काफी विवाद हुआ था। कुल 3.29 करोड़ लोगों में से ड्राफ्ट एनआरसी में सिर्फ 2.9 करोड़ नाम शामिल किए गए थे।
    असम में एनआरसी को सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में अपडेट किया जा रहा है। अंतिम एनआरसी, या असम के नागरिकों की सूची, 31 जुलाई को प्रकाशित की जाएगी।
    ऐसा शख्स, जिसका नाम एनआरसी का हिस्सा नहीं होगा, वह एनआरसी प्रशासन से मिले रिजेक्शन ऑर्डर की सत्यापित प्रति के साथ अपने सबूतों को किसी भी पंचाट में पेश कर सकता है।  (एनडीटीवी)

     

राजनीति

  •   51 कांग्रेस सांसद भी नहीं मना पाए राहुल को
    51 कांग्रेस सांसद भी नहीं मना पाए राहुल को

    नई दिल्ली, 26 जून । संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) की अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में बुधवार को कांग्रेस के लोकसभा सांसदों की बैठक हुई। इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी मौजूद रहे। बैठक में कांग्रेस के 51 सांसद पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को इस्तीफा वापस लेने को लेकर नहीं मना पाए। राहुल गांधी ने पार्टी सांसदों से कहा है कि वह कांग्रेस अध्यक्ष नहीं रहेंगे। 
    कांग्रेस सांसद शशि थरूर और मनीष तिवारी ने राहुल को अध्यक्ष बने रहने के पक्ष में तर्क दिया कि हार सिर्फ आपकी जिम्मेदारी नहीं बल्कि सामूहिक है, लेकिन राहुल फिर भी हार की नैतिक जिम्मेदारी अपनी मानते हुए अध्यक्ष नहीं बने रहने का फैसला दोहराए। बैठक में सभी 51 सांसदों ने अपील की, लेकिन राहुल उनकी बात मानने से इनकार कर दिए।
    इस बीच यूथ कांग्रेस के सदस्य पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के घर के बाहर जमा हुए। उन्होंने राहुल से इस्तीफा वापस लेने और पार्टी अध्यक्ष बने रहने की मांग की।
    इस बार के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने 52 सीटों पर जीत हासिल की। इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत सभी 51 सांसद मौजूद रहे।
    लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद से राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने पर अड़े हैं। इससे पहले भी कांग्रेस की बैठकों में वह इस्तीफे की बात कर चुके हैं। कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में भी राहुल ने पद छोडऩे की बात की थी। जिसे कार्यसमिति ने सिरे से खारिज कर दिया था। इस बैठक में भी राहुल अपनी बात पर अड़े थे, बाद में कांग्रेस के नेताओं ने राहुल से कहा कि, आपका विकल्प नहीं है।
    कार्यसमिति के सदस्यों ने राहुल गांधी से कहा कि ऐसे मुश्किल वक्त में पार्टी को उनके मार्गदर्शन की जरूरत है, लिहाजा वह पार्टी अध्यक्ष के पद पर बने रहें। इस बैठक में राहुल ने कहा कि उनकी जगह प्रियंका गांधी का नाम भी प्रस्तावित न किया जाए। साथ ही किसी गैर कांग्रेसी को पार्टी अध्यक्ष बनाया जाए। लेकिन कार्यसमिति ने राहुल की बात नहीं मानी। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, राहुल गांधी को अब यह अधिकार दिया गया कि वह पार्टी में अपने मुताबिक जैसे चाहे संगठनात्मक बदलाव कर सकते हैं। (आजतक)
     

मनोरंजन

  • शादी के बाद पहली बार सांसद नुसरत जहां पति निखिल जैन संग शेयर की रोमांटिक तस्वीरें
    शादी के बाद पहली बार सांसद नुसरत जहां पति निखिल जैन संग शेयर की रोमांटिक तस्वीरें

    नई दिल्ली, 26 जून । तृणमूल कांग्रेस की सांसद और पश्चिम बंगाल की फेमस एक्ट्रेस नुसरत जहां ने 25 जून को संसद में शपथ ली। मांग में सिंदूर, हाथों में मेहंदी और लाल रंग का चूड़ा पहने नुसरत जहां कल दूसरी बार संसद पहुंचीं। नई नवेली दुल्हन के रूप में नुसरत काफी खूबसूरत लग रही थीं। यही वजह है कि उनके फोटोज और वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुए।
    शपथ लेने के बाद नुसरत ने अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया जिसमें उन्होंने सभी का शुक्रिया अदा किया। इसके बाद नुसरत ने अपनी और निखिल की शादी के दौरान की कुछ खूबसूरत फोटो शेयर कीं जिनमें दोनों रोमांटिक अंदाज में नजर आ रहे हैं। पहली फोटो में नुसरत लाल रंग के शादी के जोड़े में दिख रही हैं वहीं निखिल ने लाइट पिंक एंड क्रीम कलर की शेरवानी पहनी हुई है। दोनों प्यार से एक दूसरे का हाथ पकड़े हैं और काफी खुश नजर आ रहे हैं।
    इसके अलावा नुसरत ने दो और फोटो शेयर की हैं जिसमें दोनों काफी रोमांटक मूड में दिख रहे हैं। फोटो शेयर करते हुए नुसरत ने एक कैप्शन भी लिखा है। नुसरत ने लिखा, अच्छा लगता है जब आपको एक ऐसा शख्स मिल जाता है जिसे पर जीवनभर परेशान कर सकें’।
    नुसरत जहां और निखिल जैन ने 19 जून को तुर्की की राजधानी इस्तांबुल में हिंदू रीति रिवाज से शादी की थी। इसके दो दिन बाद यानी 21 जून को दोनों ने क्रिश्चियन तरीक से भी शादी कर ली। दोनों की शादी की तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई थीं। (जागरण)

     

सेहत/फिटनेस

  • ब्राउन राइस के नाम पर आप खा रहे हैं सुपर पॉलिश्ड चावल, शुगरफ्री का दावा भी गलत
    ब्राउन राइस के नाम पर आप खा रहे हैं सुपर पॉलिश्ड चावल, शुगरफ्री का दावा भी गलत

    कामिनी मथाई 
    नई दिल्ली, 26 जून । अनपॉलिश्ड माने जाने वाले महंगे और पैकेज्ड ब्राउन राइस हकीकत में सफेद हो सकते हैं और काफी पॉलिश किए हुए भी। इसके अलावा, कथित तौर पर डायबीटिक फें्रडली यानी शुगर के मरीजों के लिए बेहतर कहे जाने वाली वराइटी भी आधा उबले हुए चावल हैं। मद्रास डायबीटिक रिसर्च फाउंडेशन के फूड साइंटिस्टों ने सुपर मार्केट के 15 तरह के, हेल्दी, चावलों का टेस्ट किया। टेस्ट के नतीजे चौंकाने वाले थे। ज्यादातर मामलों में पैकेट पर जिन दावों का जिक्र किया गया, वे हकीकत से कोसों दूर पाए गए। 
    एमडीआरएफ की फूड ऐंड न्यूट्रिशन रिसर्च साइंटिस्ट सुधा वासुदेवन हाल ही में जर्नल ऑफ डायबीटॉलजी में प्रकाशित एक स्टडी की सह-लेखिका हैं। उन्होंने बताया, हमारे पास काफी संख्या में डायबीटिक मरीज चावल की नई वराइटीज के साथ आ रहे थे, जिनके बारे में जीरो कोलेस्ट्रॉल और शुगरफ्री होने का दावा किया जा रहा था। ऐसे में हमने फैसला किया कि ऐसे लोकप्रिय चावलों में से 15 की जांच की जाए।
    सबसे चौंकाने वाला नतीजा ब्राउन राइस के एक ब्रैंड का रहा, जिसका दावा था कि उसका ग्लिसेमिक इंडेक्स (जीआई) महज 8.6 है। वासुदेवन बताती हैं कि इंटरनैशनल त्रढ्ढ टेबल में किसी चावल में इतने कम जीआई का आजतक कभी कोई जिक्र ही नहीं आया है। चावल में निम्नतम जीआई करीब 40 के आस-पास पाया गया है। दरअसल, जीआई किसी खाद्य पदार्थ में कार्बोहाइड्रेट का स्तर बताता है। कार्बोहाइड्रेट से खून में ग्लूकोज का स्तर प्रभावित होता है। कम जीआई वाले खाद्य पदार्थ सेहत के लिए अच्छे माने जाते हैं। 55 से नीचे जीआई को कम माना जाता है। 44-69 जीआई को मध्यम और 70 से ऊपर को उच्च माना जाता है। कम जीआई वाले खाद्य पदार्थ न सिर्फ ब्लड शुगर घटाते हैं, बल्कि हृदय से जुड़ी बीमारियों और टाइप 2 डायबीटीज का भी खतरा कम करते हैं। दाल और सब्जियों में कम जीआई होता है, जबकि अनाजों में जीआई का स्तर आम तौर पर मध्यम होता है। 
    स्टडी की एक और को-ऑथर एमडीआरएफ की फूड साइंटिस्ट शोभना शनमुगम ने बताया, जांच में चावल को आधा उबला हुआ ब्राउन राइस पाया गया। ये चावल अनपॉलिश्ड नहीं थे। आधे उबले होने की वजह से उनका कलर ब्राउन था। पकाते वक्त ये चावल और ज्यादा पानी सोखते हैं, जिससे उनमें स्टार्च का स्तर बढ़ता है। नतीजतन जीआई का स्तर भी बढ़ जाता है। 
    वासुदेवन कहती हैं कि यह समझने की जरूरत है कि सभी ब्राउन राइस में कम जीआई होता है, जरूरी नहीं है। उन्होंने बताया, एक गलत धारणा है कि हाथ से कूटे गए चावल हेल्दी होते हैं, लेकिन जांच में पता चला कि इनमें भी करीब पॉलिश्ड वाइट राइस जितना ही जीआई है। वासुदेवन ने बताया कि ब्रान में काफी फैट होता है और इसे पकाना थोड़ा कठिन होता है। यही वजह है कि भारतीय इन्हें देर तक पकाते हैं। ब्राउन राइस में काफी पानी डाल देते हैं, जिसकी वजह से ब्रान लेयर टूट जाता है। एमडीआरएफ की सलाह है कि ब्राउन राइस को पकाते वक्त चावल और पानी का अनुपात 1:3 के बजाय 1:1.5 रखना चाहिए। 
    वासुदेवन ने बताया कि कम पॉलिश किए गए चावलों में हाई जीआई होता है। उन्होंने कहा, आधे उबले हुए चावल भी पॉलिश्ड हैं, इसलिए वे उतने हेल्दी नहीं हैं। चावल को आधा इसलिए उबाला जाता है ताकि उसमें विटमिन बी बढ़ सके और ज्यादा वक्त तक खराब न हो, लेकिन इससे जर्म और ब्रान का लेयर हट जाता है जिस वजह से जीआई बढ़ जाता है। 
    शुगरफ्री और जीरो कोलेस्ट्रॉल के दावे भी हकीकत से दूर हैं। जीरो कोलेस्ट्रॉल का दावा भ्रामक है। जहां तक शुगरफ्री चावल का दावा है तो शोभना ने बताया कि चावल में जो स्टार्च होता है, वह पाचन के वक्त ग्लूकोज में बदल जाता है। इस तरह कोई भी चावल शुगरफ्री हो ही नहीं सकता। 
    इसलिए पैकेट पर छपे दावों पर मत जाइए और याद रखिए कि चावल को उचित मात्रा में ही खाएं। खासकर शुगर के मरीज जीरो कोलेस्ट्रॉल और शुगरफ्री जैसे दावों की बातों में न आएं। (टाईम्स न्यूज)
     

     

खेल

  •  इंटरनेशनल ड्यूस बॉल क्रिकेट फेस्टिवल  में छग के खिलाडिय़ों का उत्कृष्ठ प्रदर्शन
    इंटरनेशनल ड्यूस बॉल क्रिकेट फेस्टिवल में छग के खिलाडिय़ों का उत्कृष्ठ प्रदर्शन

    छत्तीसगढ़ संवाददाता
    रायपुर, 26 जून।
    विंग स्पोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड व नेपाल क्रिकेट संघ के संयुक्त तत्वाधान में 19 से 23 जून तक इंटरनेशनल क्रिकेट मैदान पोखरा, नेपाल में आयोजित इंटरनेशनल ड्यूस बॉल क्रिकेट फेस्टिवल में छत्तीसगढ़ के 4 खिलाडिय़ों की भागीदारी में इंडिया टीम विजेता रहा। स्पर्धा में चार टीमें शामिल रही। स्पर्धा का फाइनल मुकाबला भारत ए और नेपाल बी टीम के मध्य खेला गया । जिसमें इंडिया टीम विजेता रही।  
     छत्तीसगढ़ के यश पटेल ने विकेटकीपर पूरे प्रतियोगिता में शानदार योगदान दिया। इस प्रतियोगिता में मैन ऑफ द सीरीज कप्तान दक्ष को दिया गया, बेस्ट गेंदबाज छत्तीसगढ़ के पवन कुमार पनिका को, बेस्ट विकेटकीपर छत्तीसगढ़ के यश पटेल को दिया गया, बेस्ट अमेजिंग कैच छत्तीसगढ़ के सत्यप्रकाश डहरिया को दिया गया। बेस्ट फील्डर धर्मेश नायक को दिया गया।
    विजेता खिलाडिय़ों को छत्तीसगढ़ टेनिस क्रिकेट संघ के अध्यक्ष राकेश चतुर्वेदी, डॉ प्रकाश ठाकुर, रायपुर जिला टेनिस क्रिकेट संघ के अध्यक्ष अखिलेश सिंह, राज कुमार सिंह ठाकुर, संजय पांडे, अशोक सिंह राजपूत, भारत सिंह सिसोदिया, डॉ जी.एस. वैष्णव, जितेंद्र सुराना, सुबोध राठी,  एस. आर.कर्ष, आदित्य सिंह ठाकुर, राजेश लहरी, शान्तनु सिंह आदि ने बधाई दिए। 

     

     

     

कारोबार

  • मैट्स में शिक्षकों के लिए पायथन कार्यशाला
    मैट्स में शिक्षकों के लिए पायथन कार्यशाला

    मैट्स में शिक्षकों के लिए पायथन कार्यशाला

    रायपुर, 25 जून। मैट्स स्कूल ऑफ इंफार्मेशन टेक्नोलॉजी, मैट्स विश्वविद्यालय में रायपुर के आईआईटी बॉम्बे दूरस्थ केंद्र पर शिक्षकों के लिए पायथन विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। यह कार्यशाला पं. मदन मोहन मालवीय मिशन ऑन टीचर्स एंड टीचिंग, मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा पोषित है। यहां शिक्षकों के लिए पायथन प्रोग्रामिंग भाषा से सम्बंधित जानकारी को ऑनलाइन आईआईटी बाम्बे शिक्षाविदों द्वारा दिया गया। इसमें छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिले कांकेर, रायगढ़, बिलासपुर आदि जगहों में संचालित हो रहे स्कूल के शिक्षकों ने भाग लिया। कार्यशाला के प्रमुख वक्ता प्रो. कन्नन मौद्गल्य, प्रमुख निरीक्षक, टीएलसी (आईसीटी), स्पोकन टुटोरियल और फोसी प्रोजेक्ट टीम सदस्य उपस्थित रहे। इस अवसर पर कुलाधिपति गजराज पगारिया ने हर्ष व्यक्त कर आश्वासन दिया कि राज्य में शिक्षा के उन्नयन के प्रति मैट्स विवि सदैव समर्पित रहेगा। 

     

फोटो गैलरी


विडियो गैलरी