सेहत-फिटनेस

जानिए लूफा इस्तेमाल करने के ये 5 फायदे, हटाता है डेड स्किन
25-Jun-2021 12:36 PM (144)
जानिए लूफा इस्तेमाल करने के ये 5 फायदे, हटाता है डेड स्किन

 

बहुत सारे लोग नहाते समय बॉडी क्लीनिंग के लिए लूफा का इस्तेमाल करते हैं. लेकिन इसके इस्तेमाल का सही तरीका नहीं जानते हैं. जिसकी वजह से शरीर को वो फायदे नहीं मिल पाते हैं जो कि मिलने चाहिए. अब आप सोच रहे होंगे कि लूफा के इस्तेमाल से भला क्या फायदे हो सकते हैं. तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लूफा इस्तेमाल करने के कई सारे फायदे होते हैं. आइये जानते हैं इसके बारे में.

ब्लड सर्कुलेशन बेहतर बनाता

नहाते समय लूफा का इस्तेमाल करने से बॉडी में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है. जब आप लूफा के ज़रिये अपने स्किन की क्लीनिंग करते हैं तो ये स्क्रब के तौर पर बॉडी मसाज का काम करता है जो ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाता है. इससे स्किन में कसाव आता है जिससे स्किन में चमक भी बढ़ती है.

डेड स्किन हटाता

लूफा बॉडी के डेड स्किन सेल्स को हटाकर नए सेल्स बनाने में मदद करता है. इससे स्किन कोमल और मुलायम होती है साथ ही इससे स्किन में ग्लो भी आता है.

बॉडी क्लीन कर स्किन पोर्स खोलता 

पसीने और धूल-मिट्टी की वजह से बॉडी पर गंदगी जमा हो जाती है. लूफा इस गंदगी को हटाकर स्किन को क्लीन करता है. इससे स्किन पोर्स भी खुलते हैं जिसकी वजह से मुंहासे और दाने जैसी दिक्कत भी नहीं होती है.

बॉडी के बैक पार्ट्स क्लीन करता

नहाते समय बॉडी के बैक पार्ट्स को अच्छी तरह से अपने हाथों से क्लीन करना बहुत मुश्किल होता है. क्योंकि वहां हाथ पहुंचना आसान नहीं होता है. खासकर पीठ पर. लूफा आपकी बॉडी के बैक पार्ट्स को भी अच्छी तरह से क्लीन करता है. जिससे गंदगी के साथ बैक्टीरिया भी दूर होते हैं.

ऐसे करें इस्तेमाल

ड्राई लूफा को बॉडी पर कभी इस्तेमाल न करें. इससे स्किन रगड़ सकती है और रैशेज़ हो सकते हैं. लूफा को इस्तेमाल करने से पहले इसको सबसे पहले पानी से भिगो लें. जब ये अच्छी तरह से भीग जाये तब इस पर थोड़ा सा लिक्विड बॉडी वॉश लगाएं. फिर इसके ज़रिये अपनी बॉडी को हल्के हाथों से स्क्रब करें. अगर आप लिक्विड बॉडी वॉश का इस्तेमाल नहीं करते हैं तो आप पहले बॉडी पर बाथ सोप लगा लें फिर इससे पूरी बॉडी को स्क्रब करें.

लूफा के इस्तेमाल में बरतें ये सावधानियां

नहाने के बाद लूफा को अच्छी तरह से धोकर सूखने रख दें वरना इस पर फंगस होने और बैक्टीरिया पनपने का खतरा होता है.

हर हफ्ते लूफा को डिटॉल या सेवलॉन के पानी से ज़रूर साफ़ करें.

अगर आप नेचुरल लूफा का इस्तेमाल करते हैं तो इसको हर महीने बदलना न भूलें.

अगर प्लास्टिक का लूफा इस्तेमाल करते हैं तो इसको दो-तीन महीने पर ज़रूर बदल दें.

अपने लूफा को किसी और के साथ कभी शेयर न करें.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.) (news18.com)

अन्य पोस्ट

Comments