ताजा खबर

Online Fraud का शिकार हुए महाराजगंज सांसद जनार्दन सिग्रीवाल, लगी 89 लाख की चपत
22-Jul-2021 8:47 AM (31)
Online Fraud का शिकार हुए महाराजगंज सांसद जनार्दन सिग्रीवाल, लगी 89 लाख की चपत

-MITHILESH KUMAR SINGH

साहेबगंज/पटना. बिहार के महाराजगंज सांसद जनार्दन सिग्रीवाल साइबर फ्रॉड का शिकार हो गए हैं. वह भी एक-दो लाख नहीं, पूरे 89 लाख की ठगी साइबर अपराधियों ने कर ली है. दरअसल, सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल का चेक क्लोन कर शातिर ठग ने खाते से 89 लाख रुपए निकाल लिए. अवैध निकासी के मामले में तलबन्ना निवासी अतुल शक्ति नामक युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बताया जाता है कि इस मामले को लेकर बिहार से पुलिस निरीक्षक विनायक कृष्ण के नेतृत्व में पुलिस अधिकारी और पुलिस बल के साथ एक टीम बनाई. कार्रवाई करते हुए पुलिस ने साहेबगंज रेलवे स्टेशन परिसर से आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है.

बताया जा रहा है कि आरोपी युवक कोलकाता में रहता था और बुधवार सुबह किसी ट्रेन से साहेबगंज पहुंचा था. इसकी भनक पुलिस को पहले से थी. पुलिस पहले से ही चौकन्नी थी और उक्त युवक को गिरफ्तार करने में सफलता भी मिली. क्योंकि मामला सांसद से ठगी का है इसलिए पुलिस मामले में मुंह खोलने को तैयार नहीं है.

आरोपी को पटना लेकर पहुंची पुलिस

इधर, देर शाम पटना से आयी टीम ने इस मामले में साहेबगंज एसपी अनुरंजन किस्पोट्टा से मुलाकात की. मामले में आने वाली पेंचिदिगियों पर मंत्रणा की गयी. इसके बाद गिरफ्तार आरोपी को अपने साथ लेकर टीम पटना के लिए रवाना हो गई. मालूम हो कि मंगलवार को ही शहर के प्रसिद्ध चिकित्सक डॉ.आरएन राय से साइबर अपराधियों ने लगभग 5 लाख 90 हजार की ठगी कर ली थी. पुलिस अभी इस मामले से निपटती भी नहीं थी कि दूसरा मामला सामने आ गया है. इस संबंध में साहृेबगंज एसपी अनुरंजन किस्पोट्टा ने बताया कि सांसद सिग्रीवाल के खाते से अवैध निकासी मामले में तकनीकी सबूत के आधार पर गिरफ्तारी हुई है. गिरफ्तार व्यक्ति को ट्रांजिट रिमांड पर पटना पुलिस अपने साथ ले गयी.

लतेहार में नाबालिग से दुष्कर्म

ज़िले के मनिका थाना क्षेत्र में एक 14 वर्षीय नाबालिग लड़की का अपहरण किए जाने के बाद उसके साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है. इस अपराध को ​कथित तौर पर तीन लोगों ने अंजाम दिया, जिनमें से किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हो सकी थी. मंगलवार रात तक पुलिस ने पीड़िता की शिकायत और शिनाख्त के बावजूद मामला तक दर्ज नहीं किया था. पीड़िता के परिजनों की शिकायत यह भी है कि आरोपी लगातार पूरे परिवार को धमकी दे रहे हैं. इस पूरे मामले पर कुछ कहने से भी पुलिस बचती दिखी.
 पीड़िता के परिजनों ने बताया कि भयानक वारदात को अंजाम देने के बाद तीनों आरोपी लड़की को बेहोशी की हालत में अर्धनग्न छोड़कर भाग गए थे. घरवालों ने खोजबीन करते हुए लड़की को इस हाल में एक खेत में पाया. होश में आने पर लड़की ने आपबीती बताई कि एक लड़के ने उसके साथ दुष्कर्म किया जबकि बाकी दो ने उसे जबरन पकड़कर रखा था. लड़की ने मुख्य आरोपी के रूप में बीरेंद्र यादव का नाम लिया जबकि बाकी दो को चेहरा ढंका होने के कारण वह पहचान नहीं सकी. (news18.com)

अन्य पोस्ट

Comments