ताजा खबर

गहलोत-पायलट कैंप में और बढ़ी तल्खी, अश्लील वीडियो कॉल और हनी ट्रैप की एंट्री
15-Sep-2021 10:53 AM (31)
गहलोत-पायलट कैंप में और बढ़ी तल्खी, अश्लील वीडियो कॉल और हनी ट्रैप की एंट्री

-भवानी सिंह

जयपुर. राजस्थान में सचिन पायलट और अशोक गहलोत गुट में सियासी लड़ाई अब एक दूसरे को बदनाम करने तक जा पहुंची है. पायलट गुट के विधायक वेद प्रकाश सोलंकी ने आरोप लगाया कि उन्हें दबाने और बदनाम करने के लिए अश्लील विडियो कॉल करवाए जा रहे है. सोलंकी का कहना है कि पुलिस में वे केस भी दर्ज करवा चुके है. दूसरी तरफ गहलोत गुट पंचायत चुनाव में जयपुर में हार के लिए सोंलकी के खिलाफ कार्रवाई के लिए पार्टी हाईकमान को लिख चुका है. राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के करीबी और चाकसू से कांग्रेस विधायक वेद प्रकाश सोंलकी ने गहलोत गुट पर हमला बोला है.

वेद प्रकाश सोलंकी ने आरोप लगाया है कि उन्हें दबाने के लिए अब बदनाम करने की साजिश की जा रही है. अश्लील वीडियो कॉल करवाकर हनी ट्रैप में फंसाने की कोशिश हो रही है. सोंलकी ने बिना नाम लिए गहलोत कैंप पर आरोप लगाया कि इस मामले में डेढ़ महीने पहले जयपुर में केस दर्ज करवाया गया था. लेकिन कार्रवाई नहीं की जा रही है.

बीजेपी को सोंलकी के आरोप के बाद कांग्रेस की कलह पर तंज कसने को मौका मिल गया है. बीजेपी विधायक वासुदेव देवनानी ने कहा कि गहलोत सरकार बचाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है. दूसरी तरफ गहलोत कैंप के कांग्रेस विधायकों ने भी कहा कि ये गंभीर आरोप है. जांच होनी चाहिए.

दरअसल, गहलोत और पायलट कैंप के बीच दरार तब और बढ़ी जब पिछले महीने ही पंचायत चुनाव में जयपुर के जिला प्रमुख का चुनाव कांग्रेस के हारने के लिए पायलट कैंप को जिम्मेदार ठहराया गया. खुद गहलोत समेत कई मंत्रियों ने आरोप लगाया कि बीजेपी से मिलभगत कर पीठ में छुरा भोंका गया. जिला प्रमुख चुनाव में दो सदस्यों के बगावत कर बीजेपी में शामिल होने के लिए पायलट के करीबी वेद प्रकाश सोलंकी को जिम्मेदार ठहराया गया. कांग्रेस की राजस्थान इकाई ने सोंलकी के खिलाफ कार्रवाई की सिफारिश की है. उसके बाद दोनों गुट फिर आमने-सामने हो गए है. (news18.com)

अन्य पोस्ट

Comments