राष्ट्रीय

बंगाल भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार को मिली 'जेड' श्रेणी की सुरक्षा
25-Sep-2021 9:12 PM (74)
बंगाल भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार को मिली 'जेड' श्रेणी की सुरक्षा

 कोलकाता, 25 सितंबर | पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास के पास दिवंगत भाजपा नेता धुर्जटि साहा के शव के साथ नवनियुक्त प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार के नेतृत्व में प्रदर्शन किए जाने के दौरान कोलकाता पुलिस द्वारा कथित रूप से हाथापाई किए जाने के कुछ दिनों बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शनिवार को बालुरघाट से सांसद सुकांत मजूमदार को 'जेड' श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराई। मजूमदार ने मीडिया से बात करते हुए सुरक्षा आवंटन की पुष्टि की और कहा, "मुझे गृह मंत्रालय से एक पत्र मिला है, जिसमें मुझे बताया गया था कि मुझे 'जेड' श्रेणी की सुरक्षा दी गई है।"

यह पूछे जाने पर कि क्या खतरे की आशंका के कारण उच्च सुरक्षा प्रदान की गई, मजूमदार ने कहा, "यह मैं नहीं कह सकता, क्योंकि मैंने कभी किसी प्रकार की सुरक्षा नहीं मांगी है। यहां आने से पहले भी मैं अपनी स्कूटी पर बाजार जाता था।"

उत्तर बंगाल के भाजपा नेता के लिए सुरक्षा बढ़ाना महत्वपूर्ण है, क्योंकि गुरुवार को उन्हें राज्य सुरक्षा बलों द्वारा जबरदस्ती खींच लिया गया था, जब उन्होंने उस वाहन के सामने बैठने की कोशिश की, जो साहा का शव ले जा रहा था।

साहा मगरहाट पश्चिम से भाजपा उम्मीदवार थे और चुनाव हार गए थे। उन्हें 2 मई को, यानी विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित किए जाने के दिन तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने कथित तौर पर पीटा था। उन्होंने बीते बुधवार को दम तोड़ दिया।

राज्य सरकार की आलोचना करते हुए मजूमदार ने कहा, "राज्य आतंकवादियों का अड्डा बन गया है। वे अच्छी तरह जानते हैं कि वे यहां बिना किसी समस्या के रह सकते हैं। कोई उन्हें परेशान नहीं करेगा और वे बहुत आसानी से अपनी आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे सकते हैं।"

मजूमदार को राज्य के सभी भाजपा नेताओं में सर्वोच्च स्तर की सुरक्षा प्रदान की गई है। उन्हें चार से छह एनएसजी कमांडो समेत कम से कम 22 सुरक्षाकर्मी कवर करेंगे और उनके काफिले में कम से कम पांच वाहन होंगे।

मजूमदार के पूर्ववर्ती दिलीप घोष को 'वाई' श्रेणी की सुरक्षा दी गई थी, जो विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी के समान थी।

भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, "गुरुवार की घटना के बाद केंद्र कोई जोखिम नहीं लेना चाहता था और इसलिए उसने प्रदेश अध्यक्ष को भारी सुरक्षा मुहैया कराई है।"(आईएएनएस)

अन्य पोस्ट

Comments