राष्ट्रीय

चक्रवात गुलाब का उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश और दक्षिण तटीय ओडिशा में लैंडफॉल शुरू, मौसम विभाग ने दी जानकारी
26-Sep-2021 8:19 PM (48)
चक्रवात गुलाब का उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश और दक्षिण तटीय ओडिशा में लैंडफॉल शुरू, मौसम विभाग ने दी जानकारी

नई दिल्ली,  26 सितम्बर: चक्रवात गुलाब का उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश और दक्षिण तटीय ओडिशा में लैंडफॉल शुरू हो गया है. मौसम विभाग ने रविवार को यह जानकारी दी. चक्रवात के प्रभाव से के दक्षिण एवं तटीय क्षेत्रों में रविवार से बारिश शुरू हो गयी है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि चक्रवात अगले तीन घंटों में आंध्र प्रदेश के कलिंगपट्टनम और ओडिशा के गोपालपुर के बीच तटों को पार करेगा.

मौसम विभाग ने ट्वीट किया, 'आईएमडी ने एक बयान में कहा, ''नवीनतम मौसम संबंधी टिप्पणियों के अनुसार, बादल तटीय क्षेत्रों पर छा गए हैं और इस तरह उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश और इससे सटे दक्षिण तटीय ओडिशा में चक्रवात की प्रक्रिया शुरू हो गई है.'' चक्रवात अगले तीन घंटों के दौरान कलिंगपट्टनम और गोपालपुर के बीच, कलिंगपट्टनम के उत्तर में लगभग 25 किमी उत्तर में तटों को पार करेगा.'

एक अधिकारी ने कहा कि तट से टकराने के दौरान चक्रवात की हवा की गति लगभग 90 किमी प्रति घंटे है. इस बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को फोन किया और उन्हें चक्रवात से उत्पन्न चुनौतियों का सामना करने के लिए केंद्र से सभी प्रकार के समर्थन का आश्वासन दिया.

ओडिशा में चक्रवात ‘गुलाब' के दस्तक देने से कुछ घंटे पहले मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने रविवार को राज्य के संवेदनशील जिलों में ‘‘किसी के भी हताहत न होने'' का लक्ष्य तय किया. भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बताया कि मई में तबाही मचाने वाले ‘यास' तूफान के बाद चार महीनों में राज्य में आया यह दूसरा तूफान है. इसके आधी रात के करीब गोपालपुर और आंध्र प्रदेश में कलिंगपत्तनम के बीच दस्तक देने की संभावना है.

विभाग ने बताया कि यह तूफान गोपालपुर से करीब 125 किलोमीटर दक्षिणपूर्व और कलिंगपत्तनम से 160 किलोमीटर पूर्व में स्थित है. तूफान समुद्र में 18 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से बढ़ रहा है.

आईएमडी ने ‘रेड मैसेज' (बहुत अधिक वर्षा का संदेश) जारी करते हुए कहा, ‘‘आज रात इसके पश्चिम की ओर बढ़ने तथा उत्तरी आंध्रप्रदेश एवं दक्षिण ओड़िशा तट को पार करने की संभावना है. इस दौरान 75-85 किलोमीटर प्रति घंटे से लेकर 95 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक तूफान चल सकता है. रविवार देर शाम यह प्रक्रिया शुरू हो जाएगी.''  (ndtv.in)

अन्य पोस्ट

Comments