साहित्य/मीडिया

"क्या करूँ संवेदना लेकर तुम्हारी क्या करूँ ?
19-Oct-2021 8:22 PM (137)

मैं दुखी जब-जब हुआ, संवेदना तुमने दिखाई

मैं कृतज्ञ हुआ हमेशा, रीति दोनों ने निभाई,
किंतु इस आभार का अब हो उठा है बोझ भारी;
क्या करूँ संवेदना लेकर तुम्हारी क्या करूँ ?"
                               ~ हरिवंश राय बच्चन

अन्य पोस्ट

Comments