अंतरराष्ट्रीय

चीनः 'छोटी आंखों' की तस्वीर पर फोटोग्राफर को क्यों मांगनी पड़ी माफ़ी?
25-Nov-2021 12:51 PM (203)
चीनः 'छोटी आंखों' की तस्वीर पर फोटोग्राफर को क्यों मांगनी पड़ी माफ़ी?

महिला की तस्वीर जिस पर विवाद हुआ, इमेज स्रोत,CHEN MAN/DIOR

चीन में 'छोटी आंखों' की तस्वीर पर विवाद होने पर फ़ैशन फोटोग्राफर को माफ़ी मांगनी पड़ी है. ये तस्वीर लग्ज़री ब्रांड डियोर के लिए खींची गई थी.

फोटोग्राफ़र चेन मैन की इस तस्वीर में एक महिला को दिखाया गया है. चीन के लोगों का कहना है कि ये तस्वीर पश्चिमी देशों के चीन के प्रति पूर्वाग्रहों को प्रदर्शित करती है.

तस्वीर पर हुए विवाद के बाद माफ़ी मांगते हुए फोटोग्राफर चेन ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म वीबो पर लिखा, "मैं अपनी अपरिपक्वता और लापरवाही के लिए ख़ुद को ज़िम्मेदार मानती हूं."

उधर डियोर का कहना है कि हाल ही में शंघाई प्रदर्शनी में लगाई गई इस तस्वीर को अब हटा लिया गया है.

बुधवार शाम अपने वीबो अकाउंट पर बयान जारी करते हुए फैशन ब्रांड डियोर ने कहा, "डियोर, हमेशा की तरह चीन के लोगों की भावनाओं का सम्मान करता है. यदि कोई गलतियां हुई हैं तो हम उन्हें स्वीकारने और सही करने को लेकर खुले विचार रखते हैं."

डियोर ने अपने बयान में ये भी कहा है कि ये तस्वीर कोई व्यवसायिक विज्ञापन नहीं थी बल्कि एक आर्टवर्क थी.

ये तस्वीर सबसे पहले 12 नवंबर को प्रदर्शनी में लगाई गई थी. इसे लेकर पहले चीन के सोशल मीडिया पर लोगों ने गुस्सा ज़ाहिर किया और फिर मुख्यधारा की मीडिया में इसकी आलोचना की गई.

बीजिंग डेली में प्रकाशित एक संपादकीय में कहा गया कि इस तस्वीर की मॉडल का चेहरा उदास था और आंखें 'भयावह' थीं. लेख में कहा गया, "फोटोग्राफर या तो ब्रांड की मांग को पूरा कर रही हैं या फिर सौंदर्य के पश्चिमी दुनिया के मानकों को ध्यान में रख रही हैं."

"सालों से एशियाई महिलाओं को छोटी आंखों के साथ दिखाया जाता रहा है. ये सौंदर्य का पश्चिमी नज़रिया है. लेकिन कला और सौंदर्य को सराहने के चीनी तरीकों को इससे विकृत नहीं किया जा सकता है."

इसी बीच चाइना विमेंस न्यूज़ की एक टिप्पणी में कहा गया है कि इस तस्वीर में महिला की इकहरी सूजी हुई पलकें देखकर बहुत लोग असहज हुए हैं.

इंटरनेट पर चीन के कुछ लोगों का ये भी कहना था कि ये तस्वीरें फोटोग्राफर चेन की साल 2012 में आई-डी मैग्ज़ीन के लिए खींची गई तस्वीरों की श्रंखला की याद दिलाती हैं.

सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने वालों का कहना है कि ये तस्वीरें चीन की महिलाओं का अपमानजनक प्रदर्शन है क्योंकि इनमें उनका रंग साफ़ नहीं है और आंखें बड़ी-बड़ी और गोल नहीं हैं. चीन में बहुत सी महिलाएं अपनी ऐसी आंखों पर गर्व करती हैं.

अन्य लोगों का कहना है कि ये तस्वीरें चीन के लोगों की पूर्वाग्रहों और नस्लवाद से ग्रस्त छवि पेश करती हैं. लेकिन सभी लोग इन तर्कों से सहमत नहीं है. कुछ लोग खुलकर फोटोग्राफर चेन के समर्थन में आ गए हैं.

उनका कहना है कि "छोटी आंखों वाली चीन की महिलाओं को सुंदर क्यों नहीं माना जाना चाहिए. हमें इससे कोई समस्या नहीं है."

बुधवार को जारी बयान में चेन मैन ने कहा है कि उन्होंने बहुत गंभीरता से अपने काम पर विचार किया और नकारात्मक टिप्पणियों को पढ़ा. इसके बाद उन्हें अहसास हुआ कि उन्हें माफ़ी मांगनी चाहिए.

चेन ने कहा, "मैं चीन में पैदा हुई हूं और यहीं पली-बढ़ी हूं. मैं अपने देश को बहुत प्यार करती हूं. एक कलाकार के तौर पर मैं चीन की संस्कृति को दर्ज करने और अपने काम के ज़रिए चीन की सुंदरता को दिखाने की अपनी ज़िम्मेदारी को समझती हूं."

"मैं चीन के इतिहास को लेकर अपने आप को शिक्षित करूंगी, इससे जुड़े अधिक इवेंट में हिस्सा लूंगी और अपनी विचारधारा को सुधारूंगी. मैं अपने काम के ज़रिए चीन की कहानी को दिखाने की पूरी कोशिश करूंगी."

चेन मैन चीन की फ़ैशन दुनिया की एक चर्चित फोटोग्राफर हैं. उन्होंने कई शीर्ष पत्रिकायों के कवर के लिए तस्वीरें खींची हैं और डेविड बैकहम औ फैन बिंगबिंग जैसे स्टार के प्रोफ़ाइल तैयार किए हैं. (bbc.com)

अन्य पोस्ट

Comments