ताजा खबर

मवेशी काटने के आरोप में 3 बंदी
25-Nov-2021 3:15 PM (112)
मवेशी काटने के आरोप में 3 बंदी

कड़ी कार्रवाई की मांग को ले हिंदू संगठनों का बसना बंद
‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
पिथौरा, 25 नवंबर।
बसना में एक मवेशी काटते हुए वीडियो वायरल होने के बाद गुरुवार को हिंदू संगठनों ने बसना बंद का आह्वान किया है। लिहाजा आज बसना पूरी तरह बंद है। दूसरी ओर बसना पुलिस ने वायरल वीडियो की पड़ताल कर घटना में शामिल तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर धारा 4 , 6 एवं 10 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार बुधवार को एक मवेशी काटते वीडियो बसना क्षेत्र में वायरल हुआ था। जिस पर बसना के भाजपा नेता रामचंद्र अग्रवाल एवं कुछ हिन्दू संगठनों ने बसना पुलिस को वायरल वीडियो दिखा कर कार्रवाई की मांग की थी, परन्तु बसना पुलिस ने वायरल वीडियो की शिनाख्त कर तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर उन पर मात्र प्रतिबंधात्मक कार्रवाई कर पेश किया, जिससे सभी आरोपी जमानत पर कल ही छूट गए थे।

इस संबंध में भाजपा नेता रामचंद्र अग्रवाल ने बताया कि आरोपियों पर बसना पुलिस द्वारा मामूली कार्रवाई करने के कारण वे और कुछ हिन्दू संगठन पुन: थाना पहुंचे और पुलिस से आरोपियों पर सही कार्रवाई करने की मांग करते हुए शहर बंद का आह्वान कर दिया।
तीनो आरोपी गिरफ्तार-बसना पुलिस

दूसरी ओर बसना नगर बंद के बीच बसना पुलिस ने आज सुबह ही एक विज्ञप्ति जारी कर उक्त मामले में शामिल तीन आरोपियों को गिरफ्तार करने की जानकारी दी। विज्ञप्ति के अनुसार संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि 24 नवंबर को व्हाट्सएप में एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें कुछ लोग एक पशु को काटते हुए दिखे। उक्त विडियो थाना बसना क्षेत्र का होने से पुलिस द्वारा तत्काल संज्ञान लेते हुए आसपास क्षेत्र में पता किया गया, तब  ज्ञात हुआ कि उक्त वीडियो में बसना थाना के रहने वाले वि_ल उर्फ छोटा व धरमु बंदे हंै व इस दौरान यह भी पता चला कि उनके साथ उक्त कृत्य में आलेख रौतिया भी हैं। जिस पर थाना बसना में अजमानतीय धारा 429, 34 भादवि एवं छत्तीसगढ़ कृषि पशु परिरक्षण अधिनियम की धारा 4,6,10 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर तीनो आरोपियों की तत्काल गिरफ्तार किया गया व अग्रिम कार्रवाई के लिए न्यायालय पेश किया जा रहा है।

आरोपियों से कड़ाई से पूछताछ की जाए-रामचंद्र
 इधर भाजपा नेता ने पुलिस की विज्ञप्ति पर सवाल उठाते हुए कहा कि पूर्व में प्रतिबंधात्मक चालान के बाद पुलिस ने आनन-फानन में तीन आरोपियों की गिरफ्तार किया, इसके लिए पुलिस बधाई की पात्र है। परन्तु पुलिस को आरोपियों से यह भी पूछताछ की जानी चाहिए कि आखिर वे किसके लिये पशु हत्या कर काट रहे थे। इसके पीछे शामिल लोगों पर भी कार्रवाई की जानी चाहिए।
 

अन्य पोस्ट

Comments