राष्ट्रीय

संयुक्त किसान मोर्चा ने केंद्र को भेजे आंदोलन में मारे गए 702 किसानों के नाम, सरकार ने कहा था- हमारे पास आंकड़ा नहीं
04-Dec-2021 3:15 PM (142)
संयुक्त किसान मोर्चा ने केंद्र को भेजे आंदोलन में मारे गए 702 किसानों के नाम, सरकार ने कहा था- हमारे पास आंकड़ा नहीं

कृषि कानूनों की वापसी के बाद एमएसपी समेत कई अन्य मांगो को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक जारी है. इस बैठक में कई वरिष्ठ किसान नेता भाग लेने पहुंचे हैं. बैठक को लेकर भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा है कि आज की बैठक में एमएसपी, केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी को पद से हटाने की मांग, किसानों पर मुकदमें को वापस लेना और किसानों का मुआवज़ा देने के मुद्दे शामिल हैं. बैठक खत्म करने को लेकर राकेश टिकैत ने कहा कि भारत सरकार जब तक चाहेगी तब तक ये आंदोलन चलता रहेगा. आज की जारी बैठक में इस मुद्दे पर बात हो रही है कि आंदोलन को खत्म किया जाए या इसे आगे बढ़ा दिया जाए.

संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से केंद्र सरकार को उन 702 किसानों के नाम भेजे हैं जिनकी मौत किसान आंदोलन के दौरान हुई है. किसान मोर्चा की ओर से मृतक किसानों की सूची शुक्रवार को कृषि सचिव को भेज दी गई है. इससे पहले सरकार ने संसद में कहा था कि उसके पास आंदोलन के दौरान मृत किसानों का आंकड़ा नहीं है.

संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में क्या-क्या हो सकता है?
1. आज की बैठक में एमएसपी कमिटी के लिए किसान संगठनों की तरफ से पांच नाम तय हो सकते हैं
2. प्रदर्शनकारियों पर लंबित मुकदमों और सरकार के प्रस्तावों पर चर्चा होगी

3. मृत किसानों के मुआवजा को लेकर नए सिरे से मांग उठाई जा सकती है

बता दें कि सरकार और किसानों के बीच कई पेंच फंसे हुए हैं. माहौल के मुताबिक फिलहाल आंदोलन जारी रहने की ही संभावना है.
(abplive)

अन्य पोस्ट

Comments