अंतरराष्ट्रीय

यूक्रेन की राजधानी कीव में भारतीय दूतावास फिर से खुलेगा, रूसी हमले के चलते किया गया था बंद
13-May-2022 9:02 PM
यूक्रेन की राजधानी कीव में भारतीय दूतावास फिर से खुलेगा, रूसी हमले के चलते किया गया था बंद

रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच भारत ने अपना दूतावास 17 मई से कीव में फिर से खोलने का फैसला किया है. रूसी हमलों के दौरान 13 मार्च को भारत ने अपना दूतावास अस्थाई रूप से वारसा (पोलैंड) में स्थानांतरित कर दिया था. विदेश मंत्रालय ने इस बात की जानकारी दी कि आगामी 17 मई से भारत एक बार फिर से यूक्रेन की राजधानी कीव में अपने दूतावास का परिचालन शुरू करेगा. 

कीव में दूतावास का परिचालन फिर से शुरू करने का निर्णय कई पश्चिमी देशों द्वारा यूक्रेन की राजधानी में अपना मिशन दोबारा खोलने के फैसले के बीच आया है. यूक्रेन के खिलाफ रूस के सैन्य अभियान के बाद युद्धग्रस्त देश में तेजी से खराब होते हालात के मद्देनजर भारत ने कीव से दूतावास को पोलैंड स्थानांतरित करने का निर्णय किया था .

रूसी सैनिकों ने मारियुपोल में सबसे ज्यादा हमले किए
आपको बता दें कि राजधानी कीव के बाहरी इलाकों में रूसी सैनिक लगातार गोलाबारी कर रहे थे. उस समय उस इलाके में रूस के आक्रमण से मारियुपोल सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ था. 430,000 आबादी वाले  शहर में लोगों का जीना मुहाल हो गया था. पूरे इलाके में रूसी सैनिकों की गोलीबारी की वजह से स्थानीय लोगों को मूलभूत सुविधाओं से भी महरूम होना पड़ा था. रूसी सैनिकों के हमले में मारियुपोल में 1,500 से अधिक लोग मारे गए थे और शवों को सामूहिक कब्रों में दफनाने के प्रयास भी गोलाबारी के कारण बाधित हो रहे थे.

जेलेंस्की ने रूस पर देश को तोड़ने का आरोप लगाया था
इस बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने रूस पर उनके देश को तोड़ने और ‘‘आतंक के एक नए चरण’’ को शुरू करने और मारियुपोल के पश्चिम में एक शहर के महापौर को हिरासत में लेने का आरोप लगाया था. यूक्रेन के राष्ट्रपति वालोदिमीर जेलेंस्की ने जारी किया था वीडियो. इस वीडियो में संबोधन के दौरान कहा, ‘‘वे मारियुपोल पर 24 घंटे बमबारी कर रहे हैं, मिसाइलें दाग रहे हैं. यह नफरत है. वे बच्चों को मार रहे हैं.’’ (abplive.com)

अन्य पोस्ट

Comments

chhattisgarh news

cg news

english newspaper in raipur

hindi newspaper in raipur
hindi news