ताजा खबर

गरियाबंद में मिट्टी तेल, जाति प्रमाण पत्र, अवैध शराब और गांवों में पानी न मिलने जैसी शिकायतें
07-Dec-2022 4:25 PM
गरियाबंद में मिट्टी तेल, जाति प्रमाण पत्र, अवैध शराब और गांवों में पानी न मिलने जैसी शिकायतें

सीएम बघेल ने कहा शिकायत आना अच्छी बात नहीं, मॉनिटरिंग करें और समस्याओं को सुने 
‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
गरियाबंद/रायपुर, 7 दिसंबर
। सीएम भूपेश बघेल ने गरियाबंद में जिला अफसरों की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने अफसरों से कहा नियमित रूप से शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी लें। योजनाओं की मॉनिटरिंग करें। यह वनांचल क्षेत्र है। यहाँ बहुत काम करने की आवश्यकता है। बिजली, पानी, शिक्षा और स्वास्थ्य के दिशा में बेहतर कार्य करें। उन्होंने जिले में धान खरीदी, गोठान, विद्युत, लो वोल्टेज, सडक़ मरम्मत, स्कूलों में शिक्षक और भवन मरम्मत, पुल पुलिया की जानकारी लेकर जरूरी निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि शिकायत आना अच्छी बात नहीं है। ऐसा काम करें कि शिकायत की गुंजाइश न रहे। महरा जाति प्रमाणपत्र को लेकर आ रही दिक्कतों को दूर करने के निर्देश। अधिकारियों से कहा गया कि सभी जगह में यह समस्या आ रही है।  पिछड़ी जनजाति के भर्ती के लिए मेरिट के आधार पर पदों में भर्ती की सहमति दी है।

 हाट-बाजार क्लिनिक को बहुत छोटे-छोटे बाजार में न कर बड़े बाजार में करने और ओपीडी को बढ़ाने के निर्देश। रीपा में पारंपरिक व्यवसाई  लोहार, कुम्हार सहित अन्य को जोड़े। ये पार्क स्व-सहायता समूह पर ही केंद्रीकृत नहीं होने चाहिए, यह एक्टिविटी उद्योग से संबंधित जैसे दाल, हॉलर मिल जैसे हो। इस उद्योग के संचालन के लिए चयन ऐसे व्यक्ति का करना है जो मार्केटिंग स्किल, रिस्क क्षमता वाला और जुझारू हो। मुख्यमंत्री बघेल ने अधिकारियों से उड़ीसा से लगे क्षेत्रों में अवैध शराब बिक्री पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

बैठक में अधिकारियों से पूछा गया कि मिट्टी तेल पूरे क्षेत्र में जाने की शिकायत कल देवभोग में आई थी, इस पर खाद्य अधिकारी ने बताया 3द्मद्य का उठाव हुआ था। निर्देश दिया गया कि दुकान में मिट्टी तेल जीरो बिल्कुल नहीं होना चाहिए।हर दुकान में स्टॉक मेंटेन होने चाहिए, कोई आये लेने तो उन्हें मिलना चाहिए। देवभोग में 5 गांव में पानी नहीं मिलने की शिकायत की, राशनकार्ड नहीं बना पाए परिवारों का राशनकार्ड की शिकायत दूर करने, बकरी शेड बनाने, पारधी जाति के लोगों के व्यवसाय को प्रोत्साहित करने छिंद के पौधे का रोपण करने के निर्देश दिए। राजस्व और वन भूमि का पट्टा वितरण आवेदनों का निराकरण शीघ्र करने कहा।  

पारंपरिक व्यवसाय करने वाले लोहार, मोची, कुम्हार जैसे लोग पात्र हो सकते हैं ऐसे लोगों को भूमिहीन न्याय योजना से जोड़ें। बघेल ने स्कूल बिल्डिंग की रिपेयरिंग, सडक़ की मरम्मत, धान खरीदी की ली जानकारी। अधिकारी ने बताया कि 86,900 से अधिक किसानों का पंजीयन हुआ है। धान खरीदी के साथ खाते में भुगतान किया जा रहा है। उठाव भी हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा- धान गीला तो नहीं है, इस पर अधिकारी ने बताया कि अभी ऐसा नही है, रिजेक्शन कम है।मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि यहाँ बहुत काम करने की जरूरत है।

अन्य पोस्ट

Comments

chhattisgarh news

cg news

english newspaper in raipur

hindi newspaper in raipur
hindi news