सेहत / फिटनेस

क्या नाश्ता करना सच में फ़ायदेमंद है?

Posted Date : 04-Feb-2019



नाश्ता करना बेशक बहुत ज़रूरी होगा, लेकिन ये आपको वज़न कम करने में मदद नहीं करेगा. एक रिसर्च में ये बात सामने आई है.
जब आप नाश्ता करते हैं तो हर दिन 260 और कैलोरी ले रहे होते हैं. जो लोग नाश्ता नहीं करते उनके मुक़ाबले नाश्ता करने वालों का वज़न आधा किलो बढ़ जाता है.
हालांकि, विशेषज्ञों का कहना है कि ब्रेकफ़ास्ट कैल्शियम और फ़ाइबर का अच्छा स्रोत है.
नाश्ता करने से एकाग्रता और ध्यान लगाने की क्षमता बढ़ती है. बच्चों को ख़ासकर इसका फ़ायदा होता है.
ब्रेकफ़ास्ट से आपको ऊर्जा और ज़रूरी पोषक तत्व मिलते हैं, साथ ही आपको बार-बार खाने की ज़रूरत नहीं होती.
कई अध्ययन ब्रेकफ़ास्ट के फ़ायदे बताते हैं और ये भी बताते हैं कि कैसे सुबह के नाश्ते से हम सेहतमंद बने रह सकते हैं.
लेकिन ऑस्ट्रेलिया की इस नई रिसर्च में नाश्ते और वज़न में बदलाव को लेकर 13 अलग-अलग ट्रायल किए गए.
मोनाश विश्वविद्यालय के इस अध्ययन के नतीजों के आधार पर दावा किया गया कि नाश्ता छोड़ने से फ़ायदा होता है. इसके मुताबिक़ अगर नाश्ता ना किया जाए तो दिन में ली जा रही कुल कैलोरी को कम किया जा सकता है.
अध्ययन में कहा गया कि ब्रेकफ़ास्ट छोड़ने वाले लोग कम कैलोरी लेते हैं. इसमें दावा किया गया कि जो लोग नाश्ता नहीं करते उन्हें दोपहर में भी कम भूख लगती है.
लेकिन वयस्कों को वज़न घटाने के लिए नाश्ता छोड़ने की सलाह देते वक़्त सावधानी बरती जानी चाहिए - क्योंकि इसका उल्टा प्रभाव भी हो सकता है.
हालांकि रिसर्चरों का कहना है कि इस अध्ययन की अपनी सीमाएं हैं.
सेहतमंद नाश्ता करना चाहते हैं तो एक टोस्ट पर एवोकैडो मैश करके खाइए
सेहतमंद नाश्ता क्या होता है?
एनर्जी के लिए - आप गेंहू से बने ब्रेड पर बेक्ड बीन्स रखकर खा सकते हैं.
प्रोटीन के लिए - टोस्ट पर पालक के साथ अंडे की भुर्जी ले सकते हैं या फलों और सूखे मेवों के साथ कम फ़ैट वाला ग्रीक दही ले सकते हैं.
कुछ हल्का-फुल्का खाने के लिए - फल, केला और पालक की स्मूदी ले सकते हैं या टोस्ट पर एवोकैडो मैश करके खा सकते हैं.
इस अध्ययन में भाग लेने वाले लोगों को बहुत कम वक़्त (दो से 16 हफ्तों तक) के लिए फ़ॉलो किया गया. ये भी देखने को मिला कि ब्रेकफ़ास्ट खाने वालों और ना खाने वालों के बीच का कैलोरी अंतर मामूली था.
रिसर्चरों के मुताबिक़ नाश्ता छोड़ने के असर का ठीक तरीक़े से पता लगाने के लिए अभी और रिसर्च किए जाने की ज़रूरत है.
डाइटीशियन और किंग्स कॉलेज लंदन के न्यूट्रिशन साइंस डिपार्टमेंट के प्रमुख प्रोफेसर केविन वेलन कहते हैं कि हमें सुबह ज़्यादा कैलोरी नहीं लेनी चाहिए.
वो कहते हैं, "ये स्टडी ये नहीं कहती कि ब्रेकफास्ट करना सेहत के लिए बुरा है."
"अगर नाश्ते में आप अनाज या दूध लेते हैं तो इससे आपको ज़रूरी पोषक तत्व यानी कैल्शियम और फ़ाइबर मिलता है."
लेकिन ऑस्ट्रेलिया की ये रिसर्च ब्रेकफ़ास्ट के इस पहलू पर रोशनी नहीं डालती.
उन्होंने कहा, "हम यहां ये नहीं बता रहे कि ब्रेकफ़ास्ट मोटापे का कारण है."
(बीबीसी)




Related Post

Comments