ताजा खबर

भाजपा के आदिवासी नेता मोहन माझी ने ओडिशा के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली
12-Jun-2024 10:00 PM
भाजपा के आदिवासी नेता मोहन माझी ने ओडिशा के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली

 

भुवनेश्वर, 12 जून। आदिवासी नेता एवं चार बार के विधायक मोहन चरण माझी ने बुधवार को यहां एक समारोह में ओडिशा के पहले भाजपा मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। शपथग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, कई केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री शामिल हुए।

वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पटनागढ़ से विधायक केवी सिंह देव तथा निमापारा विधानसभा क्षेत्र से पहली बार विधायक बनीं प्रभाती परिदा ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली।

पिछली विधानसभा में भाजपा के मुख्य सचेतक रहे 52 वर्षीय माझी हाल में हुए विधानसभा चुनाव में चौथी बार विधानसभा के लिए चुने गए। उन्होंने क्योंझर विधानसभा क्षेत्र से जीत दर्ज की। वह संथाल समुदाय से संबंध रखते हैं।

जनता मैदान में राज्यपाल रघुबर दास ने माझी और उनकी मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्यों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।

यह पहली बार है जब ओडिशा में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार बनी है।

भाजपा को पहली बार ओडिशा में स्पष्ट जनादेश मिला जिससे नवीन पटनायक के नेतृत्व वाले बीजू जनता दल (बीजद) का 24 साल पुराना शासन खत्म हो गया।

मोदी ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, "यह ओडिशा में एक ऐतिहासिक दिन है! ओडिशा की मेरी बहनों और भाइयों के आशीर्वाद से, भाजपा ओडिशा राज्य में अपनी पहली सरकार बना रही है। मैंने भुवनेश्वर में शपथग्रहण समारोह में भाग लिया।"

उन्होंने कहा, "श्री मोहन चरण माझी को मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने पर और श्री कनक वर्धन (के. वी.) सिंह देव के साथ-साथ श्रीमती प्रभाती परिदा को उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने पर बधाई। मंत्री के रूप में शपथ लेने वाले अन्य लोगों को भी बधाई। महाप्रभु जगन्नाथ के आशीर्वाद से, मुझे विश्वास है कि यह टीम ओडिशा में रिकॉर्ड विकास करेगी और अनगिनत लोगों के जीवन में सुधार लाएगी।''

समारोह में मोदी के अलावा भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह, भूपेन्द्र यादव, धर्मेंद्र प्रधान, जुएल उरांव, अश्विनी वैष्णव और अन्य शामिल हुए।

इस अवसर पर उत्तर प्रदेश, गोवा, राजस्थान, मध्य प्रदेश, असम, गुजरात, छत्तीसगढ़ और उत्तराखंड सहित भाजपा शासित राज्यों के कई मुख्यमंत्री भी उपस्थित थे। समारोह में ओडिशा के निवर्तमान मुख्यमंत्री नवीन पटनायक भी शामिल हुए।

मुख्यमंत्री माझी के नेतृत्व वाली 16 सदस्यीय मंत्रिपरिषद एक विविध समूह के रूप में नजर आई जिसमें माझी सहित चार आदिवासी, दो दलित और एक महिला शामिल हैं।

माझी की मंत्रिपरिषद में दो उपमुख्यमंत्री, आठ कैबिनेट मंत्री और पांच राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) शामिल हैं।

सुरेश पुजारी, रबिनारायण नाइक, नित्यानंद गोंड, कृष्ण चंद्र पात्र, पृथ्वीराज हरिचंदन, मुकेश महालिंग, बिभूति भूषण जेना और कृष्ण चंद्र महापात्र ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली।

गणेश राम सिंह खूंटिया, सूर्यबंशी सूरज, प्रदीप बालासनंता, गोकुला नंदा मल्लिक और संपद कुमार स्वैन ने राज्य मंत्री (स्वतंत्र) के रूप में शपथ ली।

विधानसभा के लिए चुने गए 78 भाजपा सदस्यों में से केवल पांच महिलाएं हैं। सूत्रों ने संकेत दिया कि नयागढ़ जिले के रणपुर से निर्वाचित सुरमा पाढ़ी के विधानसभा अध्यक्ष बनने की उम्मीद है।

मंत्रिपरिषद में चार सदस्य ओडिशा के पश्चिमी क्षेत्र से, मुख्यमंत्री सहित तीन उत्तरी क्षेत्र से, चार तटीय क्षेत्र से, तीन दक्षिणी क्षेत्र से और एक मध्य ओडिशा से हैं।

राज्य की 147 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा 78 सीट हासिल करके सत्ता में आई, जबकि पटनायक के नेतृत्व वाली बीजद को 51, कांग्रेस को 14, माकपा को एक सीट मिली तथा तीन सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार विजयी रहे।  (भाषा)

अन्य पोस्ट

Comments

chhattisgarh news

cg news

english newspaper in raipur

hindi newspaper in raipur
hindi news