सोशल मीडिया

 ‘इस तस्वीर पर न्यू इंडिया लिखकर कांग्रेस अध्यक्ष ने बताया है कि वे अब भी ओल्ड राहुल ही हैं!’
‘इस तस्वीर पर न्यू इंडिया लिखकर कांग्रेस अध्यक्ष ने बताया है कि वे अब भी ओल्ड राहुल ही हैं!’
Date : 22-Jun-2019

21 जून 2015 को पहली बार अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया था और तब से लेकर अब तक हर बार इस दिन सोशल मीडिया पर इसी की धूम रहती है। इसमें भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस दिन से जुड़े कार्यक्रम की यहां खूब तस्वीरें शेयर होती हैं। आज इस मौके पर उन्होंने झारखंड की राजधानी रांची में आयोजित योग अभ्यास कार्यक्रम में हिस्सा लिया था और सोशल मीडिया पर इसकी कई तस्वीरें और वीडियो शेयर हुए हैं।
इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी यहां अपने एक ट्वीट की वजह से जमकर ट्रोल किए जा रहे हैं। दरअसल आज भारतीय सेना ने भी योग दिवस से जुड़े आयोजनों की कुछ तस्वीरें ट्विटर पर साझा की थीं। इन्हीं में से एक में ‘डॉग यूनिट’ के कुत्ते योगाभ्यास करते कुछ जवानों (डॉग हैंडलर) के साथ-साथ उनकी जैसी ही मुद्राओं में देखे जा सकते हैं। राहुल गांधी ने ये तस्वीरें अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर की हैं और इसके साथ कैप्शन दिया है ‘न्यू इंडिया’। माना जा रहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष ने इस कैप्शन के जरिए मोदी सरकार पर तंज कसा है क्योंकि उसने अपने पिछले कार्यकाल में ‘न्यू इंडिया’ का नारा दिया था और इसके तहत 2022 तक कई महत्वाकांक्षी लक्ष्य तय किए थे।
फेसबुक और ट्विटर पर इस ट्वीट को लेकर ज्यादातर लोगों ने राहुल गांधी पर सवाल उठाए हैं। पत्रकार राहुल कंवल का ट्वीट है, ‘यह समझ से परे है कि अगर सेना की डॉग यूनिट योग कर रही है तो इससे राहुल गांधी को क्या दिक्कत है। अगर खुद का मजाक नहीं उड़वाया जा रहा तो यहां किसका मजाक उड़ाया जा रहा है? जवानों का या कुत्तों का?’ सोशल मीडिया में राहुल गांधी के इसी ट्वीट पर आईं कुछ और प्रतिक्रियाएं -
आरती टिकू सिंह- तस्वीर बहुत खूबसूरत है लेकिन राहुल गांधी ने जो ट्वीट किया है, वह अप्रिय है। शानदार जानवर, बहादुर भारतीय सैनिक, लेकिन ओछी टिप्पणी।
अमृता भिंडर- आप (राहुल गांधी) सिर्फ एक काम करना जानते हैं। गलतियां, फिर और गलतियां। इनमें भी ज्यादातर में आपका ही मजाक उड़ता है।
प्रतीक शुक्ला- क्या आप (राहुल गांधी) 2024 के लोकसभा चुनावों में भी भाजपा को थाली में सजाकर जीत देना चाहते हैं? कोई सबक नहीं सीखा गया।
सरल पटेल- न्यू इंडिया यानी जहां सरकार उत्तर प्रदेश/बिहार और देश के दूसरे हिस्सों में भी स्वास्थ्य सेवाओं और बच्चों की मौत से ज्यादा योग को तवज्जो देती है। (सत्याग्रह ब्यूरो)
 

Related Post

Comments