कारोबार

भाखानि ने 341.56 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदी
भाखानि ने 341.56 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीदी
28-May-2020 7:12 PM

रायपुर, 28 मई। भारतीय खाद्य निगम के महाप्रबंधक अनुपम दुबे ने बताया कि सरकारी एजेंसियों ने पिछले साल की तुलना में इस बार अधिक गेहूं खरीदा है । कोविड के कारण एक पखवाड़े की देरी के बावजूद इस बार गेहूं की खरीद पिछले साल के कुल 25,000 टन की तुलना में 341.56 लाख मीट्रिक टन रही। कोविड.19 की वजह से देश व्यापी लॉकडाउन के कारण उत्पन्न तमाम बाधाओं के बावजूद सरकारी एजेंसियों ने इस बार 24 मई 20 तक 341.56 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद की जबकि पिछले साल यह आंकडा 341.31 लाख मीट्रिक टन था।

गेहूं की कटाई आम तौर पर मार्च के अंत में शुरू होती है और अप्रैल के पहले सप्ताह में सरकारी एजेंसियों द्वारा इसकी खरीद शुरू हो जाती है। हालांकिए 24 और 25 मार्च की आधी रात से देशव्यापी लॉकडाउन शुरु हो जाने की वजह से सभी गतिविधियां रुक गई थीं। इस बीच फसल तब तक पक चुकी थी और कटाई के लिए तैयार थी। ऐसे हालात को देखते हुए भारत सरकार ने लॉकडाउन अवधि के दौरान कृषि और उससे संबंधित गतिविधियां आरंभ करने की छूट दे दी। ऐसे में अधिकांश राज्यों में 15 अप्रैल से गेहूं की खरीद प्रक्रिया शुरू की जा सकती है। हरियाणा में इसके 20 अप्रैल से थोड़ीसे शुरु होने की संभावना है।

भारत सरकारए एफसीआईए राज्य सरकारों और उनकी एजेंसियों द्वारा किए गए इन समन्वित प्रयासों सेए सभी ऐसे राज्यों में गेहूं की खरीद आसानी से की जा सकती है जहां अतिरिक्त पैदावार हुई है। इससे किसानों की मदद के साथ ही केन्द्रीय पूल में गेहूं का अतिरिक्त भंडारण हो सकेगा। भारतीय खाद्य निगम छत्तीसगढ़ क्षेत्र में भी चावल उपार्जन का कार्य निर्बाध रूप से जारी है और भारतीय खाद्य निगम द्वारा इन परिस्थितियों में अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन पूर्ण समर्पण के साथ किया जा रहा है।

अन्य खबरें

Comments