ताजा खबर

राम मंदिर के नाम पर अवैध रसीद से चंदा वसूली, महिला के खिलाफ पुलिस ने दर्ज की एफआईआर
21-Jan-2021 10:36 PM (6021)
राम मंदिर के नाम पर अवैध रसीद से चंदा वसूली, महिला के खिलाफ पुलिस ने दर्ज की एफआईआर

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
बिलासपुर, 21 जनवरी।
अयोध्या में निर्माणाधीन राम मंदिर के नाम पर अवैध चंदा वसूली की शिकायत सामने आई है। सिविल लाइन थाने में इसे लेकर एफआईआर दर्ज कराई है। आरोपी महिला आरपीआई से जुड़ी हुई हैं, जिसके राष्ट्रीय अध्यक्ष केन्द्रीय मंत्री रामदास आठवाले हैं।

पूरे देश में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिये धन संग्रह का कार्य चल रहा है। बिलासपुर में निधि समर्पण समिति के अध्यक्ष संदीप गुप्ता व डॉ. ललित माखीजा नियुक्त किये गये हैं। दानदाताओं को अयोध्या से राम मंदिर निर्माण समिति की ओर से जारी की गई रसीद ही दी जा रही है।

आज डॉ. माखीजा ने समिति के सदस्यों के साथ सिविल लाइन थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि भारतीयनगर निवासी महिला उषा आफले, जो जनता दरबार नाम से एक संगठन चला रही है वह मंदिर के नाम पर अवैध रसीद छपवाकर चंदा वसूली कर रही है। उसने धन एकत्र करने के लिये फेसबुक, वाट्सएप आदि सोशल मीडिया पर अपना निजी एकाउन्ट नंबर भी जारी किया है और लोग ठगी के शिकार हो रहे हैं। डॉ. माखीजा ने शिकायत में कहा है कि उक्त महिला को किसी भी प्रकार से अधिकृत नहीं किया गया है न ही समिति के माध्यम से उन्हें कोई रसीद या कूपन जारी किया गया। महिला द्वारा ठगी कर लोगों की आस्था से खिलवाड़ किया जा रहा है। शिकायत के अनुसार ये रसीदें गोस्वामी प्रिंटर्स मगरपारा से छपवाई गई। प्रिंटर्स ने शिकायतकर्ताओं को बताया है कि उसने 50 पन्नों की 6 किताबें आरोपी को नम्बरिंग के साथ छापकर दी। बाद में बिना नंबर के भी रसीद छपवाई गई है जो इस किसी दूसरे ने छापी है। डॉ. माखीजा ने शिकायत के साथ राम जन्मभूमि न्यास का अधिकृत पत्र भी प्रस्तुत किया है।

सिविल लाइन थाने में शिकायत पर आरोपी महिला के खिलाफ धारा 419, 420 आईपीसी के तहत एफआईआर दर्ज की है। सिविल लाइन थाना प्रभारी के मुताबिक मामले की जांच की जा रही है।

महिला के सोशल मीडिया पोस्ट से पता चलता है कि वह रिपब्लिक पार्टी ऑफ इंडिया से जुड़ी हैं, जिसके राष्ट्रीय अध्यक्ष केन्द्रीय मंत्री रामदास आठवाले हैं। 

अन्य पोस्ट

Comments