ताजा खबर

हिमाचल में बारिश का कहर, चंबा में बादल फटने से नुकसान, गाड़ियां मलबे में दबीं
04-May-2021 4:25 PM (39)
हिमाचल में बारिश का कहर, चंबा में बादल फटने से नुकसान, गाड़ियां मलबे में दबीं

-हेम ठाकुर

शिमला/चम्बा. हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश ने जमकर कहर बरपाया है. सोमवार दोपहर बाद शुरू हुई बारिश मंगलवार सुबह तक जमकर बरसी है. आलम यह है कि चंबा जिले में बादल फटा है और इसमें काफी नुकसान हुआ है. हालांकि, अब तक किसी तरह के जानी नुकसान की सूचना नहीं है.

जानकारी के अनुसार, मंगलवार सुबह चम्बा जिला के विकासखंड मैहला के ग्राम पंचायत कुनेड में बादल फटा है. इस दौरान लोगों की फसलों सहित जमीन पानी में बह गई है. लोगों के घरों में भी पानी घुस गया है.  किलोड पंचायत में भी बारिश से भारी नुकसान होने के समाचार मिला है. बारिश के बाद साहो पल्यूर नाले में अचानक पानी का जलस्तर बहुत ज्यादा बढ़ गया. गोशाला क्षतिग्रस्त हो गई. पल्यूर के गणजी में दो कारें भी मलबे में दब गई हैं. वहीं, चम्बा-भरमौर राष्ट्रीय उच्च मार्ग भी कलसूई के पास बाधित हो गया है और इससे वाहनों की आवाजाही रुक गई है. प्रशासन की टीम मौके के लिए रवाना हुई है.

लगातार दो दिन से बारिश
शिमला में सोमवार को लगातार दूसरे दिन शाम होते ही बादल झमाझम बरसे. मंडी और कांगड़ा के पालमपुर में झमाझम बारिश से गेहूं की फसल खेतों में ही भीग गई. कुल्लू की सैंज घाटी के मनाऊगी गांव में सोमवार दोपहर बाद हुई एकाएक बारिश से पानी और मलबा लोगों के घरों में घुस गया. मनाऊगी और तुंग गांव को जोड़ने वाली पुलिया मलबे के साथ बह गई.

चंबा में बादल फटने के बाद खेतों में आया मलबा.

मंगलवार को भी छाए बादल

मंगलवार को भी पूरे प्रदेश में मौसम खराब रहने के आसार हैं. मैदानी जिलों ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा और मध्य पर्वतीय जिलों शिमला, सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू और चंबा में छह और सात मई अंधड़, ओलावृष्टि और बारिश की चेतावनी जारी हुई है. मध्य और उच्च पर्वतीय जिलों में नौ मई और मैदानी क्षेत्रों में सात मई तक मौसम खराब बना रहने का पूर्वानुमान है.

बारिश के बाद साहो-पल्यूर नाले में अचानक पानी का जलस्तर बहुत ज्यादा बढ़ गया.

तापमान में गिरावट

सोमवार को ऊना में अधिकतम तापमान 37.6 डिग्री, बिलासपुर 34.0, हमीरपुर 33.8, कांगड़ा 33.6, चंबा 32.2, नाहन 32.5, सुंदरनगर 31.3, भुंतर 30.5, सोलन 29.5, धर्मशाला 26.2, शिमला 23.0, कल्पा 20.5, डलहौजी 18.9 और केलांग में 17.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ.

लेह-मनाली हाईवे फिर बंद

बर्फबारी के चलते लेह-मनाली राजमार्ग फिर से बंद हो गया है. लाहौल पुलिस के अनुसार, केलांग के आगे सभी प्रकार के वाहनों के लिए, पूर्ण रूप से अवरुद्ध है. राष्ट्रीय राजमार्ग-03 पर वाहनों को केवल केलांग तक आने-जाने की अनुमति है. हालांकि, यातायात के आवागमन पर कोई प्रतिबंध नहीं है. भारी बर्फबारी के चलते 21 अप्रैल से बारालाचा दर्रा बंद होने से मनाली-लेह मार्ग ठप पड़ा था. इस कारण मनाली से लेह को निकले करीब 40 वाहन फंस गए थे. सोमवार को यह मार्ग खुल गया था. (news18.com)

अन्य पोस्ट

Comments