खेल

21-Jul-2021 7:01 PM (51)

मैनचेस्टर, 21 जुलाई। जैसन रॉय (64) की शानदार पारी और आदिल राशिद (4/35) की बेहतरीन गेंदबाजी के दम पर इंग्लैंड ने यहां अमीरात ओल्ड ट्रेफोर्ड में खेले गए तीसरे टी20 मुकाबले में पाकिस्तान को तीन विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम की। पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए मोहम्मद रिजवान के 57 गेंदों पर पांच चौकों और तीन छक्कों के सहारे नाबाद 76 रन की बदौलत 20 ओवर में छह विकेट पर 154 रन बनाए।

 

लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम ने जैसन के 36 गेंदों पर 12 चौकों और एक छक्के की मदद से 64 रनों की पारी के दम पर 19.4 ओवर में सात विकेट पर 155 रन बनाकर मैच जीता।

पाकिस्तान की तरफ से मोहम्मद हफीज ने तीन विकेट लिए जबकि इमाद वसीम, हसन अली, उस्मान कादिर और शादाब खान को एक-एक विकेट मिला।
लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड की टीम में जैसन के अलावा डेविड मलान ने 31, जोस बटलर ने 21 और कप्तान इयोन मोर्गन ने 21 रनों का योगदान दिया।
पाकिस्तान की पारी में रिजवान के अलावा फखर जमान ने 24, सोहेब मकसूद ने 13 और कप्तान बाबर आजम ने 11 रन बनाए जबकि हसन अली ने नाबाद 15 रन बनाए।

इंग्लैंड की ओर से आदिल के अलावा मोइन अली ने एक विकेट लिया। (आईएएनएस)


21-Jul-2021 4:44 PM (28)

ओलंपिक गेम्स 2032 का आयोजन ऑस्ट्रेलिया के शहर ब्रिस्बेन में किया जाएगा. इंटरनेशनल ओलंपिक कमेटी ने इसका आधिकारिक ऐलान बुधवार को कर दिया. ब्रिस्बेन ने आईओसी के 138वें सीजन के दौरान 2032 ग्रीष्मकालीन ओलंपिक की मेजबानी करने का अधिकार प्राप्त किया है. ऑस्ट्रेलिया इससे पहले भी दो बार ओलंपिक की मेजबानी कर चुका है. उसने 1956 मेलबर्न और 2000 सिडनी ओलंपिक की मेजबानी की है.

2017 में आईओसी ने 2024 ओलंपिक की मेजबानी पेरिस और 2028 ओलंपिक की मेजबानी लॉस एंजिल्स को सौंपी थी. फरवरी 2021 में आईओसी ने कहा था कि ब्रिस्बेन 2032 ओलंपिक खेलों की मेजबानी करने के लिए उपयुक्त उम्मीदवार है. हालांकि आईओसी द्वारा ब्रिस्बेन को पसंदीदा बताने के बावजूद कतर ने 2032 खेलों की मेजबानी करने की अपनी इच्छा दोहराई थी. बीते 10 जून को आईओसी के 15 मजबूत कार्यकारी बोर्ड ने ब्रिस्बेन को चुनाव के लिए एकल उम्मीदवार के रूप में मंजूरी दी थी. 

टोक्यो ओलंपिक का आयोजन इस बार जापान की राजधानी टोक्यो में किया जा रहा है. टोक्यो ओलंपिक की शुरुआत 23 जुलाई से हो जाएगी और इसका समापन 8 अगस्त को होगा. इस बार भारत की तरफ से टोक्यो ओलंपिक में 127 खिलाड़ियों ने दावेदारी ठोंकी है. उम्मीद है कि इस बार भारतीय खिलाड़ी देश के लिए कई पदक जीतकर आएंगे. आपको बता दें कि टोक्यो के बाद ओलंपिक खेलों का आयोजन 2024 में फ्रांस के पेरिस में किया जाएगा. इसके बाद 2028 में लॉस एंजेलिस में ओलंपिक गेम्स का आयोजन होगा. 

ओलंपिक 2032 की मेजबानी कर ऑस्ट्रेलिया बनाएगा यह रिकॉर्ड

ऑस्ट्रेलिया तीन अलग-अलग शहरों में ओलंपिक खेलों की मेजबानी करने वाला संयुक्त राज्य अमेरिका के बाद दूसरा देश बन जाएगा. इससे पहले मेलबर्न ने 1956 में और सिडनी ने 2000 में ओलंपिक का आयोजन किया गया था. कई शहरों और देशों ने 2032 खेलों की मेजबानी में रुचि दिखाई थी, जिसमें इंडोनेशिया, हंगरी की राजधानी बुडापेस्ट, चीन, कतर के दोहा और जर्मनी के रुहर वैली रीजन शामिल हैं. (abplive.com)


21-Jul-2021 1:35 PM (35)

 

नई दिल्ली. टोक्यो ओलंपिक में हरियाणा और पंजाब के एथलीट एक बार जलवा बिखेरने को तैयार हैं. पंजाब और हरियाणा से इस बार टोक्यो खेलों में 50 एथलीट गए हैं जो भारतीय ओलंपिक दल के 40 फीसदी हिस्से का प्रतिनिधित्व करते हैं. बता दें कि दोनों राज्यों की कुल आबादी भारत की सिर्फ 4.4 फीसदी है. अकेले हरियाणा ने ओलंपिक में 25 फीसदी एथलीट भेजे हैं. हरियाणा से 31 एथलीट और पंजाब से 19 खिलाड़ी ओलंपिक में अपना जौहर दिखाएंगे.

इन दोनों राज्यों के बाद तमिलनाडु का नंबर आता है जिसने 11 एथलीटों को टोक्यो भेजा, जो दल का 8.7% हिस्सा है. शीर्ष पांच में अन्य केरल और यूपी हैं. दोनों राज्यों से 8-8 एथलीट गए हैं. उत्तर प्रदेश जनसंख्या के हिसाब से भारत का सबसे बड़ा राज्य है. इस राज्य में भारत की करीब 17 फीसदी आबादी रहती है. टोक्यो ओलंपिक दल में उत्तर प्रदेश का हिस्सा 6.3 फीसदी है. वहीं केरल में भारत की 2.3 फीसदी आबादी रहती है जबकि ओलंपिक खेलों में 6.6 प्रतिशत उसका प्रतिनिधित्व है.

हरियाणा से 19 महिला हॉकी खिलाड़ियों में से नौ, सात पहलवान (चार महिलाएं, तीन पुरुष), चार मुक्केबाज (तीन पुरुष, एक महिला) और चार निशानेबाज (दो महिलाएं, दो पुरुष) पदक के लिए अपनी दावेदारी पेश करेंगे. पंजाब से भारत की 19 सदस्यीय पुरुष हॉकी टीम में से 11 खिलाड़ी हैं. इसके अलावा इस छोटे से राज्य से निशानेबाजी में दो, एथलेटिक्स में तीन (दो पुरुष, एक महिला), महिला हॉकी टीम में दो और एक बॉक्सर ओलंपिक में हिस्सा लेंगे.

तमिलनाडु से पांच एथलेटिक्स, तीन तैराक, दो टेबल टेनिस खिलाड़ी और एक तलवारबाज टोक्यो खेलों का हिस्सा होंगे. केरल से 8 में से 6 एथलीट एथलेटिक्स की फील्ड में शिरकत करेंगे. इसके अलावा एक तैराकी में और एक पुरुष हॉकी टीम में भाग लेगा.

टोक्यो ओलंपिक में भारत का 228 सदस्यीय दल में भाग लेगा जिसमें 127 खिलाड़ी शामिल है. भारत को कुल 18 खेलों की 68 स्पर्धाओं में हिस्सा लेना है. भारतीय खिलाड़ी तीरंदाजी, एथलेटिक्स, मुक्केबाजी, बैडमिंटन, घुड़सवारी खेल, तलवारबाजी, गोल्फ, जिमनास्टिक, हॉकी, जूडो, रोइंग, नौकायन, तैराकी, टेबल टेनिस, टेनिस, भारोत्तोलन और कुश्ती में खेलते हुए दिखेंगे. (news18.com)


21-Jul-2021 12:57 PM (42)

भारत और श्रीलंका के बीच तीन मैचों की सीरीज के दूसरे मुकाबले में कांटे की टक्कर देखने को मिली. टीम इंडिया हालांकि दीपक चाहर के नाबाद 69 रन की बदौलत मैच को तीन विकेट से जीतने में कामयाब रही. भुवनेश्वर कुमार ने हालांकि जीत का श्रेय राहुल द्रविड़ को दिया है. भुवी का कहना है कि चाहर को नंबर 8 पर खेलने का दांव द्रविड़ ने चला था और वह सही साबित हुए.

चाहर ने नाबाद 69 रन की पारी खेलने के अलावा भुवनेश्वर के साथ आठवें विकेट के लिए 84 रन की अटूट साझेदारी की. भुवी 19 रन बनाकर नाबाद पवेलियन वापस लौटे. भारत को तीन मैचों की एक दिवसीय श्रृंखला में 2-0 की विजयी बढ़त दिला दी.

भुवनेश्वर ने मैच के बाद कहा, ''हमारी लक्ष्य अंतिम ओवर, अंतिम गेंद तक खेलना था इसलिए हम मैच को अंत तक ले जाना चाहते थे. एकमात्र योजना अंत तक खेलने की थी और दीपक ने जिस तरह की बल्लेबाजी की वह शानदार थी.''

द्रविड़ पहले से जानते थे कि दीपक चाहर बल्लेबाजी करने की क्षमता रखते हैं. टीम इंडिया के उपकप्तान ने कहा, ''दीपक चाहर कोच राहुल द्रविड़ के अंडर में भारत ए की ओर से या किसी श्रृंखला में खेल चुका है और उसने वहां भी रन बनाए थे. इसलिए द्रविड़ को पता था कि वह बल्लेबाजी कर सकता है इसलिए यह द्रविड़ का फैसला था.''

बेहद खुश हैं राहुल द्रविड़
दीपक चाहर हालांकि रणजी ट्रॉफी में भी बल्ले से अपनी काबिलियत साबित कर चुके हैं.  भुवनेश्वर ने कहा, ''चाहर ने जिस तरह की बल्लेबाजी की उसने द्रविड़ के दांव को सही साबित किया. हम सभी को पता है कि वह बल्लेबाजी कर सकता है, उसने रणजी ट्रॉफी में कई बार बल्लेबाजी की है.''

श्रीलंका के 276 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने 193 रन पर सात विकेट गंवा दिए थे. चाहर और भुवी ने हालांकि इंडिया को पांच गेंद शेष रहते हुए ही जीत दिला दी.

भुवनेश्वर ने कहा कि पहली बार सीनियर टीम को कोचिंग दे रहे द्रविड़ टीम के प्रदर्शन से बेहद खुश हैं. तेज गेंदबाज ने कहा, ''द्रविड़ ने पूरी टीम को बधाई दी. वह काफी खुश थे, विशेषकर हमने जिस तरह का प्रदर्शन किया उससे. जब हमने पांच-छह विकेट गंवा दिए थे और उसके बाद दीपक ने जैसी बल्लेबाजी की.''

टीम इंडिया के मुख्य कोच रवि शास्त्री के इंग्लैंड दौरे पर होने की वजह से श्रीलंका में टीम की कोचिंग का जिम्मा राहुल द्रविड़ को मिला है. राहुल द्रविड़ इससे पहले इंडिया अंडर 19 और इंडिया ए के कोच रह चुके हैं. (abplive.com)
 


20-Jul-2021 8:52 PM (44)

केन्या की राजधानी नैरोबी की मलिन बस्तियों में लड़कियां और महिलाएं बॉक्सिंग सीख अपनी किस्मत चमका रही हैं. 14 सालों में तीन हजार से अधिक लड़कियों ने इस खेल को खेलना सिखा है.

(dw.com)  

केन्या की राजधानी नैरोबी की मलिन बस्तियों के सामुदायिक केंद्र के बाहर से गुजरने वाले लोगों का ध्यान चमड़े के दस्तानों की तेज आवाजें आकर्षित करती हैं. उत्तरी करियोबंगी में स्थित सामुदायिक केंद्र में महिलाएं और लड़कियां मुक्केबाजी के दांव-पेंच सीख रही हैं. इनके कोच का नाम अल्फ्रेड एनालो अंजेरे है, जिन्होंने बॉक्सगर्ल्स केन्या की स्थापनी की है.

14 सालों में तीन हजार से अधिक लड़कियों और महिलाओं ने इस केंद्र में खेल को खेलना सिखा है, केंद्र की जर्जर दीवारों को कार्टून कैरेक्टर एस्टेरिक्स की एक फीकी तस्वीर और बॉक्सिंग दस्ताने सजाती है. बॉक्सिंग सीखने वाली सभी महिलाओं की कहानी करीब-करीब एक जैसी ही है. वे अपने इलाकों की कठोर परिस्थितियों से निपटना चाहती हैं और उस गरीबी से लड़ना चाहती हैं जो उनके जीवना का आम हिस्सा है.

प्रोफेशनल बॉक्सर बन चुकी 34 साल की सारा एचियांग कहती हैं, "एक दिन, जब मैं जॉगिंग करने जा रही थी, एक आदमी कहीं से आया और मुझे थप्पड़ मारकर भाग गया. इसलिए मैं वापस जिम जाने लगी और कौशल हासिल कर उस शख्स से बदला लेना चाहती थी." बॉक्सगर्ल्स केन्या में अधिकांश के लिए बॉक्सिंग खाली समय में खेलने वाला खेल है, लेकिन कई लड़कियां इस खेल को अपनाकर बतौर पेशेवर खिलाड़ी बन गई हैं.

स्लम की लड़कियों को सलाम

कुछ लड़कियां ने ओलंपिक में भी जगह बनाई है जैसे एलिजाबेथ एंडिएगो, जिन्होंने 2012 में लंदन खेलों में भाग लिया था. क्रिस्टीन ओंगारे इस साल टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा ले रही हैं. अंजेरे जिन्हें "पादरी" कहकर भी बुलाया जाता है, कहते हैं कि वे मुक्केबाजी को एक बदले के रूप में नहीं देखना चाहते. अंजेरे कहते हैं, "मुक्केबाजी का उद्देश्य एक टूल बनाना है...यह लड़कियों को सशक्त बनाने का साधन और यह उनकी आवाज उठाने के लिए है."

आर्थिक आजादी भी चाहिए

अंजेरे खुद करियोबंगी के मूल निवासी हैं. वे क्षेत्र में रहने वाली महिलाओं के साथ शारीरिक, मानसिक शोषण समेत बलात्कार जैसी समस्याओं से अच्छी तरह से वाकिफ हैं. अक्सर, लड़कियों को गरीबी, गर्भावस्था या कम उम्र में शादी के कारण स्कूल छोड़ने के लिए मजबूर किया जाता है. वे कहते हैं कि महिलाएं भी कमजोर होती हैं क्योंकि वे अक्सर आर्थिक रूप से स्वतंत्र नहीं होती हैं.

2007 में केन्या में चुनाव के बाद की खूनी हिंसा में जब महिलाओं और लड़कियों को अक्सर निशाना बनाया गया तो उन्होंने इस पर कार्रवाई करने का फैसला किया और बॉक्सगर्ल्स केन्या की स्थापना की. 22 साल की एमिली जुमा कहती हैं, "बिना आत्मरक्षा के इन मोहल्लों में बड़ा होना थोड़ा चुनौतीपूर्ण है." पुरुष प्रधान खेल में वो एक उभरती हुई प्रतिभा हैं.

वे कहती हैं, "कई लोग लड़कियों को सेक्स ऑबेज्केट की तरह देखते हैं." जुमा कहती हैं लड़कियां हमेशा हमला के लिए आसान शिकार होती हैं. अंजेरे की नजरें अब क्रिस्टीन ओंगारे पर टिकी हैं, जिनको उन्होंने 2008 में बॉक्सिंग से मुलाकात करवाई थी, इस साल वे टोक्यो में अपनी किस्मत आजमा रही हैं. अंजेरे कहते हैं, "अगर लड़कियां मुक्केबाजी में सफल होती हैं तो हम खुश होंगे और गर्व महसूस करेंगे."(dw.com)

एए/सीके (एएफपी)


20-Jul-2021 8:44 PM (37)

कोलंबो, 20 जुलाई | चरीथ असालंका (65) और अविष्का फर्नाडो (50) की शानदार पारियों की मदद से श्रीलंका ने यहां आर प्रेमादासा स्टेडियम में खेले जा रहे दूसरे वनडे मुकाबले में भारत को 276 रनों का लक्ष्य दिया। श्रीलंका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए असालंका के 68 गेंदों पर छह चौकों के सहारे 65 रन और अविष्का के 71 गेंदों पर चार चौकों और एक छक्के की मदद से 50 ओवर में नौ विकेट पर 275 रन बनाए।

भारत की तरफ से भुवनेश्वर कुमार और युजवेंद्र चहल ने तीन-तीन विकेट और दीपक चाहर ने दो विकेट लिए।

फर्नाडो ने मिनोद के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 77 रन जोड़े। इस साझेदारी को चहल ने मिनोद को आउट कर तोड़ा जिन्होंने 42 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 36 रन बनाए। इसकी दूसरी ही गेंद पर चहल ने भानुका राजपक्षा को खाता खोले बिना आउट किया।

फर्नाडो ने इसके बाद अर्धशतक पूरा किया लेकिन इसके बाद वह ज्यादा देर अपनी पारी आगे नहीं बढ़ा सके और भुवनेश्वर की गेंद पर आउट हुए। चाहर ने फिर धनंजय डी सिल्वा (32) को आउट कर श्रीलंका को चौथा झटका दिया। इसके बाद चहल ने कप्तान दासुन शनाका (16) को बोल्ड कर आउट किया।

नए बल्लेबाज के रूप में उतरे वनिंदु हसारंगा (8) को चाहर ने बोल्ड किया। असालंका ने फिर एक छोर से पारी को संभाला लेकिन भुवनेश्वर ने उनकी पारी का अंत कर दिया। फिर भुवनेश्वर ने दुश्मंथा चमीरा (2) को आउट किया। अंतिम ओवर की तीसरी गेंद पर लक्ष्न संदाकन खाता खोले बिना रन आउट हुए।

श्रीलंका की पारी में चमीका करूणारत्ने 33 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से नाबाद 44 और कासुन रजीथा एक गेंद पर एक रन बनाकर नाबाद रहे।(आईएएनएस)


20-Jul-2021 8:38 PM (54)

जयपुर, 20 जुलाई | अर्जुन अवार्डी और 4 गुणा 400 मीटर स्प्रिंटर अरोकिया राजीव ने स्पोर्ट्स टाइगर की विशेष इंटरव्यू सीरीज मिशन गोल्ड पर अपने अनुभव साझा किए। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत निश्चित रूप से टोक्यो ओलंपिक में लंदन ओलंपिक से अधिक पदक जीतेगा। राजीव ने कहा, "महामारी ने हमें मानसिक रूप से परेशान कर दिया था, किसी तरह हम इससे लड़ने में कामयाब रहे लेकिन इसने हमारे दिमाग पर प्रभाव छोड़ा है। हम नियमित अभ्यास कर रहे थे लेकिन अचानक लॉकडाउन लागू होने से हम जीरो पर पहुंच गए क्योंकि हम ग्राउंड पर नहीं जा सकते थे। जब हमने फिर से अभ्यास शुरू किया तो एक और लॉकडाउन लगाया गया और अभ्यास पर फिर से असर पड़ा। लेकिन ओलंपिक के इतने करीब होने के कारण, हम वहां जाने के लिए थोड़ा संघर्ष करने के लिए ²ढ़ थे। हम घर पर जो भी व्यायाम कर सकते थे, उससे हमने खुद को फिट रखने की कोशिश की। कुछ महीनों के बाद एएफआई(एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया) ने हमें पटियाला भेजा जहां हमने प्रतियोगिताओं की तैयारी के लिए एक साल तक अभ्यास किया। इस बीच भारत में कोविड-19 मामलों की संख्या बढ़ती रही और कई देशों ने भारत से आने-जाने की उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया और इसलिए हमें कई प्रतियोगिताओं में भाग लेने का अवसर नहीं मिला।"

उन्होंने कहा, "टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करके मुझे बहुत अच्छा लग रहा है। हालांकि 2018 में कोई प्रतियोगिता नहीं थी, लेकिन 2019 में हमने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया, जिसने हमारे लिए शीर्ष 16 में स्थान सुनिश्चित किया। लेकिन 2020 में फिर विराम लग गया, फिर 2021 में, हमने कुछ प्रतियोगिताओं में भाग लिया और अच्छा प्रदर्शन किया, जिसके परिणामस्वरूप हमें टोक्यो ओलंपिक के लिए योग्यता प्राप्त हुई।"

राजीव ने कहा, "मुझे बहुत खुशी है कि हमने टोक्यो-2020 के लिए क्वालीफाई किया है, अब हमारा लक्ष्य अपनी क्षमता के अनुसार सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना और ट्रैक पर अपना 100 प्रतिशत देना है। यह एक बड़ा इवेंट है और पिछली बार हमारे पास अनुभव की कमी थी। हम अपने कमजोर बिंदुओं पर काम कर रहे हैं और अतीत में की गई गलतियों से सीख रहे हैं और उन्हें सुधार रहे हैं। हम वहां एक टीम के तौर पर जा रहे हैं और हमें साथ मिलकर काम करना होगा। मैं टीम में सबसे वरिष्ठ हूँ, इसलिए मुझ पर अधिक जिम्मेदारियां हैं। मुझे अपना सर्वश्रेष्ठ देना है और देश के लिए पदक भी लाना है।"

राजीव ने उस समय को भी याद किया जब उन्हें हमारे देश के महान एथलीट स्वर्गीय मिल्खा सिंह जी से मिलने का अवसर मिला था। अपने नायक से मिलने की खुशी ने उन पर सकारात्मक प्रभाव छोड़ा। उन्होंने कहा, "मुझे एक बार मिल्खा सर से मिलने का मौका मिला। उन्होंने अपनी यात्रा के दौरान हमें प्रेरित किया। मैंने उनकी फिल्म भी देखी है जो बेहद प्रेरक थी और हमने उनकी गलतियों से बहुत कुछ सीखा। वह एथलेटिक्स की दुनिया में एक बहुत बड़ी शख्सियत थे और वास्तव में जमीन से जुड़े इंसान थे।"

महान एथलीट से बात करने के अनुभव के साथ-साथ, उन्होंने एथलीटों के प्रति कभी न खत्म होने वाले समर्थन के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद किया। उन्होंने इस बारे में बात की कि कैसे पीएम ने एथलीटों पर अतिरिक्त दबाव न डालने के लिए राष्ट्र को ट्वीट किया था और वह चाहते हैं कि हम खेलें और अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करें।

ट्वीट के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, "मोदी सर एथलीटों के लिए बहुत सहायक रहे हैं। हम उनसे कई बार मिले हैं और उन्होंने हर बार गर्मजोशी से हमारा स्वागत किया है। जब भी हम उनसे मिले हैं, उन्होंने हमेशा हम में से प्रत्येक को हमारे नाम से संबोधित किया है। उनकी बातें हमें प्रेरित करती हैं और अच्छा लगता है कि वह हमारे बारे में बोल रहे हैं। उन्होंने इसके बाद कहा, हम सिर्फ खेलने के लिए ओलंपिक नहीं जा रहे हैं। हम वहां पदक जीतने जा रहे हैं।"

राजीव ओलंपिक में अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिए अत्यधिक आशावादी हैं और टीम इंडिया के 2012 की तुलना में अधिक पदक लाने की संभावना के बारे में सकारात्मक सोच रखते है। उन्होंने कहा, "हम निश्चित रूप से टोक्यो 2020 में लंदन ओलंपिक 2012 से अधिक पदक जीतेंगे।"(आईएएनएस)


20-Jul-2021 4:50 PM (49)

कोलंबो, 20 जुलाई | श्रीलंका क्रिकेट टीम ने मंगलवार को यहां के एम. प्रेमदासा स्टेडियम में भारत के साथ जारी दूसरे वनडे मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने का फैसला किया है। पहले वनडे में भारत ने सात विकेट से एकतरफा जीत हासिल की थी। श्रीलंका को 262 रनों पर रोकने के बाद भारत ने 35 से भी कम ओवरों मे लक्ष्य हासिल कर लिया था। तीन मैचों की सीरीज में भारत 1-0 से आगे है।

भारतीय बल्लेबाजों ने उस मैच में शानदार प्रदर्शन किया था। कप्तान शिखर धवन और डेब्यूटेंट ईशान किशन ने अर्धशतक लगाए जबकि पृथ्वी शॉ के बल्ले ने आग उगला था। इसके अलावा मनीष पांडेय और एक अन्य डेब्यूटेंट सूर्यकुमार यादव का भी बल्ला खूब चला था।

इस मैच के लिए श्रीलंका ने इसुरु उदाना की जगह कासुन रजीथा को एकादश में शामिल किया है जबकि भारतीय टीम अपरिवर्तित है।

दोनों टीमें इस प्रकार हैं:

श्रीलंका (प्लेइंग इलेवन): अविष्का फर्नांडो, मिनोड भानुका (विकेटकीपर), भानुका राजपक्षे, धनंजया डी सिल्वा, चरित असलंका, दासुन शनाका (कप्तान), वनिन्दु हसरंगा, चमिका करुणारत्ने, कसुन रजिथा, दुशमंथ चमीरा

भारत (प्लेइंग इलेवन): पृथ्वी शॉ, शिखर धवन (कप्तान), ईशान किशन (विकेटकीपर), मनीष पांडे, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पांड्या, कुणाल पांड्या, दीपक चाहर, भुवनेश्वर कुमार, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव (आईएएनएस)


20-Jul-2021 2:58 PM (49)

नई दिल्ली, 20 जुलाई | भारतीय महिला राष्ट्रीय टीम की फॉरवर्ड बाला देवी को एआईएफएफ महिला फुटबॉलर ऑफ द ईयर 2020-21 चुना गया है। साथ ही युवा खिलाड़ी मनीषा कल्याण ने एआईएफएफ महिला इमजिर्ंग फुटबॉलर ऑफ द ईयर 2020-21 का पुरस्कार जीता है। सम्मान प्राप्त करने पर, 31 वर्षीय बाला ने कहा, "मैं यह पुरस्कार जीतकर बहुत खुश हूं। एआईएफएफ और सभी प्रशंसकों को उनके समर्थन के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। मैं अपने कोचों को भी धन्यवाद देना चाहता हूं - रेंजर्स में मेरे क्लब में, और राष्ट्रीय टीम में, और उन सभी कोचों को भी जिनके तहत मैंने अतीत में खेला है। मेरे परिवार और मेरे सभी साथियों को भी समर्थन के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।"


यह तीसरी बार है जब इस करिश्माई फॉरवर्ड ने यह प्रतिष्ठित पुरस्कार जीता है। इससे पहले 2014 और 2015 में लगातार दो साल बाला ने यह पुरस्कार जीता था।

वर्तमान में स्कॉटलैंड में रेंजर्स विमेंस एफसी के लिए खेलते हुए, बाला ने पिछले साल फरवरी में टीम के लिए पदार्पण किया था और उसने इतिहास रच दिया। उन्होंने ंबर में टीम के लिए अपना पहला प्रतिस्पर्धी गोल किया था। वह यूरोप में एक पेशेवर अनुबंध पर हस्ताक्षर करने वाली पहली भारतीय महिला फुटबॉलर बनी हुई हैं।

19 वर्षीय मनीषा, जो एक फॉरवर्ड भी हैं, को पहली बार महिला इमजिर्ंग फुटबॉलर ऑफ द ईयर चुना गया और उन्होंने सम्मान के लिए नामित होने पर प्रसन्नता व्यक्त की।

मनीषा ने कहा, मुझे वर्ष के उभरते खिलाड़ी के लिए चुनने के लिए एआईएफएफ धन्यवाद। यह पुरस्कार मुझे अपनी टीम के लिए और अधिक मेहनत करने और अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए प्रेरित करता है।"

इस बीच, सर्वश्रेष्ठ रेफरी 2020-21 के लिए एआईएफएफ पुरस्कार तेजस नागवेनकर को मिला, जबकि सुमंत दत्ता को सर्वश्रेष्ठ सहायक रेफरी 2020-21 के लिए एआईएफएफ पुरस्कार के लिए चुना गया।

प्रफुल्ल पटेल, अध्यक्ष, एआईएफएफ ने अपने संदेश में कहा, मैं सीजन के लिए पुरस्कार विजेताओं को बधाई देना चाहता हूं। वे सभी के लिए प्रेरणा हैं, और हम सभी को इस पर गर्व है।" (आईएएनएस)


19-Jul-2021 3:28 PM (59)

 

नई दिल्ली. इंग्लैंड दूसरे टी20 मैच में पाकिस्तान पर 45 रन से जीत दर्ज करके तीन मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर करने में सफल रहा. इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 19.5 ओवर में 200 रन बनाये जिसके जवाब में पाकिस्तान की टीम नौ विकेट पर 155 रन ही बना पायी. इंग्लैंड के दोनों लेग स्पिनरों आदिल राशिद (30 रन देकर दो) और मैट पर्किन्सन (25 रन देकर एक) ने पाकिस्तान पर अंकुश लगाने में अहम भूमिका निभायी. उन्हें आफ स्पिनर मोईन अली  का भी अच्छा साथ मिला जिन्होंने तीन ओवर में 32 रन देकर दो विकेट हासिल किये. तेज गेंदबाज साकिब महमूद ने 33 रन देकर तीन विकेट लिए. हालांकि इस मैच का आकर्षण लियाम लिविंगस्टोन का छक्का रहा.

पिछले टी20 मैच में लिविंगस्टोन ने इंग्लैंड की तरफ से सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड बनाया था. जबरदस्त फॉर्म में चल रहे लिविंगस्टोन ने दूसरे मैच में भी धमाकेदार पारी खेली. लिविंगस्टोन ने अपने 38 रनों की पारी में दो चौके और तीन गगनचुंबी छक्के लगाए. उनका एक छक्का 122 मीटर लंबा था और गेंद स्टेडियम के पार जाकर गिरी. मैच का 16वां ओवर पाकिस्तान के तेज गेंदबाज हारिस रऊफ डालने आए. उनकी पहली ही गेंद पर लिविंगस्टोन ने खड़े-खड़े सामने की ओर इतना लंबा छक्का लगाया कि गेंद एमरल्ड स्टेडियम की तीसरी मंजिल के ऊपर से होते हुए रग्बी मैदान में जाकर गिरी.

इन बल्लेबाजों ने भी जड़े हैं लंबे-लंबे छक्के
ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज क्रिस लिन ने बिग बैश लीग में शॉन टेट की गेंद पर 121 मीटर लंबा छक्का मारा था. न्यूजीलैंड के ऑलराउंडर कोरी एंडरसन भारत के खिलाफ इशांत शर्मा की गेंद पर 120 मीटर लंबा छक्का लगा चुके हैं. भारत के स्टार खिलाड़ी रहे युवराज सिंह ने टी20 वर्ल्ड कप 2007 के सेमीफाइनल में ब्रेट ली की गेंद पर 119 मीटर लंबा छक्का जड़ा था.

जोस बटलर ने खेली कप्तानी पारी
इससे पहले ऑयन मॉर्गन की जगह इंग्लैंड की अगुवाई कर रहे जोस बटलर ने 59 रन की पारी खेली. उनकी 39 गेंद की पारी में सात चौके और दो छक्के शामिल हैं. उनके अलावा लियाम लिविंगस्टोन ने 38 और मोईन अली ने 36 रन का योगदान दिया. पाकिस्तान की तरफ से मोहम्मद हसनैन ने तीन विकेट लिये लेकिन इसके लिये उन्होंने 51 रन खर्च किये. पाकिस्तान का कोई भी बल्लेबाज अच्छी शुरुआत को बड़े स्कोर में नहीं बदल पाया. उसकी तरफ से मोहम्मद रिजवान ने 37 और शादाब खान ने 22 गेंदों पर नाबाद 36 रन बनाये. तीसरा टी20 मंगलवार को मैनचेस्टर में खेला जाएगा. (news18.com)


19-Jul-2021 2:20 PM (56)

टोक्यो, 19 जुलाई | भारत की मौजूदा विश्व बैडमिंटन चैंपियन और रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता पीवी सिंधु और हमवतन बी साई प्रणीत 23 जुलाई से शुरू होने वाले ओलंपिक खेलों से पहले अपने पहले अभ्यास सत्र के लिए सोमवार तड़के टोक्यो ट्रेनिंग सेंटर पुंचे। भारत के 88 सदस्यीय पहले जत्थे के साथ रविवार को टोक्यो पहुंचने के बाद, सिंधु, जो हैदराबाद के गच्चीबोवली स्टेडियम में कोच पार्क ताए-संग के साथ प्रशिक्षण ले रही थी, ने अभ्यास शुरू कर दिया। मौजूदा ओलंपिक चैम्पियन स्पेन की कैरोलिना मारिन की अनुपस्थिति में सिंधु को इस साल स्वर्ण पदक का दावेदार माना जा रहा है।

छठी वरीयता प्राप्त सिंधु 25 जुलाई को ग्रुप जे में अपने अभियान की शुरूआत इस्राइल की केसिया पोलिकारपोवा के खिलाफ मैच से करेंगी। अगर वह पहले दौर से आगे निकल जाती है ंतो उनका सामना दुनिया की 12वें नंबर की मिया ब्लिचफेल्ट से हो सकता है।

13वीं वरीयता प्राप्त प्रणीत ने ट्रेनिंग कोर्ट में सिंधु के साथ शामिल होने से पहले एक सत्र के लिए खेल गांव में व्यायामशाला में पहली बार प्रवेश किया। प्रणीत पुरुष एकल ड्रा में ग्रुप डी में हैं, जिसमें नीदरलैंड्स के मार्क कैलजॉव और इजराइल के मिशा जि़ल्बरमैन उनके विरोधी हैं।

इस बीच, टेबल टेनिस टीम भी अचंता शरथ कमल और जी साथियान के साथ सोमवार सुबह अपने पहले अभअयास सत्र के लिए पहुंची।

2018 राष्ट्रमंडल खेलों में पदक विजेता साथियान और कमल पुरुष एकल प्रतियोगिता में भाग लेंगे। कमल मिश्रित युगल स्पर्धा में मनिका बत्रा के साथ जोड़ी बनाएंगे। (आईएएनएस)
 


19-Jul-2021 2:12 PM (46)

प्राग, 19 जुलाई | इस साल की फ्रेंच ओपन चैंपियन बारबोरा क्रेजसिकोवा ने 14 गेम्स में 26 विनर्स लगाते हुए प्राग ओपन के फाइनल में हमवतन टेरीजा मार्टिनकोवा को 6-2, 6-0 से हरा दिया। यह मैच सिर्फ 65 मिनट चला। यह 25 वर्षीय बारबोरा का वर्ष का तीसरा और हार्ड कोर्ट पर पहला खिताब है।

बारबोरा ने अब अपने पिछले 21 मैचों में से 20 में जीत हासिल की है। मई के बाद से उसकी एकमात्र हार विंबलडन के चौथे दौर में दुनिया की नंबर-1 और चैंपियन एशले बार्टी के हाथों हुई थी।

फ्रेंच ओपन चैंपियन बारबोरा ने कहा कि घरेलू दर्शकों ने खिताब जीतना आसान बना दिया।

बारबोरा ने कहा, जब अपने लोग होते हैं तो खेलना और लड़ना आसान होता है। यह मेरी ताकत थी - लोग मुझे देखने आए, और मैं उन्हें निराश नहीं करना चाहती थी। लोगों ने हमेशा मेरा हौसला बढ़ाया है। पेरिस में फाइनल के दौरान मैंने यह देखा है। यहां जीत के साथ मैं उन्हें खुशी प्रदान करना चाहती थी। (आईएएनएस)
 


19-Jul-2021 12:48 PM (43)

नई दिल्‍ली. भारतीय टीम ने श्रीलंका दौरे पर अपने अभियान का विजयी आगाज किया. पहले वनडे मैच में भारत ने मेजबान टीम को 7 विकेट से करारी शिकस्‍त देकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली. शिखर धवन की अगुआई में उतरी इस टीम ने कमाल कर दिया. दरअसल विराट कोहली की अगुआई में रोहित शर्मा, जसप्रीत बुमराह, मोहम्‍मद शमी से सजी एक टीम इंग्‍लैंड दौरे पर है.

ऐसे में श्रीलंका दौरे पर युवा खिलाड़ियों से सजी टीम गई है और टीम की बागडोर पूर्व भारतीय कप्‍तान राहुल द्रविड़ को सौंपी गई. मुख्‍य कोच द्रविड़ के नेतृत्‍व में टीम एक अलग ही अंदाज में नजर आई. इस जीत के बाद सोशल मीडिया पर कोच रवि शास्‍त्री ट्रोल होने लगे.

करण जौहर नहीं करते पंड्या को बुलाने की हिम्‍मत
एक्‍टर और कॉमेडियन रहमान खान ने तो तंज कसते हुए यहां तक कह दिया कि राहुल द्रविड़ श्रीलंका दौरे के लिए कोच हैं. हार्दिक पंड्या के लिए रवि शास्‍त्री से लेकर राहुल द्रविड़ तक का बदलाव मुश्किल है. यदि राहुल द्रविड़ भारत के कोच होते तो करण जौहर पंड्या को कॉफी विद करण शो में बुलाने की हिम्‍मत नहीं करते.

दरअसल, 2019 में 'काफी विद करण' शो में हार्दिक पंड्या और केएल राहुल मेहमान बनकर आए थे. शो के दौरान पंड्या ने महिलाओं को लेकर कुछ अभद्र टिप्पणी की थी. उनके इस बयान की काफी आलोचना हुई थी. इस मामले के बढ़ने पर बीसीसीआई ने राहुल और पंड्या पर कुछ समय के लिए बैन भी लगा दिया था. (news18.com)


19-Jul-2021 12:40 PM (42)

रोम. पिछले हफ्ते इटली और इंग्लैंड के बीच लंदन के वेम्बले स्टेडियम में यूरो कप 2020 का फाइनल खेला गया. इसमें इटली ने पेनल्टी शूटआउट में मैच जीतकर दूसरी बार खिताब अपने नाम कर लिया. पिछले हफ्ते इटली के कई शहरों में यूरो कप की जीत का जश्न मनाया गया. जीत की खुमारी की आलम ये है कि इस दौरान लोग कोरोना महामारी के नियमों का भी पालन नहीं कर रहे हैं. इसके नतीजन अब कोरोना की तीसरी लहर की आहट भी तेज हो गई है.

इटली के यूरो कप जीतते ही रोम, मिलान, फ्लोरेंस की सड़कों-गलियों पर जमकर पार्टियां हुईं. लोग बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के पार्टी करते नजर आए. इन जश्न के एक सप्ताह के बाद इटली में कोरोना केस की संख्या लगातार बढ़ रही है.

एक जुलाई को जिस इटली में कोरोना के मात्र 879 नए केस आए थे. वहां बीते रविवार को 3127 कोरोना के केस दर्ज किए गए. इटली में पिछले 6 दिनों से कोरोना केस लगातार बढ़ रहे हैं.

इटली दुनिया के उन देशों में शामिल है जहां अबतक कोरोना से सबसे ज्यादा मौतें हुई है. इटली में अबतक कोरोना से 1,27,867 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि यहां अबतक 42 लाख लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं.

साल 2021 के फरवरी मार्च और अप्रैल में इटली में रोजाना 3 से 4 हजार लोगों की मौत हो रही थी. अब एक बार फिर से संक्रमण बढ़ने के बाद यहां लोगों को चिंता सता रही है कि कहीं कोरोना की अगली लहर तबाही मचाने को तैयार तो नहीं है?

साल 2020 में इन्हीं दिनों इटली कोविड-19 भयावह रूप को लेकर चर्चा में था. रोज़ हजारों की तादाद में लोग वायरस की चपेट में आ रहे थे और सैकड़ों की तादाद में जानें जा रही थीं. अस्पतालों में बेड की कमी, मेडिकल सुविधाओं की तंगी और डॉक्टरों की कमी की बातें सामने आने लगीं, तो चिकित्सा सुविधाओं के मामले में दुनिया के टॉप देशों में शुमार इटली को अपने अस्तित्व का खतरा भी दिख रहा था. लेकिन इटली ने पिछले अनुभवों से सबक नहीं लिया. लिहाजा दोबारा केस बढ़ने लगे हैं.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार इटली के स्वास्थ्य विशेषज्ञ मानते हैं कि कोरोना केस में ये बढ़ोतरी हाल में यूरो कप के बाद हुई जीत की पार्टियों की देन है. जब कोरोना प्रोटोकॉल पूरी तरह से ध्वस्त हो गए और कई शहरों की सड़कों पर पार्टियां हुई.  इटली के स्वास्थ्य प्रमुख फ्रैकों लोकेटली ने कहा कि जो लोग संक्रमित हो रहे हैं उनकी औसत आयु 28 है. उन्होंने कहा, "भीड़ और लोगों के जमावड़े ने वायरस को फैलने में मदद की. (news18.com)


19-Jul-2021 8:00 AM (33)

टोक्यो, 18 जुलाई| मुख्य राष्ट्रीय कोच इस्माइल बेग के नेतृत्व में भारतीय नाविकों ने रविवार को टोक्यो खाड़ी में स्थित सी फॉरेस्ट वाटरवे (सेंट्रल ब्रेकवाटर) पर पहले लंबे अभ्यास सत्र में हिस्सा लिया। पुरुषों की लाइटवेट डबल स्कल्स में हिस्सा लेने वाले अर्जुन लाल जाट और अरविंद सिंह शनिवार सुबह टोक्यो पहुंचे थे और अपनी नाव तैयार की थी। रविवार को, उनके दो अभ्यास सत्र थे, जिसमें सुबह का सत्र अधिक खोजपूर्ण था क्योंकि उन्होंने कुछ महीने पहले ओलंपिक क्वालीफायर में भाग लेने के बाद से सुधारों को महसूस करने की कोशिश की थी।

पुरुषों की लाइटवेट डबल स्कल टीम टोक्यो ओलंपिक में भारत के लिए अकेली प्रवेश है। भारत के पास सिंगल स्कल में भी आवश्यकताओं को पूरा करने वाला एक प्रतियोगी था, लेकिन नए नियमों के अनुसार कोटा नहीं मिला, जो प्रति देश केवल एक कोटा की अनुमति देता है।

इस बीच, नाविक विष्णु सरवनन का भी रविवार को प्रशिक्षण सत्र था। सरवनन पुरुषों के लेजर वर्ग में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे और दो दिन पहले अपने तीन साथियों - नेथरा कुमानन, केसी गणपति और वरुण ठक्कर (45ईएर) के साथ यहां पहुंचे थे।

रविवार को सरवनन ने दुनिया के कुछ बेहतरीन नाविकों के साथ ट्रेनिंग सेशन में हिस्सा लिया। (आईएएनएस)


18-Jul-2021 8:32 PM (40)

नई दिल्ली. कोविड-19 महामारी के बीच आयोजित किए जा रहे खेलों के लिए भारत के आठ खेलों तीरंदाजी, बैडमिंटन, टेबल टेनिस, हॉकी, जूडो, जिम्नास्टिक, तैराकी और भारोत्तोलन के खिलाड़ी, सहयोगी स्टाफ और अधिकारी नयी दिल्ली से विशेष विमान से जापान की राजधानी पहुंचे. पहला जत्था 88 सदस्यों का है जिनमें 54 खिलाड़ियों के अलावा सहयोगी स्टाफ और भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के प्रतिनिधि भी शामिल हैं. 

भारतीय खिलाड़ियों का हवाई अड्डे पर कुरोबे शहर के प्रतिनिधियों ने स्वागत किया. उनके हाथों में बैनर थे जिन पर लिखा था, ‘‘कुरोबे भारतीय खिलाड़ियों का समर्थन करता है. #चीयर्स4इंडिया.’’ हॉकी में पुरुष और महिला हॉकी टीमें शामिल हैं. यह किसी एक खेल में भारत का सबसे बड़ा दल है. 

इससे पहले शनिवार की रात को खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने नई दिल्ली में इंदिरा गांधी हवाई अड्डे पर हर्ष ध्वनि, तालियों की गड़गड़ाहट और शुभकामना संदेशों के साथ भारतीय दल को औपचारिक विदाई दी. हवाई अड्डे पर अप्रत्याशित दृष्य देखने को मिला. ओलंपिक दल के लिये लाल कालीन बिछाया गया था. खिलाड़ियों की विदाई के लिये इतना उत्साह बना हुआ था कि भारत सरकार ने इन सदस्यों की कागजी औपचारिकताओं को पूरा करने के लिये विशेष व्यवस्था की थी.

भारत के कुछ खिलाड़ी विदेशों में अपने अभ्यास स्थलों से पहले ही तोक्यो पहुंच चुके थे. भारत की एकमात्र भारोत्तोलक मीराबाई चानू अमेरिका के सेंट लुई में अपने अभ्यास स्थल से शुक्रवार को तोक्यो पहुंची. मुक्केबाज और निशानेबाज इटली और क्रोएशिया में अपने अभ्यास स्थलों से यहां पहुंचे हैं.

भारत का 228 सदस्यीय दल ओलंपिक में भाग लेगा जिसमें 119 खिलाड़ी शामिल है. भारत से सबसे पहले चार भारतीय नाविक नेत्र कुमानन और विष्णु सरवनन (लेजर क्लास), केसी गणपति और वरुण ठक्कर (49ईआर क्लास) यूरोप में अपने अभ्यास स्थलों से टोक्यो पहुंचे थे. उन्होंने गुरुवार को अभ्यास भी शुरू कर दिया है.

इसके अलावा रोइंग टीम भी टोक्यो पहुंच चुकी है. (news18.com)


18-Jul-2021 5:39 PM (53)

टोक्यो, 18 जुलाई | भारत से एथलीटों का पहला जत्था रविवार को टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा लेने के लिए जापान की राजधानी पहुंच गया। केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने शनिवार को नई दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर 88 सदस्यीय दल को गर्मजोशी के साथ विदा किया था। दीपिका कुमारी, अतनु दास, प्रवीण जाधव और तरुणदीप राय की तीरंदाजी टीम का जापान के मेजबान शहर कुरोबे में गर्मजोशी से स्वागत किया गया।

टेबल टेनिस टीम, जिसमें शरत कमल, जी. साथियान, मनिका बत्रा और सुतीर्थ मुखर्जी शामिल हैं, को हनेडा हवाई अड्डे पर साजन प्रकाश, श्रीहरि नटराज और माना पटेल की तैराकी टीम के साथ देखा गया।

पीवी सिंधु, बी साई प्रणीत, चिराग शेट्टी और सात्विकसाईराज रैंकीरेड्डी की बैडमिंटन टीम ने हवाई अड्डे पर अपनी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद थम्प्सअप के निशान के साथ तस्वीरें खिंचवाईं।

अमित पंघल, मनीष कौशिक, विकास कृष्ण, आशीष कुमार, सतीश कुमार, एमसी मैरी कॉम, सिमरनजीत कौर, लवलीना बोरगोहेन और पूजा रानी से सजी बॉक्सिंग टीम इटली के असीसी में अपने प्रशिक्षण कैम्प से सीधे टोक्यो पहुंची।

भारोत्तोलन, निशानेबाजी, नौकायन और नौकायन जैसे खेलों से जुड़े कुछ भारतीय एथलीट कुछ दिन पहले दुनिया भर के अपने प्रशिक्षण कैम्प्स से टोक्यो पहुंचे थे।

2016 में रियो ओलंपिक के लिए 117 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था लेकिन इस साल कुल 127 भारतीय एथलीटों ने ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया है।  (आईएएनएस)


18-Jul-2021 5:31 PM (43)

लंदन, 18 जुलाई | इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने द हंड्रेड के उद्घाटन सीजन की शुरूआत से पहले खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ से कहा है कि वे इसके लिए बनाए गए बायो-बबल को कोरोना के जोखिम से दूर रखने के लिए दुकानों, पब और रेस्तरां से दूर रहें। 21 जुलाई से शुरू हो रह इस टूर्नामेंट से पहले और इसके दौरान इस नियम का पालन हो इसके लिए प्रत्येक प्रतिस्पर्धी टीम के लिए एक अनुपालन अधिकारी भी नियुक्त किया गया है।

महीने भर चलने वाले इस टूर्नामेंट का समापन 21 अगस्त को होगा,। इसमें न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन, पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शाहीन अफरीदी, ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्सवेल, डेविड वार्नर और मार्कस स्टोइनिस सहित अन्य लोगों की वापसी हुई है।

क्रिकेटर्स अपने होटल के कमरों तक ही सीमित नहीं रहेंगे लेकिन कोविड-19 संक्रमण के जोखिम को कम करने के लिए, उन्हें भीड़-भाड़ वाली जगहों से बचने के लिए कहा गया है।

ईसीबी के मुख्य कार्यकारी टॉम हैरिसन ने भी बीते दिनों कहा था कि अब आगे से क्रिकेट को कोविड -19 वायरस के साथ रहना सीखना होगा। (आईएएनएस)


18-Jul-2021 12:41 PM (30)

इंडिया और श्रीलंका के बीच आज से तीन मैचों की वनडे सीरीज का आगाज होने जा रहा है. सीनियर खिलाड़ियों के इंग्लैंड में होने के चलते टीम इंडिया ने श्रीलंका दौरे के लिए आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को मौका देने का फैसला किया है. पहले वनडे में इंडिया की तरफ से मुंबई इंडियंस के स्टार बल्लेबाज सूर्याकुमार यादव का डेब्यू कंफर्म हो गया है.

पहली बार टीम की कमान संभालने जा रहे शिखर धवन ने सूर्याकुमार यादव के डेब्यू के बारे में जानकारी दी है. शिखर धवन का कहना है कि सूर्याकुमार यादव को पहले वनडे में डेब्यू का मौका दिया जाएगा. विराट कोहली की अनुपस्थिति में सूर्याकुमार यादव टीम इंडिया के लिए नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हुए नज़र आ सकते हैं.

सूर्यकुमार यादव का चयन इंग्लैंड के खिलाफ लिमिटिड ओवर सीरीज में भी हुआ. टी20 क्रिकेट में सूर्याकुमार यादव ने अपनी डेब्यू सीरीज के दौरान ही सबको प्रभावित किया. सूर्याकुमार यादव ने अपनी सीरीज के दूसरे टी20 मुकाबले में फिफ्टी जड़ी. इंग्लैंड के खिलाफ सूर्याकुमार को हालांकि वनडे सीरीज में डेब्यू का मौका नहीं मिल पाया था.

आईपीएल में शानदार है रिकॉर्ड
सूर्याकुमार यादव पिछले कई साल से आईपीएल में शानदार प्रदर्शन कर टीम इंडिया में जगह बनाने का दावा पेश कर रहे हैं. सूर्याकुमार यादव ने अब तक 108 आईपीएल मुकाबलों में करीब 30 के औसत और 135 के स्ट्राइक रेट के साथ 2197 रन बनाए हैं. सूर्याकुमार आईपीएल में 12 अर्धशतक जड़ चुके हैं.

सूर्याकुमार के अलावा संजू सैमसन का डेब्यू भी लगभग कंफर्म है. संजू सैमसन ने पांच साल पहली टी20 क्रिकेट में डेब्यू किया था. लेकिन अब तक संजू सैमसन को केवल सात टी20 मुकाबले खेलने का ही मौका मिला है. संजू सैमसन और सूर्याकुमार के अलावा किसी और नए खिलाड़ी को प्लेइंग 11 में जगह मिलने की संभावना बेहद कम है. (abplive.com)
 


18-Jul-2021 12:17 PM (36)

जापान की राजधानी टोक्यो में होने वाले ओलंपिक खेलों के शुरू होने से पांच दिन पहले ही दो एथलीट ओलंपिक विलेज (Olympic Village) में कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. ओलंपिक आयोजन समिति के अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी है. शनिवार को भी एक शख्स को कोविड संक्रमित पाए जाने के बाद खेल आयोजन और ओलंपिक विलेज से दूर कर दिया गया था. हालांकि, वह शख्स खिलाड़ी नहीं था.

बता दें कि 5 दिन बाद यहां खेलों के शुभारंभ में हजारों एथलीट और अधिकारी मौजूद रहेंगे. इतनी कड़ी निगरानी के बीच संक्रमित के मिलने से हड़कंप मच गया है. इस बीच टोक्यो में भी कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने लगे हैं. इससे चिंता बढ़ गई है.

कोरोना वायरस महामारी के चलते ओलंपिक खेलों को एक साल के लिए स्थगित कर दिया गया था. बता दें कि ओलंपिक आयोजकों ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कड़े इंतजाम किए हैं. बावजूद इसके वहां संक्रमित मिलने से हड़कंप है.

इस बीच, भारत से एथलीटों का पहला जत्था कल टोक्यों के लिए रवाना हो गया. केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले आठ खेलों के भारतीय खिलाड़ियों एवं सहयोगी सदस्यों को शनिवार शाम को नई दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर औपचारिक विदाई दी.

खिलाड़ियों के पहले जत्थे को विदाई देने के लिए ठाकुर के साथ खेल राज्यमंत्री निसिथ प्रमाणिक, भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) के महानिदेशक संदीप प्रधान और भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा एवं महासचिव राजीव मेहता के साथ अन्य अधिकारी शामिल थे. यहां से रवाना हुए भारतीय दल में कुल 88 सदस्य हैं, जिसमें 54 खिलाड़ियों के अलावा सहयोगी सदस्य और आईओए के प्रतिनिधि भी शामिल हैं. (ndtv.in)