खेल

17-Sep-2020 5:07 PM

मैनचेस्टर, 17 सितंबर। मैनचेस्टर में खेले गए सीरीज के तीसरे और निर्णायक वनडे में इंग्लैंड ने 7 विकेट खोकर 302 रन का बड़ा स्कोर बनाया लेकिन मैक्सवेल और कैरी ने इसे भी बौना साबित कर दिया और 7 विकेट खोकर 305 रन बनाकर 2 गेंद शेष रहते ही जीत हासिल कर ली।

ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को तीसरे वनडे में हराकर 3 मैचों की सीरीज 2-1 से जीत ली। इंग्लिश टीम पांच साल बाद अपनी सरजमीं पर कोई वनडे सीरीज हारी। इससे पहले इंग्लैंड ने घर पर आयरलैंड, पाकिस्तान, भारत, श्रीलंका, वेस्ट इंडीज और साउथ अफ्रीका को वनडे सीरीज में मात दी।

ऑस्ट्रेलिया की तरफ से ग्लेन मैक्सवेल ने सबसे ज्यादा 108 रन बनाए। उन्होंने विकेटकीपर बल्लेबाज एलेक्स कैरी (106) के साथ छठे विकेट के लिए 212 रन की मैच विजयी साझेदारी की। मैक्सवेल ने 90 गेंदों की अपनी पारी में 7 चौके और 2 छक्के जड़े। उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया।

ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर कैरी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर में अपना पहला शतक जमाया। उन्होंने इससे पहले 38 वनडे में 4 अर्धशतक लगाए थे, वहीं 30 टी20 इंटरनैशनल मैचों में उनके नाम कुल 176 रन हैं, जिसका सर्वोच्च स्कोर नाबाद 37 रन है। कैरी ने 114 गेंदों का सामना किया और 7 चौके, 2 छक्के जड़े।

303 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया के 5 विकेट 73 रन तक गिर गए। एक समय ऐसा लग रहा था कि इंग्लैंड टीम आसानी से मैच और सीरीज जीत जाएगी लेकिन मैक्सवेल और कैरी ने उनकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया। कंगारू टीम को पहला झटका महज 21 रन पर ही लग गया जब कप्तान फिंच सिर्फ नौ बॉल खेलकर 12 रन के स्कोर पर आउट हो गए। डेविड वॉर्नर ने 32 गेंदों पर 3 चौकों की मदद से 24 रन बनाए। मार्कस स्टॉयनिस सिर्फ चार रन बनाकर पविलियन लौट गए। लाबुशाने ने 20 और मिशेल मार्श ने 2 रन बनाए। इस तरह 51 पर तीसरा, 55 पर चौथा और 73 पर पांचवां विकेट गिरा।

इंग्लैंड के लिए क्रिस वोक्स ने 46 रन देकर 2 विकेट लिए जबकि जो रूट ने भी 46 रन देकर 2 विकेट झटके। उनके अलावा जोफ्रा आर्चर और आदिल राशिद को 1-1 विकेट मिला।

ओपनर जॉनी बेयरस्टो (112) के शतक की मदद से इंग्लैंड ने खराब शुरुआत से उबरकर इस निर्णायक वनडे में सात विकेट पर 302 रन का मजबूत स्कोर बनाया लेकिन मेजबान टीम को शिकस्त झेलनी पड़ी। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी के लिए उतरे इंग्लैंड ने मिशेल स्टार्क की मैच की पहली दो गेंदों पर दो विकेट गंवा दिए थे, जेसन रॉय (0) और जो रूट (0) खाता भी नहीं खोल सके।

जॉनी बेयरस्टो ने 126 गेंदों पर 12 चौके और दो छक्के की मदद से 112 रन की शतकीय पारी खेली। उन्होंने वनडे करियर का अपना 10वां शतक लगाया। उन्होंने सैम बिलिंग्स (58 गेंदों पर 56 रन) के साथ पांचवें विकेट के लिए 114 रन जोड़े। बिलिंग्स ने अपनी पारी में 4 चौके और 2 छक्के लगाए।

ऑस्ट्रेलिया के पेसर मिशेल स्टार्क और एडम जम्पा ने 3-3 विकेट लिए। स्टार्क ने 74 रन दिए जबकि जम्पा ने 10 ओवर में 51 रन लुटाए। उनके अलावा पैट कमिंस को 1 विकेट मिला।(navbharattimes.indiatimes.com)


17-Sep-2020 5:06 PM

नई दिल्ली, 17 सितंबर। भारत के पूर्व विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने उम्मीद जताई है कि इस साल का आईपीएल ‘ज्यादा विशेष’ होगा और इसका मुख्य कारण अंतरराष्ट्रीय संन्यास की घोषणा कर चुके महेंद्र सिंह धोनी का एक साल के लंबे अंतराल के बाद पिच पर लौटना है। कोविड-19 महामारी के चलते इस साल आईपीएल भारत से बाहर संयुक्त अरब अमीरात में कराया जा रहा है और यह 19 सितंबर से शुरू हो रहा है।

सहवाग फ्लिपकार्ट वीडियो पर एक शो ‘पावर प्ले विद चैम्पियंस’ की सह मेजबानी करेंगे। उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि यह टूर्नामेंट हर किसी - खिलाडिय़ों और साथ ही दर्शकों के लिए कुछ ज्यादा विशेष होगा। धोनी को फिर से पिच पर देखना निश्चित रूप से खुशी देने वाला होगा। काफी कुछ होगा, क्या मुझे और ज्यादा कहने की जरूरत है? ’

अगस्त में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा के अपने फैसले से सभी को हैरान करने वाले धोनी आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की अगुवाई करेंगे और टीम 19 सितंबर को अबु धाबी में लीग के शुरुआती मैच में गत चैम्पियन मुंबई इंडियंस से भिड़ेगी।

सहवाग ने कहा कि क्रिकेट भारतीयों की जिंदगी का अहम हिस्सा है और प्रशंसकों ने खेल की बहाली के लिए काफी लंबा इंतजार किया।

उन्होंने कहा, ‘मैंने लॉकडाउन में अपना काफी समय पुराने मैचों को देखते हुए उनका विश्लेषण करते हुए बिताया जिसमें मेरी पारियां भी शामिल थीं। क्रिकेट हम भारतीयों के ‘डीएनए’ (जीन्स) का अहम हिस्सा है और हमने इसकी वापसी के लिए काफी इंतजार किया।’ (aajtak.in)

 


17-Sep-2020 4:54 PM

नई दिल्ली, 17 सितम्बर (आईएएनएस)| भारतीय महिला हॉकी टीम की गोलकीपर सविता ने कहा है कि टीम का लक्ष्य अगले दो साल में एफआईएच रैंकिंग में टॉप-5 में पहुंचना है। भारतीय टीम ने पिछले साल एफआईएच सीरीज फाइनल्स और एफआईएच ओलंपिक क्वालीफायर्स में बेहतरीन जीत दर्ज की थी। अपने इस शानदार प्रदर्शन के दम पर टीम विश्व रैंकिंग में नौवें नंबर पर है।

सविता ने कहा, " निश्चित रूप से पिछले तीन-चार वर्षों में हम एक टीम के रूप में विकसित हुए हैं और हमने सभी चीजों को कवर किया है। हमने दुनिया भर के कुछ बेहतरीन कोचों के साथ काम किया है और इसलिए हम हाल के दिनों में शीर्ष टीमों के खिलाफ प्रतिस्पर्धा करने में सक्षम रहे हैं।"

उन्होंने कहा, " हॉकी इंडिया और भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के निरंतर समर्थन के साथ निश्चित रूप से हमारे पास अगले दो वर्षों में एफआईएच रैंकिंग के शीर्ष पांच में पहुंचने की क्षमता है। "

हरियाणा के सिरसा की रहने वाली अनुभवी गोलकीपर ने साथ ही कहा कि भारतीय हॉकी में एक परिभाषित संरचना हाल के दिनों में भारत की सफलता के मुख्य कारणों में से एक है।

उन्होंने कहा, " अच्छा प्रदर्शन रातोंरात नहीं आता है। अच्छे परिणाम प्राप्त करने के लिए, सावधानीपूर्वक योजना और यह सुनिश्चित करना कि हमारी टीम दिन-प्रतिदिन विकसित हो रही है, प्रमुख कारक हैं।"

सविता ने कहा, " निश्चित रूप से हमने अपने प्रदर्शन के लिए कड़ी मेहनत की है। हालांकि, मैं हॉकी इंडिया को एक अच्छा ढांचा लागू करने का श्रेय दूंगा, जिसमें हम अच्छे कोचों के साथ काम कर रहे हैं, हमारी शारीरिक फिटनेस के कार्यक्रम की निगरानी की जा रही है और हम एक सख्त आहार का भी पालन कर रहे हैं।"


17-Sep-2020 4:53 PM

नई दिल्ली, 17 सितम्बर (आईएएनएस)| पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि कोविड-19 महामारी के बीच आईपीएल का आगामी सीजन लाखों लोगों की जिंदगी में सकारात्मक ऊर्जा लाएगा। आईपीएल 2020 का आयोजन मार्च में होना था, लेकिन कोरोना वायरस के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था और अब इसका आयोजन 19 सितंबर से यूएई में होने जा रहा है। लीग के पहले मैच में मौजूदा चैंपियन मुंबई इंडियंस का सामना चेन्नई सुपर किंग्स से होगा।

गावस्कर ने कहा, " आईपीएल के साथ भारतीय क्रिकेट का स्वागत करने की खुशी है और मुझे उम्मीद है कि यह टूर्नामेंट लाखों लोगों के जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार कर सकता है।"

उन्होंने कहा, " आईपीएल प्रतिभा का पता लगाने का सही मंच रहा है और मुझे उम्मीद है कि इस साल भी, हमें यह देखने को मिलेगा। टीमें वास्तव में अच्छी तरह से तैयार हैं और सभी की निगाहें मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच होने वाले पहले मैच पर होगी।"

गावस्कर ने आईपीएल में धोनी को लेकर कहा, " हम एक साल बाद धोनी को खेलते हुए देखेंगे। मुझे यकीन है कि ही कोई उनके एक्शन में लौटने का इंजतार कर रहा है।"


17-Sep-2020 3:57 PM

मैनचेस्टर, 17 सितम्बर (आईएएनएस)| मैन आफ द मैच ग्लैन मैक्सवेल (108) और एलेक्स कैरी (106) के बीच छठे विकेट के लिए हुई 212 रनों की मैच जिताऊ साझेदारी के दम पर आस्ट्रेलिया ने तीसरे वनडे में इंग्लैंड को तीन विकेट से हराकर तीन मैचों की वनडे सीरीज 2-1 से जीत ली। इंग्लैंड ने बुधवार को आस्ट्रेलिया के खिलाफ खराब शुरुआत से उबरते हुए 50 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 302 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा किया, जिसे आस्ट्रेलिया ने दो गेंद बाकी रहते हुए सात विकेट खोकर हासिल कर लिया।

इंग्लैंड से मिले 303 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी आस्ट्रेलिया की शुरूआत काफी खराब रही और उसने 73 रन के अंदर ही अपने पांच विकेट गंवा दिए।

इन पांच विकेटों में डेविड वॉर्नर(24), कप्तान एरॉन फिंच (12), मार्कस स्टोयनिस ने (4), मार्नस लाबुशैन (20) और मिशेल मार्श (2) के विकेट शामिल हैं।

हालांकि इसके बाद मैक्सवेल और कैरी ने छठे विकेट के लिए मैच जिताउ साझेदारी करके आस्ट्रेलिया को शानदार जीत दिला दी।

मैक्सवेल ने 90 गेंदों पर चार चौके और सात छक्के जबकि कैरी ने 114 गेंदों पर सात चौके और दो छक्के लगाए। मैक्सेवल के करियर का यह दूसरा और सर्वोच्च स्कोर है। वहीं, कैरी के करियर का यह पहला शतक है।

इंग्लैंड को घर में पांच साल बाद पहली बार वनडे सीरीज में हार मिली है। आस्ट्रेलिया ने ही उसे पिछली बार सितंबर 2015 में उसके घर में हराया था।

उनके अलावा पैट कमिंस ने नाबाद चार और मिशेल स्टार्क ने नाबाद 11 रन बनाए।

इंग्लैंड की ओर से क्रिस वोक्स और जोए रूट ने दो-दो जबकि जोफ्रा आर्चर और आदिल राशिद ने एक-एक विकेट लिए।

इससे पहले, जॉनी बेयरस्टो (112), सैम बिलिंग्स (57) और अंत में क्रिस वोक्स (नाबाद 53) की बेहतरीन पारियों के दम पर इंग्लैंड ने खराब शुरुआत से उबरते हुए 50 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 302 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा किया।

इंग्लैंड ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी चुनी लेकिन मिशेल स्टार्क ने उसे वो शुरूआत दी जिसकी मेजबान टीम को उम्मीद नहीं थी। स्टार्क ने पहले ही ओवर की शुरूआती दो गेंदों पर दो विकेट ले इंग्लैंड को भारी दबाव में ला दिया।

उन्होंने पहले ओवर की पहली ही गेंद पर जेसन रॉय (0) आउट किया और फिर अगली गेंद पर जोए रूट को बिना खाता खोले पवेलियन भेज दिया। स्टार्क हैट्रिक पर थे लेकिन इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने ऐसा नहीं होने दिया।

कप्तान ने बेयरस्टो के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 67 रन जोड़े। एडम जाम्पा की गेंद को मिडऑफ के ऊपर से मारने के प्रयास में वो स्टार्क द्वारा लपके गए।

जाम्पा ने जोस बटलर (8) को भी ज्यादा देर टिकने नहीं दिया। उनके बाद उतरे बिलिंग्स ने फिर बेयरस्टो का साथ दिया और दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 114 रनों की साझेदारी की।

अर्धशतक पूरा करने के कुछ देर बाद बिलिंग्स 210 के कुल स्कोर पर जाम्पा का तीसरा शिकार बने। 10 रन बाद बेयरस्टो, पैट कमिंस की गेंद पर बोल्ड हो गए। बेयरस्टो ने अपनी शतकीय पारी में 126 गेंदों का सामना कर 12 चौके और दो छक्के लगाए।

दो सेट बल्लेबाजों के जाने के बाद आस्ट्रेलिया के पास मौका था कि वह इंग्लैंड को कम स्कोर पर रोके, लेकिन वोक्स ने दूसरे छोर से रन गति चालू रखी। टॉम कुरैन (19), आदिल राशिद (नाबाद 11) ने उनका अच्छा साथ दिया। वोक्स ने अपनी नाबाद पारी में 39 गेंदें खेलीं और छह चौके मारे।

आस्ट्रेलिया के लिए स्टार्क और जाम्पा ने तीन-तीन विकेट लिए। कमिंस ने एक सफलता अर्जित की।


17-Sep-2020 3:54 PM

पेरिस, 17 सितम्बर (आईएएनएस)| इंजुरी टाइम में जूलियन ड्रैक्सरलर के हेडर द्वारा किए गए गोल की मदद से पेरिस सेंट जर्मेन (पीएसजी) ने अपने घर में खेले गए मुकाबले में मेटज को 1-0 से हराकर फ्रेंच फुटबाल टूर्नामेंट-लीग 1 में अपनी पहली जीत दर्ज की। मौजूदा चैंपियन पीएसजी की लीग 1 के इस सीजन में लगातार दो मैच हारने के बाद यह पहली जीत है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, पीएसजी को 23 अगस्त को चैंपियंस लीग के फाइनल में बायर्न म्यूनिख के हाथों 0-1 से हारने के बाद लीग 1 के पहले मैच में लेन्स से 0-1 से और फिर मार्सिले से भी इतने अंतर से हार का सामना करना पड़ा था।

उस मैच में नेमार सहित तीन खिलाड़ियों को रेड कार्ड दिखाया गया था। नेमार ने मैच के अंतिम क्षणों में मार्सिले के डिफेंडर अल्वारों गोंजालोज को मुक्का मार दिया था, जिसके कारण नेमार को रेड कार्ड दिखाया गया था और उन्हें मैदान से बाहर जाना पड़ा था।

और अब फ्रेंच पेशेवर फुटबाल अनुशासन आयोग (एलपीएफ) ने नेमार पर दो मैचों का प्रतिबंध और एक मैच के लिए निलंबित करने का फैसला किया है।

इसके अलावा अर्जेंटीना के मिडफील्डर लिएंड्रो पेरेडेज पर भी नेमार जितना ही प्रतिबंध लगाया गया है जबकि लेयविन कुरजावा पर छह मैचों का बैन लगाया गया है।

पीएसजी ने लीग 1 के अपने तीसरे मैच में बुधवार को 70 फीसदी बॉल पजेशन अपने पास रखा।

मैच के 65वें मिनट में पीएसजी के अब्दोउ डियालो को दूसरा येलो कार्ड जबकि 85वें मिनट में जुआन बर्नेट को येलो कार्ड दिखाया गया, जिसके कारण पीएसजी को अंतिम 10 मिनटों में अपने 10 खिलाड़ियों के साथ ही खेलना पड़ा।

टीम के लिए एकमात्र गोल ड्रैक्सरलर ने इंजुरी टाइम में हेडर के जरिए किया।


17-Sep-2020 3:46 PM

रोम, 17 सितम्बर (आईएएनएस)| मौजूदा चैंपियन स्पेन के राफेल नडाल यहां जारी इटेलियन ओपन में पुरुष एकल वर्ग के तीसरे दौर में पहुंच गए हैं। नडाल ने बुधवार को खेले गए दूसरे दौर में हमवतन पाब्लो कारैनो बुस्टा को 6-1, 6-1 से मात दी।

अगले दौर में नडाल का सामना 13वीं सीड मिलोस राउनिक और डुसन लेजकोविच के बीच होने वाले मुकाबले की विजेता से होगा।

नडाल ने इस जीत के बाद कहा, " टूर पर वापसी करना अच्छा रहा। लेकिन मैं दर्शकों को मिस कर रहा हूं। मैंने बेहतरी प्रदर्शन किया, लेकिन मुझे लगता है कि न्यूयॉर्क में कई मैच खेलने के बाद वह काफी थके हुए थे। मेरे लिए यह एक अच्छी शुरूआत थी।"

एक अन्य मुकाबले में सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने दूसरे दौर में जीत हासिल कर ली। जोकोविच ने इटली के साल्वाटोरे कारयुसो को सीधे सेटों में 6-3, 6-2 से मात दी। यह मैच एक घंटे 24 मिनट तक चला।

विश्व के नंबर-1 खिलाड़ी जोकोविच को हाल ही में अमेरिका ओपन में लाइन जज को गेंद मारने के कारण बाहर कर दिया गया था।

एटीपी की वेबसाइट ने जोकोविच के हवाले से लिखा, " मेरे लिए यह अच्छी परीक्षा थी। अहम पलों में मैंने जिस तरह से अपने आप को संभाला उससे मैं काफी खुश हूं। मैंने मैंच को नियंत्रण में कर रखा था। क्ले कोर्ट पर जिस तरह मैंने अंक लिए उससे मैं खुश हूं।"


17-Sep-2020 12:54 PM

नित्यानंद शुक्ल 

रांची, 17 सितंबर (आईएएनएस)| झारखंड में सरकारी सहायता प्राप्त एक अल्पसंख्यक स्कूल शिक्षक ने 'जहां चाह, वहां राह' की कहावत को सच साबित कर दिया है। यहां के एक शिक्षक बेनेडिक्ट कुजूर ने तमाम चुनौतियों के बाद भी न केवल ढेरों लड़के-लड़कियों को प्रशिक्षित किया बल्कि उनके द्वारा प्रशिक्षित खिलाड़ी राष्ट्रीय हॉकी टीम में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। 

झारखंड के सिमडेगा जिले के करनगुरी गांव में जहां लोगों को बुनियादी सुविधाएं भी मयस्सर नहीं हैं। वहीं अल्पसंख्यकों द्वारा संचालित प्राथमिक विद्यालय के प्राचार्य कुजूर ने अपने कामों से हॉकी क्रांति ला दी है। इसके अलावा पांचवीं तक के इस स्कूल को उन्होंने अपने प्रयासों से आठवीं तक का करवाया।

कुजूर ने आईएएनएस को बताया, "2003 में जब मुझे करनगुरी गांव में पोस्टिंग मिली तो मैंने यहां खेलों का आयोजन करने का फैसला किया। पहले तो ना छात्रों ने ना अभिभावकों ने रूचि ली। फिर मैंने उन्हें जागरुक करना शुरू किया। मैंने स्कूल में सभी स्टूडेंट्स के लिए खेल अनिवार्य कर दिए। यहां हॉकी खेलना ही एकमात्र विकल्प थे।" 

उन्होंने आगे कहा, "हमने छात्रों के लिए हॉकी प्रशिक्षण शुरू किया। लेकिन इस दौरान हमें संसाधनों की भारी कमी से जूझना पड़ा। हमने बांस से बनी हॉकी स्टिक इस्तेमाल की। हॉकी की गेंद न होने पर 'शरीफा' नाम के एक फल को गेंद के रूप में इस्तेमाल किया। बाद में बांस से बनी गेंद का इस्तेमाल किया।"

इन सारी चुनौतियों के बीच सबसे बड़ी समस्या थी स्किल डेवलपमेंट की है। कुजूर ने कहा, "हमने एक्सरसाइज करने के लिए छात्रों को नदी की बालू पर दौड़ने, पहाड़ियों पर चढ़ने के लिए कहा। यह क्षेत्र पिछड़ा है, यहां उचित आहार भी उपलब्ध नहीं था।"

कुछ ही समय में यह स्कूल हॉकी की प्रतिभा के लिए एक नर्सरी बन गया। इस स्कूल में प्रशिक्षित कई खिलाड़ी जिला और राज्य स्तर पर खेल चुके हैं। वहीं राष्ट्रीय टीम के खिलाड़ियों में ज्यादातर लड़कियां हैं। स्कूल के काम को देखते हुए अब इसे कई एनजीओ से मदद मिल रही है। 

राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेलने वाली लड़कियों में ब्यूटी डंडुंग, सुषमा कुमारी, अलका डंडुंग, दीपिका सोरेंग और पिंकी एक्का शामिल हैं।

कुजूर को जब 2016 में जलडेगा स्थानांतरित किया गया, तब तक यह स्कूल हॉकी पावरहाउस बन चुका था।

2019 में भारत के लिए खेलने वाली ब्यूटी डंडुंग ने अपने करियर में बेनेडिक्ट कुजूर के योगदान को सबसे अहम बताया था। डंडुंग ने आईएएनएस को बताया, "प्रिंसिपल सर ने हमारे लिए हॉकी स्टिक्स लाना अनिवार्य कर दिया था। स्कूल में हमने बांस की स्टिक से हॉकी खेली। मैंने ऑस्ट्रेलिया सहित कई देशों के खिलाफ कई मैच खेले हैं। इस दौरान सर द्वारा सिखाए गए स्किल्स ने अंतर्राष्ट्रीय हॉकी में भी हमारी मदद की है।"

सिमडेगा हॉकी एसोसिएशन के सचिव मनोज कुमार ने कहते हैं, "झारखंड के 70 प्रतिशत हॉकी खिलाड़ी उसी स्कूल से आते हैं, जिसमें बेनेडिक्ट कुजूर ने छात्रों को प्रशिक्षित करना शुरू किया था। यहां के 6 खिलाड़ी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेल चुके हैं। यह स्कूल बेहतरीन बुनियादी कौशल प्रशिक्षण देता है।"

गौरतलब है कि झारखंड का हॉकी चैंपियन देने का समृद्ध इतिहास रहा है। प्रतिष्ठित खिलाड़ी जयपाल सिंह मुंडा भी झारखंड के ही थे।


16-Sep-2020 9:47 PM

कैसर मोहम्मद अली 

नई दिल्ली, 16 सितंबर (आईएएनएस)| आईपीएल के 13वें सीजन में हिस्सा लेने वाले 12 भारतीय और तीन विदेशी अंपारयों सहित पांच मैच रेफरियों के कोविड-19 टेस्ट निगेटिव आए हैं। उन्हें हालांकि प्रोटोकॉल के मुताबिक अनिवार्य क्वारंटीन में रहना होगा। 

कोविड-19 के कारण इस बार का आईपीएल संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में हो रहा है। 

इन सभी का क्वारंटीन पीरियड खत्म होने वाला है और यह 19 सितंबर से शुरू हो रहे आईपीएल में अपनी जिम्मेदारी संभालने को तैयार हैं। 

बीसीसीआई सूत्रों ने आईएएनएस से कहा, "हर अधिकारी का छह दिन के क्वारंटीन पीरियड में पहले, तीसरे और छठे दिन कोविड टेस्ट हुआ और सभी के टेस्ट निगेटिव आए।" 

दुबई एयरपोर्ट पर पहुंचने पर इनके टेस्ट हुए थे और फिर इन सभी के होटलों में तीन और टेस्ट कराए गए। इन मैच अधिकारियों की एक टीम अबू धाबी में और बाकी दुबई में। अबू धाबी में जो टीम है वो 20 लीग मैचों की जिम्मेदारी संभालेगी। बाकी एक और टीम हो वो बड़ी है दो दुबई में होने वाले 24 लीग मैचों के अलावा शरजाह में होने वाले 12 लीग मैचों की जिम्मेदारी संभालेगी। 

सूत्र ने आईएएनएस से कहा, "चूंकि अबू धाबी में कोविड-19 प्रोटोकॉल्स बाकी दो जगहों की अपेक्षा ज्यादा सख्त हैं। अंपायरों और रेफरियों की एक टीम वहां स्थायी तौर पर रहेगी। वहीं दुबई और शारजाह में यातायात संबंधी कोई पाबंदियां नहीं हैं तो दुबई में जो मैच अधिकारी हैं वो दोनों जगहों पर मैच खेलेंगे।" 

जो 12 अंपायर हैं वो अनिल चौधरी, सी.शम्सउद्दीन, वीरेंद्र शर्मा, के.एन.अनंतपदमानभन, नितिन मेनन, एस, रवि, विनीत कुलकर्णी, यशवंत बोर्डे, उल्लास गांधे, अनिल डांडेकर, के. श्रीनिवासन और पश्चिम पाठक। 

वहीं विदेशी अंपरों में इंग्लैंड के रिचार्ड इंलिंगवर्थ, आस्ट्रेलिया के पॉल राइफेल, न्यूजीलैंड के क्रिस्टोफर गाफाने के नाम शामिल हैं। 

पांच रेफरी हैं- जवागल श्रीनाथ, मनु नायर, वी. नारायण कुट्टी, शाक्ति सिंह और प्रकाश भट्ट। 


16-Sep-2020 4:52 PM

रोम, 16 सितंबर। इटली के खिलाड़ी ने वावरिंका को 6-0, 7- 6 (2) से हराया मुसेत्ती एटीपी टूर पर जीत दर्ज करने वाले 2002 में जन्मे पहले खिलाड़ीउन्होंने 2019 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन जूनियर खिताब जीता था

स्थानीय युवा खिलाड़ी  लोरेंजो मुसेत्ती ने इटालियन ओपन टेनिस के पहले दौर में स्टैन वावरिंका को 6-0, 7-6 (2) से हराकर बड़ा उलटफेर कर दिया। तीन बार के ग्रैंड स्लैम विजेता वावरिंका के हर शॉट का मुसेत्ती ने माकूल जवाब दिया।

मुसेत्ती एटीपी टूर पर जीत दर्ज करने वाले 2002 में जन्मे पहले खिलाड़ी बन गए। वावरिंका ने अमेरिकी ओपन नहीं खेला था। मुसेत्ती 2018 अमेरिकी ओपन जूनियर फाइनल में उपविजेता थे और उन्होंने 2019 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन जूनियर खिताब जीता था।

इटली के वाइल्ड कार्डधारी सल्वातोर कारूसो ने अमेरिकी क्वालिफायर टेनिस सैंडग्रेन को मात दी। अब उनका सामना सर्बिया के धुरंधर नोवाक जोकोविच से होगा। वहीं मुसेत्ती की टक्कर केई निशिकोरी से होगी, जो कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अमेरिकी ओपन नहीं खेल सके थे।

महिला वर्ग में कैटरीना सिनियाकोवा ने तीन बार की ग्रैंड स्लैम चैम्पियन एंजेलिक कर्बर को 6-3, 6-1 से हराया। वहीं 16 साल की अमेरिकी कोको गॉ ने ओंस जाबेउर को 6- 4, 6-3 से मात दी। अब उनका सामना पूर्व फ्रेंच ओपन और विंबलडन चैम्पियन गारबाइन मुगुरुजा से होगा, जिन्होंने स्लोएन स्टीफेंस को 6-3, 6-3 से हराया। (aajtak.in)

 


16-Sep-2020 4:51 PM

नई दिल्ली, 16 सितम्बर (आईएएनएस)। 7 आस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर डीन जोन्स का मानना है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में अनुभवी बल्लेबाज सुरेश रैना का चेन्नई सुपर किंग्स में न होना टीम के लिए बहुत बड़ी चिंता होगी। चेन्नई सुपर किंग्स के लिए अब तक 193 मैचों में 5000 से भी अधिक रन बना चुके रैना निजी कारणों से आईपीएल के 13वें सीजन से हट गए हैं। वह टीम के साथ यूएई गए थे, लेकिन बाद में फिर से स्वदेश लौट आए थे।

जोन्स ने स्टार स्पोर्ट्स के शो 'गेम प्लान' में कहा, रैना का इस बार टीम में नहीं होना बहुत बड़ी चिंता होगी, वो आईपीएल में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले टॉप-5 बल्लेबाजों में शामिल हैं।

उन्होंने कहा, रैना बाएं हाथ से बल्लेबाजी करते हैं और स्पिन के खिलाफ काफी अच्छी बल्लेबाजी करते हैं। सीएसके के लिए मुश्किल यह हो सकती है कि उनके ज्यादातर बल्लेबाज दाएं हाथ से बल्लेबाजी करते हैं।

जोन्स ने आगे कहा, उन्हें टीम में कुछ बाएं हाथ के बल्लेबाजों की जरूरत है, खासकर तब जब वो लेग स्पिनर के खिलाफ खेल रहे हों और गेंद बाहर की ओर जा रही हो।

आईपीएल के 13वें सीजन की शुरुआत शनिवार से होने जा रही है और लीग का पहला मैच मौजूदा चैंपियन मुंबई इंडियंस तथा चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला जाएगा।

 


16-Sep-2020 4:50 PM

ढाका, 16 सितंबर (आईएएनएस)। बांग्लादेश के बल्लेबाज सैफ हसन का दूसरा कोरोनावायरस परीक्षण भी पॉजिटिव आया है। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के स्रोत ने ईएसपीएनक्रिकइंफो को पुष्टि की है कि हसन का दूसरा नमूना पहली बार पॉजिटिव परीक्षण आने के ठीक 7 दिन बाद लिया गया है। हसन का नाम बांग्लादेश के उन 27 क्रिकेटरों की सूची में शामिल नहीं है जिन्हें श्रीलंका में टेस्ट सीरीज के लिए प्रारंभिक टीम में लिया गया है। यह सीरीज अक्टूबर के अंत में खेली जानी है। हालांकि, श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) ने पिछले हफ्ते बीसीबी को सूचित किया था कि बांग्लादेश के खिलाडिय़ों को इस द्वीप पर उतरने के बाद एक सप्ताह तक क्वारंटीन में रहना होगा, इसके बाद ही वे प्रशिक्षण में हिस्सा ले सकेंगे। ईएसपीएनक्रिकइंफो ने बीसीबी के प्रेसिडेंट नजमुल हसन के हवाले से कहा, हम इन नियमों और शर्तों के साथ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप नहीं खेल सकते हैं। कल तक दोनों बोर्ड 7 दिन के क्वारंटीन पर चर्चा कर रहे थे। उन्होंने आगे कहा, लेकिन अब उनके नियम और शर्तें उन चचार्ओं के करीब भी नहीं और ना ही वह यह देख रहे हैं कि क्रिकेट की मेजबानी करने वाले अन्य देश क्या कर रहे हैं। 3 या 7 दिन का क्वारंटीन उन जगहों पर है जहां या तो खिलाड़ीोुद को प्रशिक्षित कर सकते हैं या जिम का उपयोग कर सकते हैं।

 

 


16-Sep-2020 4:49 PM

नई दिल्ली, 16 सितंबर। आईपीएल 2020 के लिए ऑफिशियल ब्रॉडकास्टर स्टार स्पोर्ट्स कमेंट्री पैनल के लिए कमेंटेटरों की लिस्ट का ऐलान कर दिया है. इस बार आईपीएल के मैचों की कमेंट्री हिन्दी, अंग्रेजी और कई भाषाओं में की जाएगी. इसके लिए अलग-अलग भाषाओं के लिए कई दिग्गजों को स्टार स्पोर्ट्स ने कमेंट्री पैनल में शामिल किया है. आईपीएल 2020 के कमेंट्री पैनल में संजय मांजरेकर का नाम नहीं है. आईपीएल 2020 का आगाज 19 सितंबर से होने वाला है. इस बार आईपीएल के मैच भारत के समय के अनुसार शाम साढ़े 7 बजे तो वहीं दोपहर के मैच साढ़े 3 बजे से खेले जाएंगे. आईपीएल के शेड्यूल के अनुसार इस बार 10 डबल हेडर मैच खेले जाएंगे। प्लेऑफ और फाइनल के शेड्यूल का ऐलान बाद में किया जाएगा।

आईपीएल को भारत से बाहर कराया जा रहा है। इससे पहले 2014 में आईपीएल के कुछ मैच यूएई में खेले गए थे। कोरोना काल से पहले आईपीएल को 29 मार्च से बीसीसीआई कराना चाहता था लेकिन महामारी के कारण इसके कार्यक्रम में बदलाव किया गया। टी-20 वर्ल्डकप के स्थगित होने के बाद ही आईपीएल के लिए रास्ता साफ हो पाया था।

अंग्रेजी कमेंट्री पैनल

सुनील गावस्कर, रोहन गावस्कर, हर्षा भोगले, दीप दासगुप्ता,  मुरली कार्तिक, मार्क निकोलस, केविन पीटरसन, इयान बिशप, साइमन डोल, कुमार संगकारा, जेपी ड्यूमिनी, लिसा स्थेलकर, डेरेन गंगा, पोमी बांगवा, माइकल स्लेटर, शिवा रामाकृष्णन, अंजुम चोपड़ा और डैनी मॉरिसन

हिन्दी कमेंट्री पैनल

आकाश चोपड़ा, इरफान पठान, आशीष नेहरा, निखिल चोपड़ा, जतिन सप्रू, अजीत आगरकर, संजय बांगड़ और किरण मोरे।

तमिल कमेंट्री पैनल

आर मुथुरमण, राधाकृष्णन श्रीनिवासन, बी बालाकृष्णन, के. वी. नारायणन, आरजे बालाजी, अभिनव मुकंद, एस रमेश, एस बद्रीनाथ, हेमंग बादानी और कृष्णामाचारी श्रीकांत जैसे दिग्गज शामिल हैंष (khabar.ndtv.com)

 


16-Sep-2020 4:48 PM

नई दिल्ली, 16 सितंबर। आईपीएल की शुरुआत में अब केवल तीन दिन का ही समय बचा है। खिलाडिय़ों से लेकर टीम मैनेजमेंट तक हर कोई आखिरी समय की तैयारियों में जुटा हुआ है। इस बार आईपीएल टीमों के लिए काफी चुनौतीपूर्ण होने वाला है। भारत में फैले कोरोना वायरस के कारण इस बार आईपीएल को यूएई (्रश्व) में कराने का फैसला किया गया है। बायो सेक्यूर बबल में रहने के अलावा यूएई (्रश्व) के हालातों में ढलना भी खिलाडिय़ों के आसान नहीं होगा। ऐसे में सभी टीम मैनेजमेंट और मालिक खिलाडिय़ों का उत्साह बढ़ा रहे हैं। किंग्स इलेवन पंजाब की सह-मालिक और बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रीति जिंटा अभी यूएई में ही है, उन्होंने टीम के लिए संदेश भेजा है।

प्रीति जिंटा ने भेजा संदेश

किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से प्रीति जिंटा का वीडियो शेयर किया है। वीडियो में प्रीति कहती हैं, हाय, सड्डी टीम, मैं बस यह कहना चाहती हूं कि आप सभी शानदार लग रहे हैं। मैं सोशल मीडिया पर सभी को फॉलो कर रही हूं और देख रहीं हूं कितनी मेहनत कर रहे हैं। मैं जल्द ही क्वारंटीन से निकलकर बायो बबल में आने के लिए उत्साहित हूं।

नए कप्तान और कोच के साथ उतरेगी पंजाब की टीम

प्रीति जिंटा फिलहाल अपने पति के साथ होम क्वारंटीन में है। हालांकि वह जल्द ही टीम के साथ जुडऩे वाली है। प्रीति हमेशा से ही टीम का उत्साह बढ़ाती दिखती हैं। वह लगभग हर मैच में स्टेडियम में नजर आती हैं। टीम के साथ उनका काफी गहरा और खास रिश्ता है। उनका वीडियो शेयर करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब ने लिखा, 'प्रीटि द वुमन ने टीम के लिए खास संदेश भेजा है।' किंग्स इलेवन पंजाब की टीम इस साल के एल राहुल की कप्तानी में उतरने वाली हैं। टीम के कोच की जिम्मेदारी दिग्गज गेंदबाज अनिल कुंबले को मिली है।  एक भी बार खिताब नहीं जीत पाई है। (news18.com)


16-Sep-2020 4:47 PM

पेरिस, 15 सितंबर (भाषा)। दुनिया के पूर्व नंबर एक खिलाड़ी ब्रिटेन के एंडी मर्रे को फ्रेंच ओपन में वाइल्ड कार्ड मिला है । तेरह दिन बाद शुरू हो रहे ग्रैंडस्लैम में वाइल्ड कार्ड पाने वाले आठ खिलाडिय़ों में मर्रे अकेले गैर फ्रांसीसी हैं । चोटों के कारण उनकी रैंकिंग खिसककर 129 तक जा पहुंची है । उन्हें अमेरिकी ओपन में भी वाइल्ड कार्ड मिला था लेकिन वह दूसरे दौर में हार गए । वह 2016 में फ्रेंच ओपन फाइनल में पहुंचे थे । महिला वर्ग में कनाडा की यूजीनी बूचार्ड और बुल्गारिया की स्वेताना पिरोंकोवा को वाइल्ड कार्ड मिले हैं ।

 

 


16-Sep-2020 4:46 PM

नई दिल्ली, 16 सितंबर। इंडियन प्रीमियर लीग में भाग लेने वाले ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के क्रिकेटरों ने बीसीसीआई से अनुरोध किया है कि संयुक्त अरब अमीरात (्रश्व) पहुंचने के बाद छह दिनों की पृथकवास अवधि को कम कर तीन दिनों का किया जाए ताकि वे टूर्नामेंट की शुरुआत से चयन के लिए उपलब्ध रहे।

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच सीमित ओवरों की जारी मौजूदा श्रृंखला में दोनों देशों के ऐसे 21 खिलाड़ी है जो चार्टर्ड विमान से मैनचेस्टर से 17 सितंबर को यूएई पहुचेंगे। मौजूदा पृथकवास नियमों के तहत वे चयन के लिए 23 सितंबर से उपलब्ध रहेंगे जबकि टूर्नामेंट 19 सितंबर से शुरु होगा।

गांगुली से की अपील

बड़े शॉट लगाने के लिए मशहूर एक बल्लेबाज ने इन खिलाडिय़ों की तरफ से बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली से अनुरोध किया है कि पृथकवास अवधि को तीन दिनों का किया जाए। टूर्नामेंट की तैयारियों की देखरेख के लिए गांगुली बोर्ड के अन्य पदाधिकारियों के साथ यूएई में है। उनसे इस मामले में प्रतिक्रिया नहीं मिल पायी लेकिन बोर्ड के एक सूत्र ने बताया कि ऐसी मांग की गयी है।

बीसीसीआई को मिला है पत्र

सूत्र ने गोपनीयता की शर्त पर पीटीआई-भाषा से कहा, ‘हां, बीसीसीआई अध्यक्ष को एक अनुरोध प्राप्त हुआ है। यह एक खिलाड़ी द्वारा लिखा हो सकता है, लेकिन इससे इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के सभी खिलाड़ी इत्तेफाक रखते हैं। इन खिलाडिय़ों को लगता है कि वे पहले से ही ऑस्ट्रेलिया और फिर ब्रिटेन में बायो-बबल (जैव-सुरक्षित माहौल) में हैं । ऐसे में यह तर्कसंगत होगा कि उन्हें एक बायो-बबल से दूसरे में प्रवेश करने की अनुमति दी जाए। वे सभी बायो-बबल के बाहर किसी के संपर्क में नहीं आये हैं।

तय नहीं है क्या होगा बीसीसीआई का फैसला

सूत्र ने कहा, ‘ये खिलाड़ी साउथेंप्टन और मैनचेस्टर, दोनों जगह हिल्टन होटल में रुके थे, जो स्टेडियम का एक हिस्सा है। उनका हर पांचवें दिन परीक्षण जा रहा हैं और यहां तक ??कि ब्रिटेन से उनके प्रस्थान के दिन भी परीक्षण किया जाएगा। यहां पहुंचने के पहले और तीसरे दिन भी जांच होगी।’

उन्होंने कहा, ‘अगर आप इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) की सुरक्षा इंतजाम को देखेंगे, तो खिलाडिय़ों के कमरों में सफाईकर्मियों को भी जाने अनुमति नहीं है। इसके अलावा वे वाणिज्यिक नहीं बल्कि एक चार्टर्ड विमान से आयेंगे।’ उन्होंने यह नहीं बताया कि इस अनुरोध को स्वीकार किया जाएगा या नहीं लेकिन कहा, ‘उनका यह तथ्य मजबूत है कि वे एक बायो-बबल से दूसरे में प्रवेश करना चाहते हैं।’ (hindi.news18.com)


16-Sep-2020 4:37 PM

मुंबई, 16 सितंबर (आईएएनएस)| पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का मानना है कि संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में खाली स्टेडियम में खेला जाने वाला इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का आगामी संस्करण दर्शकों के चेहरे पर खुशी लेकर आएगा, क्योंकि उन्हें लगेगा कि कोविड-19 महामारी के कारण एक लंबे ब्रेक के बाद आखिरकार क्रिकेट तो हो रहा है। सहवाग ने एक बयान में कहा, "मुझे यकीन है कि हम अपने घरेलू दर्शकों के सामने खेले जा रहे मैचों को मिस करने जा रहे हैं। टूर्नामेंट हम सभी के चेहरे पर खुशी लाने का वादा करता है, खासकर लंबे ब्रेक के बाद।"

सहवाग और क्रिकेट शो के होस्ट समीर कोचर फ्लिपकार्ट ऐप पर एक इंटरैक्टिव क्रिकेट शो 'पावर प्ले विद चैंपियंस' पेश करने के लिए एक साथ आएंगे।

सहवाग ने कहा, "फ्लिपकार्ट वीडियो पर चैंपियंस के साथ पावर प्ले, पुरस्कार जीतने का प्रोत्साहन लाता है, जिसका हर कोई आनंद उठाता है। क्रिकेट के रोमांचक सीजन के साथ, कुछ भी बेहतर नहीं हो सकता है।"

आईपीएल के 13वें सीजन की शुरुआत शनिवार से होने जा रही है और लीग का पहला मैच मौजूदा चैंपियन मुंबई इंडियंस तथा चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला जाएगा।

उन्होंने कहा, "जब इस अवसर ने खुद को प्रस्तुत किया, तो इसे लेने के बारे में बहुत बहस नहीं हुई। यह मेरे लिए एक और मौका है कि मैं किसी ऐसी चीज से जुड़ा रहूं जिसे मैं सच्चा प्यार करता हूं और आनंद लेता हूं। मैं लोगों के क्रिकेट ज्ञान और कौशल का टेस्ट करने जा रहा हूं। मुझे उम्मीद है कि दर्शक तैयार हैं।"


16-Sep-2020 3:19 PM

कोलकाता, 16 सितम्बर (आईएएनएस)| कप्तान लोकेश राहुल और मुख्य कोच अनिल कुंबले की नई जोड़ी के साथ किंग्स इलेवन पंजाब की टीम शनिवार से शुरू होने जा रही इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में अपना जादू बिखेर सकती है। पंजाब की टीम लीग के इतिहास में अब तक केवल दो बार ही प्लेआफ में पहुंची है। सीमित ओवरों के क्रिकेट में भारतीय क्रिकेट टीम के लिए हाल में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले राहुल को सीजन से पहले पंजाब का कप्तान नियुक्त किया गया था। उनके अलावा पूर्व भारतीय कप्तान और दिग्गज आफ स्पिनर अनिल कुंबले को मुख्य कोच निुयक्त किया गया था।

राहुल ने हाल में दुबई से आईएएनएस से कहा था, "मैंने हमेशा कप्तानी की भूमिका का लुत्फ उठाया है और मैंने हमेशा अपने कंधे पर इस जिम्मेदारी को उठाया है। मैं इसे खुले दिमाग से करने जा रहा हूं। मैं प्रत्येक मैच से प्रत्येक दिन इससे सीखूंगा।"

राहुल और कुंबले दोनों बेंगलुरू से आते हैं और ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि इससे टीम को फायदा मिलनी चाहिए।

कुंबले ने कहा था, "राहुल और अन्य खिलाड़ियों को पहले से ही जानने से स्पष्ट रूप से एक दूसरे को अच्छी तरह से समझने में मदद मिलती है। मैंने राहुल को बहुत कम उम्र से एक खिलाड़ी के रूप में देखा है। यह उनका पहला प्रमुख (कप्तानी कार्यकाल) होगा। वह एक जूनियर स्तर पर कप्तानी करते हैं, लेकिन एक उच्च स्तरीय मैच में नहीं। अब तक वह शानदार रहे हैं।"

किंग्स इलेवन पंजाब की टीम इस बार कागजों पर बहुत मजबूत दिख रही है। टीम के साथ ग्लैन मैक्सवेल, क्रिस गेल और डेविड वार्नर जैसे विस्फोटक बल्लेबाज हैं, जोकि पहले भी टीम के साथ थे। गेल और मैक्सवेल के पास तूफानी बल्लेबाजी की कमी नहीं होनी चाहिए। कुंबले ने कहा है कि वह चाहते हैं कि 'यूनिवर्स बॉस' नेतृत्व समूह के हिस्से के रूप में अधिक सक्रिय हो।

टॉप आर्डर में मयंक अग्रवाल को टीम को मजबूती देना चाहिए और उनका साथ देने के लिए मनदीप सिंह और करुण नायर होंगे। भारतीय टीम के लिए राहुल का फॉर्म शानदार रहा है और पंजाब को उम्मीद होगी कि राहुल अपने इस फॉर्म को यहां भी बरकरार रखें।

गेंदबाजी में अनुभवी भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी तेज गेंदबाजी की अगुवाई करेंगे। शमी का साथ देने के लिए क्रिस वोक्स, शेल्डन कॉटरेल, जेम्स नीशम, इशान पोरेल, दर्शन नालकांडे और अर्शदीप सिंह होंगे।

स्पिन विभाग में अफगानिस्तान के लेग स्पिनर मुजीब उर रहमान यूएई में टीम को टॉप क्वालीटी स्पिन विकल्प देंगे। उनके अलाव मुर्गन अश्विन, कृष्णप्पा गौतम और रवि बिश्नोई भी टीम को मजबूती देंगे।

किंग्स इलेवन पंजाब की टीम 2008 और 2014 में प्लेआफ में पहुंची थी। यूएई में टीम का शानदार रिकॉर्ड रहा है और उसने 2014 के संस्करण में पांच मैचों में से एक भी मैच नहीं हारा था।

ताकत:

टीम की किस्मत राहुल और कुंबले की साझेदारी पर बहुत अधिक निर्भर करेगी और वे किस तरह टीम का नेतृत्व करेंगे यह देखने वाली बात होगी। राहुल के असाधारण रूप और शांत स्वभाव से उन्हें एक कप्तान और बल्लेबाज के रूप में मदद करनी चाहिए और इसके बदले में टीम को फायदा होगा।

कमजोरी :

किंग्स इलेवन के अंदर हमेशा आईपीएल जीतने की क्षमता रही है, लेकिन वास्तव में टीम कभी भी एक एकजुट होकर नहीं खेली है। किसी भी कीमत पर दबाव खिलाड़ियों पर बहुत अधिक भारी पड़ सकता है और टीम के प्रदर्शन में एक भूमिका निभा सकता है।

टीम : लोकेश राहुल (कप्तान और विकेटकीपर) क्रिस गेल, मयंक अग्रवाल, करुण नायर, सरफराज खान, मनदीप सिंह, शेल्डन कॉटरेल, इशान पोरेल, रवि बिश्नोई, मोहम्मद शमी, मुजीब उर रहमान, अर्शदीप सिंह, हार्डस विलोजेन, एम अश्विन, हरप्रीत बराड़, दर्शन नलकांडे, ग्लेन मैक्सवेल, जेम्स नीशम, क्रिस जॉर्डन, कृष्णप्पा गौतम, दीपक हुड्डा, तजिंदर सिंह ढिल्लों, निकोलस पूरन (विकेटकीपर), प्रभसिमरन सिंह (विकेटकीपर)।

सपोर्ट स्टाफ : अनिल कुंबले (मुख्य कोच), एंडी फ्लावर (सहायक कोच), वसीम जाफर (बल्लेबाजी कोच), जोंटी रोड्स (फील्डिंग कोच), चार्ल लैंगवेल्ड्ट (गेंदबाजी कोच), एंड्रयू लेक्सस (फिजियोथेरेपिस्ट), एड्रियन ले रूक्स (ताकत और कंडीशनिंग कोच)।


15-Sep-2020 7:25 PM

कोलकाता, 15 सितंबर (आईएएनएस)| चाइनमैन कुलदीप यादव पर आईपीएल के 13वें सीजन में भी अच्छा करने का दबाव है लेकिन वह इसकी परवाह किए बगैर अपने तरकश में से कुछ नए तीर निकालने को तैयार हैं।

आईपीएल का 13वां सीजन 19 सितंबर से संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में शुरू हो रहा है। कोविड-19 के कारण इस बार आईपीएल यूएई में खेला जा रहा है।

कुलदीप का पिछला आईपीएल अच्छा नहीं रहा था और वह नौ मैचों में सिर्फ चार विकेट ले पाए थे। इसी कारण अंत के मैचों में वह टीम अंतिम-11 से बाहर कर दिए गए थे। टीम पांचवें स्थान पर रही थी और प्लेऑफ में क्वालीफाई नहीं कर पाई थी।

कुलदीप ने अपना आखिरी टी-20 मैच जनवरी में श्रीलंका के खिलाफ खेला था। वहीं पांच फरवरी को हेमिल्टन में उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ अपना आखिरी वनडे मैच खेला था। इसके बाद कोविड-19 ने सब कुछ रोक दिया।

कुलदीप ने आईएएनएस से बात करते हुए कहा, "मैंने कुछ गेंदों पर काम किया है खासकर टी-20 प्रारूप के लिए। आईपीएल में आपको यह देखने को मिलेगा।"

कुलदीप ने कहा कि उनके सफल होने की संभावना यूएई में मौजूद पिचों के कारण और बढ़ गई हैं जिनका स्वाभव स्पिनरों के पक्ष में है।

बाएं हाथ के इस स्पिनर ने कहा, "यह परिस्थियां मुझे भाती हैं। यहां काफी गर्मी है। जब मैं घर पर पर था तब भी ऐसा ही था, गर्मी और उमस। इसलिए मैं ज्यादा गर्मी महसूस नहीं करती। इस लिहाज से मैं काफी खुश हूं, अगर आप विकेट की बात करें तो मैं खुश हूं क्योंकि यहां स्पिनरों की मददगार विकेट हैं। इसलिए मुझे काफी फायदा होगा।"

कुलदीप से जब पिछले आईपीएल से मिली सीख के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह अब किसी चीज को लेकर जल्दबाजी में नहीं रहेंगे और असफलता स्वीकार करने के लिए वो तैयार हैं।

उन्होंने कहा, "आपको हर समय प्लान करने की जरूरत होती है। यह अनुभव काफी जरूरी है। साथ ही, आपको हमेशा कुछ करने का समय मिलता है। आपको जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए। अगर आप जल्दबाजी करते हो तो गलती होने की संभावना है। क्रिकेट ऐसा खेल है जहां आप हर समय अच्छा नहीं कर सकते। आपको असफलता स्वीकार करनी होगी। इसके बाद ही आप अच्छे खिलाड़ी बन पाओगे।"

उन्होंने कहा, "अनुभव ऐसी चीज है जिससे मैं सीखूंगा। मेरे साथ पिछले आईपीएल में जो हुआ वो सभी के साथ होता है। संघर्ष खेल का हिस्सा है। इस तरह से हाइप नहीं करना चाहिए कि आपके प्रदर्शन पर इसका असर पड़े, लोग बात करें। खिलाड़ी का आंकलन उस हिसाब से नहीं करना चाहिए। आप नहीं जानते हैं कि कितनी मेहनत लगती है। यह कई बार काम करता है और कई बार नहीं।"

उम्मीदों का दबाव है?, "मैं इसे दबाव के तौर पर नहीं लेता। यहां, प्रशंसकों, परिवार और टीम को आपसे उम्मीदें होती हैं। आप चाहते हो कि आप उन पर खरा उतरो। मेरे ऊपर दबाव नहीं है, लेकिन मैं उम्मीदों पर खरा उतरना चाहता हूं और टीम को आगे ले जाना चाहता हूं।

उन्होंने कहा, "एक सीनियर खिलाड़ी के तौर पर आप हमेशा अच्छा करना चाहते हो और प्रशंसक भी यही चाहते हैं। इसलिए आप शायद थोड़ा नर्वस महसूस करते हो लेकिन मैं इसे दबाव के तौर पर नहीं लूंगा।"


15-Sep-2020 5:55 PM

-अभिषेक उपाध्याय 

नई दिल्ली, 15 सितंबर (आईएएनएस)| किंग्स इलेवन पंजाब के लिए आईपीएल के आगामी सीजन में खेलने जा रहे युवा तेज गेंदबाज ईशान पोरेल पहली बार इस लीग की चुनौती के लिए तैयार हैं, लेकिन वो मैदान में उतरने से पहले अपने पत्ते नहीं खोलना चाहते।

इस तेज गेंदबाज को पंजाब के लिए लीग में लगातार खेलते हुए देखा जा सकता है और इसके लिए ईशान तैयारी भी कर रहे हैं लेकिन वो अपनी तैयारी को आम नहीं करना चाहते हैं। उनका कहना है कि आईपीएल में सब दिख ही जाएगा।

ईशान ने दुबई से आईएएनएस से अपनी तैयारी और गेंदबाजी वैरिएशन पर बात कररते हुए कहा, "जो तैयारी की हैं, वो आईपीएल में सभी को देखने को मिलेगी। मैं अभी से कुछ बताना नहीं चाहता। मैं काम कर रहा हूं, चाहे नक्कल गेंद हो, स्लोअर हो। मुख्य बात यह रहेगी कि आप किस तरह से इसे मैदान पर उतारते हो। अगर नहीं कर पाते हो तो रन जा सकते हैं। और बाकी जो वैरिएशन मैं सीख रहा हूं वो आईपीएल में दिख ही जाएंगे।"

कोविड-19 के कारण इस बार आईपीएल का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में हो रहा है, जहां कि पिचें धीमी मानी जाती हैं लेकिन ईशान को इससे परेशानी नहीं है क्योंकि उन्होंने कोलकाता में अपनी अधिकतर क्रिकेट इसी तरह की पिचों पर खेली है।

युवा गेंदबाज ने कहा, "मुझे इस तरह की विकेटों पर खेलने की आदत है क्योंकि कोलकाता में जहां पर हम लीग मैच खेलते हैं वहां गर्मियों में इसी तरह के विकेट होती है। बस अंतर है वो लीग क्रिकेट है और यह आईपीएल है। मैं बचपन से ही इस तरह की स्थिति में खेलने का आदि हूं तो इसे लेकर मैं कुछ सोच नहीं रहा हूं, मैं सिर्फ अपने प्लान को कैसे लागू करना है इस बारे में सोच रहा हूं।"

ईशान घरेलू क्रिकेट में बंगाल का प्रतिनिधित्व करते हैं और बंगाल से ही खेलने वाले भारतीय टीम के मुख्य गेंदबाजों में शुमार मोहम्मद शमी भी पंजाब के लिए आईपीएल खेलेंगे।

शमी के रहने से ईशान को क्या फायदा होगा? इस पर युवा ने कहा, "मैं उनसे कभी भी जाकर कुछ भी पूछ सकता हूं। शमी भाई भी हर समय बोलते हैं कि कुछ पूछना है तो सोचना नहीं बेझिझक आकर पूछ लेना। वो एक दिक्कज गेंदबाज हैं और जब वो अपना अनुभव शेयर करते हैं तो उससे फायदा होता है। सिर्फ मेरे और शमी भाई का नहीं हमारा गेंदबाजी आक्रमण ही ऐसा है कि हम लोग आपस में बात करते रहते हैं। हम सभी में अच्छी कैमेस्ट्री है, जो मैच में काम आएगी। हां शमी भाई के साथ मुझे थोड़ा जाकर पूछना आसान रहता है और मैदान पर जब वो साथ रहेंगे तो निश्चित तौर पर मुझे सहज महसूस होगा।"

पंजाब की टीम में क्रिस गेल जैसा बल्लेबाज है जो टी-20 में सबसे खतरनाक बल्लेबाजों में गिना जाता है। ईशान ने कहा कि टीम में कुछ और ऐसे बल्लेबाज हैं जो खतरनाक हैं और इन सभी को गेंदबाजी करना उन्हें मददगार साबित होगा।

ईशान ने कहा, "क्रिस गेल ही नहीं हमारी टीम में कई सारे तूफानी बल्लेबाज हैं। जैसे सरफराज भाई हो गए, राहुल भाई हैं। हमारी टीम में कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो मुझे मदद कर रहे हैं कि अगर मेरे सामने कोई तूफानी बल्लेबाज आ जाए तो मैं कैसे गेंदबाजी करूं। हां, जाहिर सी बात है कि गेल को गेंदबाजी करने से मदद मिलती है। मैं हमेशा इन लोगों से अपनी गेंदबाजी के बारे में फीडबैक लेता रहता हूं। इससे मुझे ही फायदा होगा क्योंकि मुझे आईपीएल में विराट कोहली, अब्राहम डिविलियर्स, आंद्रे रसेल, माही भाई जैसे खतरनाक बल्लेबाजों को गेंदबाजी करनी होगी।"

ईशान, पृथ्वी शॉ की कप्तानी वाली उस अंडर-19 टीम का हिस्सा थे, जिसने 2018 में अंडर-19 विश्व कप जीता था। वह पिछले साल चोट के कारण आईपीएल नहीं खेल पाए थे लेकिन अब इस बड़े मंच के लिए तैयार हैं।

उन्होंने कहा, "आईपीएल सभी के लिए बड़ा प्लेटफॉर्म है। चाहे आप पहली बार खेल रहे हों या तीसरी-चौथी बार। यह आपको अपने सफर को पूरा करने का मौका देता है। यहां आप अच्छा करते हो तो आपको भारतीय टीम में मौका मिलता है। अंडर-19 और इंडिया-ए अलग प्लेटफॉर्म है और आईपीएल अलग प्लेटफॉर्म है क्योंकि आईपीएल में 90 फीसदी वो खिलाड़ी होते हैं जो अंर्तराष्ट्रीय क्रिकेट खेल चुके होते हैं। अंडर-19 अलग था, इंडिया-ए थोड़ा ऊपर और आईपीएल, जमीन-आसामन में फर्क होता है वैसा है। यह बड़ा और काफी चुनौतीपूर्ण प्लेटफॉर्म है।"