खेल

Previous123456789...2526Next
09-Aug-2020 6:20 PM

नई दिल्ली, 9 अगस्त । भारतीय क्रिकेट टीम के दाएं हाथ के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा को टेस्ट क्रिकेट का महारथी कहा जाता है और शायद इसी वजह से कोई भी आईपीएल टीम उन्हें अपना हिस्सा नहीं बनाती. वैसे भी आईपीएल में उनका प्रदर्शन कुछ खास अच्छा भी नहीं रहा है. एक टॉप ऑर्डर बल्लेबाज के हिसाब से आईपीएल में उनका स्ट्राइक रेट काफी कम है. आपको बता दें कि चेतेश्वर पुजारा ने आईपीएल में अब तक 30 मैचों में हिस्सा लिया है, जिनमें उन्होंने 22 पारियां खेली हैं और इस दौरान 20.53 की औसत से सिर्फ 390 रन ही बनाए हैं। आईपीएल में पुजारा का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 51 रन है और इसी कारण वो साल 2014 के बाद से किसी भी आईपीएल टीम का हिस्सा नहीं रहे हैं. यहां सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि पुजारा का आईपीएल में न सिर्फ औसत कम है बल्कि स्ट्राइक रेट भी काफी खराब है।

गौरतलब है कि पुजारा ने इस टूर्नामेंट में 100 से भी कम के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं, जोकि आईपीएल के हिसाब से काफी खराब माना जाता है। (zeenews.india.com/hindi)


09-Aug-2020 6:19 PM

नई दिल्ली, 9 अगस्त । भारतीय टीम में हमेशा सबको हंसाने और फैंस का मनोरंजन करने वाले स्पिन गेंदबाज युजवेंद्र चहल ने शनिवार को सोशल मीडिया पर बताया कि उनकी शादी तय हो गई है। चहल ने अपनी दुल्हनियां के साथ तस्वीर शेयर करते हुए बताया कि परिवार की रजामंदी के साथ ही उन्होंने यूट्यूबर डांसर धनश्री से शादी का फैसला कर लिया है। सबके पसंदीदा चहल को साथी खिलाडिय़ों ने बधाई दी। वहीं भारतीय उप-कप्तान रोहित शर्मा ने चहल को इस मौके पर भी बिना ट्रोल किए नहीं जाने दिया।

रोहित ने ट्विटर पर एक फोटो शेयर किया। इस फोटो में उनकी आईपीएल फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की जर्सी में एक बुजुर्ग और एक युवक नजर आ रहे हैं और दोनों ही आरसीबी के फैंस दिख रहे हैं। फोटो में बुजुर्ग को लाल घेरे में डालते हुए लिखा गया था युजवेंद्र चहल एक युवा के साथ आईपीएल 2050 में खेलते हुए, इसके साथ ही रोहित ने युजवेंद्र चहल को टैग करते हुए लिखा, भाई सगाई करने के लिए बधाई। मेरी शुभकामनाएं तुम्हारे साथ हैं।

इससे पहले रोहित ने चहल को 30वें जन्मदिन की बधाई भी ट्रोल करते हुए ही दी थी। रोहित शर्मा ने चहल को विश करते हुए मुंबई इंडियंस की जर्सी वाली तस्वीर शेयर की और लिखा कि आप भारत के सबसे बड़े राष्ट्रीय खजाना है और आपको जन्मदिन मुबारक हो। रोहित शर्मा और युजवेंद्रा चहल दोनों एक साथ 2011 से लेकर 2013 तक मुंबई इंडियंस के लिए खेले थे और दौरान ही दोनों की दोस्ती हुई। चहल ने अपना आइपीएल डेब्यू रोहित शर्मा की कप्तानी में ही किया था और उनसे पहले मैच में भी रोहित ही कप्तान थे।

सहवाग ने भी की टांग खिंचाई

रोहित के अलावा भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने भी चहल को ट्रोल कर दिया। टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने अपने मजाकिया अंदाज में चहल को सगाई की बधाई दी। उन्होंने लिखा, ‘वाह युजवेंद्र चहल। आपदा को अवसर में बदल डाला बधाई।’

चहल की मंगेतर धनश्री वर्मा कोरियोग्राफर होने के अलावा एक डॉक्टर और यूट्यूबर भी हैं। चहल सगाई से पहले धनश्री वर्मा के साथ कई जूम सेशन्स में एक्टिव दिखे हैं।चहल को के।एल। राहुल, हार्दिक पंड्या और रोहित शर्मा के अलावा इंग्लैंड की क्रिकेटर डेनियल वाट ने भी उन्हें बधाई दी है। (hindi.news18.com)


09-Aug-2020 6:16 PM

इस्लामाबाद, 9 अगस्त। पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का मानना है कि अपनी गेंदबाजी एक्शन के कारण भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह के लिए सभी प्रारूपों में खेलने के लिए खुद को उपलब्ध रखना मुश्किल होगा। अख्तर ने पूर्व भारतीय क्रिकेटर आकाश चोपड़ा के साथ उनके यूट्यूब शो आकाशवाणी में कहा, बुमराह के पास एक मुश्किल एक्शन है। वह सभी प्रारूपों में नहीं खेल सकते हैं।

शोएब अख्तर ने कहा, यह उनकी बहादुरी है कि उन्होंने टेस्ट मैचों में अपना कौशल दिखाया। वह बहुत मेहनती लडक़ा है और बहुत फोकस्ड है। वह जानते हैं कि वह कहां जाना चाहता है, लेकिन क्या उनकी पीठ उनका समर्थन करेगी। तब तक जब उनकी पीठ पर इतना भार होगा।

अख्तर ने आगे कहा, मैं उनके मैच देख रहा था इससे पहले कि वह टूट गया। मैं अपने दोस्तों से कह रहा था कि वह टूट जाएगा। उन्होंने (दोस्तों) मुझे बताया कि यह सिर्फ 4-5 कदम रन-अप था। मैंने उन्हें बताया कि यह कदमों का सवाल नहीं है, बल्कि डिलीवरी स्ट्राइड के दौरान लोडिंग के बारे में है, उनकी पीठ इतने अधिक समय तक टिक नहीं पाएगी।

अख्तर ने कहा, एक झपकी आ जाएगी और वह हो गई। मुझे लगता है कि एक दो टेस्ट मैचों के बाद वह टूट गया। उसे बहुत सावधान रहना होगा और उनके कप्तान को भी क्योंकि आपको ऐसी बहुत कम प्रतिभाएं मिलती हैं।


09-Aug-2020 6:16 PM

कोलंबो, 9 अगस्त (एजेंसी)। इंग्लैंड के विश्व कप विजेता तेज गेंदबाज लियाम प्लंकेट और न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज टिम साउदी सहित कुल 93 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों को 28 अगस्त से शुरू हो रही पहली लंका प्रीमियर लीग (एलपीएल) के लिए सूचीबद्ध  किया गया है। ‘सेलोन टुडे’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान के अनुभवी ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज और वेस्टइंडीज के सलामी बल्लेबाज ड्वेन स्मिथ भी इस टी20 लीग के विदेशी खिलाडिय़ों की सूची में शामिल हैं।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि दुबई की खेल प्रसारण कंपनी इनोवेटिव प्रॉडक्शन ग्रुप (आईपीजी) को पांच साल के लिए एलपीएल के ‘सभी अधिकार’ दिए गए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, ‘आईपीजी के पास टूर्नमेंट के मैदान, प्रॉडक्शन, फ्रैंचाइजी और टीवी अधिकारों का पूरा अधिकार हैं। समूह इन अधिकारों के लिए सालाना 20 लाख डॉलर का भुगतान करेगा।’

20 सितंबर को फाइनल

इसमें बताया गया है कि यह आईपीजी और फ्रैंचाइजी पर निर्भर है कि वे खिलाडिय़ों के साथ बातचीत या किसी अन्य उपयुक्त तरीके से उनके चयन का फैसला करें। इसमें श्रीलंका क्रिकेट शामिल नहीं होगा। इस टी20 लीग में पांच टीमें होंगी और चार अंतरराष्ट्रीय मैदानों पर 23 मैच खेले जाएंगे। टूर्नमेंट का फाइनल 20 सितंबर को खेला जाएगा।

 


09-Aug-2020 6:14 PM

मैनचेस्टर, 9 अगस्त ।  इंग्लैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर ने पाकिस्तान के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में मुश्किल समय में शानदार बल्लेबाजी करते हुए टीम को जीत दिलाई। क्रिस वोक्स के साथ 139 रनों की अहम साझेदारी करते हुए उन्होंने 75 रनों का पारी खेली और पाकिस्तान के हाथों से जीत छीन ली। हालांकि बटलर के लिए यह आसान नहीं था। उन्होंने मैच में विकेटकीपिंग के समय कई गलतियां की जिसकी वजह से वह दबाव में थे वहीं उन्हें अपने पिता की भी चिंता थी। बटलर को तीसरे दिन रात 10 बजे बताया गया था कि उनके पिता तबियत खराब होने के कारण अस्पताल में भर्ती हैं।

दरअसल जोस बटलर के पिता की तबियत अचानक खराब हो गई थी जिसके बाद उन्हे अस्पताल ले जाना पड़ा था। बटलर की शानदार पारी के बाद उनकी बहन ट्वीट करके तारीफ की था। वहीं टीम के कप्तान जो रूट ने भी तारीफ करते कहा, मैं जानता हूं यह उनके लिए काफी मुश्किल रहा होगा। यह उसकी खूबी है कि दबाव में वह और बेहतर प्रदर्शन करता है। वह फील्ड के दबाव को तो आसानी से झेल लेता है लेकिन फील्ड के बाहर के दबाव को झेलना उसके लिए आसान नहीं है। मुझे लगता है यह उनके करियर की अहम पारियों में शामिल होगी।

अपनी बल्लेबाजी पर गर्व

मैच के बाद बटलर ने कहा, मुझे काफी गर्व है, अगर मैं विकेटकीपिंग में वो मौके ना छोड़ता तो हम दो घंटे पहले मैच जीत जाते। मैं जानता था कि मैंने अच्छी विकेटकीपिंग नहीं की, मैंने मौके छोड़े और इस स्तर पर आप ऐसा करने का खतरा नहीं उठा सकते, चाहे आप कितने ही रन क्यों ना बनाएं। उन्होंने कहा, दिमाग में ख्याल आते रहे थे कि अगर मैंने उतने रन नहीं बनाए, तो शायद मैं अपना आखिरी मैच खेल चुका हूं। लेकिन आपको इन सब बातों को भुलाकर अपना खेल खेलना होता है। वोक्स के साथ अपने साझेदारी पर बटलर ने कहा, हमने इसे वनडे चेज की समझा और चार रन प्रति ओवर के हिसाब से खेला, और दूसरी नई गेंद को समीकरण से बाहर करने की कोशिश की। हमें अच्छा मूमेंटम मिला और अच्छी साझेदारी बनी।

(hindi.news18.com)

 

 

 


09-Aug-2020 6:12 PM

तूरिन, 9 अगस्त (भाषा)। स्टार फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो के दो गोल की मदद से यूवेंटस की टीम शुक्रवार को दूसरे चरण के मैच में लियोन पर 2-1 से जीत दर्ज करने में सफल रही।

लेकिन इसके बावजूद वह चैम्पियंस लीग से बाहर हो गई। लियोन और यूवेंटस का कुल स्कोर (दोनों चरण के मैचों का नतीजा) 2-2 रहा और लियोन की टीम ‘अवे गोल’ की मदद से क्वॉर्टरफाइनल में पहुंचने में सफल रही।

लियोन का सामना अब एलिमिनेशन क्वॉर्टरफाइनल में लिस्बन में मैनचेस्टर सिटी से होगा, जिसने रियल मैड्रिड को 2-1 से हराकर 4-2 के कुल स्कोर से अगले दौर में प्रवेश किया था। रोनाल्डो ने 43वें (पेनल्टी) और 60वें मिनट में गोल किया। लेकिन लियोन के कप्तान मेम्फिस डिपे के 12वें मिनट में पेनल्टी से किए गए गोल ने लियोन को क्वॉर्टरफाइनल में पहुंचाया।

 


09-Aug-2020 4:08 PM

नई दिल्ली, 9 अगस्त (आईएएनएस)| बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा है कि वीवो का आईपीएल के 13वें सीजन के मुख्य प्रायोजक के तौर पर बाहर जाने को वित्तीय संकट के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए। बीसीसीआई ने पिछले सप्ताह वीवो के साथ आईपीएल के मुख्य प्रायोजक के तौर पर करार को खत्म कर दिया था। यह फैसला वीवो से करार कायम रखने के बाद बीसीसीआई और आईपीएल गवर्निग काउंसिल की आलोचना के बाद लिया गया है। 

ईएसपीएनक्रिकइंफो की रिपोर्ट के मुताबिक, गांगुली ने लर्नफ्लिक्स द्वारा आयोजित वेबीनार में कहा, "मैं इसे वित्तीय संकट नहीं कहूंगा। यह थोड़ा सा झटका है और आप इससे तभी निपट सकते हैं जब आप कुछ समय तक पेशेवर तौर पर मजबूत रहेंगे तो।" 

उन्होंने कहा, "लेकन चीजें एक रात में नहीं आती हैं। और बड़ी चीजें एक रात में नहीं जातीं। आपकी लंबे समय तक तैयारी आपको नुकसान के लिए तैयार करती हैं, आपको सफलता के लिए तैयार करती हैं।" 

उन्होंने कहा, "आप दोनों विकल्प खुले रखते हो। यह प्लान-ए या प्लान-बी की तरह होता है। समझदार लोग करते हैं। समझदार ब्रांड ऐसे ही करते हैं। बीसीसीआई काफी मजबूत संस्थान है- पहले के खेल, खिलाड़ी, प्रशासकों ने इस खेल को इतना मजबूत बनाया है कि बीसीसीआई इस तरह के छोटे झटके से निपट लेगी। 


08-Aug-2020 7:31 PM

नई दिल्ली, 8 अगस्त। दुनिया में सर्वाधिक शतक ठोकने वाले महान बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर के कई शतक अंपायर के खराब निर्णय के चलते भी अधूरे रह गए। इंटरनैशनल क्रिकेट में 100 शतक जमाने वाले इस बल्लेबाज को कई बार तब अंपायरों के गलत निर्णय का शिकार होना पड़ा है, जब वह शतक के बेहद करीब 90 पर बल्लेबाजी कर रहे होते थे।  ऐसी ही गलती दिग्गज अंपायर साइमन टॉफेल से इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए ट्रेंट ब्रिज (2007) टेस्ट में हुई। लेकिन टॉफेल कहते हैं उस गलती के बाद मैं और सचिन बहुत अच्छे दोस्त बन गए।

हाल ही में साइमन टॉफेल गौरव कपूर के मशहूर पॉडकास्ट प्रोग्राम 22 यान्र्स पोडकास्ट होस्टिड बाय गौरव कपूर शो में उपस्थित हुए। यहां उन्होंने बताया कि सचिन तेंडुलकर को गलत आउट देने के बाद उनसे दोस्ती और गहरी हो गई।

टॉफेल 2007 के उस ट्रेंट ब्रिज टेस्ट में अंपायरिंग कर रहे थे। जब तेंडुलकर अपने शतक की ओर पहुंच रहे थे, तब पॉल कॉलिंगवुड की गेंद पर टॉफेल ने उन्हें आउट दे दिया। टीवी रिप्ले में साफ दिख रहा था कि वह गेंद ऑफ स्टंप से एक इंच दूर थी।

टॉफेल ने कहा, अगली सुबह मैदान पर जाते हुए मैं सचिन के पास से निकल रहा था। मैं वहां सचिन के पास आया और उनसे कहा, देखो कल मैं गलत था, आपको पता है? मैंने इसे देखा और खुद को गलत पाया।

इसके बाद सचिन ने कहा, देखो साइमन, मुझे पता है आप एक अच्छे अंपायर हैं, आप अकसर गलतियां नहीं करते हैं, ठीक है अब इसे लेकर चिंता मत कीजिए।

साइमन ने कहा,मैं अपनी गलती के लिए सचिन से माफी नहीं मांग रहा था कि इससे वह या मैं बेहतर महसूस करें। बस यह इसलिए था कि हम दोनों वहां अपना-अपना काम बेहतर कर रहे थे। मुझे मालूम है कि इस निर्णय से वह खुश नहीं थे और मैं उन्हें यह भरोसा दिलाना चाहता था यह दोबारा नहीं होगा।

उन्होंने कहा, इसके बाद हम दोनों की एक दूसरे के प्रति सम्मान बहुत बढ़ गया। मैंने सचिन को सिर्फ वहीं गलत आउट नहीं दिया। इसके बाद भी एक-दो मौकों पर ऐसी गलतियां हुईं। लेकिन इसके बावजूद हमारी एक दूसरे के प्रति विश्वास, सम्मान और हमारे रिश्तों में शुद्धता बनी रही। (navbharattimes.indiatimes.com)

 


08-Aug-2020 7:29 PM

नई दिल्ली, 8 अगस्त। पाकिस्तान में लंबे समय बाद क्रिकेट की वापसी हुई थी। साल 2009 में श्रीलंकाई टीम पर हुए आतंकी हमले के बाद फैंस अपने देश में मैच देखने के लिए तरस गए थे। पीसीबी लगातार देश में खिलाडिय़ों की सुरक्षा की बात करती दिखती हैं। हालांकि एक बार फिर पाकिस्तान में क्रिकेट मैच के दौरान हुए आतंकी हमले ने सुरक्षा पर सवाल खड़े कर दिए हैं।

पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के ओराक्जई जिले में एक अमन क्रिकेट नाम के टूर्नामेंट का आयोजन हो रहा था। फाइनल मैच के दौरान भव्य समापन समारोह में तोडफ़ोड़ की गई। सिर्फ यही नहीं मैदान में मौजूद फैंस, राजनीतिक कार्यकर्ता और मीडियाकर्मियों के मौजूदगी में अंधाधुंध गोलियां चलाईं गईं, किसी तरह लोगों ने अपनी जान बचाई। पाकिस्तानी मीडिया की माने तो मैच शुरू होने से पहले ही आतंकवादियों ने पास की पहाडिय़ों से खेल के मैदान पर अंधाधुंध गोलियां चलाईं। पाकिस्तानी मीडिया की माने तो अमन क्रिकेट टूर्नामेंट के नाम से आयोजित की गई इस प्रतियोगिता से पहले ही आतंकवादियों ने पास की पहाडिय़ों से खेल के मैदान पर गोलियां बरसाई।

एक दर्शक ने कहा कि गोलीबारी इतनी तेज थी कि आयोजकों के पास खेल को समाप्त करने के अलावा कोई विकल्प नहीं था। ओराकजाई जिला पुलिस अधिकारी निसार अहमद खान ने स्वीकार किया कि उन्हें क्षेत्र में आतंकियों के बारे में कुछ जानकारी थी और अब उन्होंने गतिविधि के पीछे वालों को ट्रैक करने के लिए ओरकजाई स्काउट्स के साथ एक संयुक्त अभियान शुरू किया है।

साल 2009 में श्रीलंका टीम जब पाकिस्तान के दौरे पर गई तब उनकी बस पर भी आतंकियों ने गोलियां बरसाई थी। इस घटना के बाद सभी बड़ी टीमों ने पाक दौरे पर आने से इंकार करना शुरू कर दिया वहीं आईसीसी ने भी वहां क्रिकेट के आयोजन पर बैन लगाया था। पिछले कुछ सालों में हालात ठीक होते दिखने लगे थे। पिछले तीन सालों में श्रीलंका, वेस्टइंडीज और बांग्लादेश ने पाकिस्तान का दौरा किया।

वहीं 10 साल बाद वहां टेस्ट की वापसी भी हुई। इस तरह की घटना एक बार फिर से वहां सुरक्षा पर सवाल खड़े कर दिए हैं। (hindi.news18.com)


08-Aug-2020 7:28 PM

दुबई, 8 अगस्त (आईएएनएस)। न्यूजीलैंड में अगले साल होने वाले आईसीसी महिला क्रिकेट वल्र्ड कप 2021को कोरोना वायरस महामारी के कारण फरवरी-मार्च 2022 तक के लिए स्थगित कर दिया है। साथ ही पुरुष टी20 विश्व कप को लेकर भी अहम फैसला लिया गया है। 2021 में होने वाले टी20 वल्र्ड कप अब भारत में होगा, जबकि 2022 के टूर्नमेंट की मेजबानी ऑस्ट्रेलिया करेगी।

आईसीसी ने एक बयान में कहा कि दुनिया भर में कोविड-19 के स्वास्थ्य, क्रिकेट और वाणिज्यिक प्रभाव को ध्यान में रखते हुए एक व्यापक आकस्मिक नियोजन अभ्यास के बाद आईबीसी (आईसीसी की वाणिज्यिक सहायक) द्वारा यह निर्णय लिया गया है। आईसीसी के कार्यकारी चेयरमैन इमरान ख्वाजा ने कहा, पिछले कुछ महीनों में जैसा कि हमने विचार किया है कि हम वैश्विक घटनाओं का मंचन कैसे कर सकते हैं, आईसीसी की घटनाओं में शामिल सभी लोगों के स्वास्थ्य और सुरक्षा की रक्षा करना हमारी सबसे बड़ी प्राथमिकता रही है। उन्होंने कहा, बोर्ड ने आज जो फैसला लिया, वे खेल, हमारे भागीदारों और महत्वपूर्ण रूप से हमारे प्रशंसकों के हित में हैं। मैं बीसीसीआई, क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और क्रिकेट न्यूजीलैंड के साथ-साथ ऑस्ट्रेलियाई और न्यूजीलैंड में अपने सहयोगियों को आईसीसी टूर्नमेंटों में सुरक्षित वापसी के लिए उनकी निरंतर समर्थन और प्रतिबद्धता के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं।

 


08-Aug-2020 7:28 PM

नई दिल्ली, 8 अगस्त । भारतीय हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह समेत पांच खिलाडिय़ों को बेंगलुरू में भारतीय खेल प्राधिकरण (स््रढ्ढ) के राष्ट्रीय खेल उत्कृष्टता केंद्र में राष्ट्रीय हॉकी शिविर में रिपोर्ट करने के बाद कोविड-19 जांच में पॉजिटिव पाया गया। मनप्रीत के अलावा डिफेंडर सुरेंदर कुमार, जसकरण सिंह और ड्रैग फ्लिकर वरुण कुमार पॉजिटिव पाए गए। बाद में पता चला कि गोलकीपर कृष्णा बी पाठक भी कोरोना जांच में पॉजिटिव आए हैं। स््रढ्ढ के मुताबिक राज्य सरकार से उनकी रिपोर्ट बाद में मिली।

हालांकि राष्ट्रीय शिविर पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही शुरू होगा। ये खिलाड़ी घर पर ब्रेक के बाद टीम के साथ शिविर के लिए पहुंचे थे। खिलाड़ी एक महीने से ब्रेक पर थे। इससे पहले लॉकडाउन के कारण दो महीने से अधिक समय तक बेंगलुरू के साई केंद्र पर फंसे हुए थे।

शिविर फिट खिलाडिय़ों के लिए 20 अगस्त से ही शुरू होगा।  ‘शिविर में रिपोर्ट करने वाले सभी खिलाडिय़ों का पहुंचने पर रैपिड कोविड-19 परीक्षण कराना अनिवार्य किया गया है। पॉजिटिव आए इन सभी खिलाडिय़ों ने एक साथ ही यात्रा की थी तो पूरी संभावना है कि घर से बेंगलुरू पहुंचते हुए उनसे वायरस फैला होगा।’

‘सभी चार खिलाडिय़ों को रैपिड परीक्षण में निगेटिव पाया गया था, लेकिन मनप्रीत और सुरेंद्र में बाद में कुछ कोविड-19 के लक्षण दिखाई दिए तो उन्हें और उनके साथ यात्रा करने वाले अन्य 10 खिलाडिय़ों के साथ गुरुवार का आरटी-पीसीआर परीक्षण कराया गया, जिसमें ये चार कोविड-19 पॉजिटिव निकले।’

उनके नतीजे हालांकि अभी साई को सौंपे नहीं गए हैं, लेकिन राज्य सरकार ने साई अधिकारियों को इनके बारे में बता दिया और कुछ परीक्षण के नतीजों का अब भी इंतजार है।(aajtak.intoday.in)

 

 


08-Aug-2020 7:25 PM

नई दिल्ली, 8 अगसत। आईपीएल 2020 की तारीखों के ऐलान के बाद से सभी भारतीय क्रिकेटर काफी जोश में दिखाई दे रहे हैं। हों भी क्यों ना, कोरोना वायरस के फैलने के बाद से कोई खिलाड़ी एक मैच को तरस गया है। अब सभी खिलाडिय़ों के पास आईपीएल में अपना जलवा दिखाने का मौका है और इसीलिए सभी खिलाड़ी इस टूर्नामेंट के लिए बेहद उत्सुक हैं। शुक्रवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल  ने भी आईपीएल के 13वें सीजन से पहले अपनी उत्सुकता जाहिर की और उन्होंने एक बेहद ही जोशिला पोस्ट ट्वीट किया। लेकिन फैंस ने उन्हें बुरी तरह ट्रोल कर दिया।

युजवेंद्र चहल ने सोशल मीडिया पर जो फोटो शेयर की उसमें वह आरसीबी के कप्तान विराट कोहली के साथ टीम की जर्सी में विकेट लेने के बाद जश्न मानते नजर आ रहे हैं। चहल ने इस फोटो के साथ लिखा, इंतजार खत्म। अब दहाडऩे का समय। आईपीएल-2020।

चहल के इस पोस्ट पर कई फैंस ने उनका मजाक उड़ाना शुरू कर दिया। फैंस ने कहा कि दहाडऩा तो धोनी की टीम चेन्नई सुपरकिंग्स का काम है। बता दें चेन्नई सुपरकिंग्स के लिए दहाडऩे शब्द का प्रयोग होता है लेकिन आरसीबी के युजवेंद्र चहल ने इसे अपनी पोस्ट में इस्तेमाल कर लिया। एक फैन ने लिखा- 12 सालों में तो नहीं कर पाई क्रष्टक्च रोर। क्रष्टक्च से न हो पायेगा भाई, और विराट के कप्तान रहते तो बिल्कुल नहीं,वो केवल 2 टीमों वाले टूर्नामेंट के शेर हैं, जब ढेर सारी टीमें रहती है,तो चोकर्स ही साबित हुए हैं , इतिहास गवाह है, कोई बड़ा टूर्नामेंट नहीं जीता। इसलिए वैश्विक चोकर्स की दोस्ती अच्छी है।

कोहली की कप्तानी वाली आरसीबी की टीम कई बड़े नामों के बावजूद आईपीएल का खिताब नहीं जीत सकी है। बता दें पिछले सीजन में बैंगलोर का प्रदर्शन बेहद ही खराब रहा था। विराट कोहली की टीम सबसे नीचे 8वें नंबर पर रही थी। बैंगलोर की टीम 2009, 2011, 2016 में फाइनल में पहुंची, लेकिन हर बार वो चैंपियन बनने से चूक गई। इस बार उसकी कोशिश निश्चित तौर पर चैंपियन बनने की होगी। (hindi.news18.com)

 


08-Aug-2020 7:23 PM

नई दिल्ली,  8 अगस्त । भारत की मुख्य तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी 2022 तक स्थगित हुए महिला वल्र्ड कप तक 39 साल की हो जाएंगी, लेकिन वनडे में सर्वाधिक विकेट चटकाने वाली इस खिलाड़ी ने इस टूर्नामेंट में भाग लेने की उम्मीद नहीं छोड़ी है. उनका कहना है कि वह लगातार प्रदर्शन करते हुए टीम में जगह बनाने की कोशिश करेंगी. झूलन और भारतीय कप्तान मिताली राज जैसी महिला धुरंधरों के लिए न्यूजीलैंड में 2021 विश्व कप अंतिम होने की उम्मीद थी।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद की शुक्रवार को घोषणा के बाद मिताली ने ट्वीट किया कि 12 महीने के स्थगन से उनकी टीम को तैयारियों के लिए काफी समय मिल जाएगा, क्योंकि कोविड-19 महामारी ने उनकी योजनाओं को बुरी तरह प्रभावित किया है और उनका लक्ष्य हमेशा अपना पहला विश्व कप खिताब जीतने का होगा।

झूलन भी मिताली की तरह 37 साल की हैं। वह भी 18 महीने बाद न्यूजीलैंड में खेलना चाहती हैं, लेकिन उनका कहना है कि टूर्नामेंट तक उनकी फिटनेस और उनका प्रदर्शन ही यह तय करेगा. झूलन ने पीटीआई से कहा, ‘हमारे पास तैयारी के लिए काफी समय है, करीब 18 महीने, लेकिन दूसरी ओर अगर यह अगले साल ही होता तो यह अच्छा होता क्योंकि मैं लंबे समय से इस पर ध्यान लगाए थी।’ उन्होंने कहा, ‘अब आपको इसके आगे के बारे में सोचने की जरूरत होगी. हमने पिछले पांच-छह महीने से कोई क्रिकेट नहीं खेला है और मेरे जैसी खिलाड़ी (जो केवल वनडे खेलती हैं) ने नवंबर (2019) में ही टूर्नामेंट खेला था क्योंकि सभी टीमें विश्व कप (2020 में ऑस्ट्रेलिया में फरवरी-मार्च) से पहले टी20 खेली थीं।’

क्या वह खुद को 2022 संस्करण में खेलते हुए देखती हैं? तो उन्होंने कहा, ‘भारत के लिए खेलना सबसे बड़ा सम्मान है।  हां, 2022 अभी लक्ष्य बना हुआ है, लेकिन आपको इस प्रक्रिया का हिस्सा होना चाहिए और लगातार मैच खेलते हुए प्रदर्शन करना चाहिए। इसके बाद ही आप विश्व कप के बारे में सोच सकते हो क्योंकि अभी काफी समय बचा है और यह करीब नहीं है।’

(aajtak.intoday.in)

 

 

 


08-Aug-2020 7:23 PM

ढाका, 8 अगस्त। बांग्लादेश के ऑलराउंडर शाकिब अल हसन अगले महीने से सावर में बीकेएसपी में ट्रेनिंग पर वापसी करेंगे। शाकिब की नजरें अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी पर रहेंगी। बाएं हाथ के इस खिलाड़ी पर आईसीसी की भ्रष्टाचार रोधी नियम के उल्लंघन के कारण दो साल का प्रतिबंध लगा था, जो 29 अक्टूबर 2020 को खत्म हो रहा है।

शाकिब इस समय अपने परिवार के साथ अमेरिका में हैं और वह अगस्त के अंत में ढाका आने की योजना बना रहे हैं ताकि वह कैम्प में हिस्सा ले सकें। शाकिब के मेंटॉर नजमुल अबेदीन ने ईएसपीएनक्रिकइंफो से कहा, शाकिब अगले महीने बीकेएसपी आएंगे, जहां उनको प्रशिक्षक और ट्रेनर उपलब्ध रहेंगे। हमारे पास ऐसे कोच हैं जो कैम्प में ही रह रहे हैं इसलिए हम उनके साथ काम कर सकते हैं। शाकिब को हर चीज उपलब्ध होगी।

शाकिब ने अपने देश के लिए 56 टेस्ट मैच खेले हैं। इसके अलावा उन्होंने अपने देश के लिए 206 वनडे और 76 टी-20 मैच खेले हैं। पिछले साल इंग्लैंड में हुए वर्ल्ड कप में उन्होंने टीम के लिए दमदार प्रदर्शन किया था। (navbharattimes.indiatimes.com)


08-Aug-2020 5:39 PM

नई दिल्ली, 8 अगस्त (आईएएनएस)| पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने कहा है कि उन्हें 2006 में फैसलाबाद में हुए टेस्ट मैच में महेंद्र सिंह धोनी को बीमर नहीं फेंकनी चाहिए थी। अख्तर ने कहा कि उन्होंने ऐसा पहली बार जानबूझकर किया था और इसके बाद उन्होंने धोनी से माफी भी मांग ली थी।

अख्तर ने आकाश चोपड़ा के यूट्यूब चैनल आकाशवाणी पर कहा, "मुझे लगता है कि मैंने फैसलाबाद में 8-9 ओवरों का स्पेल फेंका था। मैंने वो स्पेल काफी जल्दी किया था और धोनी ने शतक जमाया था। मैंने उन्हें जानबूझकर बीमर फेंकी है और इसके बाद उनसे माफी मांगी।"

पूर्व गेंदबाज ने कहा, "उस दिन मैंने पहली बार जानबूझकर बीमर फेंकी। मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए था। मैं इस पर बाद में काफी पछताया। वह शानदार खेल रहे थे और विकेट काफी धीमी थी। मैं चाहे कितनी भी तेज फेंक लूं वो मारे जा रहे थे। मैं परेशान हो गया था।"

धोनी का फैसलाबाद में बनाया गया शतक टेस्ट में पहला शतक था।


07-Aug-2020 7:15 PM

हैदराबाद, 7 अगस्त । टोक्यो ओलंपिक-2020 में क्वालिफाई करने की उम्मीद रखने वाले 8 बैडमिंटन खिलाडिय़ों का नेशनल कैंप शुक्रवार से हैदराबाद की पुलेला गोपीचंद एकेडमी में शुरू होगा। भारतीय खेल प्राधिकरण  ने यह फैसला तेलंगाना राज्य सरकार द्वारा एक अगस्त को दिए गए आदेश के बाद लिया है, जिसमें सरकार ने 5 अगस्त से खेल गतिविधियां शुरू करनी मंजूरी दी है।

रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता पीवी सिंधु के अलावा इस कैंप में साइना नेहवाल, किदांबी श्रीकांत, अश्विनी पोनप्पा, साई प्रणीत, चिराग शेट्टी, सत्विकसाइराज रैंकीरेड्डी और एन। सिक्की रेड्डी इस शिविर में हिस्सा लेंगे।

शिविर शुरू होने पर राष्ट्रीय बैडमिंटन टीम के कोच पुलेला गोपीचंद ने कहा, मैं हमारे शीर्ष खिलाडिय़ों के कोर्ट पर लंबे ब्रेक के बाद ट्रेनिंग पर वापसी से खुश हूं। हम सुरक्षित वातावरण में ट्रेनिंग करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

साई  ने कहा है कि खिलाडिय़ों को पूरी सुरक्षा देने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए एकेडमी को रंगों के हिसाब से बांटा गया है, जहां सिर्फ खिलाड़ी और प्रशिक्षक ही आ सकेंगे। वहीं, सपोर्ट स्टाफ और प्रशासकों के लिए अलग जोन बनाए गए हैं और इन लोगों का खेलने वाले एरिया में जाना निषेध रहेगा। ट्रेनिंग स्वास्थ मंत्रालय और साई द्वारा तय की गई स्ह्रक्क की गाइंडलाइंस को ध्यान में रखकर की जाएगी। साथ ही राज्य सरकार की गाइडलाइंस का भी ध्यान रखा जाएगा। (aajtak.intoday.in)


07-Aug-2020 7:12 PM

नई दिल्ली, 7 अगस्त। कोरोना वायरस का असर खेलों की वित्तीय सेहत पर भी पड़ा है। 31 अगस्त से शुरू हो रहे यूएस ओपन की पुरस्कार राशि में इस बार भारी कटौती की गई है। यूएस टेनिस एसोसिएशन ने जानकारी देते हुए बताया कि इस बार पिछले साल के मुकाबले पुरस्कार राशि में 8.50 लाख डॉलर यानि 6.36 करोड़ रुपये की कटौती की है

यूएस टेनिस एसोसिएशन  ने बताया कि पुरुष और महिला सिंगल्स में चैंपियन को 2020 में इनाम के तौर पर तीन मिलियन डॉलर (करीब 22 करोड़ 54 लाख रुपए) मिलेंगे। इस साल टूर्नामेंट में हिस्सा लेने वाले खिलाडिय़ों को कुल 53.4 मिलियन डॉलर (करीब 399 करोड़ रुपए) राशि इनाम के तौर पर दी जाएगी, जोकि पिछले साल 57.2 मिलियन डॉलर (करीब 427 करोड़ रुपए) से करीब सात फीसदी कम है।  यूएस टेनिस एसोसिएशन  ने बताया कि पुरुष और महिला सिंगल्स में चैंपियन को 2020 में इनाम के तौर पर तीन मिलियन डॉलर (करीब 22 करोड़ 54 लाख रुपए) मिलेंगे। इस साल टूर्नामेंट में हिस्सा लेने वाले खिलाडिय़ों को कुल 53।4 मिलियन डॉलर (करीब 399 करोड़ रुपए) राशि इनाम के तौर पर दी जाएगी, जोकि पिछले साल 57.2 मिलियन डॉलर (करीब 427 करोड़ रुपए) से करीब सात फीसदी कम है।

यूएस टेनिस एसोसिएशन ने बताया कि पुरुष और महिला सिंगल्स में चैंपियन को 2020 में इनाम के तौर पर तीन मिलियन डॉलर (करीब 22 करोड़ 54 लाख रुपए) मिलेंगे। इस साल टूर्नामेंट में हिस्सा लेने वाले खिलाडिय़ों को कुल 53।4 मिलियन डॉलर (करीब 399 करोड़ रुपए) राशि इनाम के तौर पर दी जाएगी, जोकि पिछले साल 57।2 मिलियन डॉलर (करीब 427 करोड़ रुपए) से करीब सात फीसदी कम है।

यूएस ओपन टूर्नामेंट के सिंगल्स के पहले राउंड में हिस्सा लेने वाले खिलाडिय़ों को मिलने वाली इनामी राशि में पिछले साल के मुकाबले 5 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। पिछले साल खिलाडिय़ों को 58,000 डॉलर (करीब 43 लाख रुपए) मिलते थे।

 जबकि इस साल 61,000 डॉलर (करीब 45 लाख रुपए) मिलेंगे।  बता दें यूएस ओपन टूर्नामेंट के सिंगल्स के पहले राउंड में हिस्सा लेने वाले खिलाडिय़ों को मिलने वाली इनामी राशि में पिछले साल के मुकाबले 5 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। पिछले साल खिलाडिय़ों को 58,000 डॉलर (करीब 43 लाख रुपए) मिलते थे, जबकि इस साल 61,000 डॉलर (करीब 45 लाख रुपए) मिलेंगे।

ओपन टूर्नामेंट के सिंगल्स के पहले राउंड में हिस्सा लेने वाले खिलाडिय़ों को मिलने वाली इनामी राशि में पिछले साल के मुकाबले 5 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। पिछले साल खिलाडिय़ों को 58,000 डॉलर (करीब 43 लाख रुपए) मिलते थे, जबकि इस साल 61,000 डॉलर (करीब 45 लाख रुपए) मिलेंगे।

यूएस ओपन के दूसरे और तीसरे राउंड तक पहुंचने वाले खिलाडिय़ों को मिलने वाली इनामी राशि में कोई बदलाव नहीं हुआ है।  यूएस ओपन के दूसरे और तीसरे राउंड तक पहुंचने वाले खिलाडिय़ों को मिलने वाली इनामी राशि में कोई बदलाव नहीं हुआ है। (news18.com)


07-Aug-2020 7:11 PM

पोर्ट आफ स्पेन, 7 अगस्त । कैरेबियाई प्रीमियर लीग (सीपीएल) में हिस्सा लेने के लिए त्रिनिदाद एवं टोबैगो की यात्रा करने वाले 162 सदस्य कोविड-19 जांच में निगेटिव आए हैं. सीपीएल की मीडिया विज्ञप्ति के अनुसार लीग की सुरक्षा के लिए कड़े प्रोटोकॉल के अंतर्गत तीन खिलाड़ी और एक कोच यात्रा नहीं कर सके हैं।

टूर्नामेंट 18 अगस्त से शुरू होगा और त्रिनिदाद में दो स्थलों पर 33 मैच खेले जाएंगे. पहले मैच में पिछले साल की उपविजेता गुयाना एमेजन वॉरियर्स का सामना त्रिनबागो नाइटराइडर्स (टीकेआर) से होगा. फाइनल 10 सितंबर को खेला जाएगा।

यह पहली बार है जब भारतीय क्रिकेटर सीपीएल में हिस्सा लेंगे. मुंबई के 48 साल के लेग स्पिनर प्रवीण ताम्बे टीकेआर की ओर से खेलेंगे, जिन्होंने हाल में घरेलू क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया था।

हर व्यक्ति का 72 घंटे पहले परीक्षण किया गया, ताकि यात्रा करने वाले सभी सदस्य वायरस मुक्त रहें. जमैका में बसे एक खिलाड़ी को कोविड-19 पॉजिटिव पाया गया था और वह दो अन्य के साथ ट्रेनिंग कर रहा था, इसलिए सभी तीनों को हटने को कहा गया. एक कोच ऑस्ट्रेलिया में बसे हैं, जिन्हें भी पॉजिटिव पाया गया, जिससे वह भी यात्रा नहीं कर सके।

इन 162 लोगों को आधिकारिक होटल में 14 दिनों के लिए पृथकवास में रखा जाएगा, जहां उनकी नियमित तौर पर जांच होगी. विज्ञप्ति के अनुसार, ‘अगर किसी सदस्य को वायरस से संक्रमित पाया गया, तो उन्हें होटल से हटाकर त्रिनिदाद एवं टोबैगो में मौजूदा प्रोटोकॉल के अनुसार पृथकवास में रखा जाएगा. लेकिन अभी तक जितने भी सदस्य त्रिनिदाद एवं टोबैगो पहुंचे हैं, वे कोविड-19 से मुक्त हैं।

टूर्नामेंट के परिचालन निदेशक माइकल हॉल ने कहा, ‘हमारी प्राथमिकता सीपीएल में शामिल होने वाले सभी सदस्यों का स्वास्थ्य और उनकी सुरक्षा है। (aajtak.intoday.in)

 

 

 

 


07-Aug-2020 7:04 PM

नई दिल्ली, 7 अगस्त। कोरोना वायरस की वजह से क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया पर बहुत बड़ा आर्थिक संकट मंडरा रहा है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को डर है कि कहीं कोरोना वायरस की वजह से भारत के खिलाफ सीरीज रद्द ना करनी पड़ जाए इस वजह से उसने अगले हफ्ते राष्ट्रीय क्रिकेट समिति की आपात बैठक बुलाई है। यही नहीं खबरें हैं कि विक्टोरिया प्रांत में कोरोना वायरस महामारी के बढते मामलों के बीच क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया भारत के खिलाफ पारंपरिक बॉक्सिंग डे टेस्ट मेलबर्न की बजाय एडिलेड में करा सकता है । सिडनी मार्निंग हेराल्ड की रिपोर्ट के अनुसार 26 से 30 दिसंबर तक होने वाले इस टेस्ट के मेजबानों की दौड़ में एडिलेड सबसे आगे है । क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के चेयरमैन अर्ल एडिंग्स ने अगले सप्ताह राष्ट्रीय क्रिकेट समिति की आपात बैठक बुलाई है जिसमें इस सीरीज के संचालन पर बात की जायेगी । अगर यह सीरीज नहीं होती है तो क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को 30 करोड़ ऑस्ट्रेलियाई डॉलर (16 अरब रुपये) का नुकसान होगा । एक वरिष्ठ क्रिकेट अधिकारी ने अखबार को बताया कि कोरोना वायरस महामारी के चलते सीरीज के कार्यक्रम में बदलाव करना ही पड़ेगा । बता दें विक्टोरिया में अब तक 17000 पॉजिटिव मामले आ चुके हैं और 170 लोगों की मौत हुई है। न्यू साउथवेल्स में 4000 पॉजिटिव मामले पाये गए हैं जबकि एडीलेड में 457 पुष्ट मामले आये जिनमें से 445 संक्रमित ठीक हो गए। (hindi.news18.com)


07-Aug-2020 7:02 PM

नई दिल्ली, 7 अगस्त। दुनिया के दिग्गज तेज गेंदबाजों में शुमार पाकिस्तान के पूर्व पेसर शोएब अख्तर ने अपने देश की सेना के बजट को लेकर बयान दिया है। उन्होंने पाकिस्तान के एक न्यूज चैनल से कहा कि वह पाकिस्तानी सेना का बजट बढ़ाने के लिए घास तक खाएंगे।

44 साल के अख्तर ने एआरवाई न्यूज को दिए एक इंटरव्यू में कहा, अगर अल्लाह कभी मुझे अधिकार देता है, तो मैं खुद घास खाऊंगा लेकिन सेना का बजट बढ़ा दूंगा। उन्होंने यह भी कहा कि नागरिकों को सशस्त्र बलों के साथ मिलकर काम करना चाहिए।

पूर्व पेसर ने कहा, मैं अपने सेना प्रमुख को अपने साथ बैठने और निर्णय लेने के लिए कहूंगा। यदि बजट 20 प्रतिशत है, तो मैं इसे 60 प्रतिशत करूंगा। यदि हम एक-दूसरे का अपमान करते हैं, तो नुकसान हमारा ही है।

इससे पहले उन्होंने दावा किया था कि उन्होंने नॉटिंघमशायर के लिए काउंटी क्रिकेट खेलने के लिए 175,000 पाउंड के अनुबंध को ठुकरा दिया था ताकि वह कारगिल युद्ध में लड़ सकें। भारत और पाकिस्तान की सेना के बीच साल 1999 में कारगिल युद्ध हुआ था।

पाकिस्तान के टेनिस स्टार ऐसाम उल हक ने ट्विटर पर शोएब अख्तर के साथ तस्वीर को शेयर करते इस दान के लिए शुक्रिया कहा है। उन्होंने लिखा- शोएब अख्तर भाई यह खास हेलमेट दान देने के लिए शुक्रिया। इस हेलमेट को 15 साल पहले शाहरुख खान ने साइन करके आपको दिया था, जब आप मैन ऑफ द मैच बने थे। इस पर शोएब ने जवाब देते लिखा- यह दान एक खास वजह के लिए है।

उल्लेखनीय है कि शोएब अख्तर 2008 में शाहरुख खान की मालिकाना हक वाली टीम कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेले थे। उन्होंने दिल्?ली डेयरडेविल्?स (दिल्ली कैपिटल्स) के खिलाफ 3 ओवरों में 11 रन देकर 4 विकेट झटकते हुए टीम को जीत दिला दी थी। इस मैच में केकेआर ने 133 रन बनाए थे, जबकि दिल्ली 110 रन पर बना सकी थी।

शोएब को शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया था, जबकि शाहरुख खान ने अपनी ओर से यह साइन किया हुआ हेलमेट रावलपिंडी ऐक्सप्रेस को गिफ्ट किया था।

करियर में 46 टेस्ट में 178 और 163 वनडे में 247 विकेट लेने वाले अख्तर ने कहा था, नॉटिंघम के साथ मेरा 175,000 पाउंड का अनुबंध था। फिर 2002 में मेरा एक और बड़ा अनुबंध था। जब कारगिल हुआ तब मैंने दोनों को छोड़ दिया। उन्होंने 15 टी20 इंटरनैशनल मैचों में 19 विकेट भी लिए हैं। (navbharattimes.indiatimes.com)

 


Previous123456789...2526Next