खेल

Previous12Next
Date : 06-Apr-2020

नई दिल्ली,6 अप्रैल। अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजर सिंह और उनकी पत्नी गीता बसरा लॉकडाउन के दिनों में जरूरतमंद परिवारों की मदद के लिए आगे आए हैं. भज्जी ने बताया कि वह और उनकी पत्नी गीता बसरा जालंधर के 5000 परिवारों को इस मुश्किल हालात में राशन उपलब्ध कराएंगे. कोरोना वायरस ने विश्वभर में कहर बरपाया है. भारत में अब तक 80 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

हरभजन सिंह ने रविवार को अपने ट्विटर हैंडल से तस्वीरें शेयर कर यह जानकारी दी. हरभजन ने लिखासतनाम वाहेगुरु... बस हिम्मत हौसला देना... गीता बसरा और मैं आज से 5000 परिवारों को राशन बांटने का संकल्प लेते हैं. वाहेगुरु हम सभी पर कृपा करें। भज्जी ने अपने संदेश में लिखा,हम अपने साथी नागरिकों का भार कम करने की कोशिश करेंगे. सुरक्षित रहें, घर में रहें और सकारात्मक रहें।

 भगवान हम सभी पर कृपा करें. जय हिंद. गीता बसरा ने भी अपने ट्विटर हैंडल से इसे पोस्ट किया है। 39 साल के हरभजन ने कहा कि वह ऐसे लोगों को खाना खिलाते रहेंगे, जो बेघर हैं और स्थिति सामान्य होने तक बेरोजगार हैं. उन्होंने कहा, 'हम 5 किलो चावल, आटा, तेल और अन्य खाना पकाने की आवश्यक सामग्री वितरित कर रहे हैं. यह प्रयास फिलहाल जारी रहेगा।

भज्जी ने कहा, मैं अभी भी जालंधर से जुड़ा हुआ हूं. मेरा एक हिस्सा वहां रहता है और मैं अपने लोगों को पीडि़त नहीं देख सकता. क्रिकेट ने मुझे बहुत कुछ दिया है और मैं यह कुछ कर सका। (आजतक)


Date : 06-Apr-2020

चेन्नई, 6 अप्रैल। शतरंज मास्टर से क्रिकेटर बने युजवेंद्र चहल ने रविवार को चेस डॉट काम की ओर से आयोजित ऑनलाइन ब्लिट्ज टूर्नामेंट में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि इसी खेल ने उन्हें क्रिकेट के मैदान पर संयमित होना सिखाया। पूर्व राष्ट्रीय अंडर-12 शतरंज चैम्पियन चहल ने विश्व युवा शतरंज चैम्पियनशिप में देश का प्रतिनिधित्व किया था और वह विश्व शतरंज महासंघ की वेबसाइट में भी शामिल हैं। उनकी ईएलओ रेटिंग 1956 है।

भारतीय क्रिकेटर चहल ने टूर्नामेंट शुरू होने से पहले ग्रैंडमास्टर अभिजीत गुप्ता और अंतरराष्ट्रीय मास्टर राकेश कुलकर्णी से बातचीत की। उन्होंने कहा, ‘शतरंज ने मुझे संयम बरतना सिखाया। क्रिकेट में आप भले ही अच्छी गेंदबाजी कर रहे हो, लेकिन आपको शायद विकेट नहीं मिलें।’

उन्होंने कहा, ‘इसी तरह एक टेस्ट मैच में आपने दिन में भले ही अच्छी गेंदबाजी की, लेकिन विकेट नहीं मिले हों, लेकिन आपको अगले दिन वापस आकर गेंदबाजी करनी होती है इसलिए आपको संयमित होने की जरूरत होती है। शतरंज ने इसमें मेरी काफी मदद की है। मैंने धैर्य बरतकर बल्लेबाज को आउट करना सीखा।’

चहल से शतरंज के बजाय क्रिकेट को चुनने के फैसले के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि उनकी क्रिकेट में ज्यादा दिलचस्पी थी। भारत के लिए 52 वनडे और 42 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके चहल ने कहा, ‘मुझे शतरंज और क्रिकेट के बीच चयन करना था मैंने अपने पापा से बात की और उन्होंने कहा कि तुम्हारी मर्जी है। मेरी क्रिकेट में ज्यादा दिलचस्पी थी, तो मैंने इसे चुना।’

अगर आईपीएल हो रहा होता तो वह विराट कोहली की अगुवाई वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (क्रष्टक्च) में खेल रहे होते, लेकिन अभी वह लॉकडाउन के समय में परिवार के साथ समय बिता रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘मुझे परिवार के साथ समय बिताने का ज्यादा समय नहीं मिलता। कई साल के बाद मैं घर पर हूं। मैं अपने परिवार के साथ समय बिता रहा हूं। यह अच्छा और नया अनुभव है। मैं देर रात सोता हूं और सुबह देर से उठता हूं और शाम में परिवार के सदस्यों के साथ समय बिताता हूं।’

उन्होंने कहा कि उनके आदर्श महान लेग स्पिनर शेन वॉर्न हैं और जब भी संभव होता है वह शतरंज देखते हैं और ऑनलाइन गेम खेलते हैं। चहल ने इंग्लैंड में 2019 विश्व कप में दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज फाफ डु प्लेसिस के विकेट को अपने सर्वश्रेष्ठ विकेट में से एक करार दिया। उन्होंने कहा, ‘यह मेरा पहला विश्व कप था। मैंने फाफ को आउट किया जो बड़े मैच में बड़ा विकेट था।’

चहल ने अपनी गेंदबाजी के बारे में कहा, ‘मैं भी गेंदबाजी करते हुए काफी योजना बनाता हूं और विकेटकीपर से चर्चा करता हूं। जैसे मैं माही भाई (एम एस धोनी) को बताता था कि मैं कैसे गेंदबाजी करूंगा।’ उन्होंने साथ ही लोगों से घर में रहने की अपील की ताकि कोरोना वायरस महामारी से निपटने में मदद मिले।चहल ने कहा, ‘कृपया घर पर रहिए, आपके लिए यह नायक बनने का मौका है। हमें कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में एकजुट रहना होगा। आप पढ़ सकते हो, डांस सीख सकते हो, खाना बनाना सीख सकते हो, इस समय में नयी चीजें करना सीखिए।’ (आजतक)


Date : 06-Apr-2020

नई दिल्ली, 6 अप्रैल । टीम इंडिया के कोचिंग स्टाफ का हिस्सा रह चुके पैडी अपटन को लगता है कि अगर इस साल कोरोना वायरस के चलते आईपीएल का आयोजन नहीं हुआ तो इससे देश के कई प्रतिभाशाली क्रिकेटर्स एंग्जाइटी और डिप्रेशन का शिकार हो सकते हैं। भारतीय क्रिकेट में पैडी की गहरी छाप रही है और वह साल 2011 में वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम इंडिया के मेंटल कंडिश्निंग कोच थे। रविवार को उन्होंने हमारे सहयोगी अखबार 'द टाइम्स ऑफ इंडिया' से लॉकडाउन के मौजूदा दौर में खिलाडिय़ों की मानसिक सेहत और उनके उपचार पर खास बातचीत की।

इस बातचीत के दौरान पैडी अपटन ने बताया कि वैश्विक स्तर पर अचानक इतना लंबा ब्रेक आ जाने से सिर्फ खिलाड़ी ही नहीं दुनिया भर के लोगों में तनाव, एंग्जाइटी और असुरक्षा की भावना बढ़ेगी। सभी के सामने इन दिनों प्रफैशनली और फाइनैंशियली चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है।

पैडी ने कहा कि ऐसे में वे उभरते हुए ऐथलीट्स जो क्रिकेट के अलावा भी दूसरे खेलों में रुचि लेते हैं उनका स्थिति से पार पाना आसान है, लेकिन जो सिर्फ क्रिकेट पर ही पूरा फोकर करते हैं उनके लिए चिंताएं बढऩा लाजमी है।

आईपीएल न होने से भारत के घरेलू क्रिकेटरों में एंग्जाइटी और डिप्रशन बढऩे के सवाल पर टीम इंडिया के इस पूर्व मेंटल कंडिश्निंग कोच ने कहा, 'स्वभाविक तौर पर आईपीएल क्रिकेटर्स के लिए एक बड़ा आयोजन और दुधारू गाय है। ऐसे समय (लॉकडाउन जैसे हालात) में जब कोई स्वस्थ और सामान्य व्यक्ति खुद को लेकर ज्यादा सोचता है तो उससे ऐथलीट्स ही नहीं किसी में भी ये चिंताएं बढऩा लाजमी हैं। मैं सभी को यह सलाह दूंगा कि सिर्फ खिलाड़ी ही नहीं दूसरे लोग भी इन दिनों इस सामान्य खतरे पर अधिक न सोचें और वे दूसरे लोगों पर अपना ध्यान लगाएं, उनकी चिंताएं करें और इस समय अन्य अवसरों पर भी विचार करें, जिन पर इस मुश्किल समय में फोकस किया जा सकता है।'

इन मुश्किल दिनों में पैडी खिलाडिय़ों समेत सभी को यह सलाह दे रहे हैं कि वे इस जीवन के उन सभी पहलुओं पर बराबर फोकस करें, जो उन्हें एक अच्छा इंसान बनाएं। जैसे खिलाडिय़ों को भी अपनी शारीरिक-मानसिक फिटनेस के अलावा भावनात्मक और आध्यात्मिक पहलुओं पर भी ध्यान देना चाहिए। इन दिनों प्रोऐक्टिव (अतिसक्रिय) रहने की जरूरत है। ऐसे समय में अपनी चिंताओं पर अधिक सोचकर खुद पर तनाव बढ़ाने से बेहतर है कि इन समस्याओं का हल ढूंढा जाए।(नवभारत टाईम्स)


Date : 06-Apr-2020

नई दिल्ली, 6 अप्रैल । पूर्व भारतीय स्टार क्रिकेटर युवराज सिंह ने कोरोना महामारी से लडऩे के लिए शनिवार को प्रधानमंत्री केयर्स फंड (क्करू ष्ट्रक्रश्वस् स्नह्वठ्ठस्र) में 50 लाख रुपये का दान किया है। इस ऑलराउंडर ने कोविड-19 महामारी के खिलाफ लोगों से एकजुट रहने की अपील भी की है। इस जानलेवा वायरस से अब तक देश में 3,500 से ज्यादा लोग संक्रमित हैं और 80 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है।

युवराज ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, 'इस एकता दिखाने वाले दिन मैं प्रधानमंत्री केयर्स कोष में 50 लाख रुपये दान देने का वादा करता हूं। कृपया आप भी अपनी ओर से योगदान करें।

उधर, अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजर सिंह और उनकी पत्नी गीता बसरा लॉकडाउन के दिनों में जरूरतमद परिवारों की मदद के लिए आगे आए हैं।

भज्जी ने बताया कि वह और उनकी पत्नी गीता बसरा जालंधर के 5000 परिवारों को इस मुश्किल हालात में राशन उपलब्ध कराएंगे।(आजतक)


Date : 06-Apr-2020

नई दिल्ली, 6 अप्रैल । बात आती है महंगी ऐक्सेसरीज की तो आमतौर पर बीटाउन स्टार्स का ही जिक्र किया जाता है, लेकिन इस मामले में हमारी इंडियन टीम के क्रिकेटर्स भी पीछे नहीं हैं। इनके पास भी दुनिया के बड़े से बड़े ब्रैंड्स की घडिय़ां हैं जिन्हें वे इतनी सहजता के साथ कैरी करते हैं कि अगर ध्यान से देखा न जाए तो पता भी न चले। तो चलिए जानते हैं ऐसे ही कुछ इंडियन क्रिकेटर्स के बारे में जिनके पास जबरदस्त महंगी घडिय़ां हैं।

हार्दिक पांड्या

हार्दिक पांड्या अपनी महंगी घडिय़ों को फ्लॉन्ट करने के कतराते नहीं हैं। 2019 में जब वह एक सर्जरी से गुजरे और अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट की तो सभी की नजरें उनके हाथ में बंधी वॉच पर चली गई। हार्दिक की यह वॉच क्कड्डह्लद्गद्म क्कद्धद्बद्यद्बश्चश्चद्ग हृड्डह्वह्लद्बद्यह्वह्य ब्रैंड की थी, जिसकी घड़ी पाने के लिए कस्टमर्स को प्री-ऑर्डर देते हुए लंबा इंतजार करना पड़ता है। अब बात करें इस वॉच की कीमत की तो हार्दिक की यह घड़ी करीब 81 लाख रुपये की बताई जाती है।

क्रुणाल पांड्या

हार्दिक के भाई क्रुणाल भी क्रिकेटर हैं और वह भी महंगी वॉच पहनने का शौक रखते हैं। उनके पास क्रशद्यद्ग& की ष्टशह्यद्वशद्दह्म्ड्डश्चद्ध ष्ठड्ड4ह्लशठ्ठड्ड क्रड्डद्बठ्ठड्ढश2 ङ्घद्गद्यद्यश2 त्रशद्यस्र ह्र4ह्यह्लद्गह्म् घड़ी है। इसकी कीमत इंटरनेट पर 1 करोड़ रुपये के करीब बताई गई है।

जसप्रीत बुमराह

भारतीय क्रिकेट टीम के बॉलर जसप्रीत बुमराह भी रोलेक्स की वॉच पहनते हैं। उनके पास इस ब्रैंड की ष्ठड्ड4ह्लशठ्ठड्ड ष्टद्धह्म्शठ्ठश कलेक्शन की घड़ी है जिसकी कीमत करीब 26 लाख रुपये बताई जाती है।

मयंक डागर

डोमेस्टिक क्रिकेट मैच में हिमाचल प्रदेश की ओर से खेलने वाले मयंक डागर भी एक्सपेंसिव वॉच का कलेक्शन रखते हैं। उनके पास ॥ह्वड्ढद्यशह्ल क्चद्बद्द क्चड्डठ्ठद्द ठ्ठद्बष्श स्ड्डश्चश्चद्धद्बह्म्द्ग वॉच है जिसकी कीमत करीब 40 लाख बताई जाती है। इस स्विस लग्जरी वॉच ब्रैंड को दुनियाभर में कई दिग्गज स्टार्स बतौर ऐंबैसडर प्रमोट करते हैं।

हरभजन सिंह

हरभजन सिंह के पास महंगा घर और कार के साथ ही महंगी घडिय़ां भी काफी हैं। उनके पास भी ॥ह्वड्ढद्यशह्ल ब्रैंड की एक घड़ी है। हरभजन के पास जो ॥ह्वड्ढद्यशह्ल ्यद्बठ्ठद्द क्कश2द्गह्म् स्न1 ढ्ढठ्ठस्रद्बड्ड त्रशद्यस्र लिमिटिड एडिशन की वॉच है उसकी रीटेल प्राइस करीब 33 लाख रुपये बताई जाती है।

सुरेश रैना

सुरेश रैना भले ही फील्ड से दूर हों लेकिन यह क्रिकेटर सोशल मीडिया के जरिए जरूर फैन्स से जुड़ा रहता है। अपने ऐक्टिव करियर में सुरेश ने कमाई की तो उससे अपने लिए कुछ लग्जरी आइटम्स भी खरीदे। इनमें से एक उनकी क्रद्बष्द्धड्डह्म्स्र रूद्बद्यद्ग क्ररू11-03 वॉच भी है, जिसकी कीमत करीब 94 लाख रुपये है।

सचिन तेंदुलकर

सचिन तेंदुलकर पहले भारत के उन चुनिंदा शख्स में से थे जिनके पास फरारी थी। वैसे इस महंगी कार के अलावा उनके पास ऐसी घडिय़ां भी हैं जो शायद कुछ ही इंडियन बिगीज के पास हों। इसमें से एक ्रह्वस्रद्गद्वड्डह्म्ह्य क्कद्बद्दह्वद्गह्ल ष्टड्डह्म्ड्ढशठ्ठ ष्टशठ्ठष्द्गश्चह्ल ञ्जशह्वह्म्ड्ढद्बद्यद्यशठ्ठ वॉच है। बताया जाता है कि इसकी कीमत करीब 1.3 करोड़ रुपये है।

विराट कोहली

इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान के करोड़ों का बंगले, फ्लैट और गाडिय़ों के बारे में तो लगभग सभी जानते हैं, लेकिन इस स्टार खिलाड़ी के पास इतनी महंगी वॉच भी है जिसके बारे में शायद कम लोगों को पता है। विराट के पास क्रशद्यद्ग& ष्ठड्ड4ह्लशठ्ठड्ड क्रड्डद्बठ्ठड्ढश2 श्व1द्गह्म्शह्यद्ग त्रशद्यस्र द्वशस्रद्गद्य वॉच है जिसके डायल में नीलम लगे हैं। इस वॉच की कीमत करीब 2 करोड़ रुपये बताई जाती है।(नवभारत टाईम्स)

 


Date : 05-Apr-2020

नई दिल्ली, 5 अप्रैल । वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज ब्रायन लारा का मानना है कि सचिन तेंदुलकर उन महान खिलाडिय़ों में से एक है, जिनके साथ वह खेले हैं। लारा ने इंस्टग्राम पर कहा, सचिन तेंदुलकर हमारे शानदार खेल में महान खिलाडिय़ों में से एक हैं। सचिन तेंदुलकर ने टेस्ट क्रिकेट में 16 साल की उम्र में डेब्यू कर लिया था। वह करीब 24 साल तक टेस्ट क्रिकेट खेले और दुनिया में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे। सचिन तेंदुलकर के नाम इंटरनेशनल क्रिकेट में 34,357 रन दर्ज हैं।

ब्रायन लारा ने सचिन की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2004 में सिडनी में खेली गई 241 रनों की नाबाद का वीडियो भी शेयर किया। लारा ने सचिन की इस पारी को उनके टेस्ट करियर की सबसे अनुशासित और दृढ़ पारी बताया है और कहा है कि लोग भी सचिन की तरह ही अनुशासन में रहकर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ सकें।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मुकाबले में सिडनी में सचिन तेंदुलकर द्वारा बनाए गए नाबाद 241 रन उनकी बेहतरीन यादगार पारियों में से एक है। सचिन तेंदुलकर ने 613 मिनट तक 436 गेंदों का सामना कर 33 चौकों की मदद से नाबाद 241 रन बनाए थे।

ब्रायन लारा ने इस पारी के वीडियो को शेयर करते हुए लिखा, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई 241 रनों की नाबाद अनुशासित और दृढ़ पारी की तरह ही हम जीवन में किसी भी चीज से लड़ सकते हैं।

भारत के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार सचिन तेंदुलकर ने 200 टेस्ट मैच खेले, जिसमें 53.78 की औसत से 15,921 रन बनाए हैं। उन्होंने वनडे क्रिकेट में 463 वनडे मैचों में 44.83 के औसत से 18,426 रन बनाए। सचिन के नाम 100 इंटरनेशनल शतक भी दर्ज हैं, जो वर्ल्ड रिकॉर्ड है।(लाइव हिन्दुस्तान)


Date : 05-Apr-2020

नई दिल्ली, 5 अप्रैल । ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्पिनर स्टीव ओकीफ ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। उन्होंने यह बड़ा कदम नए घरेलू सीजन और न्यू साउथ वेल्स की अनुबंधित सूची से हटाए जाने के बाद  उठाया। 35 साल के स्टीव ने ऑस्ट्रेलिया की ओर से नौ टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें उन्?होंने 35 विकेट लिए। जिसमें 2017 में भारत के खिलाफ पुणे टेस्ट में 12 विकेट भी शामिल है। स्टीफन ने भी इसकी पुष्टि कर दी है कि उनका फर्स्ट क्लास करियर पूरा हो चुका है। पिछले सीजन स्टीव ने शेफील्ड शील्ड में 16 विकेट लिए थे और उनकी शानदार गेंदबाजी के दम पर न्यू साउथ वेल्?स को खिताब दिलाया था। स्टीफन ने कहा कि अनुबंध न मिलने पर वह निराश थे, मगर वह न्यू साउथ वेल्स के फैसले को स्वीकार करते हैं।

स्टीव ने नेशनल टीम की ओर से जहां नौ टेस्ट मैच खेले, वहीं सात टी20 मैच खेले हैं। उन्होंने 88 फर्स्ट क्लास मैच खेले हैं। इंटरनेशनल टी20 में उन्होंने कुल 6 विकेट लिए। जबकि फर्स्ट क्लास में 301 विकेट लिए।स्टीव को पुणे टेस्ट के लिए याद किया जाता है। उनकी वजह से कोहली की टीम को शर्मनाक हार झेलनी पड़ी थी।

फरवरी 2017 में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली गई टेस्ट सीरीज के पहले ही मैच में भारत को 333 रनों से करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा था। पुणे टेस्ट में स्टीव ने कुल 12 विकेट लिए थे और मैन ऑफ द मैच रहे थे। पुणे टेस्?ट में टीम इंडिया पर स्?टीव का कहर टूटा था।

पहली पारी में उन्होंने 35 रन पर 6 विकेट लिए थे और दूसरी पारी में भी 35 रन पर छह विकेट लिए थे। इस मुकाबले में विराट कोहली , केएल राहुल, अजिंक्य रहाणे जैसे बल्लेबाज इस गेंदबाज का सामना नहीं कर पाए थे। स्टीव ने ऑस्ट्रेलिया के लिए आखिरी टेस्ट 2017 में बांग्लादेश के खिलाफ और आखिरी टी20 2011 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेला था।(न्यूज18)


Date : 05-Apr-2020

नई दिल्ली, 5 अप्रैल। पूर्व ऑलराउंडर टॉम मूडी ने शनिवार को भारत के रोहित शर्मा और साथी ऑस्ट्रेलियाई डेविड वॉर्नर को टी20 में सर्वश्रेष्ठ सलामी बल्लेबाज के तौर पर चुना। मूडी मशहूर कोच और कमेंटेटर हैं। एक सवाल-जवाब सत्र में मूडी ने चेन्नई सुपर किंग्स को अपनी पसंदीदा आईपीएल टीम और महेंद्र सिंह धोनी को पसंदीदा कप्तान बताया।

जब मूडी से टी-20 में सर्वश्रेष्ठ सलामी बल्लेबाज के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने अपने ट्विटर पेज पर लिखा, ‘बहुत मुश्किल है, लेकिन मैं डेविड वॉर्नर और रोहित शर्मा का नाम लूंगा।’ भारत में क्रिकेट की अपार प्रतिभा मौजूद है, लेकिन मूडी को लगता है कि इनमें शुभमन गिल सबसे बेहतर हैं। गिल ने भारत के लिए दो वनडे खेले हैं और टेस्ट स्क्वॉड में भी जगह बना चुके हैं, लेकिन अभी मैच खेलना बाकी है। मूडी कई बार आईपीएल टीमों में कोचिंग दे चुके हैं, उनका मानना है कि न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन की क्रिकेट की समझ बहुत अच्छी है और उनके लिए पसंदीदा भारतीय फील्डर रवींद्र जडेजा हैं। पसंदीदा भारतीय क्रिकेटर के बारे में पूछने पर उन्होंने कप्तान विराट कोहली का नाम लिया। (आजतक)


Date : 05-Apr-2020

नई दिल्ली, 5 अप्रैल। हॉकी इंडिया ने कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई में शनिवार को प्रधानमंत्री राहत कोष (क्करू-ष्ट्रक्रश्वस् फंड) में 75 लाख रुपये का और योगदान देने की घोषणा की। इसके साथ ही हॉकी इंडिया अब तक एक करोड़ रुपये की मदद कर चुका है। इससे पहले हॉकी इंडिया कार्यकारी बोर्ड ने प्रधानमंत्री राहत कोष में 25 लाख रुपये का योगदान दिया था।

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने एक बयान में कहा, 'वर्तमान संकट को देखते हुए हमें सरकार के साथ खड़े होने की जरूरत है। कोविड-19 महामारी से लडऩे के लिए सरकार वे सब कुछ कर रही हैं, जो कर सकती है। इस मुश्किल समय में इससे लडऩे के लिए एकजुट होने और एक जिम्मेदार नागरिक के अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने की जरूरत है।'

उन्होंने कहा, देश के लोगों से हॉकी को हमेशा से बहुत प्यार और समर्थन मिलता रहा है और हम अपने देशवासियों को इस महामारी पर विजेता के रूप में देखने के लिए अपनी तरफ से जो भी कर सकते हैं वह करना चाहते हैं।

हॉकी इंडिया के महासचिव राजिंदर सिंह ने कहा कि हॉकी इंडिया ने हमेशा किसी अच्छे काम के लिए कदम बढ़ाया है और इस मुश्किल समय में जब दुनिया कोविड-19 महामारी से जूझ रही है तो हम इस संकट से लडऩे में अपना समर्थन करना चाहते हैं।

हॉकी इंडिया के सीईओ एलेना नोर्मन ने कहा, 'राष्ट्र के लोगों द्वारा हॉकी इंडिया को बनाया गया है और संकट के इस दौर में हमें देश के लिए कुछ करना चाहिए। हमें उम्मीद है कि एक करोड़ रुपये का हमारा यह योगदान जरूरतमंद लोगों की मदद करेगी। (आजतक)


Date : 04-Apr-2020

नई दिल्ली, 4 मार्च । टीम इंडिया के लिमिटेड ओवर क्रिकेट के उप-कप्तान और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) फ्रेंचाइजी टीम मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने अपने पसंदीदा कोच का नाम बताया है। रोहित ने ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग की जमकर तारीफ की है। पोंटिंग की कोचिंग और कप्तानी दोनों में ही रोहित शर्मा खेल चुके हैं। इंस्टाग्राम पर केविन पीटरसन के साथ लाइव चैट के दौरान रोहित ने पोंटिंग के लिए कहा कि वो एकदम मैजिक जैसे थे।

2013 में रिकी पोंटिंग ने अचानक ही मुंबई इंडियंस की कप्तानी छोड़ दी थी, सीजन के बीच में ही पोटिंग के कप्तानी पद छोडऩे के बाद रोहित शर्मा को टीम की कमान सौंपी गई थी। रोहित ने पीटरसन के साथ लाइव चैट के दौरान कहा, 'बहुत मुश्किल है किसी एक का चयन कर पाना, हर किसी में कुछ ना कुछ खास बात रही है। रिकी पोंटिंग लेकिन मैजिक थे। जब वो कप्तान थे, तो जिस तरह से उन्होंने टीम को हैंडल किया था और कप्तानी मुझे दे दी थी, इसके लिए बहुत हिम्मत चाहिए होती है।

उन्होंने कहा, उसके बाद भी वो जिस तरह से टीम से सपोर्ट स्टाफ सदस्य की तरह जुड़े रहे और युवा क्रिकेटरों और मुझे प्रेरित करते रहे वो लाजवाब था। मैंने उनसे काफी कुछ सीखा है। वो एकदम अलग तरह के इंसान हैं। सात साल में रोहित शर्मा की कप्तानी में मुंबई इंडियंस ने चार खिताब जीते हैं। रोहित ने 188 आईपीएल मैचों में 4898 रन बनाए हैं।(लाइव हिन्दुस्तान)

 

 


Date : 04-Apr-2020

लंदन, 4 अप्रैल । कोरोना वायरस संक्रमण (कोविड-19 महामारी) ने पूरी दुनिया में कहर मचाया हुआ है। इस बीच इंग्लैंड के मेंस और विमेंस क्रिकेट टीम ने सैलरी में कटौती करवाते हुए 5 लाख पाउंड (करीब 4.68 करोड़ रुपये) कोविड-19 महामारी के खिलाफ जंग में डोनेट करने का फैसला लिया है। इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने क्रिकेटरों की सैलरी में 20 फीसदी कटौती की बात रखी थी और उनके जवाब के इंतजार में था।

5 लाख पाउंड मेंस क्रिकेट टीम की 20 फीसदी सैलरी कटौती बराबर ही है, जबकि इसके बाद विमेंस टीम ने भी फैसला लिया कि वो अप्रैल, मई और जून की सैलरी में कटौती कराएंगी। खिलाडिय़ों के बयान के मुताबिक, इंग्लैंड के सभी कॉन्ट्रैक्ट क्रिकेटरों की बैठक के बाद वो इस बाद पर राजी हुए कि ईसीबी को इस नेक काम के लिए .5 मिलियन पाउंड डोनेशन अमाउंट शुरुआत में दिया जाएगा। इसका मतलब है कि इंग्लैंड के क्रिकेटर तीन महीने की सैलरी में 20 फीसदी कटौती करा रहे हैं।

खिलाडिय़ों ने कहा कि समाज और खेल पर इस महामारी के दुष्प्रभाव को लेकर वो ईसीबी से चर्चा करते रहेंगे और इसमें ईसीबी को सपोर्ट भी करेंगे। कुछ क्रिकेटर इससे पहले ही कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ जंग में अपनी तरफ से मदद का हाथ बढ़ा चुके हैं। जोस बटलर कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की मदद के लिए अपनी 2019 विश्व कप फाइनल मैच की जर्सी नीलाम कर रहे हैं, जबकि महिला टीम की कप्तान हीथर नाइट नेशनल हेल्थ सर्विस (एनएचएस) के साथ वॉलंटियर के तौर पर जुड़ चुकी हैं।(लाइव हिन्दुस्तान)

 


Date : 04-Apr-2020

 चेन्नै, 4 अप्रैल। चीन से फैले घातक कोरोना वायरस ष्टह्रङ्कढ्ढष्ठ-19 से बचाव को लेकर खेल जगत की दिग्गज हस्तियां लोगों को जागरूक कर रही हैं। इसके अलावा पीएम-केयर्स फंड में भी बड़े स्तर पर डोनेशन दी जा रही है। इसी बीच भारत के स्टार शतरंज खिलाडियों ने भी कुछ योगदान करने के बारे में सोचा है।

भारत के छह शीर्ष शतरंज खिलाड़ी आगामी 11 अप्रैल को प्रधानमंत्री-केयर्स फंड में पैसे जुटाने के लिए चेस डॉट कॉम पर एक साथ प्रदर्शनी मैच खेलेंगे। पांच बार के विश्व चैंपियन विश्वनाथन आनंद, पी हरिकृष्णा, विदित गुजराती, भास्करन आदिबन, हंपी कोनेरू और हरिका द्रोणवल्ली इस अभियान से जुड़ेंगे।

हर खिलाड़ी दानदाताओं के लिए प्रत्येक में 20 बोर्ड की पेशकश करेगा आनंद ने हमारे सहयोगी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा, ऑनलाइन गतिविधियों से लोग काफी जुड़ रहे हैं। लॉकडाउन के दौरान ऑनलाइन शतरंज खेलना लोगों का खुद को व्यस्त रखने का एक तरीका है।

भारत की महिला निशानेबाज अर्पूवी चंदेला ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में पांच लाख रुपये की मदद देने का फैसला किया। अपूर्वी ने प्रधानमंत्री राहत कोष में तीन और राजस्थान राहत कोष में दो लाख रुपये की मदद दिया है। अपूर्वी ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘मैं प्रधानमंत्री राहत कोष में तीन लाख और राजस्थान मुख्यमंत्री राहत कोष में दो लाख रुपये की मदद दूंगी और इस महामारी से लडऩे में भारत की मदद करूंगी।’

फील्डिंग कोच श्रीधर ने दिए 4 लाख

भारतीय टीम के फील्डिंग कोच आर. श्रीधर ने कोविड-19 से लड़ाई में चार लाख रुपये देने का फैसला किया। वह दो लाख रुपये प्रधानमंत्री राहत कोष और 1.5 लाख रुपये तेलंगाना मुख्यमंत्री राहत कोष के अलावा 50,000 रुपये सिकंदरा कंटोनमेंट बोर्ड में देने का फैसला किया है। श्रीधर ने ट्वीटर पर लिखा, ‘एक गौरवॉन्वित भारतीय नागरिक के तौर पर मैं प्रधानमंत्री राहत कोष में दो लाख और 1.5 लाख रुपये तेलंगाना मुख्यमंत्री राहत कोष में और 50,000 रुपये सिकंदराबाद कैंट बोर्ड में देने का फैसला किया है।’ (नवभारत टाईम्स)

 

 


Date : 04-Apr-2020

नई दिल्ली, 4 अप्रैल । कोविड-19 महामारी (कोरोना वायरस संक्रमण) के चलते दुनिया भर के तमाम स्पोर्ट्स इवेंट्स या तो रद्द किए जा रहे हैं, या फिर स्थगित किए जा रहे हैं। इस लिस्ट में एक और बड़ा टूर्नामेंट शामिल हो गया है। फीफा (इंटरेनशनल फेडरेशन ऑफ असोसिएशन फुटबॉल) ने इस साल नवंबर में भारत में होने वाले अंडर-17 महिला वर्ल्ड कप टूर्नामेंट को स्थगित कर दिया है। यह टूर्नामेंट 2 नवंबर से 21 नवंबर के बीच खेला जाना था।

फीफा ने शनिवार (4 अप्रैल) को इसकी घोषणा की। फीफा अंडर-17 महिला वर्ल्ड कप भारत के मैच भारत में पांच वेन्यू पर खेले जाने थे। फीफा कन्फेडरेशन वर्किंग ग्रुप ने यह फैसला लिया। फीफा ने एक बयान में कहा, नई तिथियों की घोषणा बाद में की जाएगी। कोविड-19 महामारी ने पूरी दुनिया में कहर मचा रखा है।

दुनियाभर में 10 लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं, जबकि भारत में कोविड-19 महामारी के 3,000 से ज्यादा केस सामने आ चुके हैं। भारत में 90 से ज्यादा लोग इस महामारी के चलते अपनी जान गंवा चुके हैं। कोविड-19 महामारी के चलते इस साल होने वाले टोक्यो ओलंपिक गेम्स को भी अगले साल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है।(लाइव हिन्दुस्तान)

 


Date : 04-Apr-2020

नई दिल्ली, 4 अप्रैल । कोविड-19 महामारी का असर जहां एक तरफ बड़े खेल इवेंट पर पड़ा है तो वहीं दूसरी तरफ निजी जिंदगियां भी इससे प्रभावित हो रही हैं। ऐसे में ऑस्ट्रेलिया के 8 ऐसे क्रिकेटर हैं जिनकी शादी पर इस घातक वायरस का असर पड़ा है और उन्हें इसे स्थगित करना पड़ेगा।

चीन से फैले इस खतरनाक वायरस को ङ्ख॥ह्र ने महामारी घोषित किया है और इसके प्रकोप से बचाव के तौर पर तोक्यो ओलिंपिक, यूरो कप, आईपीएल, फीफा अंडर-17 महिला वर्ल्ड कप जैसे बड़े-बड़े टूर्नमेंट स्थगित हैं। वेबसाइड क्रिकइन्फो की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ऑस्ट्रेलिया के युवा स्पिनर एडम जम्पा समेत 8 क्रिकेटरों को कोरोना वायरस के चलते अपनी-अपनी शादी स्थगित करनी पड़ी है।

ऑस्ट्रेलिया के पेसर जैक्सन बर्ड, एंड्रयू टाइ, डार्सी शॉर्ट, जेस जॉनासन, केटलिन फ्रेट, एलेस्टर मैक्डरमॉट और मिशेल स्वेप्सन को अपनी-अपनी शादी स्थगित करने पर मजबूर होना पड़ रहा है। क्रिकेट शेड्यूल के चलते ऑस्ट्रेलिया में ज्यादातर क्रिकेटर अप्रैल में ही शादी करते हैं। इस दौरान क्रिकेट सीजन भी खत्म हो रहा होता है।

ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल और पेसर पैट कमिंस भी अपनी-अपनी शादी कोविड-19 के चलते फिलहाल देरी से कर सकते हैं। मैक्सवेल ने हाल ही में भारतीय मूल की अपनी गर्लफ्रेंड विनी रमन से सगाई की थी। पिछले महीने ही कमिंस ने भी सोशल मीडिया पर अपनी सगाई की घोषणा की थी। कमिंस की मंगेतर बेकी बोस्टन इंग्लैंड से हैं जहां भी कोरोना वायरस के कारण हालात काफी खराब हैं।(नवभारत टाईम्स)

 

 


Date : 03-Apr-2020

नई दिल्ली, 3 अप्रैल। कैरेबियाई क्रिकेट के इतिहास में आज का दिन (3 अप्रैल) बेहद खास है। चार साल पहले यानी 2016 में उसने एक ही दिन में दो-दो वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाने का कारनामा किया था। मजे की बात है कि वेस्टइंडीज ने इन दोनों वर्ल्ड कप टूर्नामेंट के फाइनल एक ही जगह- कोलकाता के ईडन गार्डन्स में जीते थे।

एक तो वेस्टइंडीज ने कार्लोस ब्रेथवेट की तूफानी बल्लेबाजी की बदौलत फाइनल में इंग्लैंड को 4 विकेट से हरा दूसरी बार टी-20 वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाया था, और उसी दिन विंडीज की महिला टीम ने कुछ ही घंटे पहले ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से मात देकर अपना पहला टी-20 वर्ल्ड कप जीता था।

कोलकाता के ईडन गार्डन्स पर विंडीज की टीम 156 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही थी। आठवें नंबर पर उतरे ब्रेथवेट ने आखिरी ओवर की पहली चार गेंदों पर एक के बाद एक चार छक्के उड़ाए थे। वह बदकिस्मत गेंदबाज इंग्लैंड के बेन स्टोक्स थे, जिन्हें ब्रेथवेट ने खिलौना बना डाला था। उस मैच के बाद स्टोक्स कुछ समय के लिए क्रिकेट से बाहर रहे, लेकिन उसके बाद उन्होंने शानदार वापसी की।

ये वही बेन स्टोक्स हैं, जिन्हें पुणे राइजिंग सुपरजाएंट ने अगले साल 2017 में सर्वाधिक 14।5 करोड़ रुपए खर्च कर खरीदा था। स्टोक्स उस आईपीएल में प्लेयर ऑफ द सीरीज रहे थे, हालांकि वह फाइनल में नहीं खेल पाए। इंग्लैंड ने चैंपियन्स ट्रॉफी की तैयारियों के लिए बेन स्टोक्स को प्लेऑफ से पहले ही वापस बुला लिया था। आखिरकार उनकी टीम पुणे राइजिंग सुपरजाएंट को एक विकेट से हरा मुंबई इंडियंस विजेता बनी थी।

इंग्लैंड के खिलाफ वेस्टइंडीज की इस खिताबी जीत में ब्रेथवेट ने 10 गेंदों में नाबाद 34 रन की तूफानी पारी खेली थी। उधर, मर्लोन सैमुअल्स की 85 रनों की नाबाद पारी ने विंडीज को मजबूती दी और वे मैन ऑफ द मैच रहे। ठीक उसी तरह, जब इंडीज ने 2012 में श्रीलंका को हरा कर पहला टी-20 वर्ल्ड कप जीता था। उस मैच में भी सैमुअल्स ने 78 रन बनाए और मैन ऑफ द मैच रहे थे। (आजतक)


Date : 03-Apr-2020

नई दिल्ली, 3 अप्रैल। डेब्यू की पहली ही गेंद पर विकेट लेना किसी सपने के सच होने से कम नहीं। भारतीय गेंदबाज की बात करें, तो टेस्ट क्रिकेट में अब तक एक ही गेंदबाज ने यह उपलब्धि हासिल की है। जी हां! बात हो रही है नीलेश कुलकर्णी की। आज उनका बर्थडे है। वह 47 साल के हो गए। उनका जन्म महाराष्ट्र के डोंबिवली में 1973 में 3 अप्रैल को हुआ था।

भारत के इस लेफ्ट आर्म स्पिनर का क्रिकेट करियर महज तीन टेस्ट मैचों का रहा, लेकिन उन्होंने स्वर्णिम शुरुआत की थी। 6 फुट 4 इंच लंबे कुलर्णी ने अगस्त 1997 में अपने डेब्यू टेस्ट मैच में श्रीलंका के मर्वन अटापट्टू का विकेट झटका था। लेकिन उस टेस्ट मैच में वह इसके अलावा और कुछ नहीं कर पाए।

दरअसल, वह एक ऐसा टेस्ट मैच था जिसे टीम इंडिया भी याद रखना नहीं चाहेगी। उस टेस्ट मैच में श्रीलंका ने भारत के खिलाफ 952/6 रन बनाकर पारी घोषित की थी, जो आज भी वर्ल्ड रिकॉर्ड है। उसने कोलंबो के प्रेमदासा स्टेडियम में इंग्लैंड के 903/7 रनों के रिकॉर्ड को भंग किया था। सनथ जयसूर्या ने उस विशाल पारी में अकेले 340 रन बना डाले थे।

नीलेश कुलकर्णी ने उस मैच में 195 रन (70-12-195-1) रन खर्च किए। इतना ही नहीं, अनिल कुंबले और राजेश चौहान की भी फिरकी नहीं चल पाई। दोनों ने क्रमश: 223 और 276 रन दिए। तीनों को एक-एक विकेट से संतोष करना पड़ा था। सचिन तेंदुलकर की कप्तानी में बड़े स्कोरों वाला वह मैच ड्रॉ रहा। भारत ने उस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 537/8 रन बनाकर पारी घोषित की थी। सचिन के अलावा नवजोत सिंह सिद्धू और मो. अजहरुद्दीन ने भी शतक जमाए थे।(आजतक)

 


Date : 03-Apr-2020

लुसाने, 3 अप्रैल। अंतरराष्ट्रीय टेबल टेनिस महासंघ (आईटीटीएफ) के अध्यक्ष सहित सभी कर्मचारियों ने कोविड-19 महामारी के कारण वित्तीय संकट से निपटने के लिए स्वेच्छा से वेतन में कटौती का विकल्प चुना है। कोरोना वायरस संक्रमण के फैलने के कारण दुनिया भर में खेल प्रतियोगिताएं या तो रद्द हो गई या स्थगित कर दी गईं। इसी हफ्ते आईटीटीएफ ने अपनी सभी गतिविधियों को 30 जून तक निलंबित करने का फैसला किया।

आईटीटीएफ ने बयान में कहा अधिक समय तक खेल प्रतियोगिताओं की मेजबानी नहीं करने के वित्तीय प्रभाव को देखते हुए आईटीटीएफ के कर्मचारियों और अध्यक्ष ने स्वेच्छा से 2020 में वेतन कटौती का फैसला किया है, इस चुनौतीपूर्ण समय में खेल की मदद के लिए आईटीटीएफ की कार्यकारी समिति खर्चे कम कर रही है।

बयान के अनुसार, बुधवार, एक अप्रैल 2020 को वीडियो कांफ्रेंस में आईटीटीएफ के सभी कर्मचारियों ने हिस्सा लिया, जिसमें आईटीटीएफ सीईओ स्टीव डेनटन ने आईटीटीएफ के सभी कर्मचारियों के एकजुट होने और इस महामारी के खत्म होने पर टेबल टेनिस के मजबूत वापसी करने के लिए बलिदान देने की जरूरत पर जोर दिया। बयान में कहा गया है कि खेल कीं वैश्विक संस्था विश्व चैंपियनशिप और अन्य प्रतियोगितओं के स्थगित होने से पड़े वित्तीय असर का आकलन कर रही है। (लाइव हिन्दुस्तान)

 


Date : 03-Apr-2020

नई दिल्ली, 3 अप्रैल।  इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर सोशल मीडिया पर काफी ऐक्टिव रहते हैं और उनके ट्वीट अकसर वायरल होते हैं। ऐसा ही उनका एक पुराना ट्वीट सोशल मीडिया पर फिलहाल जमकर वायरल हो रहा है और इसका कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शुक्रवार को देशवासियों से की गई अपील है।

पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम शुक्रवार को जारी अपने वीडियो मेसेज में देशवासियों से 5 अप्रैल, रविवार को रात नौ बजे घरों सारी बत्तियां बुझाकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दिया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाने का आग्रह किया। कोरोना वायरस के चलते भारत में 21 दिनों का लॉकडाउन घोषित है। चीन से फैले इस घातक वायरस का प्रकोप भारत में भी लगातार बढ़ रहा है और अब तक 2500 से ज्यादा मामले देशभर में सामने आ चुके हैं।

24 वर्षीय आर्चर ने साल 2014 में 12 मार्च को ट्वीट किया था, जलाएं (द्यद्बद्दद्धह्ल द्बह्ल ह्वश्च)। उनके इस ट्वीट को पीएम मोदी की अपील से जोडक़र देखा जा रहा है।

एक यूजर ने लिखा, आप भविष्यज्ञाता हो, प्लीज बताएं कि मैं करोड़पति कब बनूंगा।

वहीं, खुशबू नाम की एक यूजर ने लिखा, 'जगत ही हर स्थिति पर ट्वीट किए हुए हैं।

आर्चर के एक और ट्वीट को इससे जोडक़र देखा जा रहा है।

इससे पहले भी उनका एक ट्वीट खूब वायरल हुआ था जिसमें उन्होंने लिखा था कि घर पर 3 सप्ताह पर्याप्त नहीं होंगे। उनके उस ट्वीट को भारत में घोषित लॉकडाउन से जोडक़र देखा गया। वहीं, एक और ट्वीट, एक दिन आएगा जब भागने को कोई जगह नहीं बचेगी' भी आर्चर का ट्वीट काफी वायरल हुआ था।

आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के दौरान भी आर्चर के पुराने ट्वीट सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुए थे। आर्चर ने बारिश और सुपर ओवर को लेकर 2014 में ही कुछ ट्वीट किए थे। (नवभारत टाईम्स)


Date : 03-Apr-2020

नई दिल्ली, 3 अप्रैल। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर केविन पीटरसन को लाइव इंस्टाग्राम चैट पर इंटरव्यू दिया। इस चैट के दौरान विराट कोहली ने कई मजेदार बातों का जिक्र किया। विराट और केविन की इस चैट के बीच में फैन्स के साथ-साथ कुछ साथी खिलाडिय़ों ने भी कमेंट किए, जिन्होंने सबका ध्यान अपनी तरफ खींचा। लाइव चैट के दौरान कमेंट्स में युजवेंद्र चहल और ऋषभ पंत के बीच बातचीत शुरू हो गई।

कोरोना वायरस के दौरान जब सभी खेल गतिविधियों पर ब्रेक लगा हुआ है और सभी खिलाड़ी घर में परिवार के साथ वक्त बिता रहे हैं। ऐसे में केविन पीटरसन इस ब्रेक के दौरान इंस्टाग्राम लाइव चैट के जरिये क्रिकेटर्स के इंटरव्यू कर रहे हैं। केविन, विराट कोहली से पहले रोहित शर्मा और पाकिस्तानी बल्लेबाज अहमद शहजाद का इंटरव्यू भी ले चुके हैं। विराट कोहली के इस इंटरव्यू के दौरान युजवेंद्र चहल और ऋषभ पंत ने कमेंट्स में जमकर मस्ती की।

इसकी शुरुआत कुछ इस तरह हुई। सबसे पहले ऋषभ पंत ने इस लाइव चैट में कमेंट करते हुए पूछा, क्या वह भी इस बातचीत में शामिल हो सकते हैं। इस पर युजवेंद्र चहल ने कमेंट किया, हाय ऋषभ... कैसे हो भाई।

इन दोनों के कमेंट्स का विराट या केविन किसी ने भी कोई जवाब नहीं दिया। बावजूद इसके इन दोनों ने इस चैट में अपना दखल जारी रखा। ऋषभ पंत ने फिर कमेंट किया, विराट सर हाय तो बोल दो। इसके बाद चहल ने जवाब दिया, पंत ले भाई पंत ले भाई हाय...हाय और हाय...। इस पूरे लाइव चैट के दौरान पंत और चहल दोनों ही कोहली-पीटरसन की अटेंशन खोजते रहे। फैन्स ने भी इस चैट और इन दोनों खिलाडिय़ों के कमेंट्स पर जमकर चुटकी ली। (लाइव हिन्दुस्तान)


Date : 03-Apr-2020

मुंबई, 3 अप्रैल । चीन से फैले घातक कोरोना वायरस के प्रकोप से बचाव के कारण पूरे देश में लॉकडाउन घोषित है और ऐसे में क्रिकेटर एक दूसरे से वीडियो चैट कर रहे हैं। सीमित ओवरों में भारतीय टीम के उप-कप्तान रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह के ऐसे ही वीडियो चैट की एक क्लिप मुंबई इंडियंस के आधिकारिक इंस्टाग्राम हैंडल से शेयर की गई है। इसमें रोहित की बेटी समायरा हंसते हुए बुमराह के बोलिंग ऐक्शन को कॉपी करती नजर आ रही हैं। आईपीएल में रोहित की कप्तानी वाली टीम मुंबई इंडियंस से ही बुमराह भी खेलते हैं। दोनों टीम इंडिया में भी साथी क्रिकेटर हैं। रोहित और बुमराह ने एक वीडियो चैट किया जिसका एक छोटा सा क्लिप इंस्टाग्राम पर शेयर किया गया है।

वीडियो में रोहित अपनी एक साल की बेटी को बुलाते हैं जो उनकी पत्नी रितिका की गोद में होती हैं। वह कहते हैं, अगर किसी के ऐक्शन की नकल समायरा ने की है तो वह बुमराह हैं। इसी बीच रितिका जब समायरा से बॉल कहती हैं तो वह गेंदबाजी ऐक्शन में हाथ घुमाती हैं और मुस्कुराने लगती हैं।

इस छोटे से वीडियो क्लिप को एक घंटे में ही करीब डेढ़ लाख बार देखा जा चुका है। इससे पहले भी बुमराह के बोलिंग ऐक्शन की नकल करने वाले एक बच्चे का वीडियो काफी वायरल हुआ था।(नवभारत टाईम्स)

 


Previous12Next