खेल

Previous123456789...6364Next
28-Oct-2020 5:20 PM 15

राजनांदगांव, 28 अक्टूबर। शहीद श्यामकिशोर शर्मा एवं शहीद पुलिस कर्मियों की स्मृति में 28 अक्टूबर को थाना मदनवाड़ा पुलिस द्वारा वॉलीबॉल मैच का आयोजन किया गया। इसमें थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम मदनवाड़ा, कारेकट्टा, बसेली, आईटीबीपी, जिला पुलिस बल एवं डीआरजी के बीच मैच खेला गया। इसमें डीआरजी, मदनवाड़ा की टीम क्रमश: विजेता एवं उपविजेता रही। विजेता टीमों को वॉलीबाल नेट और वॉलीबॉल, अन्य खेल सामग्री प्रदान किया गया।


28-Oct-2020 5:18 PM 22

नई दिल्ली, 28 अक्टूबर। इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन में महेंद्र सिंह धोनी का प्रदर्शन उम्मीदों के मुताबिक नहीं रहा। धोनी की अगुवाई में पहली बार चेन्नई सुपर किंग्स प्लेऑफ में जगह नहीं बना पाई है। इसी बीच ऐसे कयास भी लगाए जा रहे हैं कि इंटरनेशनल क्रिकेट के बाद आईपीएल में भी धोनी का करियर लगभग खत्म हो चुका है। लेकिन सीएसके से सीईओ ने ऐसे संकेत दिए हैं जिससे माही के फैंस में खुशी की लहर दौड़ सकती है।

सीएसके के सीईओ काशी विश्वनाथन ने 2021 में भी धोनी द्वारा सीएसके की अगुवाई करने की उम्मीद जताई है। सीईओ ने कहा, हमें तो पूरी उम्मीद है कि अगले सीजन में भी धोनी सीएसके के कप्तान बने रहेंगे। धोनी तीन बार सीएसके को विजेता बना चुके हैं। सिर्फ एक सीजन खराब जाने की वजह से सबकुछ बदल नहीं जाएगा।

सीएसके के सीईओ सुरेश रैना और हरभजन सिंह के टीम में नहीं को भी खराब प्रदर्शन की एक वजह मानते हैं। काशी विश्वनाथन का कहना है कि सुरेश रैना और हरभजन सिंह के सीजन के शुरुआत से ठीक पहले बाहर होने की वजह से टीम का बैलेंस बिगड़ गया।

सीईओ ने कहा, चेन्नई सुपर किंग्स की टीम आईपीएल के 13वें सीजन में अपनी क्षमता के मुताबिक नहीं खेल पाई। हम ज्यादा मैचों में जीत दर्ज करनी चाहिए थी, लेकिन हमारी टीम का बैलेंस काफी खराब रहा।

बता दें कि धोनी ने संकेत दिए हैं कि वह सीएसके के लिए बाकी बचे मैचों में हिस्सा जरूर लेंगे। लेकिन जिस तरह से धोनी हर मैच के बाद युवा खिलाडिय़ों को अपनी टी शर्ट और ऑटोग्रॉफ दे रहे हैं उसे देखते हुए माही के आईपीएल को अलविदा कहने के कयास लगाए जा रहे हैं। (abplive.com)


28-Oct-2020 5:16 PM 16

मेलबर्न, 28 अक्टूबर। विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय क्रिकेट टीम 17 दिसंबर से एडिलेड में मेजबान आस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले डे नाइट टेस्ट मैच से बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी खिताब बचाने के अभियान की शुरुआत करेगा। बुधवार को इसकी पुष्टि की गई।

एडिलेड में होने वाले पहले डे नाइट टेस्ट मैच के बाद दोनों टीमें 26 दिसंबर से मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) में दूसरा टेस्ट, सात जनवरी 2021 से सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एसजीसी) में तीसरा टेस्ट और 15 जनवरी 2021 से गॉबा में चौथा और अंतिम टेस्ट मैच खेलेगी।

एडिलेड टेस्ट भारत और आस्ट्रेलिया के बीच पहला डे नाइट टेस्ट मैच होगा। दोनों टीमें अब तक एक भी डे नाइट टेस्ट मैच नहीं हारी है। भारत ने अब तक का अपना एकमात्र डे नाइट टेस्ट मैच 2019 में ईडन गॉर्डन में बांग्लादेश के खिलाफ जीता था।

आस्ट्रेलिया ने एडिलेड में अब तक न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड और पाकिस्तान के खिलाफ चार डे नाइट टेस्ट मैच खेले हैं और चारों में उसे जीत हासिल हुई है।

आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में आस्ट्रेलिया अभी टॉप पर है। भारत ने 2018-19 के आस्ट्रेलिया दौरे पर चार मैचों की टेस्ट सीरीज में तीन टेस्ट जीते थे और वह पहली बार आस्ट्रेलिया की धरती पर सीरीज जीतने में सफल रही थी।

भारतीय टीम तीन मैचों की वनडे सीरीज के साथ आस्ट्रेलिया दौरे की शुरुआत करेगी। दोनों टीमों के बीच पहला और दूसरा वनडे सिडनी में 27 और 29 नवंबर को खेला जाएगा। इसके बाद तीसरा और अंतिम वनडे दो दिसंबर को कैनबरा में होगा।

वनडे सीरीज के बाद दोनों टीमों के बीच खेली जाने वाली टी 20 सीरीज कैनबरा और सिडनी में खेले जाएंगे। पहला मैच चार दिसंबर को कैनबरा में जबकि सीरीज के बाकी दो मैच छह और आठ दिसंबर को सिडनी में खेले जाएंगे।

आस्ट्रेलिया ने अपनी पिछली वनडे सीरीज विश्व चैंपियन इंग्लैंड के खिलाफ जीती थी जबकि भारत का पिछले पांच वर्षो में आस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे में 12-10 का रिकॉर्ड रहा है।

क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने इसके अलावा अंतर्राष्ट्रीय कार्यक्रमों की भी घोषणा की है। टेस्ट सीरीज से पहले इंडिया-ए आस्ट्रेलिया का दौरा करेगी, जहां वह छह से आठ दिसंबर तक ओवल में मैच खेलेगी। इसके अलावा भारतीय टीम आस्ट्रेलिया-ए के साथ सिडनी में 11 से 13 दिसंबर तक एक डे नाइट टेस्ट मैच खेलेगी।

भारतीय टीम 12 नवंबर को सिडनी पहुंचेगी और 27 नवंबर को होने वाले सीरीज के पहले मैच से पहले 14 दिन तक क्वारंटीन में रहेगी। (आईएएनएस)


28-Oct-2020 3:30 PM 16

मेलबर्न, 28 अक्टूबर| भारत और आस्ट्रेलिया के बीच मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) में होने वाले आगामी बॉक्सिंग डे टेस्ट में 25,000 दर्शकों को स्टेडियम में प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी। कोविड-19 महामारी के बीच दोनों टीमों के बीच मेलबर्न में 26 दिसंबर से दूसरा टेस्ट मैच खेला जाएगा, जोकि बॉक्सिंग डे टेस्ट होगा। एमसीजी ने इस बॉक्सिंग डे टेस्ट के लिए स्टेडियम की क्षमता का एक चौथा हिस्सा दर्शकों के लिए रखा है।

विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय क्रिकेट टीम 17 दिसंबर से एडिलेड में मेजबान आस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले डे नाइट टेस्ट मैच से बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी खिताब बचाओ अभियान की शुरुआत करेगा।

एडिलेड में होने वाले पहले डे नाइट टेस्ट मैच के बाद दोनों टीमें 26 दिसंबर से मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) में दूसरा टेस्ट, सात जनवरी 2021 से सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एसजीसी) में तीसरा टेस्ट और 15 जनवरी 2021 से गॉबा में चौथा और अंतिम टेस्ट मैच खेलेगी।

एडिलेड टेस्ट भारत और आस्ट्रेलिया के बीच पहला डे नाइट टेस्ट मैच होगा। दोनों टीमें अब तक एक भी डे नाइट टेस्ट मैच नहीं हारी है। भारत ने अब तक का अपना एकमात्र डे नाइट टेस्ट मैच 2019 में ईडन गॉर्डन में बांग्लादेश के खिलाफ जीता था।

आस्ट्रेलिया ने एडिलेड में अब तक न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड और पाकिस्तान के खिलाफ चार डे नाइट टेस्ट मैच खेले हैं और चारों में उसे जीत हासिल हुई है।

विक्टोरिया की सरकार, मेलबर्न क्रिकेट क्लब (एमसीसी) और क्रिकेट आस्ट्रेलिया सदस्यों को और फैन्स को सुरक्षित रूप से टेस्ट में भाग लेने के लिए सक्षम करने के लिए एक 'कोविड सेफ प्लान' विकसित करेगी।

एमसीसी के मुख्य कार्यकारी स्टुअर्ट फॉक्स ने कहा, "अपने नए कोविड सेफ प्रोटोकॉल के तहत हम विक्टोरियन सरकार और क्रिकेट आस्ट्रेलिया के साथ मिलकर एमसीजी में इस साल के बॉक्सिंग डे टेस्ट की मेजबानी करेंगे।"

क्रिकेट आस्ट्रेलिया के चेयरमैन अर्ल एडिंग्स ने कहा, "बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी टेस्ट क्रिकेट में प्रतिष्ठित ट्रॉफी में से एक है और आस्ट्रेलिया का प्रतिभाशाली भारतीय टीम के खिलाफ प्रतियोगिता देखना दिलचस्प होगा।"

इस बीच, ऐतिहासिक एमसीजी को और तीन साल के लिए टेस्ट क्रिकेट की मेजबानी करने की पुष्टि की गई है। यह क्रिकेट आस्ट्रेलिया, एमसीसी और विक्टोरियन सरकार द्वारा एमसीजी के लिए किए नए तीन साल के आयोजन स्थल समझौते की घोषणा के बाद शुरू हुआ है। एमसीजी ने 2020 में लगातार 31वें बॉक्सिंग डे टेस्ट की मेजबानी की थी।

आईसीसी के भविष्य दौरा कार्यक्रम के अनुसार, आस्ट्रेलिया 2021 में इंग्लैंड और 2022 में दक्षिण अफ्रीका की मेजबानी करेगा।

एमसीजी में पहला बॉक्सिंग डे टेस्ट 1950 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला गया था। (आईएएनएस)


28-Oct-2020 3:30 PM 18

नई दिल्ली, 28 अक्टूबर| बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के मौजूदा 13वें सीजन को मिल रही वर्चुअल दर्शकों की संख्या और रेटिंग से काफी खुश हैं। आईपीएल का आयोजन पहले मार्च में किया जाना था, लेकिन कोरोना के कारण इसे अनिश्चितकाल तक के लिए स्थगित कर दिया गया था।

बीसीसीआई ने बाद में इसका आयोजन 19 सितंबर से 10 नवंबर तक संयुक्त अरब अमीरात में करने का फैसला किया था।

गांगुली ने स्टार स्पोटर्स के क्रिकेट लाइव शो में कहा, "अविश्वसनीय और मुझे बिल्कुल भी आश्चर्य नहीं हुआ। जब हम स्टार (ड्रीम 11 आईपीएल का आधिकारिक प्रसारणकर्ता) और इससे संबंधित सभी लोगों के साथ चर्चा कर रहे थे - अगर हमें इस साल इसका आयोजन करना है और टूर्नामेंट से एक महीने पहले, हम इस पर विचार कर रहे थे, क्या ऐसा हो सकता है या नहीं, बायो बबल का क्या अंतिम परिणाम होगा और क्या यह सफल होगा।"

उन्होंने कहा, "हमने अपनी योजना के साथ आगे बढ़ने का फैसला किया क्योंकि हम सभी के जीवन में सामान्य स्थिति लाना चाहते थे और खेल को वापस लाना चाहते थे। इसे मिल रही प्रतिक्रिया से मैं हैरान नहीं हूं। यह दुनिया का सर्वश्रेष्ठ टूर्नामेंट है।"

आईपीएल के 13वें सीजन के पहले सप्ताह में करीब 26 करोड़ 90 लाख लोगों ने मैच देखा था, जोकि पिछले साल की तुलना में प्रति मैच 1.1 करोड़ ज्यादा है।

टीवी की व्यूवरशिप मॉनिटर करने वाली एजेंसी बार्क नील्सन ने 'टेलीविजन व्यूवरशिप एंड एडवरटाइजिंग कंजम्पशन ऑफ आईपीएल-13 2020' नामक अपनी रिपोर्ट में कहा कि मौजूदा संस्करण के पहले सप्ताह में प्रत्येक मिनट में दर्शकों की संख्या में पिछले साल की तुलना में 15 फीसदी इजाफा देखने को मिला है।

आईपीएल 13 में कई सुपर ओवर हो चुके हैं और यह कई रोमांचक संघर्षों का गवाह बना है।

उन्होंने कहा, " इतने सारे सुपर ओवर हुए, हमने हाल ही में एक डबल सुपर ओवर देखा, हमने शिखर धवन की बल्लेबाजी देखी, हमने रोहित शर्मा को देखा, हमने सभी युवा खिलाड़ियों को देखा और हमने लोकेश राहुल की टीम किंग्स इलेवन पंजाब की अंकतालिका में नीचे से ऊपर की वापसी देखी।"

गांगुली ने कहा, "आपको यहां सबकुछ मिल जाएगा। मैं आपको बता सकता हूं कि इस साल आईपीएल एक सफल रहा है चाहे वो रेटिंग के मामले में हो या खेल को देखने वालों की संख्या के मामले में।"

टूर्नामेंट का लीग चरण इस सप्ताह समाप्त होने वाला है जबकि अगले सप्ताह प्लेऑफ खेला जाएगा और इसका फाइनल 10 नवंबर को दुबई में होगा। (आईएएनएस)


28-Oct-2020 3:29 PM 19

दुबई, 28 अक्टूबर| आईपीएल-13 में 47 मैचों की समाप्ति के बाद किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान लोकेश राहुल ने ऑरेंज कैप और दिल्ली कैपिटल्स के तेज गेंदबाज कगिसो रबादा ने पर्पल कैप अपने पास ही रखा है। रबादा सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की सूची में पहले स्थान पर हैं। रबादा ने 12 मैचों में अब तक 23 विकेट लिए हैं।

किंग्स इलेवन पंजाब के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी 12 मैचों में 20 विकेट से दूसरे नंबर पर हैं। सनराइजर्स हैदराबाद के राशिद खान 12 मैचों में 17 विकेट के साथ तीसरे नंबर पर पहुंच गए हैं।

बल्लेबाजों की सूची में राहुल के 12 मैचों में 595 रन हैं। दूसरे स्थान पर दिल्ली कैपिटल्स के शिखर धवन हैं, जिनके नाम 11 मैचों से 471 रन हैं। हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर 12 मैचों में 436 विकेट के साथ तीसरे नंबर पर पहुंच गए हैं।

इस बीच, सनराइजर्स हैदराबाद की टीम अंकतालिका में छठे स्थान पर पहुंच गई है। टीम ने मंगलवार को दिल्ली कैपिटल्स को 88 रनों से हराया है। हैदराबाद के 10 मैचों से 12 अंक हो गए हैं और वह अभी प्लेआफ की रेस में बनी हुई है। (आईएएनएस)


28-Oct-2020 11:10 AM 13

अबू धाबी, 28 अक्टूबर । मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन के प्लेऑफ में क्वालीफाई करने से बस दो अंक दूर हैं। दोनों टीमें आज यहां शेख जाएद स्टेडियम में आमने-सामने होंगी और क्वालीफाई करने की हर संभव कोशिश करेंगी। दोनों टीमों के 11-11 मैचों मे 14-14 अंक हैं। मुंबई बेहतर रन रेट के कारण पहले स्थान पर है तो वहीं बेंगलोर तीसरे स्थान पर है।

मुंबई के लिए कप्तान रोहित शर्मा का न होना एक परेशानी है। आस्ट्रेलिया दौरे के लिए सोमवार को की गई भारतीय टीमों के ऐलान में रोहित का नाम तीनों प्रारूप की टीमों से गायब है।

बीसीसीआई ने अपने बयान में कहा कि रोहित बोर्ड की मेडिकल टीम की निगरानी में हैं। ऐसे में लगता तो नहीं है कि रोहित आईपीएल में मुंबई के बाकी बचे मैचों में खेलेंगे।

रोहित मुंबई के पिछले दो मैचों में भी नहीं खेले हैं, और उनकी जगह कीरन पोलार्ड टीम की कप्तानी कर रहे हैं।

पिछले मैच में टीम को हार मिली थी। 195 रनों का विशाल स्कोर बनाने के बाद भी राजस्थान ने बेन स्टोक्स के बेहतरीन शतकीय पारी और संजू सैमसन की अर्धशतकीय पारी के दम पर मुंबई को हरा दिया था। बेंगलोर को भी चेन्नई सुपर किंग्स ने पिछले मैच में मात दी थी।

बेशक इन दोनों टीमों को पिछले मैचों में हार मिली हो, लेकिन मुंबई और बेंगलोर इस समय शानदार फॉर्म में हैं और इसी कारण इस मैच के रोमांचक होने की पूरी उम्मीद है।

रोहित के न होने से मुंबई की बल्लेबाजी पर असर पड़ता तो नहीं दिखा है। युवा ईशान किशन ने क्विटंन डी कॉक के साथ मिलकर टीम को अच्छी शुरूआत दी है, वहीं मध्य क्रम में सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पांड्या हैं।

रोहित के बाहर जाने के बाद सौरव तिवारी टीम में आए हैं। तिवारी में भी बड़े शॉट्स लगाने का दम है और फिर पोलार्ड का अनुभव और ताकत टीम को निचले क्रम में बेहद मजबूत बनाती है।

बेंगलोर की बल्लेबाजी भी मुंबई की तरह मजबूत है। युवा देवदत्त पडिकल और अनुभवी एरॉन फिंच की सलामी जोड़ी ने विराट कोहली और अब्राहम डिविलियर्स के कंधों पर से बोझ कम किया है। निचले क्रम में क्रिस मौरिस ने भी यह काम अच्छे से किया है।

मुंबई की टीम में रोहित जैसे बल्लेबाज का न होना उसके लिए एक कमजोरी हो सकती है क्योंकि बेंगलोर के पास दुनिया के दो सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज-कोहली और डिविलियर्स हैं।

दोनों टीमों की गेंदबाजी की तलुना की जाए तो यहां मुंबई थोड़ी मजबूत नजर आती है क्योंकि बेंगलोर की तुलना में उसके पास अनुभव भी है और विश्व स्तर के गेंदबाज हैं। ट्रेंट बोल्ट, जसप्रीत बुमराह और जेम्स पैटिनसन के नाम ही बताते हैं कि वह क्या कर सकते हैं।

राजस्थान के खिलाफ पिछले मैच में हालांकि यह सभी विफल रहे थे जो यह बताता है कि इन गेंदबाजों के खिलाफ तेजी से रन बनाए जा सकते हैं, लेकिन एक मैच के बूते इन्हें कमजोर समझना बहुत बड़ी गलती होगी।

वहीं बेंगलोर के पास युवा तेज गेंदबाजों का जोश है। नवदीप सैनी, मोहम्मद सिराज, इसुरु उदाना, शिवम दुबे हैं और यह सभी अच्छा कर रहे हैं। मौरिस के रूप में अनुभवी गेंदबाज भी उनके पास है।

स्पिन में देखा जाए तो बेंगलोर हावी है। युजवेंद्र चहल जैसा चालाक लेग स्पिनर और वॉशिंगटन सुंदर जैसा किफायती गेंदबाज कोहली की टीम के पास है। मुंबई के पास युवा लेग स्पिनर राहुल चहर और बाएं हाथ के स्पिनर क्रूणाल पांड्या हैं।

टीमें (सम्भावित) :

आरसीबी : विराट कोहली (कप्तान), एरॉन फिंच, देवदत्त पडिकल, एबी डिविलियर्स, जोश फिलिपे, वॉशिंगटन सुंदर, शिवम दुबे, नवदीप सैनी, उमेश यादव, डेल स्टेन, युजवेंद्र चहल, मोइन अली, पवन देशपांडे, गुरकीरत सिंह मान, मोहम्मद सिराज, क्रिस मौरिस, पवन नेगी, पार्थिव पटेल, शहबाज अहमद, इसुरु उदाना, एडम जाम्पा, केन रिचर्डसन।

मुबई इंडियंस : रोहित शर्मा (कप्तान), क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), अनमोलप्रीत सिंह, अनुकूल रॉय, क्रिस लिन, धवल कुलकर्णी, दिग्विजय देशमुख, हार्दिक पांड्या, ईशान किशन, जेम्स पैटिनसन, जसप्रीत बुमराह, जयंत यादव, कीरन पोलार्ड, क्रूणाल पांड्या, मिशेल मैक्लेंघन, मोहसिन खान, नाथन कुल्टर नाइल, प्रिंस बलवंत राय, आदित्य तारे (विकेटकीपर), राहुल चहर, सौरभ तिवारी, शेरफाने रदरफोर्ड, सूर्यकुमार यादव, ट्रेंट बोल्ट।(आईएएनएस/ ग्लोफैंस)


28-Oct-2020 8:40 AM 11

दुबई, 28 अक्टूबर | सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मंगलवार को मिली 88 रनों की करारी हार के बाद दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान श्रेयस अय्यर ने कहा कि उनकी टीम पावरप्ले में ही मैच हार चुकी थी क्योंकि डेविड वार्नर और रिद्धिमान साहा ने 6 ओवरों में 77 रन बटोरते हुए मैच का रुख अपनी ओर मोड़ लिया था। 220 रनों के बड़े स्कोर का पीछा कर रही दिल्ली की टीम बुरी तरह फ्लॉप रही और 19 ओवरों में 131 रन ही बना सकी। उसकी ओर से विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने सबसे अधिक 36 रन बनाए। इसके अलावा अजिंक्य रहाणे ने 26 तथा शिमरोन हिटमायेर ने 16 रनों की पारी खेली। तुषार देशपांडे 20 रनों पर नाबाद लौटे।

हैदराबाद के लिए राशिद खान ने सबसे अधिक तीन विकेट लिए जबकि संदीप शर्मा तथा टी. नजटराजन को दो सफलता मिली।

मैच के बाद अय्यर ने कहा, "निश्चित तौर पर हमारे लिए यह बड़ी हार है। हमें अंकों की जरूरत है और वह हमें मिल नहीं रहे हैं। हमारे पास अभी दो मैच हैं और हमें एक मैच जीतना है। यह बहुत अहम है। हम इस क्षण का बीते तीन मैचों से इंतजार कर रहे हैं। लगातार हार निराशाजनक है लेकिन हम जोरदार वापसी करेंगे। हम प्रेरित हैं और इस हार के बाद अधिक प्रेरित हुए हैं। वैसे इस मैच की बात करूं तो यह मैच तो हम पावरप्ले में ही हार गए थे। हमें भी ऐसा ही कुछ करने की जरूरत थी लेकिन हम नहीं कर सके।"

वार्नर और साहा ने शुरुआती छह ओवरों में 77 रनों की साझेदारी कर नया कीर्तिमान बनाया। वार्नर ने पावरप्ले में अर्धशतक लगाया और इस सीजन में ऐसा करने वाले वह पहले बल्लेबाज बने।

इस जीत के साथ हैदराबाद की टीम 8 टीमों की तालिका में सातवें स्थान पर पहुंच गई है। दिल्ली को लगातार तीसरी हार मिली है और अब वह 12 मैचों से 14 अंक लेकर तीसरे स्थान पर खिसक गई है। इस हार ने दिल्ली को प्लेऑफ में जाने वाली पहली टीम बनने से फिलहाल रोक दिया है।

इससे पहले, टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी कर रही हैदराबाद की टीम के लिए बर्थडे ब्वॉय वार्नर ने 34 गेंदों पर 8 चौकों और दो छक्कों की मदद से 66 रनों की पारी खेली जबकि उनके साथ पारी की शुरुआत करने आए साहा ने 45 गेंदों पर 12 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 87 रन बनाए।

इन दोनों द्वारा पॉवरप्ले में जुटाए गए रिकार्ड 77 रनों की बदौलत हैदराबाद की टीम निर्धारित 20 ओवरों में दो विकेट पर 219 रन बनाने में सफल रही।

हैदराबाद के लिए मनीष पांडेय ने भी 31 गेंदों पर चार चौकों और एक छक्के की मदद से 44 रनों की बेहतरीन नाबाद पारी खेली। केन विलियम्सन 11 रनों पर नाबाद लौटे।(आईएएनएस)


27-Oct-2020 5:03 PM 29

शारजाह, 27 अक्टूबर। कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए आईपीएल-13 में शानदार प्रदर्शन करने वाले मिस्ट्री स्पिनर वरुण चक्रवर्ती ने पहली बार भारतीय क्रिकेट टीम में चुने जाने पर कहा है कि उन्हें वास्तव में अच्छा महसूस हो रहा है, लेकिन उन्होंने इसकी उम्मीद नहीं की थी। चक्रवर्ती को आगामी आस्ट्रेलिया दौरे पर होने वाली तीन मैचों की टी20 सीरीज के लिए पहली बार भारतीय क्रिकेट टीम में चुना गया है।

चक्रवर्ती ने बीसीसीआई टीवी को दिए एक साक्षात्कार में कहा, आस्ट्रेलिया दौरे पर टी 20 सीरीज के लिए चुना जाना वास्तविक है। भारतीय टीम में चुना जाना मेरे लिए निश्चित रूप से बहुत बड़ी बात है। मैं वास्तव में इसकी उम्मीद नहीं कर रहा था।

29 वर्षीय चक्रवर्ती आईपीएल 13 के 11 मैचों में अब तक 13 विकेट ले चुके हैं। उन्होंने हाल में दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ एक मैच में पांच विकेट लिए थे। 16 सदस्यीय भारतीय टीम में वह कुलदीप यादव की जगह लेंगे, जो खुद भी कोलकाता नाइट राइडर्स का हिस्सा हैं। कोलकाता ने इस बार नीलामी में चक्रवर्ती को चार करोड़ रुपये में खरीदा था। उन्होंने शनिवार को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ घातक गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में 20 रन देकर पांच विकेट लिए। चक्रवर्ती ने कहा, इस आईपीएल में मेरा मुख्य लक्ष्य नियमित रूप से टीम के लिए खेलना और टीम की जीत में योगदान देना था। मैं शुक्रगुजार हूं कि मैं अब तक अच्छा प्रदर्शन कर रहा हूं और मुझे उम्मीद है कि मैं अपने इस प्रदर्शन को भारतीय टीम के लिए भी जारी रखूंगा।

उन्होंने कहा, इसके लिए मैं चयनकर्ताओं को धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने मेरे ऊपर भरोसा जताया है।  आस्ट्रेलिया दौरे पर भारत को 27 नवंबर 2020 से 19 जनवरी 2021 तक तीन टी20, तीन वनडे और चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है। हालांकि अभी तक आधिकारिक कार्यक्रम की घोषणा नहीं हुई है।  आस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारतीय टी-20 टीम : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, मयंक अग्रवाल, लोकेश राहुल (उप-कप्तान और विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, हार्दिक पांड्या, संजू सैमसन (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, वॉशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, दीपक चाहर, वरुण चक्रवर्ती।  (आईएएनएस)


27-Oct-2020 2:34 PM 25

शारजाह, 27 अक्टूबर| आईपीएल-13 के मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 66 रनों की नाबाद पारी खेलने वाले किंग्स इलेवन पंजाब के बल्लेबाज मनदीप सिंह ने अपने इस पारी को अपने स्वर्गीय पिता को समर्पित किया है। मनदीप ने 56 गेंद पर आठ चौके और दो छक्के लगाए। उन्होंने क्रिस गेल के साथ शतकीय साझेदारी निभाई और उनके आउट होने के बाद भी टीम को जीत तक पहुंचाया।

मनदीप ने बताया कि उन्होंने इस मैच में अपने पिता की चाहत पूरी की, जिनका कुछ दिन पहले ही निधन हो गया था।

मनदीप ने मैच के बाद कहा, "यह बहुत खास था। मेरे पिता मुझे अक्सर कहते थे कि हर मैच में नाबाद रहा करो, तो वाकई यह खास है। वो मुझे यह बात हमेशा ही कहा करते थे, चाहे आप 100 रन बनाइए या फिर 200 आपको आउट नहीं होना चाहिए।"

उन्होंने साथ ही कहा कि कप्तान लोकेश राहुल ने उन्हें अपना स्वभाविक खेल खेलने को कहा था।

मनदीप ने आगे कहा, "मेरी राहुल से मैच शुरू होने के पहले बात हुई थी। पिछले मुकाबले में मैं तेजी से रन बनाने की कोशिश कर रहा था लेकिन ऐसा करने में सहज नहीं हो पा रहा था। मैंने राहुल से कहा था अगर मैं अपना स्वभाविक खेल खेलूंगा तो मैच को जिताउंगा और मुझे इस बात का यकीन था। उन्होंने मेरे खेल का समर्थन किया और जिस तरह से मैं खेलना चाहता था वैसे ही खेला। टीम को मिली इस जीत से मैं बहुत खुश हूं।"

मनदीप के अलावा गेल ने भी 29 गेंदों पर 51 रनों की पारी खेली और दूसरे विकेट के लिए 100 रनों की साझेदारी करके टीम को जिताया।

मनदीप ने कहा, "गेल मुझे कह रहे थे लगातार बल्लेबाजी करते रहो और आखिर तक खेलो। मैंने उनको कहा कि आपको कभी भी रिटायर नहीं होना चाहिए। वो वाकई बहुत ही कमाल हैं, मैं वाकई काफी उत्साहित था।" (आईएएनएस)


27-Oct-2020 2:25 PM 30

शारजाह, 27 अक्टूबर | कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए आईपीएल-13 में शानदार प्रदर्शन करने वाले मिस्ट्री स्पिनर वरुण चक्रवर्ती ने पहली बार भारतीय क्रिकेट टीम में चुने जाने पर कहा है कि उन्हें वास्तव में अच्छा महसूस हो रहा है, लेकिन उन्होंने इसकी उम्मीद नहीं की थी। चक्रवर्ती को आगामी आस्ट्रेलिया दौरे पर होने वाली तीन मैचों की टी20 सीरीज के लिए पहली बार भारतीय क्रिकेट टीम में चुना गया है।

चक्रवर्ती ने बीसीसीआई टीवी को दिए एक साक्षात्कार में कहा, "आस्ट्रेलिया दौरे पर टी 20 सीरीज के लिए चुना जाना वास्तविक है। भारतीय टीम में चुना जाना मेरे लिए निश्चित रूप से बहुत बड़ी बात है। मैं वास्तव में इसकी उम्मीद नहीं कर रहा था।"

29 वर्षीय चक्रवर्ती आईपीएल 13 के 11 मैचों में अब तक 13 विकेट ले चुके हैं। उन्होंने हाल में दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ एक मैच में पांच विकेट लिए थे। 16 सदस्यीय भारतीय टीम में वह कुलदीप यादव की जगह लेंगे, जो खुद भी कोलकाता नाइट राइडर्स का हिस्सा हैं।

कोलकाता ने इस बार नीलामी में चक्रवर्ती को चार करोड़ रुपये में खरीदा था। उन्होंने शनिवार को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ घातक गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में 20 रन देकर पांच विकेट लिए।

चक्रवर्ती ने कहा, "इस आईपीएल में मेरा मुख्य लक्ष्य नियमित रूप से टीम के लिए खेलना और टीम की जीत में योगदान देना था। मैं शुक्रगुजार हूं कि मैं अब तक अच्छा प्रदर्शन कर रहा हूं और मुझे उम्मीद है कि मैं अपने इस प्रदर्शन को भारतीय टीम के लिए भी जारी रखूंगा।"

उन्होंने कहा, "इसके लिए मैं चयनकर्ताओं को धन्यवाद देना चाहता हूं, जिन्होंने मेरे ऊपर भरोसा जताया है।"

आस्ट्रेलिया दौरे पर भारत को 27 नवंबर 2020 से 19 जनवरी 2021 तक तीन टी20, तीन वनडे और चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है। हालांकि अभी तक आधिकारिक कार्यक्रम की घोषणा नहीं हुई है।

आस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारतीय टी-20 टीम : विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, मयंक अग्रवाल, लोकेश राहुल (उप-कप्तान और विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, हार्दिक पांड्या, संजू सैमसन (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, वॉशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, दीपक चाहर, वरुण चक्रवर्ती। (आईएएनएस)


27-Oct-2020 10:33 AM 11

दुबई, 27 अक्टूबर । इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में प्लेऑफ में जगह बनाने से एक कदम दूर खड़ी दिल्ली कैपिटल्स आज यहां दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद से भिड़ेगी। हैदराबाद भी प्लेऑफ की रेस में बनी हुई है और इसके लिए जरूरी है कि वह अपना हर मैच जीते। वह अपने पिछले मैच के प्रदर्शन को भुलाना चाहेगी। किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ खेले गए अपने पिछले मैच में हैदराबाद जीतती दिख रही थी, लेकिन आखिरी के ओवरों में उसके बल्लेबाज लगातार अंतराल पर विकेट खोते रहे और टीम को 127 रनों का आसान सा लक्ष्य भी हासिल नहीं कर पाई।

एक बार फिर उसका कमजोर मध्यक्रम सामने आया, जो डेविड वार्नर और जॉनी बेयरस्टो के आउट होने के बाद लड़खड़ा गया। जेसन होल्डर जैसे तूफानी बल्लेबाज भी टीम को जीत नहीं दिला सके।

मनीष पांडे और विजय शंकर की जोड़ी भी जल्दबाजी में अपनी विकेट खो कर टीम को संकट में छोड़ गई थी।

यह टीम के लिए बड़ी चिंता है। मध्य क्रम में टीम को स्थिरता और निरंतरता दोनों चाहिए, तभी टीम अपने प्लेऑफ अभियान को जिंदा रख सकती है।

केन विलियम्सन की चोट के बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं है। वह अगर आते हैं तो यह टीम को मजबूती देगा, लेकिन फिर होल्डर को वापस जाना पड़ सकता है।

गेंदबाजी में हैदराबाद हर मैच में अच्छा कर रही है। संदीप शर्मा और टी. नटराजन ने पंजाब के खिलाफ जिस तरह से डेथ ओवरों में गेंदबाजी की थी, वो अगर दिल्ली के बल्लेबाजों ने देखी होगी तो निश्चित तौर पर वे सतर्क रहेंगे। स्पिन में राशिद खान से निपटना दिल्ली के लिए कठिन चुनौती है।

वहीं अगर दिल्ली की बात की जाए तो वह भी अपने पिछले मैच में कोलकाता से शिकस्त खाकर आ रही है।

इस मैच में सुनील नरेन और नीतीश राणा ने जिस तरह से दिल्ली के दो शानदार स्पिनरों- रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल पर रन बनाए थे उससे टीम की लय बिगड़ गई थी।

टीम की गेंदबाजी हालाकिं पूरे सीजन अच्छी रही है। अश्विन और पटेल दोनों ने मध्य के ओवरों में अहम समय पर विकेट निकाल, टीम के शानदार फॉर्म में योगदान दिया है।

तेज गेंदबाजी में कागिसो राबादा और एनरिक नॉर्टजे से पार पाना हैदराबाद के बल्लेबाजों के लिए टेढ़ी खीर होगी। इन दोनों के अलावा तुषार देशपांडे ने भी अपनी गेंदबाजी से कमाल किया है।

बल्लेबाजी में पिछले मैच में पृथ्वी शॉ नहीं खेले थे। इस मैच में वह खेलेंगे या नहीं मैच के दिन ही पता चलेगा। उनकी जगह अजिंक्य रहाणे ने शिखर धवन के साथ पारी की शुरूआती की थी, जो पहली ही गेंद पर आउट हो गए थे।

धवन, कप्तान श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत और मार्कस स्टोइनिस का बल्ला पिछले मैच में तो नहीं चला था, लेकिन ये सभी अच्छी फॉर्म में हैं।

टीमें (संभावित) :-

दिल्ली कैपिटल्स : श्रेयस अय्यर (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, एलेक्स कैरी, पृथ्वी शॉ, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), शिखर धवन, शिमरन हेटमायेर, अक्षर पटेल, ललित यादव, मार्कस स्टोइनिस, कीमो पॉल, आवेश खान, हर्षल पटेल, कागिसो रबादा, मोहित शर्मा, रविचंद्रन अश्विन, संदीप लामिछाने, एनरिक नॉर्टजे, तुषार देशपांडे।

सनराइजर्स हैदराबाद : डेविड वार्नर (कप्तान), अभिषेक शर्मा, बैसिल थम्पी, भुवनेश्वर कुमार, बिली स्टानलेक, जॉनी बेयरस्टो, केन विलियम्सन, मनीष पांडे, मोहम्मद नबी, राशिद खान, संदीप शर्मा, शहबाज नदीम, श्रीवत्स गोस्वामी, सिद्धार्थ कौल, खलील अहमद, टी. नटराजन, विजय शंकर, रिद्धिमान साहा, विराट सिंह, प्रियम गर्ग, जेसन होल्डर, संदीप बवांका, फाबियान ऐलेन, अब्दुल समद, संजय यादव।(आईएएनएस/ग्लोफैंस)


27-Oct-2020 10:05 AM 17

जिस्म में जो अहमियत ख़ून की होती है, कहानी में वो ही 'इमोशन' की होती है.

और जब इमोशन के साथ एक्शन और ड्रामा भी हो तो फिर उस कहानी का हिट होना तय है. भले ही वो कहानी क्रिकेट मैदान पर क्यों न लिखी जा रही हो.

आईपीएल-13 में किंग्स इलेवन पंजाब टीम ऐसी ही कहानी लिख रही है. कम-से-कम पिछले पांच मैचों से. इस कहानी में भरपूर एक्शन और ग़ज़ब का ड्रामा दिखा है लेकिन सबसे पहले बात इमोशन की.

छलक उठी भावनाएं

कोलकाता नाइट राइडर्स के ख़िलाफ़ सोमवार को बार-बार भावनाएं छलकती दिखीं. शुरुआत तब हुई जब पंजाब के ओपनर मनदीप सिंह हाफ सेंचुरी पूरी करने के बाद आसमान को ताकते हुए कुछ इशारे करते और कुछ कहते दिखे.

उनके साथ बल्लेबाज़ी कर रहे क्रिस गेल ने पास जाकर गर्मजोशी से उनकी पीठ थपथपाई.

डग आउट में बैठे पंजाब टीम के खिलाड़ी और कोचिंग स्टाफ के सदस्य ऐसे जोश में तालियां बजाने लगे मानो समझ गए हों कि मनदीप क्या कहना चाहते हैं. टीवी के लिए मैच की कमेंट्री कर रहे पूर्व क्रिकेटर भी कुछ भावुक से हो गए. इन तस्वीरों को देखकर उन्हें याद हो आया कि तीन दिन पहले मनदीप सिंह के सिर से पिता का साया उठ गया था.

किंग्स इलेवन पंजाब को जीत दिलाने वाली नाबाद 66 रन की पारी खेलने के बाद मनदीप सिंह जब मैदान से बाहर आए तो ज़िक्र उस भावुक लम्हे का भी हुआ. मनदीप ने कहा, "ये बहुत स्पेशल है. मेरे पिता हमेशा कहते थे कि तुम्हें नॉट आउट लौटना चाहिए. ये पारी उनके लिए थी."

कप्तान केएल राहुल ने भी उनके जज़्बे की बात की. राहुल ने कहा, "मनदीप ने जो मज़बूती दिखाई है, हर कोई उन्हें लेकर भावुक हैं. उन्होंने हाथ उठाया. पिच पर टिके और मैच ख़त्म किया, इसे लेकर हमें गर्व है."

फिर आई मैन ऑफ़ द मैच क्रिस गेल की बारी. गेल ने कहा, "मनदीप मुश्किल दौर से गुज़र रहे हैं. पिछले मैच में हमने कहा था कि हम उनके लिए जीतना चाहते हैं. ऊपर से देख रहे पिता की तरफ उन्हें इशारा करते देखना बहुत अच्छा लग रहा था."

पिता की मौत के अगले दिन मनदीप सिंह टीम के लिए बल्लेबाज़ी करने उतरे थे. मुक़ाबला सनराइज़र्स हैदराबाद के ख़िलाफ़ था. उस मैच में मनदीप सिर्फ़ 17 रन बना सके थे. करीबी मैच में किंग्स इलेवन ने 12 रन से जीत दर्ज की थी और इस जीत को मनदीप के पिता के नाम किया था.

और अब एक्शन की बात

पिछले पांच मैच से तो किंग्स इलेवन की टीम जबरदस्त एक्शन में है. सबसे बड़े एक्शन स्टार हैं, क्रिस गेल.

बैंगलोर के ख़िलाफ़ हाफ सेंचुरी जमाकर टीम की किस्मत बदलना हो. मुंबई के ख़िलाफ़ सुपर ओवर में छक्का जड़कर मैच को पंजाब के हक़ में मोड़ना हो, या फिर कोलकाता के ख़िलाफ़ सुनील नरेन समेत दूसरे तमाम विरोधी गेंदबाज़ों के छक्के छुड़ाना हो, गेल ग़ज़ब ढा रहे हैं.

सोमवार की जिस पारी के लिए गेल को मैन ऑफ़ द मैच चुना गया, उसमें उन्होंने पांच ज़बरदस्त छक्के और दो चौके जड़े.

उम्र 41 बरस हो चुकी है. दाढ़ी की सफेदी साफ़ दिख रही है लेकिन बाजुओं का ज़ोर कतई कम नहीं हुआ है.

गेल ये बताना भी नहीं भूलते कि तमाम लोग कह रहे हैं कि प्लेइंग इलेवन में उनकी एंट्री के साथ ही टीम की किस्मत चमक गई. किंग्स इलेवन तब से लगातार पांच मैच जीत चुकी है.

गेल ने ये राज़ भी खोला कि टीम के युवा खिलाड़ी उनसे गुज़ारिश कर रहे हैं, "रिटायर मत होना."

एक्शन में तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद शमी भी हैं. मुंबई के ख़िलाफ़ सुपर ओवर में शमी ने जो कमाल दिखाया था, उसके लिए वो टूर्नांमेंट के सबसे चर्चित गेंदबाज़ बन गए. शमी ने रोहित शर्मा समेत मुंबई के दूसरे बल्लेबाजों को अपने ओवर में छह रन नहीं बनाने दिए. 12 मैचों में 20 विकेट लेकर वो टूर्नामेंट के दूसरे सबसे कामयाब गेंदबाज़ हैं. अब ज़्यादातर बल्लेबाज़ उनके आगे सहमे दिख रहे हैं.

एक्शन मैन की बात हो और कप्तान केएल राहुल का ज़िक्र न हो, नामुमकिन है. राहुल 595 रन के साथ टूर्नामेंट के सबसे कामयाब बल्लेबाज़ हैं. इस टीम में निकोलस पूरन भी हैं. पूरन ने रन तो 329 ही बनाए हैं लेकिन उनके बल्ले से निकले 22 छक्के हर किसी का दिल जीत चुके हैं. छक्के जड़ने के मामले में वो टूर्नामेंट में दूसरे नंबर पर हैं.

आईपीएल-13 में सबसे ज़्यादा नाटकीय लम्हे किंग्स इलेवन पंजाब के हिस्से ही आए हैं. मुंबई इंडियन्स के ख़िलाफ़ दो-दो सुपर ओवर का रोमांच. क्या ग़जब ड्रामा था.

फिर हैदराबाद के ख़िलाफ़ मैच में दुबई में खेला गया मैच. जहां पंजाब ने 126 रनों का कामयाबी के साथ बचाव कर लिया. वो भी उस स्थिति के बाद बाज़ी पलट दी जहां हैदराबाद को आखिरी 14 गेंद में 17 रन बनाने थे और छह विकेट बाकी थे.

नाटकीय लम्हे ड्रेसिंग रूम के अंदर भी आए हैं. कप्तान केएल राहुल बता चुके हैं कि सात में से छह मैच हारने के बाद कोच अनिल कुंबले ने किस तरह खिलाड़ियों का मनोबल बनाए रखने में मदद की.

फिर मनदीप सिंह की कहानी सामने आई. शुरुआती मैचों में नाकाम होने के बाद वो प्लेइंग इलेवन से बाहर थे. मयंक अग्रवाल चोटिल हुए तो प्लेइंग इलेवन में वापसी का मौका मिला. तब ख़बर पिता की मौत की मिली. हालात मुश्किल थे लेकिन मनदीप मज़बूती के साथ फ़ैसला करने में कामयाब हुए.

लगातार तेज़ी से बदलते इस घटनाचक्र की धुरी बने कप्तान केएल राहुल कहते हैं, " हर अलग दिन एक अलग शख्स ने जिम्मेदारी उठाई है. उंगलियां क्रॉस करके कहता हूं कि हम कुछ और मैच जीत सकते हैं."

कप्तान की ये ख्वाहिश जायज़ भी है. आखिर अभी कहानी पूरी कहां हुई है.(bbc)


27-Oct-2020 8:55 AM 12

शारजाह, 27 अक्टूबर | आईपीएल-13 में लगातार पांचवीं जीत हासिल करने के बाद किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान लोकेश राहुल ने कहा है कि उनकी टीम ने मैदान पर सकारात्मक क्रिकेट खेलने की कोशिश की है और टीम की जीत से वह काफी खुश हैं। पंजाब ने सोमवार को कोलकाता को आठ विकेट से हरा दिया। कोलकाता ने 20 ओवरों में नौ विकेट खोकर 149 रन बनाए। पंजाब ने दो विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया।

मैच के बाद राहुल ने कहा, "मैं काफी खुश हूं। पूरी टीम भी होगी। हमने मिलकर फैसला किया था कि हम वहां जाकर सकारात्मक क्रिकेट खेलेंगे। चीजें बदल सकती हैं। सारी चीजें अच्छी हो रही हैं इस बात से खुश हूं। उम्मीद है कि हम आने वाले मैचों में भी जीत हासिल करेंगे।"

पंजाब की इस जीत में मनदीप सिंह ने नाबाद 60 रन बनाए। मनदीप ने कुछ दिन पहले ही अपने पिता को खोया है।

राहुल ने मनदीप के बारे में कहा, मनदीप ने जो मजबूती दिखाई है वो बेहतरीन है। हर कोई भावुक था। हम उनका साथ देना चाहते थे, उनके साथ रहना चाहते थे। उनका मैच खत्म करना हमारे लिए गर्व की बात है।(आईएएनएस)


26-Oct-2020 10:17 PM 20

मुंबई, 26 अक्टूबर| बीसीसीआई की अखिल भारतीय सीनियर चयन समिति ने सोमवार को आस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारत की वनडे, टी-20 और टेस्ट टीम का ऐलान कर दिया और इन तीनों टीमों में से रोहित शर्मा का नाम नदारद है। रोहित को आईपीएल में चोट लगी थी और इसी कारण वह पिछले दो मैच नहीं खेले हैं। टी-20 और वनडे में उनकी जगह लोकेश राहुल को उप-कप्तान नियुक्त किया गया है। 

टीम में ईशांत शर्मा का नाम भी नहीं है। बीसीसीआई ने अपने बयान में कहा है कि इन दोनों पर नजर रखी जाएगी। 

बीसीसीआई द्वारा जारी बयान में कहा गया है, "बीसीसीआई की मेडिकल टीम रोहित और ईशांत पर करीबी तौर पर निगाहें रखेगी।" 

कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए आईपीएल-13 में अच्छा प्रदर्शन करने वाले वरुण चक्रवर्ती को टी-20 में शामिल किया गया है। संजू सैमसन को भी इस टीम में जगह मिली है। ऋषभ पंत का नाम इस टीम में नहीं है। 

वनडे टीम में शुभमन गिल को मौका मिला है। मंयक अग्रवाल भी बनडे टीम में आए हैं। शार्दूल ठाकुर भी वनडे टीम में जगह बनाने में सफल रहे हैं। 

वनडे और टी-20 में रोहित की जगह मयंक अग्रवाल को जगह मिली है। मयंक संभवत: शिखर धवन के साथ पारी की शुरुआत करते हुए देखे जा सकते हैं। शुभमन गिल सलामी बल्लेबाज के तीसरे विकल्प होंगे। 

मोहम्मद सिराज टेस्ट टीम में नया चेहरा हैं। टेस्ट में शुभमन गिल को बनाए रखा गया है। पंत को यहां रिद्धिमान साहा के साथ शामिल किया गया है। आस्ट्रेलिया में अब दोनों में से कौन विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी निभाएगा यह देखना होगा। टेस्ट में अजिंक्य रहाणे ही उप-कप्तान हैं। 

राहुल के मौजूदा फॉर्म को देखते हुए उम्मीद की जा रही थी कि वह टेस्ट में आ सकते हैं और चयनकतार्ओं ने भी इस बात का ध्यान रखा और राहुल को टेस्ट टीम में वापसी कराई है। टेस्ट में मयंक अग्रवाल और पृथ्वी शॉ के रूप में दो सलामी बल्लेबाज हैं और राहुल के तौर पर तीसरा विकल्प भी मौजूद है लेकिन अनुभव को देखते हुए राहुल को तरजीह दी जा सकती है।

राहुल टी-20 और वनडे में बतौर सलामी बल्लेबाज खेलते हैं या फिर पांचवें नंबर पर यह भी देखना होगा। किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान राहुल आईपीएल में बतौर सलामी बल्लेबाज उतर रहे हैं। रोहित शर्मा के न रहते टीम राहुल को यहां एक बार फिर आजमा सकती है।

राहुल ने अपना आखिरी टेस्ट मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ 2019 में किंग्सटन में खेला था। 

नवदीप सैनी एक और ऐसा नाम है जिन्हें तीन टीमों में जगह मिली है। वनडे और टी-20 टीम में जगह बनाने वाले हार्दिक पांड्या को टेस्ट टीम में शामिल नहीं किया गया है।

आईपीएल में शानदार प्रदर्शन करने वाले टी.नटराजन, कार्तिक त्यागी, कमलेश नागरकोटी और ईशान पोरेल को चार अतिरिक्त गेंदबाजों के रूप में चुना है। 

टीमें : 

टी-20 टीम: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, मयंक अग्रवाल, लोकेश राहुल (उप-कप्तान और विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, हार्दिक पांड्या, संजू सैमसन (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, वॉशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, दीपक चाहर, वरुण चक्रवर्ती।

वनडे टीम: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, शुभमन गिल, लोकेश राहुल (उप-कप्तान और विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, हार्दिक पांड्या, मयंक अग्रवाल, रवींद्र जडेजा, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी, शार्दूल ठाकुर।

टेस्ट टीम: विराट कोहली (कप्तान), मयंक अग्रवाल, पृथ्वी शॉ, लोकेश राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उप-कप्तान), हनुमा विहारी, शुभमन गिल, रिद्धिमान साहा (विकेटकीपर), ऋषभ पंत (विकेटकीपर), जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, उमेश यादव, नवदीप सैनी, कुलदीप यादव, रवींद्र जडेजा, रविचंद्रनन अश्विन, मोहम्मद सिराज। (आईएएनएस)


26-Oct-2020 7:34 PM 28

नई दिल्ली, 26 अक्टूबर | आईपीएल-13 में कगिसो रबादा, एनरिक नॉर्टजे, मोहम्मद सिराज, मोहम्मद शमी जैसे खिलाड़ियों से बेहतरीन गेंदबाजी स्पैल देखने को मिले हैं, लेकिन कुछ गेंदबाजों ने कुछ ऐसे प्रदर्शन किए हैं जिनको वह भूलना चाहेंगे। नजर डालते हैं ऐसे ही कुछ आंकड़ों पर

सिद्धार्थ कौल (सनराइर्जस हैदराबाद)

कौल ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ चार अक्टूबर को खेले गए मैच में चार ओवरों में 64 रन दिए थे। मुंबई ने पांच विकेट पर 208 रनों का स्कोर खड़ा किया था और यह मैच 34 रनों से जीता था।

अंकित राजपूत (राजस्थान रॉयल्स)

25 अक्टूबर को मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेले गए मैच में अंकित ने चार ओवरों में 60 रन दिए। इस मैच में मुंबई इंडियंस ने 20 ओवरों में पांच विकेट पर 195 रन बनाए। राजस्थान ने बेन स्टोक्स के शानदार शतक और संजू सैमसन के बेहतरीन अर्धशतक के दम पर 10 गेंद पहले यह मैच अपने नाम किया।

डेल स्टेन (रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर)

अंतर्राष्ट्रीय स्तर के बेहतरीन गेंदबाजों में शुमार डेल स्टेन ने 24 सितंबर को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ खेले गए मैच में चार ओवरों में 57 रन दिए थे।

क्रिस जोर्डन (किंग्स इलेवन पंजाब)

दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 20 सितंबर को खेले गए मैच में पंजाब के जोर्डन ने चार ओवरों में 56 रन दिए थे। दिल्ली ने आठ ओवरों में 157 रन बनाए। यह मैच सुपर ओवर में गया था जहां दिल्ली को जीत मिली थी।

लुंगी नगिदी (चेन्नई सुपर किंग्स)

नगिदी ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 22 सितंबर को खेलए गए मैच में चार ओवरों में 56 रन खर्च किए थे। राजस्थान ने 20 ओंवरों में सात विकेट के नुकसान पर 216 रन बनाए थे और यह मैच 16 रनों से जीता था।

--आईएएनएस


26-Oct-2020 6:58 PM 21

दुबई , 26 अक्टूबर | आईपीएल-13 में 45 मैचों की समाप्ति के बाद किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान लोकेश राहुल ने ऑरेंज कैप और दिल्ली कैपिटल्स के तेज गेंदबाज कगिसो रबादा ने पर्पल कैप अपने पास ही रखी है। राहुल के 11 मैचों में 567 रन हैं। दूसरे स्थान पर दिल्ली कैपिटल्स के शिखर धवन हैं, जिनके नाम 11 मैचों से 471 रन हैं। रॉयल चैर्लजर्स बेंगलोर के कप्तान विराट कोहली 11 मैचों से 415 रनों के साथ तीसरे नंबर पर है।

गेंदबाजों में रबादा सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ियों की सूची में पहले स्थान पर हैं। रबादा ने 11 मैचों में अब तक 23 विकेट लिए हैं।

राजस्थान रॉयल्स के जोफरा आर्चर 12 मैचों में 17 विकेट के साथ दूसरे नंबर पर है। मुंबई इंडियंस के जसप्रीत बुमराह 11 मैचों से 17 विकेट के साथ तीसरे नंबर पर हैं।

अंकतालिका में मुंबई इंडियंस 11 मैचों में 14 अंकों के साथ टॉप पर कामय है। उसके बाद दिल्ली और फिर बेंगलोर है।

--आईएएनएस


26-Oct-2020 6:57 PM 18

नई दिल्ली, 26 अक्टूबर | इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की टीमों के भीतर ही विकेटकीपर के रोल के लिए कई खिलाड़ी मौजूद हैं, ऐसे में भारत के युवा खिलाड़ी अपने खेल में नए आयाम जोड़े रहे हैं। ईशन किशन मुंबई इंडियंस और संजू सैमसन राजस्थान रॉयल्स के लिए सिर्फ एक बल्लेबाज के तौर पर खेल रहे हैं।

राजस्थान में जोस बटलर और मुंबई में क्विंटन डी कॉक के रहने से टीम के पास ऐसे विकेटकीपर मौजूद हैं जो अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपने आप को स्थापित कर चुके हैं, इसलिए किशन और सैमसन को विकेटकीपिंग के दस्ताने पहनने का मौका नहीं मिला है। सैमसन ने हालांकि कुछ मैचों में विकेटकीपिंग की है।

वहीं दिल्ली कैपिटल्स के लिए खेलने वाले विकेटकीपर ऋषभ पंत ने 2019 विश्व कप में महेंद्र सिंह धोनी के रहते भारतीय टीम में सिर्फ एक बल्लेबाज के तौर पर खेला था।

आम तौर पर विकेटकीपरों के कंधों थ्रो फेंकने के लिए मजबूत नहीं माने जाते। लेकिन कुछ पूर्व खिलाड़ियों का मानना है कि दिनेश कार्तिक के समय से चीजें बदलनी शुरू हो गई थी जिन्हें धोनी के कारण सिर्फ एक बल्लेबाज के तौर पर खेला था। कार्तिक ने भारतीय टीम में सिर्फ एक बल्लेबाज की भूमिका निभाई है और मैदान पर विकेटकीपिंग न कर फील्डिंग की है।

विकेटकीपरों की आने वाली पीढ़ी को अपनी बल्लेबाजी, थ्रो और फील्डिंग स्किल्स को भी मजबूत करना होगा और यह नजर भी आ रहा है क्योंकि पंत, सैमसन, किशन और केएस. भरत जो इस आईपीएल में नहीं खेल रहे हैं, सिर्फ एक बल्लेबाज के तौर पर खेलने को तैयार हैं।

भारतीय टीम के पूर्व मुख्य चयनकर्ता और विकेटकीपर एमएसके प्रसाद ने आईएएनएस से कहा, "अगर आपके पास धोनी जैसा खिलाड़ी है तो आपको विकल्प देखने होंगे। धोनी शानदार विकेटकीपर, महान बल्लेबाज और इन सबसे ज्यादा शानदार कप्तान हैं। उनकी जगह पक्की थी। इसलिए कार्तिक और पार्थिक पटेल बैकअप विकेटकीपर के तौर पर आते थे और अच्छे फील्डर की तरह भी, ताकि जब समय आए तो आप एक बल्लेबाज के तौर पर खेल सकें।"

उन्होंने कहा, "कार्तिक और पार्थिव का शुक्रिया कहना चाहिए जो पूरी तरह से सिर्फ बल्लेबाज के तौर पर खेलने को तैयार थे। पिछले डेढ़ दशक में यही हुआ है। लेकिन यह आने वाली पीढ़ी की सोच नहीं होनी चाहिए। उन्हें अपनी विकेटकीपिंग स्किल्स पर मेहनत करनी चाहिए, नहीं तो वो अपनी प्राथमिक स्किल खो देंगे।"

किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान लोकेश राहुल आईपीएल के पहले के संस्करणों में एक बल्लेबाज के तौर पर ही खेले हैं।

अन्य पूर्व विकेटकीपरों का मानना है कि विकेटकीपर बाकी चीजों के लिए तैयार रहें।

--आईएएनएस


26-Oct-2020 5:56 PM 18

दुबई, 26 अक्टूबर | दिल्ली कैपिटल्स के तेज गेंदबाज कगिसो रबादा आईपीएल-13 में टीम की पिछली लगातार दो हार से चिंतित नहीं हैं और उनका मानना है कि टीम आगामी मैच में वापसी करेगी। दिल्ली कैपिटल्स को पिछले दो मैचों में किंग्स इलेवन पंजाब और कोलकाता नाइट राइडर्स के हाथों हार का सामना करना पड़ा है। दिल्ली 11 मैचों से 14 अंकों के साथ तालिका में दूसरे नंबर पर है और अब उसे अपना अगला मुकाबला मंगलवार को सनराइजर्स हैदराबाद के साथ खेलना है।

रबादा ने कहा कि उनकी टीम को कुछ चीजों पर का काम करने की जरूरत है, जिससे उन्हें टूर्नामेंट के अहम मोड़ पर वापसी करने में मदद मिलेगी।

रबादा ने कहा, "आप यहां क्वालीटी क्रिकेट खेल रहे हैं और यह आसान नहीं है। हमने अच्छी शुरुआत की, जोकि हमेशा करना चाहते हैं। इन दिनों यही हो रहा है और लेकिन हमें कुछ चीजों पर फिर से काम करने की जरूरत है।"

उन्होंने कहा, "हम टूर्नामेंट के अहम मोड़ पर हैं और आप अच्छी टीमों के खिलाफ खेलते हैं। दिन होने पर कोई भी जीत सकता है। आगे हमारे पास अभी कुछ मैच हैं और कुल मिलाकर हमें अपनी ताकतों पर काम करने की जरूरत है। मुझे पूरा विश्वास है कि हम कुछ बदलाव करेंगे।"

यह पूछे जाने पर कि टूर्नामेंट में उनकी टीम उतार-चढ़ाव के दौर से गुजर रही है, तेज गेंदबाज ने कहा, "आपको केवल यह मानना पड़ेगा कि आप क्वालीटी टीमों के खिलाफ खेलते हैं और ऐसी चीजें होती रहती है। हर कोई क्रिकेट खेल रहा है, हर कोई हारता है, जीतता है। इसलिए इसके बारे में हमें ज्यादा नहीं सोचना चाहिए।"

--आईएएनएस


26-Oct-2020 5:42 PM 20

नई दिल्ली, 26 अक्टूबर। 7 खो खो, जो कि 'टैग' का एक पारंपरिक भारतीय खेल है, अब भारत में युवाओं के बीच लोकप्रियता हासिल कर रहा है। इसके अनुभवी खिलाड़ी सारिका काले को इस साल अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था, जिससे खो-खो खिलाडिय़ों एवं भारतीय खो-खो संघ में एक नई ऊर्जा आई है। भारतीय खो-खो महासंघ के अध्यक्ष सुधांशु मित्तल ने सोमवार को खेल के विकास पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि राष्ट्र के स्वदेशी खेल को आखिरकार खिलाडिय़ों के बीच करियर विकल्प के रूप में मान्यता दी जा रही है।

मित्तल ने कहा,  मैं खो खो को बढ़ावा देने में मदद करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी और खेल मंत्री किरण रिजिजू जी को धन्यवाद देना चाहता हूं। पहले सरकारी नौकरियों के लिए (खेल कोटे में) खो खो पर विचार नहीं किया जाता था, लेकिन अब खो खो खिलाडिय़ों को भी इस योजना के तहत नौकरी मिल सकती है। इसका श्रेय केंद्र सरकार को जाता है।  भारतीय खो-खो महासंघ के अध्यक्ष ने आगे कहा कि खेल ने अपने पंख खोल दिए हैं और विश्व पर छा जाने के लिए तैयार है।  उन्होंने कहा भारतीय खो-खो महासंघ के लिए यह गर्व का क्षण है कि खो खो को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी पहचान मिली है। किसने सोचा होगा कि खो खो विदेशों में भी इतना लोकप्रिय हो जाएगा? इसे संभव बनाने के प्रयास किए गए और मैं उन सभी का आभारी हूं जो इस संबंध में हमारा समर्थन कर रहे हैं।

खो खो लीग अगले महीने शुरू होने वाली थी लेकिन कोरोना के कारण इसे अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दिया गया।  मित्तल ने लीग के बारे में कहा, " लीग अब हर खेल में हो रही है। इस तरह के लीग अपने-अपने खेलों को बढ़ावा देने में बहुत अच्छा कर रहे हैं।

 हमारी लीग 21 नवंबर से शुरू होने वाली थी, लेकिन कोरोना के कारण इसे स्थगित कर दिया गया। हम जल्द ही नई तारीखों की घोषणा करेंगे।" (आईएएनएस)


Previous123456789...6364Next