खेल

Previous123Next
Posted Date : 22-Apr-2018
  • नई दिल्ली : दिल्ली डेयरडेविल्स के युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत ने शनिवार को आरसीबी के खिलाफ अपनी बल्लेबाजी से सभी का दिल जीत लिया। एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली की शुरुआत खराब रही और टीम के दोनों सलामी बल्लेबाज जल्दी ही पवेलियन लौट गए। दिल्ली ने 23 रन के अंदर ही अपने दोनों ओपनर कप्तान गौतम गंभीर और जेसन रॉय के विकेट गंवा दिए। गंभीर ने 10 गेंदों पर तीन और रॉय ने 16 गेंदों पर मात्र पांच रन ही बनाए। लेकिन इसके बाद पंत और अय्यर ने तीसरे विकेट के लिए 75 रन जोड़े। पंत ने राहुल तेवतिया के साथ भी पांचवें विकेट के लिए 65 रन की साझेदारी की। पंत ने 48 गेंदों पर चार चौके और सात छक्के लगाए। वह 48 गेंदों में 85 रन बनाकर आउट जरूर हो गए, लेकिन अपनी बल्लेबाजी से उन्होंने टीम को एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचा दिया।
    अपनी पारी के दौरान पंत ने ऐसे कई शॉट्स खेले जिसे देख दर्शकों के साथ-साथ मैदान पर मौजूद खिलाड़ी भी हैरान रह गए। पारी का 19वां ओवर क्रिस वोक्स लेकर आए और पंत ने उनकी पहली दो गेंदों पर छक्का जड़ दिया। दूसरी गेंद पर पंत ने कुछ इस तरीके का शॉट लगाया जिसे देख भारतीय कप्तान विराट कोहली भी हैरान रह गए। पंत की बल्लेबाजी को ने दिल्ली को इस मैच में वापस लाने का काम जरूर किया, लेकिन गेंदबाजों के खराब प्रदर्शन की वजह से दिल्ली को यह मैच गंवाना पड़ा।
    पंत के अलावा श्रेयस अय्यर ने 31 गेंदों पर चार चौके और तीन छक्के क मदद से 52 रन बनाए। लीग के 11वें संस्करण में अय्यर का यह पहला अर्धशतक है। तेवतिया ने नौ गेंदों पर तीन चौकों की मदद से नाबाद 13 रन बनाए। दिल्ली ने आखिरी के पांच ओवर में 71 रन जोड़े। वहीं बेंगलोर के लिए युजवेंद्र चहल ने 22 रन पर दो विकेट हासिल किया। इसके अलावा उमेश यादव को 27 रन पर एक विकेट, वाशिंटन सुंदर को 31 रन पर एक विकेट और कोरी एंडरसन को एक ओवर में 10 रन पर एक विकेट मिला। (जनसत्ता)

     

    ...
  •  


Posted Date : 22-Apr-2018
  • नई दिल्ली/बेंगलुरू: बीती रात एबी डीविलियर्स की आतिशी पारी की मदद से आरसीबी ने दिल्ली को 6 विकेट से हरा दिया. दिल्ली से मिले 174 रनों के लक्ष्य को आरसीबी ने बौना साबित कर दिया और 90 रनों की मैच विनिंग नॉक खेलने के बाद भी नाबाद रहे.
    लेकिन आरसीबी की पारी के दौरान एक मौका ऐसा भी आया जब मैच एक बार फिर से दिल्ली की तरफ झुकता दिख रहा था. जी हां, हम बात कर रहे हैं 11वें ओवर की. जब हर्षल पटेल की गेंद पर ट्रेंट बोल्ट ने ऐसा कैच लपका कि मानो हर क्रिकेट फैन हैरान रह गया.
    हर्षल पटेल ने 11वें ओवर की आखिरी गेंद फुलटॉस विराट के पैड की तरफ फेंकी. विराट ने फ्लिक खेला और गेंद हवा बाउंड्री पार करने के लिए निकलने लगी. लेकिन तभी बाउंड्री पर नज़र आए तेज़ गेंदबाज़ ट्रेंट बोल्ट. जिन्होंने रोबोटिक अंदाज़ में ऐसा अविश्वसनीय कैच लपका कि विराट कोहली चारो खाने चित हो गए.
    बाउंड्री से ठीक पहले बोल्ट ने हवा में ऊंची छलांग लगाते हुए एक हाथ से विराट का कैच पकड़ लिया. लेकिन गेंद की पावर इतनी ज़्यादा थी कि वो बाउंड्री की ओर गिरने लगे. लेकिन बोल्ट ने अपनी फिटनेस का बखूबी नमूना पेश किया और ठीक बाउंड्री से टकराने से पहले ही खुद को ज़मीन पर रोक लिया. बोल्ट के इस रोबोटिक अंदाज़ वाले साहस को देख खुद विराट कोहली भी हैरान थे. हालांकि एबी डीविलियर्स की पारी की मदद से दिल्ली के हाथ आया मैच में वापसी का मौका नहीं बन पाया. लेकिन बोल्ट की इस कैच की मैच के बाद भी जमकर प्रशंसा हो रही है.
    खुद विराट ने मैच के बाद कहा कि 'मैं भी उस कैच को देखकर हैरान रह गया था. खुद मुझे भी यकीन नहीं हुआ कि उन्होंने कैच पकड़ लिया है. लेकिन आईपीएल में इस तरह की फील्डिंग और कैच देखने को मिलते हैं. जिन्हें बार-बार देखने का मन करता है. ऐसे में आपको अपने शॉट और आउट होने पर अफसोस नहीं होता. (abp news)

    ...
  •  


Posted Date : 22-Apr-2018
  • नई दिल्ली, 22 अप्रैल। पाकिस्तानी क्रिकेटर हसन अली ने शनिवार शाम वाघा बॉर्डर पहुंचकर अपनी हरकत से सभी को चौंका दिया। रोजाना की तरह वहां चल रहे झंडा उतारने के रंगारंग समारोह के दौरान हसन अली ने पाकिस्तानी हिस्से से बीएसएफ के जवानों और भारतीय दर्शकों की ओर इशारे किए।
    दरअसल, विकेट लेने के बाद हसन का मैदान पर जश्न मनाने का तरीका सुर्खियों में रहता है और वह वाघा बॉर्डर पर भी अपना ट्रेडमार्क स्टाइल दिखाने से नहीं चूके। पाकिस्तानी क्रिकेट टीम अपने ट्रेनिंग कैंप के अंतिम चरण में वाघा बॉर्डर पहुंची थी।
    पाकिस्तान की ओर से समारोह में घुस आए इस सिविलियन पर बीएसएफ ने अपनी कड़ी प्रतिक्रिया जताई है। प्रोटोकॉल के मुताबिक समारोह में बीएसएफ और पाकिस्तान रेंजर्स ही शामिल हो सकते हैं। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक प्रोटोकॉल उल्लंघन पर बीएसएफ अपनी शिकायत दर्ज कराएगी।
    ये वही हसन अली हैं, जो पाकिस्तान की उस टीम का हिस्सा थे, जिसने पिछले साल चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में भारत को हरा दिया था। उस फाइनल में हसन अली ने तीन विकेट निकाले थे।
    24 साल के हसन अली ने पाकिस्तान की ओर से 2 टेस्ट में 6 विकेट और 30 वनडे में 62 विकेट झटके हैं। इसके अलावा उन्होंने 16 टी-20 इंटरनेशनल में 21 विकेट हासिल किए हैं।  (आज तक)

     

    ...
  •  


Posted Date : 21-Apr-2018
  • किंग्स इलेवन पंजाब की नौ विकेट से जीत, प्वाइंट टेबल में टॉप पर
    केकेआर- 20 ओवर में 7 पर 191 रन, क्रिस लिन 74, दिनेश कार्तिक 43
    पंजाब 11.1 ओवर में 1 पर 126, गेल 62* , केएल राहुल 60

    नई दिल्ली, 21 अप्रैल : इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में रविवार को पहले मुकाबले में बारिश थमने के बाद किंग्स इलेवन पंजाब ने जीत की औपचारिकता को पूरा करते हुए डकवर्थ लुइस नियम से केकेआर को 9 विकेट से धो दिया. बारिश थमने के बाद पंजाब को जीतने के लिए बदले स्कोर के तहत 13 ओवरों में 125 का लक्ष्य मिला था. और इस टारगेट को पंजाब ने केएल राहुल (60, 27 गेंद) का विकेट खोकर 11.1 ओवर में ही हासिल कर लिया. क्रिस गेल ने टॉम कुरन की गेंद पर छक्का जड़कर पंजाब को जीत दिलाई. यह गेल का टूर्नामेंट में लगातार तीसरा अर्धशतक रहा और वह 38 गेंदों पर 62 रन बनाकर नाबाद रहे. 
    बारिश से पहले तक पंजाब ने 8.2 ओवरों में बिना किसी नुकसान के 96 रन बना लिए थे. इस दौरान  केकेआर से मिले 192 के टारगेट का पंजाब के ओपनरों क्रिस गेल और केएल राहुल ने मानो ईंट का जवाब पत्थर से दिया.  मैच रुकने के समय क्रिस गेल 27 गेंदों पर 49 रन, तो केएल राहुल 23 गेंदों पर 46 रन बनाकर टिके हुए थे.
    पावर-प्ले की सबसे पावरफुल जोड़ी!
    पिछली कुछ पारियों के बाद ईडन गार्डन में जमा हजारों क्रिकेटप्रेमियों की निगाहें क्रिस गेल पर थीं. वास्तव में गेल और राहुल की जोड़ी को आठों टीमों में सबसे आक्रामक सलामी जोड़ी करार दिया जाए, तो एक बार को गलत नहीं ही होगा. इन दोनों ने प्रशंसकों को बिल्कुल भी निराश नहीं किया. दोनों ने बेहतरीन शॉट लगाए. जमीन के जरिए भी, हवा के रास्ते भी, नतीजन शुरुआती छह ओवरों में केकेआर का स्कोर बिना किसी नुकसान के 73 रन था. इसमें गेल का योगदान 35 रन (22 गेंद), तो राहुल का योगदान 37 रन (14 गेंद था). वास्तव में पावर-प्ले में इन्होंने दर्शकों का पूरा पैसा वसूल करा दिया. 
    KKR की पारी
    पंजाब से पहले बैटिंग का न्योता पाने के बाद कोलकाता नाइट राइडर्स ने क्रिस लिन (74) और फिर कप्तान दिनेश कार्तिक (43) की उपयोगी पारी से पंजाब के सामने जीत के लिए 192 का टारगेट रखा है. एक समय केकेआर की शुरुआत खराब रही थी, जब सुनील नारायण सिर्फ एक ही रन बनाकर आउट हो गए थे, लेकिन इसके बाद क्रिस लिन और रॉबिन उथप्पा (34) ने टीम को उबार दिया.
    हालांकि, केकेआर को मिड्ल ऑर्डर में उसके इनफॉर्म नितीश राणा (3) और बाद में आतिशी आंद्रे रसैल (10) के सस्ते में निपटने से अच्छा खासा नुकसान हुआ. लेकिन एक छोर पर कप्तान दिनेश कार्तिक और युवा शुबमन गिल (नाबाद 14 रन) ने उपयोगी साझेदारी करते हुए केकेआर को 20 ओवर में 7 विकेट पर 191 का स्कोर दिला दिया. पंजाब के लिए बरिंदर सरन और एंड्र्यू टाई ने दो-दो विकेट लिए. 
    पावर-प्ले में पटरी पर आई गाड़ी
    यह सही है कि ईडेन गार्डन का मैदान थोड़ा बड़ा है. और पिच में भी थोड़ा उछाल शुरू में मिलता है. और ऊपर से सुनील नारायण का दूसरे ही ओवर में सिर्फ 1 रन बनाकर मुजीब का शिकार बन जाना. ऐस लग रहा था कि केकेआर पावर-प्ले (शुरुआती छह ओवर, 30 गज के घेरे के बाहर सिर्फ 2 फील्डर होते हैं) में फायदा नहीं उठा पाएगा. लेकिन क्रिस लिन ने कुछ अच्छी बाउंंड्रियां बटोरीं. वहीं, मुजीब के फेंके चौथे ओवर में उथप्पा ने लगातार तीन चौके लगाए. नतीजा रहा कि केकेआर पावर प्ले में 1 विकेट पर 50 रन बनाने में कामयाब रहा. 
    आठवां ओवर मतलब शनि का प्रकोप!
    आठ का अंक शनि का माना जाता है. और शनिवार को यह प्रकोप झेला लेफ्टी पेसर बरिंदर सरन ने. स्लोअर-वन कई बार ट्राई की बरिंदर ने. मानो उनके पास दूसरा कोई ब्रह्मास्त्र ही नहीं था. पहले रॉबिन ने छक्के से शुरुआत की, तो इस ओवर की आखिरी गेंद और स्लोअर-वन पर छक्का लगाया क्रिस लिन ने. कुल मिलाकर इस ओवर में बरिंदर ने 3 छक्के और 1 चौका खाया. कुल मिलाकर 23 रन दिए. मतलब शनि की बरिंदर पर  बड़ी बुरी मार! 

    क्रिस लिन बन गए कहर
    क्रिस लिन शुरुआत में उतने आक्रामक नहीं थे. उन्हें अचानक से ही गति बकड़ी बरिंदर सरन के फेंके 8वें ओवर में. इस ओवर में उन्होंने दो छक्के और 1 चौका लगाया. 12वें ओवर में लिन ने अर्धशतक पूरा किया. बीच-बीच में उनके बल्ले से बाउंड्रियां निकलती रहीं. उनके अंदाज को देखकर लिन की गति कहीं तेज रही. और 16वें ओवर में एंड्रयू टाई का शिकार बनने से पहले क्रिस लिन ने 41 गेंदों पर 74 रन की पारी खेलकर केकेआर को मजबूती प्रदान कर दी. 

    इससे पहले पंजाब ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया.. साथ ही पंजाब की इलेवन में भी एक बदलाव हुआऔर मोहित शर्मा की जगह अंकित राजपूत को टीम मैनेजमेंट ने इलेवन में जगह दी. हालांकि, यूपी के अंकित राजपूत खासे महंगे साबित हुए और उन्होंने 3 ओवर के कोटे में 32 रन खर्च किए. केकेआर ने अपने पिछले मैच की अंतिम एकादश में कोेई भी बदलाव नहीं किया. 
    कुल मिलाकर  पंजाब के कप्तान आर. अश्विन ने लक्ष्य का पीछा करने की रणनीति को तरजीह दी.दोनों टीमें इस मैच के लिए इस प्रकार हैं:
    केकेआर: दिनेश कार्तिक (कप्तान और विकेटकीपर), क्रिस लिन, सुनील नारायण, रॉबिन उथप्पा, नीतीश राणा, आंद्रे रसैल, शुबमन गिल, पीयूष चावला, टॉम कुरन, शिवम मावी, कुलदीप यादव
    किंग्स इलेवन पंजाब: रविचंद्रन अश्विन (कप्तान), केएल राहुल, क्रिस गेल, मयंक अग्रवाल, करुण नय्यर, एरॉन फिंच, युवराज सिंह, एंड्रय टाई, बरिंदर सरन, मोहित शर्मा, मुजीब जादरान (ndtv)

    ...
  •  


Posted Date : 21-Apr-2018
  • विराट और अनुष्का के फैंस ने दोनों का नाम 'विरुष्काÓ रखा है। फैन्स जितना इस कपल को सराहते हैं, उतना ही अनुष्का विराट और विराट अनुष्का को सपोर्ट और एडमायर करते हैं। कुछ वक्त पहले अनुष्का की फिल्म 'परीÓ रिलीज हुई थी। विराट ने इस फिल्म में अनुष्का की खूब तारीफें की थी। विराट ने अनुष्का की सराहना करते हुए उनके लिए एक इंस्टाग्राम पोस्ट लिखा था। वहीं अनुष्का पिछले दिनों अपने हसबेंड विराट को सपोर्ट करने क्रिकेट के मैदान तक पहुंच गई थीं। इस दौरान अनुष्का ने विराट को ऑडियंस के बीच बैठ कर खूब चियर किया। वहीं अनुष्का विराट के लिए चिल्लाती हुई और फ्लाइंग किस करती हुई नजर आईं थीं।
    अब इस बार विराट ने पत्नी अनुष्का के लिए सोशल मीडिया पर एक क्यूट सा पोस्ट जारी किया है। अपने इंस्टाग्राम पेज पर विराट ने अपनी और अनुष्का की एक तस्वीर शेयर करते हुए उसे एक कैप्शन दिया है। विराट अपने पोस्ट में लिखते हैं- 'सच अ स्टनर मॉय लव ऑफ माय लाइफ.. अनुष्का। विराट द्वारा हाल ही में पोस्ट की गई इस तस्वीर में विराट के फैंस ने कमेंट करना शुरू कर दिया।
    विराट के पोस्ट पर कई लोगों ने कमेंट कर कहा कि क्या प्यार है। तो वहीं कई लोग विराट की टांग खींचते हुए भी नजर आए। वहीं कुछ लोग ऐसे भी थे जिन्होंने यहां भी विराट को क्रिकेट को लेकर सलाह देना शुरू कर दिया। एक कमेंट में यूजर ने लिखा- 'भाई इतना प्यार आरसीबी से भी कर ले। बहुत तंग करते हैं बाकी टीम सपोर्ट...Ó वहीं विराट और अनुष्का के कुछ वेलविशर फैन्स ने कहा- नजर न लगे। लव यू भइय्या और भाभी।  (जनसत्ता)

     

    ...
  •  


Posted Date : 20-Apr-2018
  • नई दिल्ली, 20 अप्रैल। आईपीएल-2018 में किंग्स इलेवन  पंजाब की टीम मजबूती से आगे बढ़ रही है। टीम की इस कामयाबी पर बॉलीवुड एक्ट्रेस और किंग्स इलेवन पंजाब की सह-मालकिन प्रीति जिंटा भी काफी खुश हैं।
    प्रीति जिंटा ऐसे हर मौकों पर खिलाडिय़ों की हौसला अफजाई करती हैं, तभी तो गेल की तूफानी पारी से मिली जीत के बाद वह खुद को रोक नहीं पाईं और उन्हें बधाई देने मैदान पर उतर गईं।
    कैरेबियाई धुरंधर भी जीत का जश्न मनाने में पीछे नहीं रहे। थिरकते हुए उन्होंने प्रीति की बधाई कबूल की और खुशी से उछलती प्रीति ने उन्हें  जीत की झप्पी दी।
    सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ आईपीएल सीजन-11 के 16वें मैच में किंग्स इलेवन पंजाब ने क्रिस गेल के 104 (63 गेंद, 1 चौका, 11 छक्के) रनों की नाबाद पारी के दम पर 193/3 रनों का स्कोर खड़ा किया। हैदराबाद की टीम यह लक्ष्य हासिल नहीं कर पाई और पंजाब को 15 रनों से जीत मिल गई।
    इस सीजन अपना दूसरा मैच खेल रहे गेल 11वें सीजन में शतक बनाने वाले पहले बल्लेबाज हैं। आईपीएल में गेल का यह छठा शतक है, 38 साल के गेल आईपीएल के इतिहास में सबसे ज्यादा शतक बनाने वाले बल्लेबाज हैं। किंग्स पंजाब ने 5 मैचों में 3 जीत दर्ज कर लिये हैं और वह अंक तालिका में 6 अंकों के साथ बेहतर रन रेट के साथ टॉप पर है।  (आज तक)

    ...
  •  


Posted Date : 20-Apr-2018
  • सनराइजर्स हैदराबाद के ख़िलाफ गुरुवार को मोहाली में हुए मैच के बाद विस्फोटक बल्लेबाज़ क्रिस गेल के इस बयान में अगर किसी को गुरूर दिखे तो शायद उसने इस कैरेबियाई बल्लेबाज़ को खेलते नहीं देखा होगा. मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार थामने के सिर्फ़ तीन घंटे पहले मोहाली के मैदान में उनका बल्ला गरज रहा था और गेंदबाज़ छुपने की जगह तलाश रहे थे. 63 गेंदों में 11 छक्कों और एक चौके की मदद से क्रिस गेल ने नाबाद 104 रन बनाए और उनकी इस पारी के दम पर किंग्स इलेवन पंजाब ने सनराइजर्स हैदराबाद के जीत के रथ को रोक दिया.
    ये आईपीएल-2018 में किसी बल्लेबाज़ का पहला शतक है. गेल ने सहवाग का जिक्र बेवजह नहीं किया. ट्वेंटी-20 के सबसे धाकड़ बल्लेबाज़ होने के बाद भी आईपीएल 2018 में क्रिस गेल का कोई खरीदार नहीं था.
    करीब 13 साल लंबे ट्वेंटी-20 करियर में सबसे ज़्यादा रन और सबसे ज़्यादा शतक रिकॉर्ड रखने के बाद भी क्रिस गेल को नीलामी में कोई भाव नहीं मिला.
    बाद में किंग्स इलेवन पंजाब ने उन्हें दो करोड़ की बेस प्राइस पर अपने साथ जोड़ा. सहवाग किंग्स इलेवन पंजाब के मेंटर हैं.
    वीरू से करनी है बात
    गेल ने सहवाग का जिक्र करते हुए ये भी कहा, "वीरू ने एक इंटरव्यू में कहा कि अगर क्रिस आपके लिए दो गेम भी जीत लेते हैं तो पैसे वसूल हैं."
    लगातार दूसरे मैच में मैन ऑफ द मैच चुने गए गेल ने कहा, " अब मुझे वीरू से दोबारा बात करनी होगी."
    इस शतक के जरिए क्रिस गेल ने ट्वेंटी-20 में अपने शतकों की संख्या 21 तक पहुंचा दी है. दूसरे नंबर पर जो तीन बल्लेबाज़ हैं उनके नाम सिर्फ़ सात शतक हैं. ऐसे में गेल और उनके बीच के फ़ासले की जानकारी हो जाती है.
    38 साल के गेल आईपीएल के मौजूदा सीजन में क्या खुद को साबित करने को ज़्यादा आतुर हैं, इस सवाल पर वो कहते हैं, "मैं हमेशा प्रतिबद्ध रहता हूं. लोग कहते हैं कि क्रिस को शुरूआत में नहीं चुना गया तो उन्हें नई टीम के साथ काफी कुछ साबित करना होगा लेकिन लगातार दो मैचों में मैन ऑफ द मैच चुना जाना, एक अच्छी शुरुआत है."
    बेटी के साथ करेंगे पार्टी
    एक दौर में दुनिया के तमाम गेंदबाज़ों को डरा चुके सहवाग भी गेल की बातों से सहमत नज़र आते हैं. ट्विटर पर उन्होंने गेल के बयान को दोहराया है.
    वहीं गेल उम्मीदों के तमाम दबावों को परे करते हुए कहते हैं, "मुझे यहां कुछ भी साबित नहीं करना है. मैं पहले ही सबकुछ कर चुका हूं."
    शुक्रवार के लिए उनका ऐजेंडा तय है. वो जीत का जश्न अपनी बेटी के जन्मदिन की पार्टी के साथ मनाना चाहते हैं. वो शुक्रवार को ही दो बरस की हो रही हैं. (bbc)

    ...
  •  


Posted Date : 19-Apr-2018
  • नई दिल्ली, 19 अप्रैल : दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर होनेवाले आईपीएल मैचों पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। दरअसल, दिल्ली हाई कोर्ट ने बुधवार को दक्षिण दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) से कहा कि अगर वह फिरोजशाह कोटला के ओल्ड क्लब हाउस को आईपीएल मैचों के लिए स्ट्रक्चर के मजबूत होने का सर्टिफिकेट देता है, तो किसी भी तरह का हादसा होने पर पूरी जिम्मेदारी निगम की होगी।

    अदालत ने कहा कि अगर ढांचा गिर जाता है और किसी तरह के जानमाल का नुकसान होता है तो इसकी जिम्मेदारी निगम और इस स्टेडियम की मिल्कियत रखने वाले दिल्ली ऐंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट असोसिएशन (डीडीसीए) की होगी।
    डीडीसीए के अनुसार, अगर ओल्ड क्लब हाउस का इस्तेमाल ब्रॉडकास्टिंग के उपकरण रखने और संबंधित लोगों के लिए नहीं किया गया तो फिर 23 अप्रैल से यहां होने वाले आईपीएल मैचों का आयोजन स्टेडियम में नहीं हो पाएगा। 
    जस्टिस राजीव शकधर ने कहा, ‘डीडीसीए या मैं विशेषज्ञ नहीं हैं। एसडीएमसी को हस्ताक्षर करने होंगे। उन्हें पूरी जिम्मेदारी लेनी होगी। अगर इमारत गिरती है और यहां तक कि एक भी व्यक्ति घायल होता है या जान गंवाता है तो इसके लिए आप ही जिम्मेदार माने जाएंगे। मैच तो होते रहेंगे।’ 
    वहीं एसडीएमसी ने अदालत से कहा कि उसने एक सलाहकार की सेवाएं ली हैं जिन्होंने ओल्ड क्लब हाउस की ढांचागत स्थिरता को लेकर अंतरिम रिपोर्ट दी है। डीडीसीए से शपथपत्र लेने के बाद अंतिम रिपोर्ट उपलब्ध हो जाएगी। (पीटीआई)

    ...
  •  


Posted Date : 19-Apr-2018
  • कोलकाता, 19 अप्रैल : आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स शानदार परफॉर्म करती नजर आ रही है. हर बार की तरह इस बार भी वो अग्रेसिव होकर खेल रहे हैं. इस बार कोलकाता के कप्तान दिनेश कार्तिक हैं. जो बल्लेबाजी के साथ-साथ शानदार विकेटकीपरिंग भी करते हैं. केकेआर और राजस्थान रॉयल्स के बीच मुकाबला खेला गया. जिसमें केकेआर ने आसानी से मुकाबला जीत लिया. मैच में सबसे खास था दिनेश कार्तिक की स्टम्पिंग. लेकिन आईपीएल में कार्तिक ने धोनी की स्टाइल में स्टम्पिंग कर सभी को चौका दिया.
    शानदार बल्लेबाजी कर रहे रहाणे क्रीज पर खड़े थे और खूब चौके-छक्के जड़ रहे थे. नीतीश राणा गेंदबाजी कर रहे थे. रहाणे ने आगे बढ़कर शॉट खेला. लेकिन उनके बल्ले पर बॉल नहीं आई और सीधे कार्तिक के हाथ में आ गई. जिसके बाद कार्तिक ने हवा में उड़कर रहाणे को शिकार बनाया. ये तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है.
    दिनेश कार्तिक ने निदास ट्रॉफी के फाइनल में शानदार बल्लेबाजी की थी, जिसके कारण टीम इंडिया चैम्पियन बनी थी. जिसके बाद कोलकाता ने उन्हें टीम का कप्तान बनाया. उनकी कप्तानी में कोलकाता शानदार परफॉर्म कर रही है और लोगों का मानना है कि कोलकाता जरूर फाइनल में पहुंचेगी. (ndtv)

    ...
  •  


Posted Date : 18-Apr-2018
  • मुंबई , 18 अप्रैल : विराट मुंबई के खिलाफ नाबाद 92 रन की पारी के दौरान आईपीएल इतिहास में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए. हालांकि इसके बावजूद उनकी टीम हार गई. साथ ही मैच के समय ऐसा भी वक्‍त आया जब विराट कोहली अंपायरों पर आगबबूला हो गए.
    विराट के गुस्‍से के कारण बना मुंबई इंड‍ियन के बल्‍लेबाजी के दौरान का 19वां ओवर. इस ओवर में बेहद नजदीकी मामले में हार्दिक पांड्या को थर्ड अंपायर ने नॉट आउट करार दिया. साथ ही हार्दिक पांड्या ने इसका पूरा फायदा उठाते हुए अगली 2 गेंदों में 2 शानदार सिक्‍स लगाए. इससे अंपायर पर कोहली का गुस्‍सा 7वें आसमान पर पहुंच गया.
    कोहली ने मुंबई की बल्‍लेबाजी खत्‍म होने के बाद भी अंपायर से इस बात की नाराजगी जाहिर की. कोहली फैसले के बाद बार बार स्‍क्रीन की ओर इशारा कर अंपायर को गलत ठहराते रहे.
    कोहली का गुस्‍सा पूरे मैच में बना रहा. शानदार बल्‍लेबाजी करते हुए कोहली ने 92 रन बनाए, हालांकि वे मैच नहीं जीता सके. हालांकि वे इस बड़ी पारी के साथ इस सीजन ऑरेंज कैप होल्‍डर भी बन गए. इसके बावजूद कोहली का गुस्‍सा शांत नहीं हुआ.
    सेरेमनी के दौरान विराट को जब IPL की ऑरेंज कैप दी गई तो उन्होंने उसे पहनने से इंकार कर दिया. ऑरेंज कैप लेते हुए कोहली ने अपना गुस्‍सा जाहिर किया. कोहली ने कहा कि  ''मैं इसे नहीं पहनना चाहता. फिलहाल, इसे फेंक देने का मन कर रहा है और मैं इस पर फोकस करना चाहता हूं कि हमने विकेट कैसे गंवाए''. कोहली का यह गुस्‍सा अंपायर के लिए नहीं बल्‍कि आरसीबी के बड़े ख‍िलाड़‍ियों के लिए था जो कल उनका साथ देने में नाकाम रहे.
    कप्तान कोहली तो एक छोर संभाले अंत तक डटे रहे लेकिन दूसरे छोर से बाकी बल्लेबाजों का आना जाना लगा रहा. नतीजा, ये हुआ कि विराट की लाजवाब पारी भी उनकी टीम को हार का सामना करना पड़ा. इसके साथ आरसीबी अंक तालि‍का में 7वें पायदान पर भी पहुंच चुकी है.  (aajkal) 

    ...
  •  


Posted Date : 17-Apr-2018
  • नई दिल्ली, 17 अप्रैल। रविवार को पंजाब के खिलाफ चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अंतिम गेंद पर छक्का जरूर लगाया, लेकिन वो टीम को जीत नहीं दिला सकें। टूर्नामेंट में दूसरा मैच हारने के बाद पंजाब की टीम ने चेन्नई को चार रनों से हराकर जोरदार वापसी की। मैच के दौरान प्रीति जिंटा हर बार की तरह मोहाली में टीम की टी-शर्ट फैन्स को दे रही थी। फैन्स को टी-शर्ट फेंकते समय प्रीति को एक फैन ने कुछ ऐसा कहा दिया कि वो काफी गुस्सा हो गई। दरअसल, सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो में प्रीति फैन्स को उनके ऊपर कमेंट्स करने पर फटकार लगा रही हैं। प्रीति खुशी-खुशी टी-शर्ट बांट रही होती हैं कि अचानक एक फैन उन पर कुछ कमेंट करता है, जिससे नाराज होकर प्रीति उन्हें पहले तो कुछ कहती हैं और फिर वहां से चली जाती हैं। फैन ने प्रीति को कमेंट में ऐसा क्या कहा यह बात अभी तक साफ नहीं हो पाई है। मोहाली हमेशा से ही पंजाब का घर रहा है और वहां के दर्शक भी टीम को हर बार जमकर सपोर्ट करते हैं, लेकिन फैन के इस व्यवहार से प्रीति के दिल को ठेस जरूर पहुंची होगी।
    इस मैच में पंजाब की टीम ने चेन्नई जैसे मजबूत टीम को चार रनों से हराकर टूर्नामेंट में अपनी दूसरी जीत हासिल की। क्रिस गेल की तूफानी 63 रन की पारी की वजह से पंजाब ने चेन्नई के सामने 197 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया, जिससे चेन्नई की टीम नहीं बना पाई। पंजाब की टीम इस साल बेहतर नजर आ रही है। केएल राहुल, करुण नायर, युवराज सिंह और मयंक अग्रवाल जैसे भारतीय खिलाड़ी के आने से टीम मजबूत दिखाई पड़ रही है।
    पंजाब ने टूर्नामेंट की शुरुआत दिल्ली को हराकर किया था। हालांकि, अगले ही मैच में से हार का सामना करना पड़ा। चेन्नई के खिलाफ मिली जीत से पंजाब के हौसले बुलंद होंगे और वो आने वालेो मैचों में भी जीत हासिल करना चाहेगी। पंजाब के कप्तान आर अश्विन और मेंटर पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग इस साल टीम को चौंपियन बनाने की पूरी कोशिश करेंगे।  (जनसत्ता)

    ...
  •  


Posted Date : 17-Apr-2018
  • मुंबई, 17 अप्रैल। आईपीएल चल रहा है और सभी खिलाड़ी चैम्पियन बनने की जंग में भिड़ चुके हैं। इसी बीच एक ऐसा वीडियो वायरल हो रहा है। जिसको देख फैन्स काफी एक्साइटिड हैं। गॉड ऑफ क्रिकेट माने जाने वाले सचिन तेंदुलकर मुंबई में गली क्रिकेट खेलते नजर आए। मेट्रो कंस्ट्रक्शन वर्कर्स के साथ वो क्रिकेट खेलते नजर आ रहे हैं।
    लोगों ने सचिन का ये अवतार पहली बार देखा। हमेशा ग्राउंड पर खेलने वाले सचिन गली क्रिकेट खेलते नजर आए। सचिन आईपीएल टीम मुंबई इंडियंस के मेंटर हैं और मैचों में नजर आते रहते हैं। लेकिन इस बार सोशल मीडिया पर लोगों ने उनको गली क्रिकेट खेलते देखा।
    ये वीडियो रविवार का है। सचिन तेंदुलकर मुंबई के ब्रांद्रा से गुजर रहे थे। वहां उन्होंने कुछ बच्चों को क्रिकेट खेलता देखा। वो खुद को रोक नहीं पाए और कार रुकवाकर उनके साथ क्रिकेट खेलने लगे। सचिन को अपने पास देख बच्चे भी खुश हो गए। सचिन ने बल्ला थामा और बल्लेबाजी करने शुरू कर दिया। उन्होंने कई शॉट्स भी जड़े। टेनिस बॉल से खेल रहे थे इसलिए उन्होंने बिना हेलमेट और पैड्स के क्रिकेट खेला। सोशल मीडिया पर उनका ये वीडियो काफी वायरल हो रहा है।
    सचिन तेंदुलकर 44 साल के हैं और आने वाली 24 अप्रैल को वो 45 साल के हो जाएंगे। नवंबर 2013 को उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ खेला था। साल 2013 में ही उन्होंने अपना आखिरी आईपीएल खेला था। जिसके बाद वो मुंबई इंडियंस के मेंटर बन गए हैं।  (एनडीटीवी)

     

    ...
  •  


Posted Date : 15-Apr-2018
  • राजस्‍थान ने 20 ओवर में 4 विकेट पर 217 रन बनाए
    संजू सैमसन ने नाबाद 92 रन की पारी खेली, इसमें 10 छक्‍के
    जवाब में 20 ओवर में 6 विकेट पर 198 रन ही बना पाई आरसीबी
    नई दिल्ली, 15 अप्रैल: युवा बल्‍लेबाज संजू सैमसन की तूफानी पारी (नाबाद 92 रन, 45 गेंद, दो चौके और 10 छक्‍के ) और कप्‍तान अजिंक्‍य रहाणे के 36 रन (20 गेंद, छह चौके, एक छक्‍का) की बदौलत राजस्‍थान रॉयल्‍स की टीम आईपीएल 2018 के मुकाबले में आज रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू को 19 रन से हरा दिया. बेंगलुरू की आमंत्रण पर पहले बैटिंग करते हुए राजस्‍थान रॉयल्‍स टीम 20 ओवर में 4 विकेट पर 217 रन का विशाल स्‍कोर बनाने में सफल रही. आईपीएल 2018 का अब तक का सर्वोच्‍च स्‍कोर रहा. बेंगलुरू के सामने जीत के लिए 218 रन का विशालकाय लक्ष्‍य था और टीम की बहुत कुछ उम्‍मीद ब्रेंडन मैक्‍कुलम, एबी डिविलियर्स और कप्‍तान कोहली पर टिकी हुई थी. बहरहाल मैक्‍कुलम और डिविलियर्स ने इस मैच में निराश किया. विराट कोहली ने जरूर 57 रन की पारी खेली लेकिन यह जीत दिलाने के लिहाज से नाकाफी रही. 20 ओवर में बेंगलुरू की टीम 6  विकेट पर 198  रन ही बना पाई. मंदीप सिंह 47 रन बनाकर नाबाद रहे. राजस्‍थान की टूर्नामेंट में यह दूसरी जीत है जबकि विराट कोहली की आरसीबी को अपने तीन में दो मैचों में हार का सामना करना पड़ा है.
    बेंगलुरू की पारी: विराट और मंदीप ही कर पाए संघर्ष 
    आरसीबी की पारी ब्रेंडन मैक्‍कुलम और क्विंटन डिकॉक ने शुरू की. पहले ही ओवर में कृष्‍णप्‍पा गौतम ने मैक्‍कुलम (4रन, 4 गेंद, एक चौका) को स्‍टोक्‍स के हाथों कैच करा दिया.पारी के दूसरे ओवर में धवल कुलकर्णी को विराट कोहली ने तीन चौके जमा दिए. इस ओवर में 14 रन बने.तीसरे ओवर में गौतम को कोहली और डिकॉक ने एक-एक चौका लगाया. ओवर में 10 रन बने.चौथे ओवर में जयदेव उनादकट को डिकॉक ने चौका लगाया. ओवर में 9 रन बने.पांचवें ओवर में डिकॉक ने गौतम को लगातार दो चौके लगाए. पांच ओवर के बाद आरसीबी का स्‍कोर एक विकेट पर 49 रन था.छठे ओवर में आए बेन स्‍टोक्‍स का स्‍वागत कोहली ने दो चौके लगाकर किया. ओवर में 15 रन बने.आठवें ओवर में बॉलिंग को आए डार्सी शॉर्ट को कोहली ने छक्‍का लगाया. लेकिन शॉर्ट इस ओवर में डिकॉक (26) को उनादकट से कैच कराने में सफल हुए. अगले यानी 9वें ओवर की पहली गेंद पर सिंगल लेकर विराट कोहली ने अर्धशतक पूरा किया. यह आईपीएल में उनका 31वीं फिफ्टी रही. श्रेयस गोपाल के इस ओवर में विकेटकीपर जोस बटलर, खतरनाक बल्‍लेबाज डिविलियर्स की स्‍टंपिंग मिस कर बैठे.जवाब में 10  ओवर के बाद आरसीबी का स्‍कोर दो विकेट पर 100 रन था.

    11वें ओवर में श्रेयस गोपाल ने विराट कोहली (57 रन, 30 गेंद, छह चौके व दो छक्‍के) को शॉर्ट से कैच करा दिया. नए बल्‍लेबाज मंदीप सिंह आए. कोहली के आउट होने के बाद आरसीबी की रनगति कम होती जा रही थी और वांछित रन रेट बढ़ता जा रहा था. पारी के 13वें ओवर में एबी डिविलियर्स (20 रन, 18 गेंद, एक चौका, एक छक्‍का) के आउट होने से आरसीबी को संघर्ष को गहरा झटका लगा. एबी का कैच श्रेयस गोपाल की गेंद पर उनादकट ने लपका. 14वें ओवर में मंदीप ने के. गौतम को छक्‍का लगाया.पारी के 15वें ओवर की पहली गेंद पर पवन नेगी (3)भी चलते बने, उन्‍हें बेन लॉफलिन की गेंद पर विकेटकीपर बटलर ने कैच किया.जवाब में 15 ओवर के बाद आरसीबी का स्‍कोर तीन विकेट पर 134 रन था.पारी का 16वां ओवर में बेन स्‍टोक्‍स ने फेंका, इसमें केवल छह रन बने.17वें ओवर में उनादकट पर हमला बोलते हुए मंदीप ने एक छक्‍का और दो चौके ठोक दिए. ओवर में 17 रन बने. आखिर के दो ओवरों में आरसीबी को 24 रन प्रति ओवर के औसत से 48 रन बनाने की जरूरत थी.19वें ओवर में वाशिंगटन सुंदर (35) को स्‍टोक्‍स ने बोल्‍ड कर दिया.पारी के 20वें ओवर में मंदीप ने लॉफलिन को तीन चौके लगाए लेकिन यह कोशिश भी टीम को जीत नहीं दिला सकी. बेंगलुरू टीम 20 ओवर में 6 विकेट 198 रन ही बना पाई.

    विकेट पतन: 4-1 (मैक्‍कुलम, 0.4),81-2 (डिकॉक, 7.6),101-3 (विराट, 10.2), 114-4 (डिविलियर्स, 12.3),126-5 (नेगी, 14.1),182-6 (सुंदर, 18.5)

    राजस्‍थान की पारी: सैमसन ने दिखाई अपने शॉट्स की रेंज
    राजस्‍थान रॉयल्‍स की पारी अजिंक्‍य रहाणे और डार्सी शॉर्ट ने शुरू की. आरसीबी के लिए पहला ओवर वाशिंगटन सुंदर ने फेंका, इसमें एक रन बना.दूसरा ओवर क्रिस वोक्‍स ने फेंका. इसमें  ओवर में रहाणे के चौके सहित सात रन बने.सुंदर की तीसरे ओवर में रहाणे ने चौका और फिर छक्‍का जड़कर स्‍कोर को गति दी. ओवर में 14 रन बने.उमेश यादव की ओर से फेंके गए पारी के चौथे ओवर में  11 रन बने.पांच ओवर में राजस्‍थान का स्‍कोर बिना विकेट खोए 43 रन था.पारी के छठे ओवर में रहाणे (36 रन, 20 गेंद, छह चौके, एक छक्‍का) आसमानी शॉट लगाने की कोशिश में वोक्‍स की गेंद पर उमेश यादव को कैच थमा बैठे. नए बल्‍लेबाज संजू सैमसन आए. इसी ओवर में ही राजस्‍थान के 50 रन पूरे हुए.अगले यानी सातवें ओवर में स्पिनर युजवेंद्र चहल ने दूसरे ओपनर डॉसी शॉर्ट (11) को भी पेवेलियन लौटा दिया.नए बल्‍लेबाज बेन स्‍टोक्‍स क्रीज पर आए.पारी आठवें ओवर में तेज गेंदबाज कुलवंत खेजरोलिया को सैमसन ने छक्‍का लगाया. ओवर में 9 रन बने.10 ओवर में राजस्‍थान का स्‍कोर दो विकेट खोकर 76 रन था.

    पारी के 11वें ओवर में वाशिंगटन सुंदर का स्‍वागत सैमसन ने छक्‍का लगाकर किया. ओवर में 1 रन बने.12वें ओवर में स्‍टोक्‍स ने खेजरोलिया को चौका और फिर छक्‍का लगाया. ओवर राजस्‍थान के लिए बेहद अच्‍छा (15 रन) रहा. राजस्‍थान के 100 रन इस ओवर की आखिरी गेंद पर पूरे हुए.पारी के 13वें ओवर में बेन स्‍टोक्‍स (27 रन, 21 गेंद, दो चौके, एक छक्‍का) को चहल ने बोल्‍ड कर दिया.15  ओवर में राजस्‍थान का स्‍कोर तीन विकेट खोकर 129  रन था.16वें ओवर में उमेश यादव ने नोबॉल फेंकी जिस पर मिली फ्रीहिट का पूरा लाभ लेते हुए सैमसन ने छक्‍का जमा दिया. ओवर में 13 रन बने.17वें ओवर में उन्‍होंने वोक्‍स को छक्‍का लगाया और इसी ओवर में अर्धशतक पूरा किया. ओवर की आखिरी गेंद पर बटलर ने भी छक्‍का जड़ा. 19वें ओवर में सैमसन ने वोक्‍स को छक्‍का और दो चौके लगाए.वैसे इस ओवर में बटलर (23 रन) का विकेट भी गिरा. 20वें ओवर में उमेश यादव की बुरी हालत हुई. इस ओवर में राहुल त्रिपाठी ने छक्‍का और चौका और संजू सैमसन ने दो छक्‍के लगाए. यादव ने इस ओवर में नोबॉल भी फेंकी.इस ओवर में उमेश ने 27 रन लुटाए. संजू 92 रन (45 गेंद, दो चौके, 19 छक्‍के) और राहुल त्रिपाठी 14 रन (पांच गेंद, एक चौका व एक छक्‍का ) बनाकर नाबाद रहे. 20 ओवर में राजस्‍थान का स्‍कोर चार विकेट पर 217 रन रहा. बेंगलुरू के क्रिस वोक्‍स और युजवेंद्र चहल ने दो-दो विकेट लिए.
    विकेट पतन: 49-1 (रहाणे, 5.4), 53-2 (शॉर्ट, 6.5),102-3 (स्‍टोक्‍स, 12.2),175-4 (बटलर, 18.2)
    राजस्‍थान रॉयल्‍स ने अपनी वही टीम रखी है जो पिछले मैच में खेली थी. दूसरी ओर आरसीबी ने अपनी प्‍लेइंग इलेवन में सरफराज खान की जगह पवन नेगी को जगह दी है.
    दूसरी तरफ बैंगलोर की टीम भी पिछले दो मुकाबलों में सिर्फ एक ही जीत पाई है. टीम ने शुक्रवार को किंग्स इलेवन पंजाब को तीन गेंद शेष रहते चार विकेट से हराया है. इस जीत से टीम का मनोबल बढ़ा है. बैंगलोर के लिए अच्छी बात यह है कि उसके विस्फोटक बल्लेबाज अब्राहम डिविलियर्स फॉर्म में लौट आए हैं. डिविलियर्स ने पंजाब के खिलाफ 50 रन बनाए थे. गेंदबाजी में उमेश यादव ने पंजाब के खिलाफ तीन विकेट झटके थे. बल्लेबाजों और गेंदबाजों के शानदार फार्म को देखते हुए बेंगलोर अपने घर में लगातार दूसरी जीत दर्ज करना चाहेगी.
    दोनों टीमें इस प्रकार थीं...
    राजस्‍थान रॉयल्‍स: अजिंक्‍य रहाणे (कप्‍तान), डार्सी शॉर्ट, बेन स्‍टोक्‍स, संजू सैमसन, जोस बटलर, राहुल त्रिपाठी, के.गौतम, श्रेयस गोपाल, धवल कुलकर्णी, जयदेव उनादकट और बेन लॉफलिन.
    रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू: विराट कोहली (कप्‍तान), क्विंटन डिकॉक, ब्रेंडन मैक्‍कुलम, एबी डिविलियर्स, मंदीप सिंह, वाशिंगटन सुंदर, क्रिस वोक्‍स, पवन नेगी, कुलवंत खेजरोलिया, उमेश यादव और युजवेंद्र चहल.

    ...
  •  


Posted Date : 15-Apr-2018

  • भोपाल, 15 अप्रैल। जहां एक तरफ पूरा देश कॉमनवेल्थ गेम्स में 26 गोल्ड मेडल मिलने पर गर्व महसूस कर रहा है। लेकिन खिलाडिय़ों को यहां तक पहुंचने में कितना संघर्ष करना पड़ता है हमारे देश में ये हकीकत भी किसी से छिपी नहीं है। हम अपने खिलाडिय़ों से हर प्रतियोगिता में सोने की उम्मीद तो करते हैं लेकिन सुविधाएं देने के नाम पर सरकारी तिजोरी खुलती नहीं है। ऐसी ही एक तस्वीर मध्यप्रदेश के दमोह से आई है, जहां राज्य की हॉकी टीम में चयन के लिए ट्रायल देने आई खिलाडिय़ों को 5 रुपये की थाली से पेट भरना पड़ा।  मध्यप्रदेश के दमोह के जेपीबी गल्र्स स्कूल के मैदान में 42 बच्चियां हॉकी के लिए ट्रॉयल देने आई थीं। इनमें से 18 राष्ट्रीय खेलों में मध्यप्रदेश की हॉकी टीम की नुमाइंदगी करेंगी।
    इन खिलाडिय़ों के रहने के लिये गल्र्स स्कूल के हॉस्टल में इंतजाम किया गया था लेकिन खाने के लिये इनके कोच को गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों के लिये दीनदयाल रसोई से 5 रुपये वाली थाली की पर्ची कटवाने पड़ी। 
    कांग्रेस प्रवक्ता दीप्ति सिंह ने सीएम शिवराज पर निशाना साधते हुए कहा कि मुख्यमंत्री निवास में 3000 रूपये की थाली उपलब्ध है और जो बेटियां नाम रोशन करेंगी उन्हें 5 रूपये की थाली खिलाई जा रही है।  ये हालात तब हैं जब मध्यप्रदेश की बेटियां हॉकी में राष्ट्रीय स्तर पर 2015, 2016 में मेडल जीत चुकी हैं। (खबर न्यूज)

    ...
  •  


Posted Date : 15-Apr-2018

  • मनीष शर्मा
    गोल्ड कोस्ट, 15 अप्रैल । ऑस्ट्रेलिया में 21वें कॉमनवेल्थ खेलों के आखिरी 10वें दिन भारत ने 66 पदकों के साथ बहुत ही शानदार अंदाज में अपने शानदार अभियान का समापन किया।यह कुल मिलाकर भारत का खेलों के इतिहास में तीसरा सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा। करोड़ों हिंदुस्तानी खेलप्रेमियों की नजरें आखिरी दिन इस बात पर लगी थीं कि क्या भारत साल 2014 में ग्लास्गो के प्रदर्शन को पीछे छोड़ पाएगा या नहीं। और भारतीय दल ने इन उम्मीदों पर पूरी तरह खरा उतरते हुए ग्लास्गो के 64 पदकों को पीछे छोड़ते हुए इतिहास रच दिया, लेकिन इसके साथ भारतीयों को थोड़ा यह मलाल जरूर होगा कि वे मैनचेस्टर (साल 2002, 69 पदक) से कुछ ही पीछे रह गए। 
    लेकिन भारतीय दल को यह मलाल जरूर हो सकता कि वे मैनचेस्टर में साल 2002 में सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन मतलब 69 पदकों की बराबरी नहीं कर पाएंगे। बहरहाल गोल्ड कोस्ट का यह प्रदर्शन भारत का तीसरा सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन बन गया है। भारत के खाते में अभी तक 65 पदक आ चुके हैं। और अब सिर्फ बैडमिंटन डबल्स फाइनल का मुकाबला बचा है। आखिरी दिन रविवार को भारत का प्रदर्शन कुछ ऐसा रहा।
    बैडमिंटन 
    सायना नेहवाल ने हमवतन और रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता पीवी सिंधु को हराकर अंतिम दिन रविवार को महिला एकल वर्ग का स्वर्ण पदक अपने नाम किया। सायना ऐसे में राष्ट्रमंडल खेलों में दो स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला बैडमिंटन खिलाड़ी बन गई हैं। सिंधु को हार के कारण रजत पदक से संतोष करना पड़ा। लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता सायना ने सिंधु को 56 मिनट तक चले इस मैच में 21-18, 23-21 से मात देकर राष्ट्रमल खेलों का दूसरा स्वर्ण पदक अपने नाम किया।
    वहीं पुरुष वर्ग में वल्र्ड नम्बर-1 भारतीय खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत एकल वर्ग के फाइनल में उलटफेर का शिकार होना पड़ा और इस कारण वह स्वर्ण पदक से चूक गए। श्रीकांत को मलेशिया के दिग्गज ली चोंग वेई ने मात देकर राष्ट्रमंडल खेलों का पांचवां स्वर्ण पदक हासिल किया। इस कारण भारतीय खिलाड़ी को रजत पदक से संतोष करना पड़ा। वल्र्ड नम्बर-7 ली ने श्रीकांत को एक घंटे और पांच मिनट तक चले मैच में 19-21, 21-14, 21-14 से मात देकर जीत हासिल की। 
    टेबल टेनिस
    अचंत शरत कमल ने पुरुषों की एकल वर्ग स्पर्धा का कांस्य पदक अपने नाम कर लिया। शरत ने कांस्य पदक के लिए खेले गए इस मैच में इंग्लैंड के सैमुएल वॉकर को मात दी। शरथ ने सैमुएल को 4-1 (11-7, 11-9, 9-11, 11-6, 12-10) से हराकर इस मैच को जीता और आखिरकार कांस्य पदक जीतने में सफल रहे।
    वहीं  मिक्स्ड डबल्स में मनिका बत्रा और साथियान गणाशेखरन ने कांस्य पदक अपने नाम किया। (एनडीटीवी)

    ...
  •  


Posted Date : 14-Apr-2018
  • अभी तक भारत के कुल 59 पदक
    कुश्ती के सभी 12 वर्गों में भारतीयों ने जीते पदक
    आखिरी दिन है क्या पीछे छूट पाएगा मैनचेस्टर?
    नई दिल्ली, 14 अप्रैल :गोल्ड कोस्ट: गोल्ड कोस्ट में चल रहे 21वें कॉमनवेल्थ खेलों के आखिरी और 10वें दिन भारत पर मानो स्वर्ण पदक की बरसात सी ही हो गई. शनिवार को भारत ने कुल मिलाकर आठ स्वर्ण पदकों पर कब्जा किया. स्वर्ण पदक की इस बारिश के बीच एथलेटिक्स की भाला फेंक स्पर्धा में नीरज चोपड़ा ने इतिहास रच दिया. नीरज चोपड़ा खेलों के इतिहास में भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं. एक खास बात यह रही कि भारत ने पूरे खेलों के दौरान कुश्ती के सभी 12 वर्गों में पदक जीते. इसमें 5 स्वर्ण, 3 रजत और 4 कांस्य शामिल रहे. और यह बात भारत की कुश्ती की ताकत दुनिया को बताने के लिए काफी है. 
    बहरहाल खेलों के नौवें दिन के शाम के सेशन में मुक्केबाजी में विकास कृष्ण, महिला टीटी में सिंगल्स में मनिका बत्रा, कुश्ती में सुमित मलिक और विनेश फोगाट ने स्वर्ण पदक दिलाए, तो शनिवार सुबह बॉक्सिंग में स्टार मैरीकॉम और गौरव सोलंकी ने भी सोने पर मुक्का जड़ा. इसके अलावा सुबह के सेशन में शूटिंग में संजीव राजपूत ने भी सोने पर निशाना साधा. 
    इससे अलावा मुक्केबाजी में सतीश कुमार, अमित पंघाल और मनीष कौशिक को अपने-अपने भार वर्ग में रजत पदक मिले, तो ओलंपिक पदक विजेता साक्षी मलिक और सोमवीर भी कांस्य झटकने में कामयाब रही हैं. इसके अलावा बैडमिंटन में महिला डबल्स टीम और टीटी में पुरुष डबल्स टीम को हार के साथ ही रजत से संतोष करना पड़ा, तो इस वर्ग का कांस्य भी भारत को मिला.
    वहीं बैडमिंटन में श्रीकांत किदांबी, सायना नेहवाल और पीवी सिंधू ने महिला वर्ग के सिंगल्स के फाइनल में प्रवेश कर लिया है. इस वर्ग में स्वर्णिम टक्कर अब रविवावर को इन्हीं दोनों  खिलाड़ियों के बीच होगी. इसके अलावा टेबल टेनिस के सिंगल्स के पुरुष वर्ग में भारत स्टार खिलाड़ी अचंत शरत कमल सेमीफाइनल में हार गए. भारत के नौवें दिन का आखिरी पदक मुक्केबाज सतीश कुमार की फाइनल में हार के साथ रजत के रूप में आया. इसी के साथ खेल के नौवें दिन भारत के पदकों की संख्या 59 हो गई है. इसमें 25 स्वर्ण, 16 रजत और 18 कांस्य पदक शामिल हैं.
    मुक्केबाजी
    शाम के सेशन में भारत के विकास कृष्ण ने शनिवार को 75 किलोग्राम वर्ग में स्वर्ण पदक अपने नाम किया. विकास ने फाइनल मुकाबले में कैमरून के दियूदोन विल्फ्रे सेयी को 5-0 से हराया. विकास ने शनिवार को बॉक्सिंग में भारत को तीसरा स्वर्ण दिलाया, इससे पहले सुबह एमसी मैरीकोम और गौरव सोलंकी ने स्वर्ण जीता था. नौवें दिन के आखिरी मुकाबले में सतीश कुमार 91 किग्रा वर्ग में इंग्लैंड के फ्रेजर क्लार्क से 5-0 से हार गए और उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा. 
    सुबह के सेशन में मैरी कॉम ने शनिवार को महिला मुक्केबाजी की 45-48 किलोग्राम भारवर्ग के स्पर्धा का स्वर्ण अपने नाम कर लिया है. इस दिग्गज मुक्केबाज ने फाइनल में इंग्लैंड की क्रिस्टिना ओ हारा को 5-0 से मात देकर पहली बार राष्ट्रमंडल खेलों में पदक हासिल किया.
    वहीं, पुरुष वर्ग में गौरव सोलंकी ने शनिवार को मुक्केबाजी में दूसरा स्वर्ण पदक दिलाया है गौरव ने पुरुषों की 52 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा के फाइनल में उत्तरी आयरलैंड के ब्रेंडन इरवाइन को 4-1 से मात देते हुए सोने का तमगा हासिल किया, तो मनीष कौशिक 60 किग्रा भार वर्ग में हार गए और उन्हें रजत से संतोष करना पड़ा. इस वर्ग में एक और अन्य मुक्केबाज भारत के मुक्केबाज अमित पंघाल 46-49 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा के फाइनल में हार कर रजत पदक से संतोष करना पड़ा है.अमित को इंग्लैंड के गलाल याफाई को 3-1 से मात देते हुए उनके स्वर्ण के सपने को तोड़ दिया
    कुश्ती
    पुरुष फ्री-स्टाइल के 125 किग्रा वर्ग में सुमित मलिक ने स्वर्ण पदक जीता, तो महिलाओं की 50 किग्रा फ्री-स्टाइल नोर्डिक सिस्टम में विगनेश ने सोने पर कब्जा किया, तो महिलाओं में ही 62 किग्रा फ्री-स्टाइल कुश्ती में साक्षी मलिक ने तीसरे स्थान पर रहते हुए कांस्य पदक जीता. इसके अलावा पुरुष वर्ग में ही सोमवीर ने 86 किग्रा फ्री-स्टाइल वर्ग में कांस्य पदक जीता.
    एथलेटिक्स
    भारत के नीरज चोपड़ा ने इतिहास रच दिया है. उन्होंने भाला फेंक में वह कारनामा कर दिखाया, जो उनसे पहले इन खेलों के इतिहास में कोई और भारतीय नहीं ही कर सका. नीरज चोपड़ा ने अपने चौथे प्रयास में 86.47 मीटर जेवलिन फेंका. और इस दूरी को कोई और खिलाड़ी नहीं ही भेद सका. वहीं, तिहरी कूद में अरपिंदर सिंह कांस्य से चूक गए और वह चौथे स्थान पर रहे. वहीं, भारतीय महिलाएं चार गुणा चारसौ रिले दौड़ में फाइनल में सातवें स्थान पर रहीं. (ndtv)

    ...
  •  


Posted Date : 14-Apr-2018
  • मुंबई ने पहले बैटिंग कर बनाए थे 7 विकेट पर 194 रन
    दिल्‍ली ने लक्ष्‍य आखिरी गेंद पर तीन विकेट खोकर हासिल किया
    जेसन रॉय ने नाबाद 91 रन की जोरदार पारी खेली

    नई दिल्ली, 14 अप्रैल,: जेसन रॉय (नाबाद 91, 53 गेंद, छह चौके व छह छक्‍के) और ऋषभ पंत (47 रन, 25 गेंद, छह चौके और दो छक्‍के) की तूफानी पारियों की बदौलत दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स ने आज यहां आईपीएल 2018 के रनों से भरपूर मैच में मुंबई इंडियंस को 7  विकेट से हरा दिया. टूर्नामेंट में दिल्‍ली की यह पहली जीत है जबकि मुंबई को अपने तीनों ही मैच में हार का सामना करना पड़ा है. दिल्‍ली के आमंत्रण पर पहले बैटिंग करते हुए मुंबई ने सूर्यकुमार यादव (53), ईविन लेविस (48) और ईशान किशन (44) की तूफानी पारियों की बदौलत20 ओवर में 7  विकेट पर 194 रन बनाए.जवाब में रॉय और पंत की पारियों की बदौलत दिल्‍ली ने लक्ष्‍य 20 वें आखिरी की आखिरी गेंद पर केवल तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया. रॉय के साथ श्रेयस अय्यर 27 रन बनाकर नाबाद रहे. मुंबई के वानखेड़े स्‍टेडियम पर हुए इस मैच में दिल्‍ली के कप्‍तान गौतम गंभीर ने टॉस जीता और मुंबई को पहले बैटिंग के लिए बुलाया था.
    दिल्‍ली की पारी: जेसन रॉय ने बनाया विजयी रन
    जवाब में दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स की पारी गौतम गंभीर और जेसन रॉय ने शुरू की. मुंबई के लिए पहला ओवर हार्दिक पंड्या ने फेंका, जिसमें 11 रन बने.इस ओवर में जेसन रॉय और गंभीर ने एक-एक चौका लगाया. स्पिनर अकिला धनंजय की ओर से फेंके गए दूसरे ओवर में रॉय ने छक्‍का और फिर चौका जमा दिया. ओवर में 12 रन बने. तीसरे ओवर में जसप्रीत बुमराह को बॉलिंग के लिए लाया गया.तीसरे ओवर में जसप्रीत बुमराह को बॉलिंग के लिए लाया गया. इस ओवर में महज दो रन बने.मुस्‍तफिजुर की ओर से फेंका गया चौथा ओवर भी किफायती रहा, इसमें 4 रन बने.पारी के 5वें ओवर में हार्दिक को गौतम गंभीर ने चौका और फिर जेसन रॉय ने दो छक्‍के और चौका जमाया. बेहद महंगे रहे  इस ओवर में  21रन बने और स्‍कोर 50 तक पहुंच गया. पारी के छठे ओवर में मुस्‍तफिजुर ने दिल्‍ली के कप्‍तान गौतम गंभीर (15 रन, दो चौके) को रोहित शर्मा से कैच कराकर टीम को पहली सफलता दिलाई.सातवें ओवर में लेग ब्रेक बॉलर मयंक मार्कंडे गेंदबाजी आए. ओवर में पंत के दो चौकों सहित 10 रन बने.नौवें ओवर में दिल्‍ली के बल्‍लेबाजों ने मार्कंडे के खिलाफ आक्रामक तेवर दिखाए. इस ओवर में रॉय ने छक्‍का और फिर पंत ने दो चौके लगाए. ओवर में 17 रन बने. 10वें ओवर में पंत के गुस्‍से का शिकार बनने की बारी धनंजय की थी. इस ओवर में पंत ने दो छक्‍के और एक चौका लगाया. दिल्‍ली का स्‍कोर इस ओवर में 100 रन के पार पहुंच गया. ओवर में 19 रन बने.10 ओवर के बाद स्‍कोर एक विकेट खोकर 104 रन था.
    पारी के 11वें ओवर में जेसन रॉय ने अर्धशतक पूरा किया. उन्‍होंने 27 गेंदों का सामना करते हुए तीन चौके और चार छक्‍के लगाए. रॉय और पंत की जोड़ी मुंबई के लिए मुश्किल बनती नजर आ रही थी.पारी के 12वें ओवर में गेंदबाजी के लिए आए क्रुणाल पंड्या ने पंत (47 रन, 25 गेंद, छह चौके, दो छक्‍के) की पारी का अंत कर दिया. कैच पोलार्ड ने बेहतरीन तरीके से लपका.पंत की जगह ग्‍लेन मैक्‍सवेल बैटिंग के लिए आए. उन्‍होंने 13वें ओवर में मार्कंडे को चौका और छक्‍का जमा दिए. ओवर में 16 रन बने. हालांकि मैक्‍सवेल की पारी लंबी नहीं चली और 14वें ओवर में वे 13 रन बनाकर क्रुणाल की गेंद पर हार्दिक पंड्या के हाथों कैच हो गए.मैक्‍सवेल की जगह श्रेयस अय्यर बैटिंग के लिए आए.अंतिम पांच ओवर में दिल्‍ली को जीत के लिए 47 रन की जरूरत थी. पारी के 16वें ओवर में क्रुणाल पंड्या को जेसन रॉय ने छक्‍का और अय्यर ने चौका लगाया. ओवर में 12 रन बने.आखिरी के दो ओवरों में दिल्‍ली को 16 रन की जरूरत थी और सात विकेट शेष थे. 19वां ओवर बुमराह ने फेंका जिसमें  केवल पांच रन बने. आखिरी ओवर में दिल्‍ली को जीत के लिए 11 रन चाहिए थे.जिसे टीम ने जेसन रॉय की बल्‍लेबाजी की बदौलत आखिरी गेंद पर हासिल कर लिया.
    विकेट पतन: 1-50 (गंभीर, 5.1), 2-119 (पंत, 11.5 ), 3-135 (मैक्‍सवेल, 13.2 ov)
    मुंबई की पारी: सूर्यकुमार और लेविस ने दी तेज शुरुआत
    सूर्यकुमार यादव और ईविन लेविस ने मुंबई इंडियंस की पारी शुरू की. दिल्‍ली के लिए पहला ओवर ट्रेंट बोल्‍ट ने फेंका जिसमें 15 रन बने. इस ओवर में सूर्यकुमार और लेविस ने एक-एक चौका जमाया. लेग बाय के जरिये भी चार रन आए.दूसरा ओवर शाहबाज नदीम ने फेंका, इसकी आखिरी गेंद पर लेविस का कैच स्‍क्‍वेयर लेग पर बोल्‍ट से छूटा. ओवर में 10 रन बने.तीसरे ओवर में सूर्यकुमार ने बोल्‍ट को दो चौके और लेविस ने छक्‍का जमाया. ओवर में 15 रन बने. दोनों बल्‍लेबाजों के आक्रामक रुख के कारण मुंबई का स्‍कोर तेजी से बढ़ रहा था.पारी के चौथे ओवर में लेविस ने नदीम को छक्‍का लगाया. इसके साथ ही मुंबई के 50 रन 3.4 ओवर में पूरे हुए.पांचवें ओवर में गेंदबाजी के लिए आए शमी को सूर्यकुमार यादव ने पहले छक्‍का और फिर दो चौके लगाए. ओवर में 14 रन बने.पांच ओवर के बाद मुंबई इंडियंस का स्‍कोर बिना विकेट खोए 66 रन था.मुंबई के ओपनरों की धमाकेदार बल्‍लेबाजी के आगे दिल्‍ली के बॉलर सहमे नजर आए. छठे ओवर में क्रिस्टियन को लेविस ने तीन चौकों और एक छक्‍के की मदद से 18 रन धुन दिए.सातवें ओवर में लेग स्पिनर राहुल तेवतिया बॉलिंग के लिए आए. उनका ओवर दिल्‍ली के लिहाज से अच्‍छा रहा और इसमें केवल तीन रन बने.मैच में मुंबई के ओपनर दिल्‍ली की मुश्किलें बढ़ाते हा रहे थे. विकेट की तलाश में दिल्‍ली के कप्‍तान गंभीर ने आठवें ओवर में मैक्‍सवेल को बॉलिंग के लिए उतारा. इस ओवर में हालांकि विकेट तो नहीं मिला लेकिन मैक्‍सवेल ने महज 5 रन खर्च किए.पारी के 9वें ओवर में लेविस ने राहुल तेवतिया को छक्‍का जड़ते हुए स्‍कोर 100 रन पहुंचा दिया.मुंबई का पहला विकेट ईविन लेविस (48 रन, 28 गेंद, चार चौके और चार छक्‍के) के रूप में गिरा, जिन्‍हें राहुल तेवतिया ने जेसन रॉय से कैच कराया. पहले विकेट के लिए सूर्यकुमार और लेविस के बीच 102 रन की साझेदारी हुई. अगले ओवर में सूर्यकुमार यादव ने 29 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया जिसमें सात चौके और एक छक्‍का शामिल था. 10 ओवर के बाद मुंबई का स्‍कोर एक विकेट पर 107 रन था.
    11वें ओवर में तेवतिया ने दिल्‍ली को एक और कामयाबी दिलाते हुए सूर्यकुमार (53 रन, 32 गेंद, सात चौके, एक छक्‍का) को एलबीडब्‍ल्‍यू कर दिया.12वां ओवर मैक्‍सवेल ने फेंका, इसमें 11 रन बने.पारी के 13वें ओवर में ईशान किशन ने राहुल तेवतियां को एक चौका और दो छक्‍का लगाए. ओवर में 19 रन बने.मुंबई के 150 रन 15वें ओवर में पूरे हुए.15  ओवर के बाद मुंबई इंडियंस का स्‍कोर दो विकेट खोकर 158 रन था.पारी के 16वें ओवर में मुंबई ने ईशान किशन (44 रन, 23 गेंद, पांच चौके, दो छक्‍के) और कीरोन पोलार्ड (0)के विकेट गंवाए. इन दोनों को क्रिस्टियन ने बोल्‍ड किया.पारी के 18वें ओवर में रोहित शर्मा (18) भी ट्रेंट बोल्‍ट के शिकार बन गए. उनका कैच जेसन रॉय ने पकड़ा.पारी के 19वें ओवर में शमी ने क्रुणाल पंड्या (11)को राहुल तेवतिया से कैच करा दिया. इसके बाद अंतिम ओवर में हादिक पंड्या भी आउट हो गए. अकिला धनंजय और मयंक मार्कंडे 4-4 रन बनाकर नाबाद रहे. दिल्‍ली के ट्रेंट बोल्‍ट, डेनियल क्रिस्टियन और राहुल तेवतिया को तीन-तीन विकेट मिले.
    विकेट पतन:102-1 (लेविस, 8.6), 109-2 (सूर्यकुमार, 10.2), 3-166 (ईशान, 15.4 ov), 4-166 (पोलार्ड, 15.5) ,5-179 (रोहित शर्मा, 17.3),185-6 (क्रुणाल, 18.3), 187-7 (हार्दिक, 19.1)
    मुंबई ने बेन कटिंग की जगह पर अकिला धनंजय और प्रदीप सांगवान की जगह हार्दिक पंड्या को प्‍लेइंग इलेवन में स्‍थान दिया है. दूसरी ओर दिल्‍ली ने कॉलिन मुनरो की जगह जेसन रॉय और क्रिस मॉरिस की जगह डेन क्रिस्टियन को टीम में चुना है.मुंबई इंडियंस की बात करें, तो  कप्तान रोहित का बल्ला अभी तक नहीं चला है.
    दिल्ली का भी मुंबई जैसा ही हाल है. कप्तान गंभीर ने पहले मैच में जरूर अर्धशतक लगाया था, लेकिन अन्य बल्लेबाज नहीं चले हैं. गेंदबाजी में भी दिल्ली का प्रदर्शन अब तक अच्छा नहीं रहा है. दिल्ली को अपनी पहली जीत दर्ज करने के लिए एकजुट होकर खेलना होगा और अमित मिश्रा को अहम भूमिका निभानी होगी. और तभी जाकर दिल्ली उस बड़े चैलेंज को भेद जाएगी, जिस पर मुंबई की भी नजरें गड़ी हैं. और दोनों टीमों के लिए यह बड़ा चैलेंज अपनी पहली जीत दर्ज करना है. 
    मुंबई इंडियंस: रोहित शर्मा (कप्‍तान), ईविन लेविस, ईशान किशन, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पंड्या, क्रुणाल पंड्या, कीरोन पोलार्ड, मयंक मार्कंडे, जसप्रीत बुमराह, मुस्‍तफिजुर रहमान और अकिला धनंजय.
    दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स: गौतम गंभीर (कप्‍तान), जेसन रॉय, गौतम गंभीर, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत, ग्‍लेन मैक्‍सवेल, विजय शंकर, डेनियल क्रिस्टियन, राहुल तेवतिया, शाहबाज नदीम, मोहम्‍मद शमी और ट्रेंट बोल्‍ट. (ndtv)

    ...
  •  


Posted Date : 14-Apr-2018
  • भारत ने लगाया पदकों का अर्धशतक, विनेश फोगाट ने जीता गोल्ड, भारत को मिले 23 गोल्ड

    गोल्ड कोस्ट, 14 अप्रैल। ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में आज भारत के लिए सुनहरा दिन है। भारत अभी तक 6 गोल्ड मेडल जीत लिए हैं इसके साथ ही साथ भारत को एक ब्रॉन्ज मेडल भी मिला है। पहले मैरी कॉम फिर शूटर संजीव राजपूत के बाद मुक्केबाज गौरव सोलंकी ने स्वर्ण दिलाया तो अब नीरज चोपड़ा ने गोल्ड मेडल जीत लिया है। कॉमनवेल्थ गेम्स में ये भारत का 21वां गोल्ड मेडल रहा। इसके बाद रेसलर साक्षी मलिक ने भारत को ब्रॉन्ज मेडल दिलवाया तो फिर रेसलर सुमित ने भारत को पांचवां गोल्ड दिलवा दिया। इसी के साथ भारत ने कॉमनवेल्थ गेम्स में अपने 50 पदक भी पूरे किए। इसके बाद रेसलर विनेश फोगाट ने फ्री स्टाइल के 50 किलोग्राम इवेंट में गोल्ड मेडल जीता। भारत ने अब तक 23 गोल्ड, 13 सिल्वर और 15 ब्रॉन्ज मेडल जीत लिए हैं।
    भारत के खाते में एक और गोल्ड आ गया है। विनेश ने फ्री स्टाइल के 50 किलोग्राम इवेंट में गोल्ड मेडल जीता है। फाइनल मुकाबले में वीनेश ने कनाडा की रेसलर जेसिका मेकडोनाल्ड को हराया।
    रेसलर सुमित मलिक ने पुरुषों के 125 किलो भारवर्ग फ्री स्टाइल कुश्ती में गोल्ड मेडल जीता। भारतीय पहलवान सुमित ने पाकिस्तान के तायब राजा को फ्री स्टाइल के 125 किलोग्राम इवेंट में हराया। सुमित ने ये मुकाबला 10-4 से जीता।
    मुक्केबाजी स्पर्धा में भारत की मैरी कॉम ने स्वर्ण पदक जीत लिया। पांच बार विश्वविजेता रहीं मैरी कॉम ने फाइनल के 45-48 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा में इंग्लैंड की क्रिस्टिना ओ हारा को 5-0 से हराया। मैरी कॉम ने सेमीफाइनल में श्रीलंका की अनुशा दिलरुक्सी को 5-0 से मात देकर फाइनल में जगह बनाई थी।
    राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रमंडल खेलों के मुक्केबाजी स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने पर भारत की अनुभवी मुक्केबाज व पांच बार की विश्व चैम्पियन एमसी मैरी कॉम को बधाई दी है। राष्ट्रपति ने ट्विटर पर दिए अपने बधाई संदेश में कहा, राष्ट्रमंडल खेलों में महिलाओं के 45-48 किग्रा मुक्केबाजी स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने के लिए मणिपुर और भारत की आइकन मैरी कॉम को बधाई।
    रेसलर साक्षी मलिक ने महिलाओं की 62 किलो भार वर्ग फ्री स्टाइल कुश्ती में कांस्य पदक अपने नाम किया।साक्षी ने न्यूजीलैंड की टेलर फोर्ड को मात देकर कांस्य पदक अपने नाम किया। साक्षी ने यह मुकाबला अपने मजबूत डिफेंस के दम पर 6-5 से जीता। अंतिम राउंड में टेलर ने साक्षी को पटक दिया था, लेकिन इस दिग्गज पहलवान ने अपने डिफेंस के कारण टेलर को जरूरी अंक नहीं लेने दिए और महज एक अंक के अंतर से कांसे पर कब्जा किया।
    नीरज चोपड़ा ने जैवलिन थ्रो में भारत के नाम एक और गोल्ड मेडल करवा दिया। नीरज ने 86.47 मीटर की दूरी पर भाला फेंक कर ये गोल्ड अपने नाम किर इतिहास रच दिया। नीरज भाला फेंक में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीतने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी है। नीरज से पहले कोई भी भारतीय खिलाड़ी जैवलिन थ्रो में भारत के लिए गोल्ड नहीं जीत सका था।
    मुक्केबाज गौरव सोलंकी ने उत्तरी आयरलैंड के ब्रेंडन इरवाइन को 4-1 से हराया। उन्होंने पुरुषों की 52 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा यह सफलता हासिल की है।
    मैच के पहले राउंड में मैरी कॉम ने धीरज से काम लिया और मौके की ताक में रहीं। जब भी मौका मिला उन्होंने पंज जमाए। दूसरे राउंड में भी वे उसी तरह थी लेकिन क्रिस्टिना की ओर से कोशिशें जारी थीं। लेकिन ज्यों ज्यों मुकाबला बढ़ रहा था मैरी कॉम भी आक्रामक होती जा रहीं थीं और क्रिस्टिना पर दवाब बनाया हुआ था। अंतिम राउंड में क्रिस्टिना आक्रामक हो गई थीं लेकिन मैरी कॉम ने अपना पलड़ा भारी रखा और गोल्ड मेडल जीत लिया। 
    भारत के स्टार रायफल शूटर संजीव राजपूत ने गोल्ड 50 मीटर राइफल स्पर्धा में जीत हासिल की वहीं गौरव सोलंकी ने 52 किग्रा स्पर्धा में देश का नाम रोशन किया। 
    4 से 15 अप्रैल तक आयोजित राष्ट्रमंडल खेल में 53 देशों के एथलीट हिस्सा ले रहे हैं जिसमें भारत के 218 खिलाड़ी हैं। पिछले तीन कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत 215 मेडल जीत चुका है। साल 2006 में 50, 2010 में 101 और 2014 में 64 मेडल भारत की झोली में आए थे। (एजेंसी)

     

    ...
  •  


Posted Date : 14-Apr-2018
  • नई दिल्ली, 14 अप्रैल। करीब 6 महीने बाद इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी करने वाले भारतीय क्रिकेट टीम के तेंदबाज उमेश यादव ने आईपीएल 2018 में आते ही एक के बाद एक रिकॉर्ड बनाने शुरू कर दिए हैं। अपने पहले मैच में दो विकेट हासिल करने वाले यादव ने अपने दूसरे ही मैच में एक ओवर में चौंकाते हुए पंजाब के खिलाफ तीन विकेट हासिल कर लिए। आरसीबी की तरफ से खेल रहे उमेश यादव आईपीएल में सात बार मैन ऑफ द मैच पुरस्कार से नवाजे जा चुके हैं। इससे पहले यह रिकॉर्ड आशीष नेहरा के नाम था, जिन्हें छह बार मैन ऑफ दा मैच पुरस्कार से नवाजाय गया था। उमेश यादव पॉवर प्ले के दौरान चार विकेट हासिल कर चुके हैं। साल 2015 के बाद से अबतक वह 18 विकेट पॉवर प्ले में हासिल कर चुके हैं। आईपीएल इतिहास में वह पांचवे ऐसे खिलाड़ी बन गए जिसने यह मुकाम हासिल किया हो।
    अब्राहम डिविलियर्स (57) और च्ंिटन डी कॉक (45) की बेहतरीन पारियों के दम पर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने शुक्रवार को एमए चिदम्बरम स्टेडियम में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में अपना जीत का खाता खोला है। बेंगलोर ने रोचक मुकाबले में किंग्स इलेवन पंजाब को चार विकेट से मात दी। पंजाब ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मेजबान बेंगलोर के सामने 156 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसे बेंगलोर ने तीन गेंद बाकी रहते हुए छह विकेट खोकर हासिल कर लिया। डिविलियर्स ने अहम समय पर 40 गेंदों में दो चौके और चार छक्कों की मदद से अर्धशतकीय पारी खेली। इसमें मनदीप सिंह ने उनका बखूबी साथ दिया। मनदीप ने एक छोर संभाले रखते हुए 19 गेंदों में एक चौके की मदद से 22 रन बनाए। अक्षर पटेल ने बेंगलोर को अच्छी शुरुआत से वंचित रखा। उन्होंने पहले ही ओवर की दूसरी गेंद पर खतरनाक ब्रेंडन मैक्कलम को मुजीब उर रहमान के हाथों कैच कराया। एक रन के कुल स्कोर पर आउट होने वाले मैक्कलम खाता भी नहीं खोल पाए।
    विराट कोहली ने 16 गेंदों में चार चौकों की मदद से 21 रन बनाए, लेकिन 33 के कुल स्कोर पर वह रहमान की बेहतरीन गेंद पर बोल्ड हो गए। दूसरे छोर पर डी कॉक लगातार स्कोर बोर्ड चला रहे थे। डी कॉक अर्धशतक से पांच रन दूर थे तभी पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने उन्हें बोल्ड कर दिया। उन्होंने अपनी पारी में 34 गेंदों का सामना किया और सात चौकों के अलावा एक छक्का भी लगाया। युवा बल्लेबाज सरफराज ने एक बार फिर निराश किया। वह अश्विन की गेंद पर स्लिप पर करुण नायर के हाथों लपके गए। दूसरे छोर पर खड़े डिविलियर्स पंजाब की मुसीबत बने हुए थे।
    मुकाबला रोचक होता जा रहा था और इसी बीच डिविलियर्स ने मुजीब द्वारा फेंके गए 17वें ओवर में दो शानदार छक्के जड़े। इस ओवर में मनदीप ने एक चौका मारा। मुजीब ने इस ओवर में कुल 19 रन लुटाए। डिविलियर्स हालांकि 19वें ओवर की पहली गेंद पर पवेलियन लौट लिए। इसी ओवर में मनदीप भी रन आउट हो गए। वॉशिंगटन सुंदर ने (नाबाद 9) ने आखिरी ओवर में दो चौके मारे अपनी टीम को जीत दिलाई। इसस पहले बेंगलोर के कप्तान कोहली ने टॉस जीतकर पंजाब को बल्लेबाजी का न्योता दिया। पंजाब को अच्छी शुरुआत मिली, लेकिन वो इसका फायदा नहीं उठा सकी और 19.2 ओवरों में सिर्फ 155 रनों पर ही ऑल आउट हो गई।
    पंजाब को इस स्कोर तक रोकने में तीन विकेट लेने वाले मेजबान टीम के तेज गेंदबाज उमेश यादव का अहम योगदान रहा। उन्होंने चार रनों के भीतर मेहमान टीम के तीन बल्लेबाजों को पवेलियन भेजकर उसे बैकफुट पर धकेल किया जिससे वो कभी वापस नहीं आ पाई। बेंगलोर के लिए उमेश के अलावा क्रिस वोक्स, कुलवंत खेजोरोलिया, सुंदर को दो-दो विकेट मिले। युजवेंद्र चहल को एक सफलता मिली। मयंक अग्रवाल (15) और लोकेश राहुल ने पहले विकेट के लिए 3.1 ओवरों में ही 32 रन जोड़ लिए थे। चार रनों के भीतर तीन विकेट गिर जाने से पंजाब की पारी लडख़ड़ा गई।
    पहला विकेट मयंक के रूप में गिरा जिन्हें उमेश यादव ने विकेट के पीछे डी कॉक के हाथों कैच कराया। अगली गेंद पर एरॉन फिंच उमेश की गेंद पर पगबाधा करार दे दिए गए। युवराज सिंह ने चार गेंदों में सिर्फ एक चौका मारा और उमेश की गेंद पर बोल्ड हो गए। दूसरे छोरे पर राहुल टिके थे। उन्हें करूण नायर का साथ मिला। दोनों ने टीम का स्कोर 94 पहुंचा दिया। राहुल तेजी से रन बना रहे थे, नायर उन्हें स्ट्राइक दे रहे थे। इन दोनों के बीच चौथे विकेट के लिए हुई 58 रनों की साझेदारी का अंत सुंदर ने राहुल को बोल्ड कर किया। राहुल ने 30 गेंदों में दो चौके और चार छक्कों की मदद से 47 रन बनाए।
    छह रन बाद नायर को खेजोरोलिया ने अपना शिकार बनाया। मार्कस स्टोइनस (11) को वॉशिंगटन सुंदर ने टिकने नहीं दिया और 110 के कुल स्कोर पर पवेलियन भेजा। खेजोरोलिया ने अक्षर पटेल (2) को 122 के कुल स्कोर पर अपना दूसरा शिकार बनाया। अश्विन ने अंत में 21 गेंदों में 33 रनों की पारी खेल पंजाब को 150 के पार पहुंचाया। वह 153 के कुल स्कोर पर चहल की गेंद पर आउट हुए। मुजीब उर रहमान के रूप में पंजाब ने अपना आखिरी विकेट खोया। रहमान खाता भी नहीं खोल सके। (आईएएनएस)

     

    ...
  •  


Posted Date : 13-Apr-2018
  • भारत के अब तक 42 पदक, 17 स्वर्ण
    शूटिंग में तेजस्विनी और कुश्ती में पूजा ढांडा को रजत
    शाम को विकास कृष्णन व सतीश कुमार ने रजत सुनिश्चत किए

    गोल्ड कोस्ट, 13 अप्रैल। ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में चल रहे 21वें कॉमनवेल्थ खेलों का नौवां दिन भारत के लिए बहुत ही अच्छा गुजरा। जहां शूटिंग में तेजस्विनी सावंत और सिर्फ 15 साल के अनीष भानवाला ने अपने-अपने वर्गों में स्वर्ण पदक बटोरे, तो कुश्ती में 65 किग्रा भार वर्ग में बजरंग पूनिया ने भारत को शुक्रवार के तीसरे स्वर्ण से नवाजा। वहीं शूटिंग में अंजुम मौदगिल और महिला कुश्ती में पूजा ढांडा और टेबल टेनिस में महिला डबल्स की टीम ने भी रजत पदक दिलाया, तो पांच मुक्केबाजों ने अपने-अपने वर्ग के फाइनल में पहुंचकर शनिवार को स्वर्णिम जंग तय कर दी। अब देखने की बात यह होगी कि बॉक्सर खेलों के आखिरी दिन शनिवार को कितना 'बवाल' मचाते हैं।
    मुक्केबाजी में  सुबह अमित ने 46-49 किग्रा, गौरव सोलंकी ने 52 किग्रा और मनीष कौशिक ने 60 किग्रा में भार वर्ग के फाइनल में पहुंचकर रजत सुनिश्चित करते हुए स्वर्ण की जंग तय कर दी है, तो बैडमिंटन में भारत की स्टार खिलाड़ी सायना नेहवाल और पीवी सिंधु ने सिंगल्स वर्ग के सेमीफाइनल में जगह बना ली है।
    आठवें दिन ही 50 मी। राइफल प्रोन में रजत जीतने वाली तेजस्विनी सावंत ने इस बार 50 मी. राइफल पोजीशन-3 वर्ग में नया रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा कर लिया, तो इसी वर्ग में अंजुम मोदगिल ने रजत पदक हासिल किया। शुक्रवार या कहे कि 9वें दिन का आखिरी पदक मुक्केबाजी में 69 किग्रा वर्ग के सेमीफाइनल में मनोज कुमार की हार के साथ कांस्य के रूप में आया। इसी के साथ ही भारत के अभी तक कुल पदकों की संख्या 42 हो गई है। इसमें 17 स्वर्ण, 11 रजत और 14 कांस्य पदक शामिल हैं। 
    इसके अलावा महिलाओं की तरह ही भारतीय पुरुष हॉकी  टीम भी स्वर्ण पदक की होड़ से बाहर हो गई है। उसे न्यूजीलैंड के खिलाफ 3-2 से हार का सामना करना पड़ा। अब भारत कांस्य पदक के लिए खेलेगा।
    शूटिंग
    नौवें दिन के सुबह ही भारतीय शूटरों ने एक बार फिर से सनसनी फैला दी। अगर खेलों के आठवें दिन भारतीय महिलाओं का बोलबाला रहा था, तो नौवें दिन की सुबह भी बैटन को महिलाओं ने ही संभाला। तेजस्विनी ने कुल 457.9 अंक हासिल करते हुए राष्ट्रमंडल खेलों का रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया, वहीं अंजुम मौदगिल ने 455.7 अंकों के साथ रजत पदक जीता। स्कॉटलैंड की सियोनेड मिकतोश को 444.6 अंकों के साथ कांस्य पदक हासिल हुआ है। तो वहीं पुरुष वर्ग में 15 साल के अनीष भानवाला ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल में स्वर्ण पदक जीता। 
    कुश्ती
    पुरुष वर्ग में बजरंग पूनिया ने 65 किग्रा फ्री स्टाइल वर्ग में वेल्स के कैन कैरिग को 10-1 से धोकर स्वर्ण पदक पर कब्जा किया, लेकिन 97 किग्रा फ्री स्टाइल वर्ग में मौसम खत्री फाइल में दक्षिण अफ्रीका के मार्टिन एरसमस से 12-2 से हार गए और उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा। 
    महिला वर्ग में बबीता के वीरवार को दम दिखाने के बाद  शुक्रवार को पूजा ढांडा को 57 किग्रा वर्ग में निराशा झेलनी पड़ी है। पूजा को नाइजीरिया की ओडुनायो एडेकुओरोए के हाथों 7-5 से हार झेलने के साथ ही रजत पदक से संतोष करना पड़ा है। इससे पहले सेमीफाइनल में पूजा ने कैमरून की जोसेफ एसोंबे क 11-5 से चित किया था। हालांकि, 68 किग्रा फ्री स्टाइल वर्ग में ही भारत की दिव्या करण को नाइजीरिया की ओबोरुडुडु ब्लेसिंग के हाथों 11-1 से शिकस्त झेलने पर मजबूर होना पड़ा। 
     बैडमिंटन
    महिलाओं के सिंगल्स वर्ग में भारत की स्टार सायना नेहवाल ने कनाडा की राचेल होंडिरिच को सीधे गेमों में  21-8, 21-13 से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया, तो वहीं रियो ओलम्पिक की रजत पदक विजेता पी।वी। सिंधु ने  क्वार्टर फाइनल में कनाडा की ब्रिटनी टैम को सीधे गेमों में 21-14, 21-17 से मात देकर अंतिम चार में जगह बनाई।
    पुरुष वर्ग वीरवार को ही दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी की पायदान हासिल करने वाले श्रीकांत किदांबी ने सिंगापुर के रियान एनजी जिन को 21-5, 21-12 से हराकर अंतिम चार में जगह बना ली। वहीं पुरुष डबल्स वर्ग में सात्विक रंकीरेडडी और चिराग चंद्रशेखर शेट्टी ने मलेशिया के पेंग सून चैन व सून हुआट गोह को 21-14, 15-12 व 2109 से हराकर अंतिम चार में जगह बनाई।
    मुक्केबाजी
    आखिरकार शाम के सत्र में दो अहम मुकाबले हारने के बाद बॉक्सिंग में अच्छी खबर यह रही कि विकास कृष्णन ने 75 किग्रा भार वर्ग में उत्तरी आयरलैंड के स्टीवन डोनेली को 5-0, तो सतीश कुमार ने 91 किग्रा भार वर्ग में सेशेल्स केडी एगनेस को हराकर फाइनल में प्रवेश कर स्वर्णिम जंग तय कर दी। और साथ ही रजत पदक भी सुनिश्चत कर दिया। इससे पहले मोहम्मद हुसामुद्दीन पुरुषों के 56 किग्रा वर्ग में इंग्लैंड के पीटर मैक्ग्रैल के हाथों 5-0, तो मनोज कुमार भी 69 किग्रा वर्ग में इंग्लैंड के पैट मैकोरमैक के हाथं 5-0 से हार के साथ ही कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा।
    वहीं सुबह के सेशन में भारतीय मुक्केबाजों अमित फांगल, गौरव सोलंकी और मनीष कौशिक ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए अपने-अपने वर्गों के फाइनल में प्रवेश कर रजत सुनिश्चित करते हुए स्वर्ण की जंग तय कर दी। अमित ने यहां 49 किलोग्राम लाइटवेट स्पर्धा के सेमीफाइनल में युगांडा के जुमा मीरो को एकतरफा मुकाबले में 5-0, गौरव ने 52 किलोग्राम वर्ग में श्रीलंका के विदानालांगे इशान बांद्रा को 4-0 से हराया। वहीं मनीष कौशिक ने 60 किलोग्राम के फाइनल में उत्तरी आयरलैंड के जेम्स मैकगिवर्न को 4-1 से हराकर फाइनल में जगह बनाई। हालांकि, नमन तंवर 91 किग्रा में ऑस्ट्रेलिया के जैसन व्हॉटली के हथों 4-0 से हार झेलनी पड़ी, लेकिन वह कांस्य लेने में कामयाब रहे। 
    टेबल टेनिस
    महिला वर्ग के डबल्स के फाइनल में भारत की मनिका बत्रा और मौमा दास ने सिंगापुर की फेंक तियानवे और वाईयू मेंग्यू के हाथों 11-5, 11-4, 11-5 से हार गईं। इस हार के साथ ही भारत इस वर्ग का रजत जीतने में कामयाब रहा।
    वहीं पुरुष सिंगल्स में अचंता शरथ कमल और गणानसेकरन साथियान ने पुरुष युगल वर्ग के फाइनल में जगह बना ली है। भारतीय जोड़ी ने पहले सेमीफाइनल में सिंगापुर के कोएन पेंग और इथान पोह की जोड़ी को 7-11, 11-5, 11-1, 11-3 से हराया। इसी वर्ग में साथियान गणाशेखरन को इंग्लैंड के सैमुएल वॉकर ने सैमुएल ने 4-0 (11-8, 11-8, 13-11, 17-15) से हराकर अंतिम चार में प्रवेश किया।
    स्कवॉश : मिक्स्ड डबल्स में स्वर्णिम जंग
    दीपिका पल्लीकल और उनके पुरुष जोड़ीदार सौरव घोषाल ने नौवें दिन शुक्रवार को मिक्स्ड डबल्स वर्ग के फाइनल में जगह बना ली है। भारतीय जोड़ी ने न्यूजीलैंड की जोएले किंग और पॉल कोल की जोड़ी को 2-1 (9-11, 11-8, 11-10) से मात देते हुए फाइनल में प्रवेश किया। यह मैच 50 मिनट तक चला।
    खेलों के नौवें दिन भारत ने साल 2014 में मैनचेस्टर में जीते 15 स्वर्ण पदकों को पीछे छोड़ दिया। और अब उसके सामने आखिरी दिन सबसे बड़ा चैलेंज मैनचेस्टर के कुल पदकों के आस-पास पहुंचने या इससे आगे निकलना होगा।  (एनडीटीवी)

    ...
  •  




Previous123Next