कारोबार

Previous123456789...1718Next
20-Sep-2020 7:26 PM

बीजिंग, 20 सितम्बर (आईएएनएस)| चीनी स्मार्टफोन निर्माता शाओमी एक ऐसे स्मार्टफोन पर काम कर रहा है, जिसका कैमरा 108 मेगापिक्सल का होगा और यह कम्पनी द्वारा लॉन्च किए गए सबसे सस्ते स्मार्टफोन में से एक होगा। जीएसएमएरेना की रिपोर्ट के मुताबिक शाओमी दो फोन्स पर काम कर रहा है और इनका कोड नाम गाउगिन और गाउगिन प्रो रखा गया है। प्रो मॉडल में 108 मेगापिक्सल का सेंसर होगा और पेस मॉडल में 64 मेगापिक्सल का सेंसर होगा।

दोनों फोंस को रेडमी सब ब्रांड के तहत लॉन्च किया जाएगा। ये फोन कब लॉन्च होंगे, इस सम्बंध में हालांकि अब तक कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है।

शाओमी अपने मी 10 पर 108 मेगापिक्सल क्वॉड कैमरा दे रहा है जबकि सैमसंग ने एस20 अल्ट्रा और नोट 20 लॉन्च किए हैं। इसी तरह मोटोरोला ने एजप्लस लॉन्च किया है, जिसमें 108 मेगापिक्सल का कैमरा है।

--आईएएनएस


20-Sep-2020 6:21 PM

बीजिंग, 20 सितम्बर (आईएएनएस)| चीनी स्मार्टफोन निर्माता हुवेई ने एक नए स्मार्टफोन को पेटेंट कराया है, जिसमें अंडर-स्क्रीन सेल्फी शूटर और पेरिस्कोपिक जूम लेंस होगा। लेट्सगोग्लोबल की रिपोर्ट के मुताबिक टेक जाएंट ने सीएनआईपीए के समक्ष डिजाइन का पेटेंट पेश किया है।

पेटेंट में 24 प्रॉडक्ट स्केच भी है। इसमें स्मार्टफोन के पूरे डिजाइन का जिक्र है।

इस फोन के बाएं हिस्से को बिल्कुल खाली रखा गया है और दाएं हिस्से में वॉल्यूम राकर्स और पावर बटन हैं।

निचले हिस्से में यूएसबी टाइप सी चार्जिग पोर्ट है और एक लोन स्पीकर ग्रिल है, जबकि टॉप में 3.5 एमएम का हेडफोन जैक तथा माइक्रोफोन है।

इस फोन में चार कैमरा सेटअप है और कैमरों को क्रास शेप में रखा गया है। सेंटर में एलईडी फ्लैश है। बॉटम में लगा सेंसर स्क्वायर शेप का है और इससे संकेत मिलता है कि इसमें पेरिस्कोपिक जूम लेंस हैं।

हाल ही में हुवेई ने ऑल स्क्रीन फिंगरप्रिंट अनलॉक टेक्नोलॉजी वाले स्मार्टफोन्स के लिए पेटेंट दाखिल किया है। इन फोन्स के माध्यम से यूजर्स बिना फोन के अनलॉक किए मैसेज का रिप्लाई कर सकते हैं। इनमें एक पांच कैमरों वाला फोन भी है।

--आईएएनएस


20-Sep-2020 6:15 PM

रायपुर, 20 सितंबर। कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि यदि राष्ट्रीय स्तर की महत्वपूर्ण संस्था कोरोना से निपटने के लिए सरकार की मदद करने के उद्देश्य से कोई तार्किक जानकारी मांगे तो भी किसी के पास फुरसत नहीं है। 6 महीनों  में कैट के अनेक बार याद दिलाने के बावजूद मंत्री और स्वास्थ्य सम्बंधित संस्थान जानकारी दे नहीं पा रहे हैं।

कैट राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी ने बताया कि कोरोना के प्रकोप को देखते हुए यह जानकारी बेहद महत्वपूर्ण है। क्या करेंसी नोटों के जरिए कोरोना फैलता है? अभी हाल ही में फरीदाबाद के कैनरा बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया तथा पंजाब नेशनल बैंक में कोरोना के डर से सैनिटाइजर से धोने के कारण 14 .40 करोड़ की करेंसी बर्बाद हुई है। यह तो केवल एक शहर का मामला है यदि पूरे देश में देखा जाए तो ऐसे हजारों करोड़ रूपए के नोट बर्बाद हुए होंगे।

श्री पारवानी ने बताया कि   किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, लखनऊ, जर्नल ऑफ करेंट माइक्रो बायोलोजी एंड ऐपलायड साइयन्स, इंटरनेशनल जर्नल ऑफ फार्मा एंड बायो साइयन्स,  इंटरनेशनल जर्नल ऑफ एडवॉन्स रीसर्च आदि ने भी अपनी अपनी रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि की है कि करेन्सी नोट के जरिए संक्रमण होता है। लेकिन इस मामले पर सरकार की चुप्पी बेहद आश्चर्यजनक है। कैट ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से मांग की है कि वो मामले की गंभीरता को देखते हुए यह स्पष्ट करें कि करेंसी नोटों के जरिये कोरोना अथवा अन्य वाइरस या बैक्टेरिया फैलता है अथवा नहीं।


20-Sep-2020 5:54 PM

सैन फ्रांसिस्को, 20 सितम्बर (आईएएनएस)| एप्पल अर्केड ने वेफारवर्ड टेक्नोलॉजीज के नए फेंटेसी एडवेंचर गेम मार्बल नाइट्स को अपने प्लेटफार्म पर जगह दी है। एप्पल अर्केड पर 130 से अधिक गेम हैं।

मार्बल नाइट्स गेम में ऐसे ग्रुप ऑफ हीरोज हैं, जो चार खिलाड़ियों का एक ग्रुप बनाकर अपने विरोधियों से लड़ते हैं। साथ ही ये 3डी वर्ल्ड से इंटरैक्ट करते हैं, ट्रेजर्स और मार्बल मैनिया कलेक्ट करते हैं।

मार्बल नाइट्स नौ साल या उससे अधिक उम्र के प्लेअर्स के लिए उपयुक्त है। यह आईफोन, आईपैड और एप्पल टीवी पर खेला जा सकता है और इसके लिए एप्पल अर्केड गेमिंग सर्विस का सब्सक्रिप्शन लेना होगा।

--आईएएनएस


20-Sep-2020 4:39 PM

रायपुर, 20 सितंबर। कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि यदि राष्ट्रीय स्तर की महत्वपूर्ण संस्था कोरोना से निपटने के लिए सरकार की मदद करने के उद्देश्य से कोई तार्किक जानकारी मांगे तो भी किसी के पास फुरसत नहीं है। 6 महीनों  में कैट के अनेक बार याद दिलाने के बावजूद मंत्री और स्वास्थ्य सम्बंधित संस्थान जानकारी दे नहीं पा रहे हैं।

कैट राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी ने बताया कि कोरोना के प्रकोप को देखते हुए यह जानकारी बेहद महत्वपूर्ण है। क्या करेंसी नोटों के जरिए कोरोना फैलता है? अभी हाल ही में फरीदाबाद के कैनरा बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया तथा पंजाब नेशनल बैंक में कोरोना के डर से सैनिटाइजर से धोने के कारण 14 .40 करोड़ की करेंसी बर्बाद हुई है। यह तो केवल एक शहर का मामला है यदि पूरे देश में देखा जाए तो ऐसे हजारों करोड़ रूपए के नोट बर्बाद हुए होंगे।

श्री पारवानी ने बताया कि   किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, लखनऊ, जर्नल ऑफ करेंट माइक्रो बायोलोजी एंड ऐपलायड साइयन्स, इंटरनेशनल जर्नल ऑफ फार्मा एंड बायो साइयन्स,  इंटरनेशनल जर्नल ऑफ एडवॉन्स रीसर्च आदि ने भी अपनी अपनी रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि की है कि करेन्सी नोट के जरिए संक्रमण होता है। लेकिन इस मामले पर सरकार की चुप्पी बेहद आश्चर्यजनक है। कैट ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से मांग की है कि वो मामले की गंभीरता को देखते हुए यह स्पष्ट करें कि करेंसी नोटों के जरिये कोरोना अथवा अन्य वाइरस या बैक्टेरिया फैलता है अथवा नहीं।


20-Sep-2020 4:39 PM

रायपुर, 20 सितंबर। कलिंगा विश्वविद्यालय अपने छात्रों को बौद्धिक और नैतिक रूप से तैयार करने की प्रतिबद्धता के अनुरूप फार्मेसी संकाय 17 सितम्बर को कैरियर मार्गदर्शन, जीपैट परीक्षा की तैयारी और व्यवहार कौशल के विकास पर एक दिन का वेबीनार आयोजित किया।

यह वेबीनार छात्रों के लिए एक बहुत ही उपयोगी मंच प्रदान करता है। छात्रों को वेबीनार के माध्यम से पता चला कि उन्हें जीपैट परीक्षा की तैयारी कैसे करनी है, परीक्षा की तैयारी के दौरान छात्रों के सामने आने वाली चुनौतियों का सामना कैसे करें और समस्याओं को कैसे हल करें।

वेबीनार दो सत्रों में हुआ। प्रथम सत्र वक्ता उत्सव वर्मा द्वारा प्रस्तुत किया गया। उत्सव वर्मा, डॉ. हरिसिंह गौर, केन्द्रीय विश्वविद्यालय, सागर, मध्यप्रदेश से फार्मास्युटिक्स विशेषज्ञता में अपने एम. फार्मा. (अंतिम वर्ष) में अध्ययन कर रहे हैं। और जीपैट/नाइपर/फार्मासिस्ट/ ड्रग इंस्पेक्टर में बी. फार्मा. अंतिम वर्ष के छात्रों के प्रतिस्पर्धात्मक रणनीतियों के बारे में जागरूक कर रहे हैं।

दूसरे सत्र में प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। छात्रों को प्रोत्साहित करने के लिए जीडीसी, जीपैट संख्या द्वारा प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान धारक को पुरस्कार और छात्रवृत्ति देने की घोषणा की गई। सभी छात्रों ने प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में सक्रिय रूप से भाग लिया। इस आयोजन में दिवेश पाण्डेय बी. फार्मेसी 5वां सेमेस्टर, श्लोक काडबे बी. फार्मेसी 7वां सेमेस्टर और स्मृति चक्रवर्ती ने क्रमश: प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त किया।


19-Sep-2020 4:04 PM

सैन फ्रांसिस्को, 19 सितम्बर (आईएएनएस)| गूगल ने नए एप्पल आईओएस 14 के साथ अपने यूजर्स को सर्च, क्रोम और जीमेल पर कई आसान ऑब्शन उपलब्ध कराए हैं। आईओएस 14 में यूजर्स अब अपने होम स्क्रीन पर गूगल सर्च विजेट जोड़ सकते हैं और इससे उन्हें पहले से काफी तेजी से सूचना पाने में मदद मिलेगी।

गूगल ने कहा है कि वह अपने यूजर्स को विजेट के साथ दो साइज में सर्च करने का ऑब्शन दे रहा है। एक सिर्फ सर्च करके और दूसरा सर्च के तीन और तरीकों के साथ। यूजर्स अपनी पसंद के तरीके के साथ सर्च कर सकते हैं।

अगर आपने आईओएस 14 में क्रोम को अपना डिफॉल्ट ब्राउजर चुना हुआ है और ऐसे में अगर आप किसी अन्य ऐप से एक लिंक खोलना चाहेंगे तो यह क्रोम में ही खुलेगा।


19-Sep-2020 10:48 AM

अमरीका में टिक टॉक और वीचैट पर अगले 48 घंटों में रोक लगा दी जाएगी.

देश के वाणिज्य मंत्रालय ने बताया है कि अगले 48 घंटों में ये दोनों ऐप यूएस ऐप स्टोर से हटा दिए जाएंगे और अमरीकी लोग इन्हें डाउनलोड नहीं कर पाएंगे.

अब ये पाबंदियाँ तभी रुक सकती हैं अगर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप आख़िरी पलों में किसी समझौते के लिए राज़ी हो जाएँ.

ट्रंप प्रशासन का कहना है कि चीनी ऐप अमरीका की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए ख़तरा बन सकते हैं क्योंकि ये कंपनियाँ अमरीकी यूज़र्स का निजी डेटा चीन को दे सकती हैं. हालाँकि चीन और चीनी कंपनियाँ लगातार इन आरोपों को ख़ारिज करती आई हैं.

चैटिंग, वीडियो शेयरिंग और मोबाइल पेमेंट जैसे कामों में इस्तेमाल होने वाला मल्टीपर्पज़ ऐप वीचैट रविवार से अमरीका में आधिकारिक रूप से बंद हो जाएगा.

वहीं, शॉर्ट वीडियो प्लैटफ़ॉर्म टिक-टॉक का इस्तेमाल लोग 12 नवंबर तक कर सकेंगे. 12 नवंबर के बाद टिक टॉक पर भी पूरी तरह पाबंदी लगा दी जाएगी.

चीनी कंपनियाँ बोलीं, रुकेंगे नहीं

टिक टॉक ने कहा कि वो वाणिज्य मंत्रालय के आदेश से 'निराश' और असहमत है. कंपनी ने कहा कि वो पहले ही ट्रंप प्रशासन की चिंताओं के मद्देनज़र 'अभूतपूर्व और अतिरिक्त पारदर्शिता' के लिए प्रतिबद्धता ज़ाहिर कर चुकी थी.

टिक टॉक ने कहा, "हम अन्यायपूर्ण एक्ज़िक्युटिव ऑर्डर को चुनौती देते रहेंगे. यह आदेश बिना सही प्रक्रिया का पालन किए जारी किया गया है. इससे अमरीकी लोगों और छोटे कारोबारों के भविष्य पर संकट पैदा हो जाएगा. टिक टॉक अमरीका के नागरिकों के लिए अपनी आवाज़ उठाने और रोज़ी-रोटी, दोनों का ही ज़रिया था."

वीचैट के स्वामित्व वाली कंपनी टेंसेंट ने कहा ये पाबंदियाँ 'दुर्भाग्यपूर्ण' हैं लेकिन वो अमरीकी सरकार से अपनी बातचीत जारी रखेगी ताकि मसले का कोई दूरगामी हल निकाला जा सके.

वाणिज्य मंत्रालय की ओर से पाबंदी का यह आदेश आने से पहले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अगस्त में ही एक एग्ज़िक्युटिव आदेश पर हस्ताक्षर कर चुके थे. इस आदेश में अमरीकी कारोबारियों को इन चीनी कंपनियों के साथ काम रोकने के लिए 45 दिन दिए गए थे.

लेकिन अगर अमरीकी टेक कंपनी ओरैकल और टिक टॉक के स्वामित्व वाली कंपनी बाइट डांस के बीच करार हो जाता है और इसे राष्ट्रपति ट्रंप की मंज़ूरी मिल जाती है, तो यह बैन निष्प्रभावी हो जाएगा.

बीबीसी के नॉर्थ अमरीका टेक्नॉलजी रिपोर्टर जेम्स क्लेटन का विश्लेषण

अब इस लड़ाई का फ़ैसला सिर्फ़ और सिर्फ़ राष्ट्रपति ट्रंप के हाथों में है. इस बैन को रोकने के लिए टिक टॉक के स्वामित्व वाली कंपनी बाइट डांस को ट्रंप के लिए बेहतरीन समझौते का प्रस्ताव देना होगा, जो मुश्किल हो सकता है.

पहले से ऐसी रिपोर्ट्स आती रही हैं कि चीन अमरीका के हाथों टिक टॉक बेचने की बजाय इसे अमरीका में बंद करना ज़्यादा पसंद करेगा. हालाँकि अभी तक ये स्पष्ट नहीं हो पाया है कि इन सबके पीछे ट्रंप की मंशा क्या है.

ये ज़रूर है कि वो चीनी ऐप पर रोक लगाकर चीन पर दबाव डालना चाहते हैं, और टिक टॉक जैसे मशहूर ऐप पर रोक लगाना तो वाक़ई बड़ा फ़ैसला है. लेकिन ट्रंप के सामने एक समझौते का प्रस्ताव भी है. टिक टॉक और वीचैट को बैन होने में अभी 48 घंटे बाकी हैं और इन 48 घंटों में नेगोसिएशन के लिए पर्याप्त समय है.

क्या ट्रंप टिक टॉक के साथ किसी संभावित समझौते में अमरीकी कंपनियों के लिए बेहतर मौके तलाशना चाहते हैं? क्योंकि असल में टिक टॉक के डाउनलोड करने पर रोक भले 48 घंटे में लग जाए, लोगों के फ़ोन में यह 12 नवंबर तक रहेगा. यानी अब भी इस मामले में बहुत कुछ हो सकता है.

भारत ने भी बैन किए हैं सैकड़ों चीनी ऐप

वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चीन के साथ तनाव के बीच भारत भी सैकड़ों चीपी ऐप पर रोक लगा चुका है.

पहले यहां जून में चीन से जुड़े 59 ऐप पर पाबंदी लगाई गई, जिनमें टिक टॉक भी शामिल था. इसके बाद सितंबर में लोकप्रिय मोबाइल गेमिंग ऐप पब्जी समेत 118 ऐप पर बैन लगा दिया गया. यानी भारत में अब तक चीन से जुड़े 224 ऐप्स पर रोक लगाई जा चुकी है.

भारत सरकार का कहना था कि उसे इन ऐप्स के बारे में विभिन्न स्रोतों से शिकायतें मिल रही थीं, जिनमें ऐसी रिपोर्टें भी थीं कि एंड्रॉयड और आइओएस पर उपलब्ध कुछ मोबाइल ऐप्स से यूज़र्स के डेटा अनाधिकृत तौर पर चोरी कर भारत से बाहर स्थित सर्वर में भेजे जा रहे थे.

इलेक्ट्रॉनिक्स और इन्फ़ॉर्मेशन टेक्नोलॉजी मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया था कि इन ऐप्स को इसलिए बैन किया गया है क्योंकि वे भारत की संप्रभुता और अखंडता, देश की रक्षा और लोक व्यवस्था के विरूद्ध गतिविधियों में लिप्त थे.(bbc)


19-Sep-2020 8:03 AM

नई दिल्ली, 19 सितम्बर (आईएएनएस)| ऑटोमोबाइल निर्माता-किया मोटर्स इंडिया ने शुक्रवार को अपना पहला कॉम्पैक्ट एसयूवी-सोनेट भारत में लॉन्च किया। कम्पनी के मुताबिक सोनेट का इंट्री-लेबल एचटीई स्मार्टस्ट्रीम जी1.2 5एमटी वेरिएंट की पैन इंडिया एक्सशोरूम कीमत 671000 रुपये होगी। सोनेट को 17 वेरिएंट्स में लॉन्च किया गया है। इनमें दो पेट्रोल इंजन, दो डीजल इंजन, पांच ट्रांसमिशंस और दो ट्रिम लेवल-टेक लाइन और जीटी-लाइन हैं। कम्पनी ने कहा है कि इसने अपने नए कॉम्पैक्ट एसयूवी के लिए अब तक 25 हजार से अधिक बुकिंग हासिल कर ली है।

कम्पनी ने कहा है कि इस कॉम्पैक्ट एसयूवी का निर्माण आंध्र प्रदेश के अनंतपुर मं स्थित फैक्टरी में हो रहा है, जहां सालाना 3 लाख गाड़ियां निकाली जा रही हैं। किया ने कहा है कि भारत में अपनी निर्माण क्षमता को देखते हुए वह भारत के अलावा दूसरे देशों में भी सोनेट को आसानी से बेच सकती है।

इस अवसर पर किया मोटर्स इंडिया के एमडी और सीईओ, कूख्युन शिम ने कहा, "इसके जोशीले स्वागत को देखते हुए हम दुनिया के लिए किया की नवीनतम मेड-इन-इंडिया कार, सोनेट को भारत में पेश करने को लेकर बेहद उत्साहित हैं। सोनेट के युवा और जवां दिल ग्राहकों के लिए प्रसन्नता लाने और सुखद आश्चर्य से भरपूर वैल्यू प्रदान करने के लिए आकर्षक मूल्य निर्धारण किया गया है। जैसा कि हमारा यह सुनिश्चित करने का प्रयास रहा है कि इस श्रेणी में करीब-करीब सभी कस्टमर्स के लिए एक सोनेट हो, यह इस सेगमेंट में सबसे व्यापक चयन विकल्पों के साथ पेश की जा रही है। श्रेणी में अग्रणी अपने फीचर्स, इमोशनल डिजाइन, असाधारण गुणवत्ता और ताजातरीन तकनीक के साथ, सोनेट एक बार फिर से 'द पॉवर टू सरप्राइज' को लेकर किया की प्रतिबद्धता को साकार करती है। हमें यकीन है कि यह देश में कॉम्पैक्ट एसयूवी सेगमेंट में क्रांति लेकर आएगी।"

इनोवेशन और स्टाइलिश लुक्स का शानदार मेल, नई किया सोनेट एक कॉन्फिडेंट, कॉम्पैक्ट बॉडी में डायनैमिक मौजूदगी रखती है। सड़क पर अपनी दमदार उपस्थिति बनाने के लिए इसने किया के भावनात्मक स्टाइलिंग डीएनए के साथ ही प्रीमियम और जवां अपील को शामिल किया है। 2020 के सबसे बहुप्रतीक्षित कार लॉन्च में शुमार, किया सोनेट की पेशकश टेक लाइन और सेगमेंट में पहली बार जीटी-लाइन के डुअल ट्रिम कॉन्सेप्ट के साथ कई पावरट्रेन विकल्पों में की जा रही है, ताकि यह इस सेगमेंट में एक तरह से तमाम जरूरतों के लिए उपयुक्त हो सके। जीटी-लाइन स्पेसिफिकेशंस उन ग्राहकों के लिए हैं, जो अपने सोनेट में स्पोटीर्नेस और रेसी अपील देखना चाहते हैं।

दो दक्ष 1.5-लीटर सीआरडीआई डीजल इंजन (डब्ल्यूजीटी और वीजीटी कॉन्फिगरेशन) के साथ ही दो पेट्रोल इंजन - एक वसेर्टाइल स्मार्टस्ट्रीम 1.2-लीटर फोर-सिलेंडर और एक शक्तिशाली 1.0 टी-जीडीआई (टबोर्चाज्र्ड पेट्रोल डायरेक्ट इंजेक्शन)- पेश किए गए हैं। सोनेट पांच ट्रांसमिशन विकल्पों के साथ आती है। इनमें शामिल हैं: फाइव- और सिक्स-स्पीड मैनुअल्स, एक इन्ट्यूटिव सेवन-स्पीड डीसीटी, सिक्स-स्पीड ऑटोमैटिक, और किया का क्रांतिकारी नया सिक्स-स्पीड स्मार्टस्ट्रीम इंटेलीजेंट मैनुअल ट्रांसमिशन (आईएमटी)। इनमें जो सबसे अंतिम है, वह किया की हलचल मचा देने वाली तकनीकी सफलता है। क्लच पेडल की गैर-मौजूदगी की बदौलत यह थकान रहित ड्राइविंग देती है। क्लच पेडल न होने के बावजूद इसमें किसी पारंपरिक मैनुअल ट्रांसमिशन के जैसा ही ड्राइवर कंट्रोल है। इस सेगमेंट में पहली बार, 1.5 सीआरडीआई डीजल मोटर सिक्स-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन के साथ भी उपलब्ध है।

आठ बेहतरीन कलर्स और तीन डुअल टोन ऑप्शंस के साथ किया सोनेट आकर्षक विकल्पों में आती है, जो इसकी दमदार डिजाइन लैंग्वेज में जान फूंकते हैं। किया सोनेट के इंटीरियर्स को इस तरह डिजाइन किया गया है कि यह आराम का अहसास भी दे और साथ ही लक्जरी भी। इसमें बढ़िया ढंग से ले-आउट, इस्तेमाल में आसान कनेक्टेड इंफोटेनमेंट और क्लस्टर इंटरफेस के साथ-साथ हर तरफ उच्च गुणवत्ता वाला मैटेरियल है। कॉम्पैक्ट एक्सटीरियर आयामों के बावजूद, सोनेट का इंटीरियर सभी पैसेंजर्स के लिए पर्याप्त, एगोर्नोमिक जगह उपलब्ध कराता है।


18-Sep-2020 4:43 PM

सैन फ्रांसिस्को, 18 सितम्बर (आईएएनएस)| सोनी ने 120 हट्ज रिफ्रेश रेट, ट्रिपल रियर कैमरा और क्लॉलकॉम स्नैपड्रैगन 865 चिप के साथ अपना अत्याधुनिक स्मार्टफोन एक्सपीरिया 5 लॉन्च किया। यह स्मार्टफोख अमेरिका में अनलॉक्ड ब्लैक कलर में उपलब्ध होगा। इस डिवाइस का प्री-आर्डर 950 डॉलर में 29 सितम्बर से किया जा सकता है। इसे 4 दिसम्बर तक शिप किया जाएगा।

यह फोन भारत में लॉन्च होगा या नहीं इसे लेकर सोनी ने अभी कुछ नहीं कहा है।

तमाम खूबियों से लैस यह फोन तीन कैमरों वाला है। इसमें 12एमपी प्राइमरी सेंसर के अलावा इतने ही एमपी के दो और कैमरे हैं। फ्रंट में 8एमपी का स्नैपर है, जिसे अपर बेजेल में फिट किया गया है।

फोन में 4000 एमएएच की बैटरी है। सोनी का दावा है कि फास्ट चार्जिग ऑब्शन के साथ इसे 30 मिनट में 50 फीसदी तक चार्ज किया जा सकता है।


18-Sep-2020 4:41 PM

नई दिल्ली, 18 सितम्बर (आईएएनएस)| व्हाट्सअप के एक नए फीचर बायोमेट्रिक स्कैनिंग सपोर्ट पर काम करने की बातें सामने आ रही हैं, जिससे वेब पर इसका उपयोग और भी अधिक सुरक्षा के साथ किया जा सकेगा। वेबसाइट व्हाट्सअप बीटाइंफो के मुताबिक, कंपनी ने अलग से एक टीम बना रखी है, जो इसे और अधिक सुरक्षित बनाने की दिशा में काम करती है।

इस रिपोर्ट में गुरुवार को कहा गया, "इसके लिए यूजर को सबसे पहले अपने स्मार्टफोन पर व्हाट्सअप को ओपन करना होगा और अपने कंप्यूटर पर इसे खोलने के लिए फिंगरपिंट्र को स्कैन करने की प्रक्रिया से गुजरना होगा।"

व्हाट्सअप वेब पर लॉगिन करने की यह प्रक्रिया पहले से कहीं अधिक सुरक्षित होने के साथ ही तेज भी होगी।

यह अभी भी स्पष्ट नहीं है कि इस फीचर में फेस अनलॉक सपोर्ट को भी शामिल किया जाएगा या नहीं, जो 3डी फेस अनलॉक द्वारा समर्थित होगा।


18-Sep-2020 1:03 PM

बेंगलुरू, 18 सितम्बर (आईएएनएस)| एमेजॉन इंडिया ने शुक्रवार को कहा कि उसके स्मार्ट एसिस्टेंट एलेक्सा ने भारत मे एक साल पूरे कर लिए हैं और अब यह भारत में एंड्रॉयड और आईओएस स्मार्टफोन्स पर उपलब्ध होगा। कस्टमर अब अपने मोबाइल फोन पर एलेक्सा एप यूज करते हुए एलेक्सा से हिंदी में बात कर सकते हैं।

एलेक्सा को एमेजॉन इको डिवाइस से भी सुना जा सकता है। यह डिवाइस बच्चों और बुर्जुगों के लिए काफी उपयोगी है।

एमेजॉन इंडिया के कंट्री लीडर फॉर एलेक्सा पुनीश कुमार ने कहा कि बीते साल की तुलना में एलेक्सा हिंदी में 60 नए फीचर्स जोड़े गए हैं और इससे अब एलेक्सा भारतीय ग्राहकों के लिए और अधिक उपयोगी हो गया है।

एलेक्सा पर भारत में संगीत भी सुना जा सकता है और इसके लिए 50 अलग माध्यमों का उपयोग किया जा सकता है। एलेक्सा पर हिंदी गानों और कविताओं का बड़ा संग्रह है।

कम्पनी ने कहा है कि एलेक्सा हिंदी के साथ एमेजॉन इको स्मार्ट स्पीकर्स के अलावा अन्य ब्रांड्स के एलेक्सा बिल्ट डिवाइसेज पर सुना जा सकता है।


18-Sep-2020 9:05 AM

इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp भारत समेत दुनियाभर काफी पॉपुलर है. अपने बेहतरीन फीचर और सर्विस के लिए ये ऐप सबकी पसंद बना हुआ है. व्हाट्सएप भारत में सबसे लोकप्रिय मैसेजिंग ऐप होने का मतलब है कि कोई भी यूजर आपके फोन नंबर होने से आपकी प्रोफाइल फोटो, स्टेटस देख सकते हैं और आपको किसी भी ग्रुप में जोड़ सकते हैं. आज हम आपको कुछ बेसिक व्हाट्सएप टिप्स बता रहे हैं, जिनके जरिए आप अपनी प्राइवेसी कायम रख सकते हैं. इन्हें किसी के साथ शेयर भी नहीं करनी चाहिए.

ग्रुप में कौन जोड़ सकता है

व्हाट्सऐप की प्राइवेसी सेटिंग्स यूजर्स को ये चुनने का ऑप्शन देती है कि उन्हें व्हाट्सएप ग्रुप में कौन ऐड कर सकता है. ऐप में तीन ऑप्शन दिए गए हैं, जो या तो किसी को ग्रुप में ऐड करने के लिए अलाउ करते हैं या सेव्ड कॉन्टैक्ट लिस्ट और पर्टिकुलर कॉन्टैक्ट लिस्ट के लिए अलाउ करते हैं.

कौन देख सकता है स्टेटस

WhatsApp यूजर्स सलेक्ट कर सकते हैं कि कौन से कॉन्टैक्ट उनके व्हाट्सएप स्टेटस को देख सकते हैं. स्टेटस प्राइवेसी फीचर को एप के सेटिंग सेक्शन से एक्सेस किया जा सकता है और यहां यूजर्स अपने स्टेटस को किसी खास कॉन्टैक्ट लिस्ट में दिखाने के लिए चुन सकते हैं या केवल सेव किए कॉन्टैक्ट्स तक ही सीमित कर सकते हैं.

लास्ट सीन

लास्ट सीन प्राइवेसी सेटिंग यूजर्स को दूसरों से अपना ऑनलाइन आने का लास्ट सीन हाइड करने की इजाजत देता है. सेटिंग्स के तहत, वे अपने लास्ट सीन को पूरी तरह से छुपा सकते हैं या इसे माई कॉन्टैक्ट पर सेट कर सकते हैं.

प्रोफाइल फोटो

दूसरे ऑप्शंस की तरह व्हाट्सएप यूजर्स को इसे भी पूरी तरह से छिपाने या फिर सिर्फ माई कॉन्टैक्ट तक सीमित करने का ऑप्शन मिलता है.

अबाउट

अबाउट सेक्शन के तहत तीन ऑप्शन हैं. यूजर्स या तो इसे सभी को दिखाने के लिए चुन सकते हैं, इसे पूरी तरह से छिपा सकते हैं या इसे केवल माई कॉन्टैक्ट तक लिमिटेड कर सकते हैं.

फिंगर स्क्रीन लॉक

एंड्रॉइड पर व्हाट्सएप उपयोगकर्ता फिंगरप्रिंट लॉक सेट कर सकते हैं, जबकि नए आईफोन यूजर्स के पास iPhone के फिजिकल स्क्रीन बटन के मामले में फेस आईडी या टच आईडी का उपयोग करने का ऑप्शन मिलता है.

ब्लॉक कॉन्टैक्ट

WhatsApp यूजर्स के पास मैसेज प्राप्त करने या आपकी प्रोफाइल जानकारी तक पहुंचने से रोकने के लिए किसी खास कॉन्टैक्ट या फोन नंबर को ब्लॉक करने का ऑप्शन मिलता है. ये ऑप्शन दोनों सेटिंग्स ऑप्शन के साथ-साथ इंडिविजुअल चैट पर उपलब्ध है.(abp)


17-Sep-2020 5:48 PM

नई दिल्ली, 17 सितम्बर (आईएएनएस)| दक्षिण कोरियाई टेक जाएंट सैमसंग ने गुरुवार को सैमसंग डेज सेल की शुरुआत की, जिसके तहत उसका फ्लैगशिप गैलेक्सी नोट20 स्मार्टफोन भारत में 62,999 रुपये में उपलब्ध होगा। सैमसंग डेज सेल 23 सितम्बर तक जारी रहेगा।

इस सेल के दौरान गैलेक्सी नोट20 मिस्टिक ब्रांज, मिस्टिक ग्रीन और मिस्टिक ब्ल्यू रंगों में उपलब्ध होगा।

सैमसंग डेज ऑफर सैमसंग डॉट कॉम, सैमसंग स्टोर, प्रमुख ऑनलाइन पोर्टल्स और रिटेल स्टोर्स पर मान्य होगा।

गैलेक्सी नोट20 के 8जीबी-256जीबी वेरिएओंट को 77,999 रुपये की कीमत पर लॉन्च किया गया था। इसके अल्ट्रा 5जी 12जीबी-256जीबी वेरिएंट की कीमत 104,999 रुपये है।


17-Sep-2020 5:06 PM

हिन्दुस्तानी दिवाली अभियान में आत्मनिर्भर बनाने का लक्ष्य

रायपुर, 17 सितंबर। कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि भारत और चीन के बीच चल रहे वर्तमान विवाद ने देश के कैट ने इस बार के फेस्टिवल सीजन में देश के लाखों स्थानीय कारीगरों, शिल्पकारों और निचले वर्ग के लोगों की कला, सोच और काम करने की शक्ति को दिवाली के त्योहारी सीजन के जरिये उभारने का बड़ा मौका देते हुए उन्हें आत्मनिर्भर बनाने का अभियान देश भर में शरुरु किया है। कैट इस अभियान के जरिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लोकल पर वोकल और आत्मनिर्भर भारत अभियान को मजबूती से जमीनी स्तर पर सफलता के साथ चला रहा है।

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी ने बताया कि कैट ने इस वर्ष की दिवाली को हिन्दुस्तानी दिवाली के रूप में मनाने का आव्हान किया है और जिसको लेकर कैट ने दिवाली में पूजा और सजावट के लिए प्रयोग होने वाले भारतीय सामान का  दिल्ली सहित देश भर में  अधिक से अधिक उपयोग को लेकर एक विशेष अभियान शुरू किया है।

श्री पारवानी ने बताया कि इस अभियान के अंतर्गत इस वर्ष के फेस्टिवल सीजन में कैट ने दिल्ली सहित देश भर में लगभग ऐसे 350 क्लस्टर की पहचान की है जो दिवाली के मौके पर पूजा और दुकान एवं घर को सजाने का भारतीय सामान बनाते है या बनाने की क्षमता रखते हैं। ये सभी सामान उन स्थानीय लोगों से बनवाया जा रहा है जिनके पास कला एवं विचार शक्ति तो है लेकिन खरीददार नहीं है। कैट ने उनकी कला को अपने चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के अभियान के साथ जोडक़र इस वर्ष इन्ही वस्तुओं के द्वारा दिवाली सहित अन्य त्यौहार देश भर में मनाये जाने का निश्चय किया है।

इसके अलावा कैट के सभी राज्यों के चैप्टर, प्रत्येक राज्य में स्थानीय व्यापारिक संगठन से जुड़े व्हाट्सअप ग्रुप एवं सोशल मीडिया के माध्यम से बेचे जाएंगे। इस सारे अभियान को कैट से सम्बंधित महिला व्यापारी नेत्रियों की देख रेख में चलाया जाएगा। कैट इन वस्तुओं को ज्यादा से ज्यादा फैलाने के लिए देश भर में लगभग 300 से अधिक वर्चुअल प्रदर्शनी भी लगाना शुरू किया है जिन्हे इंटरनेट, फेसबुक और यूं टूयब के द्वारा देश भर में देखा जा सकेगा।


17-Sep-2020 5:04 PM

रायपुर, 17 सितंबर। कलिंगा विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. संदीप गांधी ने बताया कि कोरोना के दौर में शिक्षण संस्थानों में लोगों की सुरक्षा करना चुनौती बनी हुई है। कोरोना रोकने के लिए  मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग ने एक किफायती सैनिटाइजर गेट तैयार किया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की सिफारिशों के अनुसार विज्ञान विभाग ने किफायती हैंड सैनिटाइजर बनाया है।

श्री गांधी ने बताया कि विवि के विज्ञान विभाग प्राध्यापक डॉ. हिंडोले घोष और अभिषेक कुमार पांडेय ने यह सैनिटाइजर बनाया है।  प्रति लीटर लागत खर्च बाजार में मिलने वाले सैनिटाइजर से काफी कम है।  ड्रसोप्रिपिल अल्कोहल/एथानोल के अलावा ग्लाइसेरोल, हायड्रोजन परऑक्साइड और डियोजनाइज्ड जल का सोल्यूशनल शामिल किया गया है। सबसे पहले यह सैनिटाइजर विश्वविद्यालय के उन कर्मचारियों को नि:शुल्क दिया जायेगा, जो जनता के संपर्क में आने वाले पहले लोग होते हैं। इसके पश्चात यह विवि के सभी सदस्य-विद्यार्थियों को भी उपलब्ध कराया जाएगा।

विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. आर श्रीधर, महानिर्देशक डॉ. बैजू जॉन और कुलसचिव डॉ. संदीप गांधी ने विज्ञान विभाग के प्रयासों की सराहना की है और कहा कि सैनिटाइजर ज्यादा से ज्यादा मात्रा में बनाना चाहिए और जितने ज्यादा संभव हो लोगो को ‘नफा न नुकसान आधार ’ पर मुहैया कराया जाना चाहिए।

डॉ. गांधी ने बताया कि कलिंगा विश्वविद्यालय अपनी सामाजिक जिम्मेदारी के तहत समाज में कोरोना वायरस से लड़ाई में शिक्षित करने और सशक्त करने की भूमिका निभाने के लिए तत्पर है।  कलिंगा विश्वविद्यालय के मैकेनिकल इंजीनियरिंग विभाग ने एक ऑटोमैटिक सेनिटाइजर गेट बनाकर एक अद्भुत उपलब्धि हासिल की है। पहला प्रोजेक्ट मैकेनिकल इंजीनियरिंग के प्राध्यापक समीर वर्मा द्वारा बनाया गया है। इससें होकर गुजरने पर यह मशीन सेंसर की मदद से पूरे शरीर को चंद सेकेंड में सैनिटाइज कर देती है।

 


17-Sep-2020 3:52 PM

नई दिल्ली, 17 सितम्बर (आईएएनएस)| कई महीनों के बेटा टेस्टिंग के बाद एप्पल ने आखिरकार अपना वॉचओएस 7 लॉन्च कर दिया। इस ताजातरीन वॉचओएस आपरेटिंग सिस्टम को एप्पल के अत्याधुनिक स्मार्टवॉचेज के लिए तैयार किया गया है। एप्पल वॉच सीरीज 4 तक के स्मार्टवॉचेज नए वॉच आपरेटिंग सिस्ट्म का अपडेट हासिल कर सकेंगे। इसे हालांकि फर्स्ट जेनेरेशन एप्पल वॉच पर इंस्टाल नहीं किया जा सकेगा। इसके तहत सीरीज 1 और सीरीज 2 के स्मार्टवॉच आते हैं।

इस ऑपरेटिंग सिस्टम में नया हैंडवॉश डिटेक्शन लगा है जो आपको जरूरत के समय हाथ धोने के लिए प्रेरित करेगा। यह एपल्कीशन आपको हाथ धोने के लिए 20 सेकेंड का समय देगा।

कम्पनी ने एक बयान में कहा है कि साथ ही नए वॉचओएस 7 में नए फेसेज, स्लीप ट्रैकिंग और कई तरह के वर्कआउट दिए गए हैं।

वॉचओएस 7 में एक फेमिली सेटअप भी है जो आईफोन मालिकों को बच्चों या फिर बुजुर्ग लोगों के लिए एप्पल वॉचेज को सेट करने की आजादी देता है।


17-Sep-2020 3:47 PM

टोक्यो, 17 सितम्बर (आईएएनएस)| जापानी टेक जाएंट सोनी ने इस बात की पुष्टि की है कि उसका नेक्स्ट जेनरेशन प्लेस्टेशन 5 कन्सोल 12 नवम्बर को लॉन्च होगा और इसकी कीमत 499 डॉलर होगी। कम्पनी ने यह भी कहा है कि वह इस क्रांतिकारी प्लेस्टेशन का एक डिजिटल एडिशन भी लॉन्च करेगा, जिसकी कीमत 399 डॉलर होगी।

सोनी के मुताबिक पीएस5 को पहले अमेरिका, कनाडा, जापान, मेक्सिको, आस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और दक्षिण कोरिया में लॉन्च किया जाएगा और फिर 19 नवम्बर को इसे समस्त दुनिया के सामने पेश कर दिया जाएगा।

सोनी ने हालांकि अब तक यह साफ नहीं किया है कि पीएस5 की भारत में क्या कीमत होगी।

सोनी से पहले माइक्रोसॉफ्ट भी अपने एक्सबॉक्स सीरीज एस तथा एक्सबॉक्स सीरीज एक्स के दो नए अवतार पेश करने जा रहा है। एक्सबॉक्स सीरीज एस की कीमत 299 डॉलर होगी जबकि एक्सबॉक्स सीरीज एक्स की कीमत 499 डॉलर होगी। ये दोनों कन्सोल 10 नवम्बर को लॉन्च होंगे।


16-Sep-2020 4:44 PM

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

भिलाई नगर, 16 सितंबर। जैव रासायनिक अध्ययन और अनुसंधान में विश्लेषणात्मक उपकरण पर दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय वेबिनार का आयोजन गल्फ बायो एनालिटिकल ग्रुप ऑफ कंपनीज दुबई के सहयोग से सेंट थॉमस कॉलेज भिलाई के लाइफ साइंसेज एंड केमिकल साइंस विभाग द्वारा किया गया था।

पहले दिन का सत्र रेव जॉर्ज मैथ्यू रमबान का आशीर्वाद वचन के साथ शुरू हुआ। प्राचार्य डॉ. एम जी रॉईमोन ने अतिथियों  और प्रतिभागियों का स्वागत किया। मुख्य अतिथि डॉ. अरुणा पलटा कुलपति हेमचंद यादव विश्वविद्यालय दुर्ग वेबीनार का उद्घाटन किया। डॉ. पलटा ने अपने संबोधन में जीवन के लगभग हर क्षेत्र में सटीक परिणामों के लिए माप पर निर्भरता के महत्व पर जोर दिया।

मुख्य भाषण चेअरमेन हीस ग्रेस डॉ. जोसेफ मार डियोनिसियस द्वारा दिया गया था। बिशप ने जैव रसायन चिकित्सा और फोरेंसिक विज्ञान अध्ययन में कई महत्वपूर्ण प्रौद्योगिकियों की भूमिका को बताया। उन्होंने यह भी कहा कि सभी समस्याओं को हल करने के लिए सटीक और वैध जानकारी प्राप्त करने और विधि विकसित करने के लिए विश्लेषणात्मक इंस्टू्रमेंटेशन में अंशांकन बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है। इसके बाद पं रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय रायपुर के रसायन शास्त्र में एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. कमलेश श्रीवास की प्रस्तुति हुई। उन्होंने संक्षेप में यूवी और विजिबल स्पेक्ट्रोस्कोपी की मूल बातें और इसके फाइटोकेमिकल एनालिसिस में अनुप्रयोग को प्रस्तुत किया। डॉ. जयश्री बालासुब्रमणियम विभागाध्यक्ष जूलॉजी विभाग द्वारा धन्यवाद ज्ञापित किया गया। सत्र का संचालन रसायन विज्ञान विभाग की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. चंदा वर्मा ने किया।

दूसरे दिन के सत्र की शुरुआत अकादमिक के डीन डॉ. विनीता थॉमस के स्वागत भाषण से हुई। तीनों विषय विशेषज्ञों ने कंपनी का प्रतिनिधित्व किया। डॉ. प्रवीण सरोजम निदेशक उपभोग्य बिक्री  जिथ परमेस्वरन उत्पाद प्रबंधक और  अजय शर्मा वरिष्ठ अनुप्रयोग वैज्ञानिक ने प्रतिभागियों को एक कैरियर विकल्प के रूप में विश्लेषणात्मक इंस्टू्रमेंटेशन शिक्षाविदों में इंस्ट्रूमेंटेशन की भूमिका और अनुसंधान और युक्तियां अंशांकन और विश्लेषणात्मक उपकरण के रखरखाव जैसे विभिन्न पहलुओं के साथ प्रबुद्ध किया। प्रत्येक सत्र के बाद प्रतिभागियों के साथ संक्षिप्त चर्चा की गई। सत्र का समापन वेबिनार के संयोजक डॉ. उज्जवला सुपे जैव प्रौद्योगिकी विभाग के धन्यवाद प्रस्ताव से किया गया। सत्र का संचालन वनस्पति विज्ञान विभाग के डॉ. ज्योति बक्शी द्वारा किया गया।


16-Sep-2020 4:35 PM

कूपर्टीनो, 16 सितम्बर (आईएएनएस)| ऐप्पल ने आठवीं पीढ़ी के आईपैड लांच की है जिसमें पॉवरफूल ए12 बायोनिक चिप है। इसके वाई-फाई मॉडल की शुरुआती कीमत 29,900 रुपये रखी गई है, जबकि वाई-फाई प्लस सेल्युलर मॉडल की कीमत 41,900 रुपये है। ए12 बायोनिक चिप के साथ आठवीं पीढ़ी के इस आईपैड का मकसद बेहतरीन प्रदर्शन दिलाना है, जिसमें सीपीयू का परफॉर्मेस 40 फीसदी तेज और ग्राफिक्स की क्षमता पहले से दोगुनी है।

ऐप्पल के वर्ल्डवाइड मार्केटिंग के वरिष्ठ उपाध्यक्ष ग्रेग जोसिऐक ने मंगलवार को एक बयान में कहा, "इसमें 10.2 इंच रेटिना डिस्प्ले, शानदार कैमरे, बेहतरीन परफॉर्मेस के लिए ए12 बायोनिक चिप सहित और भी काफी कुछ है। यह आईपैड पहले से कहीं अधिक बेहतर है और वक्त के हिसाब से इसकी जरूरत भी पहले से कहीं ज्यादा है क्योंकि हमारे ग्राहकों को काम करने, खेलने, सीखने और अपने प्रियजनों संग जुड़े रहने के लिए का एक पॉवरफु ल और बहु उपयोगी माध्यम की आवश्यकता है।"

आईपैड में पहली बार मशीन लर्निग की क्षमताओं को अगले स्तर तक ले जाने के लिए ए12 बायोनिक के रूप में न्यूरल इंजन को पेश किया गया है, ताकि एआर (ऑगमेंटेड रिएलिटी) बेस्ड ऐप्स का इस्तेमाल आसानी से किया जा सके, फोटो एडिटिंग की क्षमता पहले से बेहतर हो, सिरी की परफॉर्मेस में सुधार आए।

ए12 बायोनिक के साथ यह आईपैड ऐप्पल पेंसिल, एलटीई कनेक्टिविटी और टच आईडी को भी सपोर्ट करता है।

32 जीबी और 128 जीबी कंफिगरेशन में इस नए आईपैड को गोल्ड फिनिश के साथ सिल्वर, स्पेस ग्रे में उपलब्ध कराया गया है।


Previous123456789...1718Next