बस्तर

गौठानों समितियों का गठन आवश्यक- सीईओ
09-Sep-2021 9:53 PM (104)
गौठानों समितियों का गठन आवश्यक- सीईओ

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
जगदलपुर, 9 सितम्बर।
जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ऋचा प्रकाश चौधरी ने जिले के सभी गोठानों में अनिवार्य रूप से गोठान समितियों का गठन कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि समिति के माध्यम से गोधन न्याय योजना के क्रियान्वयन में प्रगति लाने के भी निर्देश दिए।

सीईओ ने कलेक्टोरेट जगलपुर के प्रेरणा कक्ष में आयोजित समय-सीमा की बैठक में अधिकारियों को उक्ताशय के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि जहां पर गोबर की खरीदी हुई वहां पर वर्मी खाद का उत्पादन करना अनिवार्य है। इसके लिए गोठानों में वर्मी टांका निर्माण सुनिश्चित कराने के लिए जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने नेपियर घास की प्लांटेशन की प्रगति की भी समीक्षा की।

बैठक में सीईओ जिला पंचायत चौधरी ने कहा कि मैदानी स्तर में विभिन्न योजनाओं की प्रगति का निरीक्षण करने के लिए सेक्टर अधिकारियों के रूप में विभिन्न विभागों के अधिकारियों को दायित्व दिया गया है। इन सेक्टर अधिकारी के माध्यम से विकास एवं जनकल्याणकारी योजनाओं का सतत निगरानी, सफल क्रियान्वयन सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से निरीक्षण व पर्यवेक्षण करने के निर्देश ने दिए। उन्होंने कहा कि सेक्टर अधिकारियों को अपने विभाग के कार्यों के साथ-साथ पंचायत एवं ग्रामीण विकास, शिक्षा, आदिवासी विकास, महिला एवं बाल विकास, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, कृषि, समाज कल्याण, खाद्य विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, विद्युत विभाग के साथ-साथ लोक सेवा गारंटी अधिनियम के अन्तर्गत आने वाले सेवाओं का भी निरीक्षण करें।

समय-सीमा की बैठक में जन चौपाल, पीजीएन पोर्टल और समय सीमा के प्राप्त आवेदनों और प्रकरणों का निराकरण करने के निर्देश दिए। बैठक में अपर कलेक्टर अरविंद एक्का द्वारा जल जीवन मिशन की प्रगति तथा राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत किए जा रहे पंजीयन कार्यवाही की समीक्षा की गई। साथ ही गिरदावरी कार्य में प्रगति लाने के निर्देश भी दिए गए। इस अवसर पर सभी जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

अन्य पोस्ट

Comments