कोण्डागांव

क्वांटिफिएबल डाटा आयोग अध्यक्ष और सचिव ने अन्य पिछड़ा वर्ग व आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों से की चर्चा
16-Sep-2021 8:31 PM (143)
 क्वांटिफिएबल डाटा आयोग अध्यक्ष और सचिव ने अन्य पिछड़ा वर्ग व आर्थिक  रूप से कमजोर वर्गों से की चर्चा

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता

कोण्डागांव, 16 सितंबर। स्थानीय सर्किट हाउस में 15 सितंबर को प्रदेश की जनसंख्या में अन्य पिछड़ा वर्ग और आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों का सर्वेक्षण कर क्वांटिफिएबल डाटा एकत्र करने के लिए गठित क्वांटिफिएबल डाटा आयोग के अध्यक्ष सीएल पटेल और सचिव बीसी साहू पहुंचे। यहां उन्होंने सर्किट हाउस में बैठक लेकर अन्य पिछड़ा वर्ग व आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के संगठनों और प्रतिनिधियों के साथ चर्चा किया।

क्वांटिफिएबल डाटा आयोग के अध्यक्ष सीएल पटेल ने कहा कि, शासन द्वारा अन्य पिछड़े वर्ग व आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों की गणना के लिए अधिसूचना व निर्देश जारी किए हैं। इसके लिए एपीएल और बीपीएल परिवार को बेसलाइन मानते हुए सर्वे किया जा रहा है। सर्वे का कार्य ऑनलाइन किया जाएगा, मोबाइल में ऐप डाउनलोड कर भी यह कार्य सरलता से किया जा सकता है। ओबीसी परिवारों का सर्वे सुपरवाइजर द्वारा किया जाएगा, उन्हें इसके लिए प्रशिक्षण भी दिया गया है। ऑनलाइन आवेदन पत्र एवं घोषणा पत्र भरकर जानकारी देनी होगी।

उन्होंने कहा कि अन्य पिछड़ा वर्ग के सभी पात्र हितग्राही आवेदन भरें और अपने परिवार की जानकारी दें। इसकी जानकारी गूगल प्ले स्टोर में सीजी क्यूडीसी. ऐप में डाउनलोड कर जानकारी भर सकते हैं। उन्होंने कहा कि इसकी मॉनिटरिंग भी की जाएगी ताकि ज्यादा से ज्यादा सही गणना की जा सके, डाटा का सत्यापन भी किया जाएगा। विशेष रूप से आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग का डाटा देना है, इसके लिए 1000 वर्ग फीट शहरी क्षेत्र, 2000 वर्ग फीट ग्रामीण क्षेत्र भूमि होने पर सर्वे की सीमा में नहीं आएंगे। उन्होंने उपस्थित सभी लोगों से कहा कि जनप्रतिनिधि एवं अन्य नागरिक 12 अक्टूबर तक क्वांटीफायबल डाटा आयोग जानकारी प्रेषित करेंगे।

अन्य पिछड़ा वर्ग एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के संगठनों व प्रतिनिधियों से चर्चा के दौरान ओबीसी महासभा प्रदेश महासचिव रितेश पटेल, ओबीसी महासभा जिलाअध्यक्ष मनोज देवांगन, डीएस साहू, बसंत साहू, पवन साहू, गोकुल दास मानिकपुरी, ईश्वर निषाद, बीएन कौशिक, मनोज सेठिया, भंगीराम पटेल के साथ अन्य पिछड़ा वर्ग समाज के सभी प्रमुख मौजूद रहे।

अन्य पोस्ट

Comments