महासमुन्द

हमारा पांव अंगद का पांव है, टस से मस नहीं होगा-भूपेश
27-Sep-2021 4:26 PM (35)
हमारा पांव अंगद का पांव है,  टस से मस नहीं होगा-भूपेश

‘छत्तीसगढ़’ संवाददाता
महासमुंद, 27 सितम्बर।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल  रविवार को चंद्रनाहू कुर्मी क्षत्रिय समाज के केंद्रीय अधिवेशन में महासमुंद पहुंचे थे। बागबाहरा रोड स्थित शांत्रि बाई कॉलेज (छत्तीसगढ़ स्कूल) परिसर में आयोजित इस समारोह के दौरान उन्होंने कहा कि भाजपा की पुरंदेश्वरी देवीजी कहती हैं कि थूकेंगे तो सरकार बह जाएगी, उन्हें क्या पता हमारा पांव अंगद का पांव है, टस से मस नहीं होगा। 

उन्होंने कहा कि समाज में सबकी भागीदारी से ही समाज का विकास होता है और सामाजिक समरसता आती है। समाज वह है, जो सबको साथ लेकर चले। इससे सबके कल्याण का रास्ता निकलता है। इस समाज के पुरखों और विभूतियों ने छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि अभी पितृपक्ष चल रहा है और इस समय पुरखों को याद करना जरूरी है। 

सीएम ने स्व.पुरुषोत्तम लाल कौशिक, स्व. चंदूलाल चंद्राकर और वासुदेव चंद्राकर को याद करते हुए कहा कि उन्होंने शिक्षा, कृषि, सहकारिता के साथ-साथ समाज सुधार जैसे उल्लेखनीय क्षेत्रों में भी अपना बहुमूल्य योगदान दिया है। इसके पहले मुख्यमंत्री ने चंद्रोदय पब्लिक स्कूल और शांत्रीबाई महाविद्यालय के द्वितीय तल पर निर्मित अतिरिक्त निर्माण का लोकार्पण किया। दोनों द्वितीय तल पर निर्मित कार्यों की लागत 70 लाख रुपए है। इनका निर्माण छत्तीसगढ़ चंद्रनाहू शिक्षण समिति एवं विधायक निधि से किया गया है।

कार्यक्रम के पहले चंद्रनाहू शिक्षण समिति के अध्यक्ष चंद्रहास चंद्राकर ने शिक्षण समिति का विवरण प्रस्तुत करते हुए स्व. पुरषोत्तम लाल कौशिक के नाम से सर्वसुविधायुक्त आधुनिक ऑडिटोरियम निर्माण की मांग की। वहीं समाज के प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी चंद्राकर ने समाज के दो दिवसीय कार्यक्रम के बारे में जानकारी दी। कार्यक्रम को विधायक एवं संसदीय सचिव विनोद चंद्राकर ने भी संबोधित किया। विधायक ने कहा कि सीएम ने कभी महासमुंद के विकास के लिए कोई कमी नहीं की है। आंकड़ों पर जाएं तो अब तक महासमुंद के लिए 750 करोड़ की सौगात दी जा चुकी है। 

कार्यक्रम में राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, बीज विकास निगम के अध्यक्ष अग्नि चंद्राकर, पंडरिया विधायक ममता चंद्राकर, खल्लारी विधायक द्वारिकाधीश यादव सहित चंद्रनाहू कुर्मी समाज के पदाधिकारी मौजूद थे।
 

अन्य पोस्ट

Comments